Tech News

राजधानी दिल्ली के प्रगति मैदान में इलेक्ट्रिक व्हीकल एक्सपो में नवीनतम तकनीक के वाहनों का बेहतरीन प्रदर्शन

राजधानी दिल्ली के प्रगति मैदान में इलेक्ट्रिक व्हीकल एक्सपो में नवीनतम तकनीक के वाहनों का बेहतरीन प्रदर्शन

नई दिल्ली (एजेंसी)। राजधानी दिल्ली के प्रगति मैदान में इलेक्ट्रिक व्हीकल (ईवी) मेला में अलग-अलग तरह के वाहन देखने को मिल रहे हैं। ईवी एक्सपो में करीब 100 राष्ट्रीय और अंतराष्ट्रीय इलेक्ट्रिक वाहन कंपनियों ने प्रदूषण रहित नवीनतम तकनीक वाली दो, तीन और चार पहिया ई-वाहनों का प्रदर्शन किया है। इनमें ई-रिक्शा की कीमत 75 हजार रुपये से लेकर एक लाख 35 हजार रुपये तक है। इस तीन दिवसीय मेले की शुरुआत 5 अगस्त को हुई, जो 7 अगस्त तक चला।

ईवी एक्सपो के इस 15वें संस्करण में इलेक्ट्रिक वाहन कंपनियों ने नवीनतम तकनीक से लैस प्रदूषण रहित खासतौर पर ई-रिक्शा, टेम्पो और समान ढोने वाला चार पहिया ई-वाहन, इलेक्ट्रिक कार और इलेक्ट्रिक बस, यात्रियों और सामान ढोने वाले बिजली से चलने वाले वाहन प्रदर्शित किए हैं। ईवी एक्सपो-22 में लिथियम आयन बैटरीज और नवीनतम चार्जिंग समाधानों को भी प्रदर्शित किया गया है।

देशभर में बढ़ते प्रदूषण को पर्यावरण के अनुकूल बनाने के लिए तीन दिवसीय इलेक्ट्रिक वाहन प्रौद्योगिकी मेले का आयोजन किया गया है। ईवी एक्सपो-2022 का उद्घाटन भारत सरकार के सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम (एमएसएमई) मंत्रालय के राज्य मंत्री भानु प्रताप सिंह वर्मा ने शुक्रवार को किया। इस अवसर पर वर्मा ने कहा कि इस एक्सपो में आपको इंडस्ट्री से जुड़ी नई तकनीक देखने को मिलेगी। राज्य सरकारें ईवी व्हीकल्स पर सब्सिडी दे रही है। यह पेट्रोल-डीजल पर निर्भरता कम करने की दिशा में एक बड़ा कदम है।

दरअसल, सरकार देश में पेट्रोल-डीजल पर निर्भरता कम करने और प्रदूषण से छुटकारा पाने के लिए इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा दे रही है। इसके तहत फेम-II सब्सिडी के तहत गुजरात सरकार दोपहिया वाहनों पर 20 हजार रुपये की सब्सिडी दे रही है, जबकि दिल्ली सरकार 15 हजार रुपये की सब्सिडी मुहैया करा रही है। हालांकि, अभी तक सड़कों पर इलेक्ट्रिक वाहनों की संख्या मात्र 0.35 फीसदी है, लेकिन निकट भविष्य में इसका उपयोग तेजी से बढ़ने वाला है। इसके अलावा कई राज्य सरकार भी इलेक्ट्रिक वाहनों पर सब्सिडी देने की योजना बनाई है।

उल्लेखनीय है कि ईवी एक्सपो के आयोजन की शुरुआत दिसंबर 2015 में हुई थी। साल 2015 से लेकर 2017 तक इसका आयोजन राजधानी दिल्ली और कोलकाता में होता रहा है। बाद में इसका आयोजन देश के अन्य शहरों बेंग्लुरु, हैदराबाद और लखनऊ में भी किया जा चुका है। यह एक्सपो इलेक्ट्रिक व्हीकल, एक्सेसरीज, बैटरी और चार्जिंग सॉल्यूशन से संबंधित भारत का सबसे बड़ा एक्सपो है। इसे हर साल अगस्त के महीने में आयोजित किया जाता है। दरअसल, भारत दुनिया का सबसे बड़ा इलेक्ट्रिक वाहन का बाजार है। 

Related Topics