Top News

मध्य प्रदेश चुनाव : अब कम्प्यूटर बाबा ने खाई शिवराज सिंह को हराने की कसम

मध्य प्रदेश चुनाव : अब कम्प्यूटर बाबा ने खाई शिवराज सिंह को हराने की कसम

भोपाल: आगामी विधानसभा चुनाव में एक बार फिर मध्य प्रदेश में सत्ता हांसिल करने के लिए जहां शिवराज सिंह चौहान हर संभव प्रयास में जुटें हैं तो वहीं उन्हीं के द्वारा मंत्री का दर्जा पाने वाले कंप्यूटर बाबा ने बीजपी को हराने की कसम खा ली है. कंप्यूटर बाबा ने साफ कहा है कि उनका मकसद शिवराज सिंह चौहान को हराना है. कंप्यूटर बाबा का बयान इसलिए महत्वपूर्ण माना जा रहा क्योंकि एक वक्त ऐसा था जब मध्य प्रदेश में कंप्यूटर बाबा सीएम शिवराज की तारीफ करते नहीं थकते थे. शिवराज सरकार ने उन्हें मंत्री का दर्जा भी दिया लेकिन अब बाबा के बोल बदल गए हैं.

उन्होंने शिवराज सरकार को हिन्दू विरोधी बताया. कंप्यूटर बाबा ने कहा कि मुझे ऐसा लगा कि शिवराज धर्म के ठीक विपरीत हैं और धर्म का काम कुछ करना ही नहीं चाहते हैं. इसलिए मैंने इस्तीफा दिया.

चुनाव के दैरान यू टर्न लेने के पीछे कंप्यूटर बाबा ने नर्मदा में खनन के मुद्दे को बताया है. उन्होंने खुलासा किया है कि जब सरकार में मंत्री बनने के बाद उन्होंने नर्मदा का अवैध खनन रोकने को कहा तो शिवराज ने कहा कि चुनाव का टाइम है सरकार को खतरा हो जाएगा. इसी बात से नाराज कंप्यूटर बाबा ने मंत्री पद छोड़ दिया और बीजेपी को हराने की कसम खाली.

शिवराज सिंह चौहान का साथ छोड़ने के बाद यह भी सवाल उठने लगा है कि क्या बीजेपी का दामन छोड़ वह चुनावी मौसम में कांग्रेस की ओर रुख करेंगे. हालांकि अभी तक उन्होंने इसको लेकर कोई बयान नहीं दिया है. बाबा के मुताबिक संतों की संसद में ही किस पार्टी को समर्थन देना है इसका फैसला लिया जाएगा. कांग्रेस के सॉफ्ट हिंदुत्व पर कंप्यूटर बाबा ने साफ कहा कि हिंदुत्व किसी की बपौती नहीं है. जो हिंदुत्व के साथ है हम उसके साथ खड़े हैं.

Related Topics