Top News

नए संसद भवन की कंस्ट्रक्शन साइट पर पहुंचे पीएम मोदी, निर्माण की स्थिति का किया निरीक्षण

नए संसद भवन की कंस्ट्रक्शन साइट पर पहुंचे पीएम मोदी, निर्माण की स्थिति का किया निरीक्षण

नई दिल्ली (एजेंसी)। पीएम मोदी रविवार रात को नए संसद भवन की कंस्ट्रक्शन साइट पर पहुंचे। यहां उन्होंने रात करीब 8:45 बजे निर्माण स्थल पर एक घंटे का समय बिताया और निर्माण की स्थिति का निरीक्षण किया। पीएम मोदी के इस दौरे की पहले से किसी को भी जानकारी नहीं थी। इस दौरान मोदी ने कंस्ट्रक्शन साइट पर पहने जाने वाला हेलमेट भी लगा रखा था। राजधानी दिल्ली में बन रहे सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के तहत नए संसद भवन का निर्माण हो रहा है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नए संसद भवन के निर्माण कार्य का जायजा लेते हुए कई तस्वीरें भी सामने आई हैं। मोदी यहां काम करने वाले श्रमिकों से बातचीत भी की और निर्माण कार्य पर अपडेट लिया। उन्होंने अधिकारियों से बात की और निर्माण स्थल पर बनने वाले नए संसद भवन के बारे में जानकारी भी हासिल की। प्रधानमंत्री मोदी ने इस दौरान सफेद रंग का कुर्ता पहन रखा था।

सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट पर रोक लगाने की भी पिछले दिनों कोरोना वायरस की दूसरी लहर के दौरान मांग की गई थी और मामला कोर्ट तक पहुंच गया था। हालांकि, कोर्ट ने रोक लगाने की मांग को खारिज कर दिया था। नए भवन का निर्माण अगले साल तक हो जाएगा। इसके लिए बड़ी संख्या में श्रमिक दिन-रात तेजी से काम कर रहे हैं। नया संसद भवन पुराने भवन से 17 हजार वर्गमीटर बड़ा होगा। इसे 971 करोड़ रुपये की लागत से कुल 64500 वर्गमीटर क्षेत्र में बनेगा। इसका ठेका टाटा प्रोजेक्ट्स लिमिटेड को दिया गया है, और इसका डिजाइन एचसीपी डिजाइन, प्लानिंग एंड मैनेजमेंट प्राइवेट लिमिटेड ने तैयार किया है।

नए भवन में लोकसभा और राज्यसभा कक्षों के अलावा एक भव्य संविधान कक्ष भी बनाया जा रहा है। इसमें भारत की लोकतांत्रिक विरासत दर्शाने के लिए अन्य वस्तुओं के साथ-साथ संविधान की मूल प्रति, डिजिटल डिस्प्ले आदि होंगे। संविधान कक्ष में मेहमानों के जाने की भी अनुमति होगी, वे भी भारत के संसदीय लोकतंत्र के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त कर सकेंगे। संसद का नया भवन बनने के बाद मौजूदा संसद भवन का इस्तेमाल अन्य संसदीय कार्यक्रमों के लिए किया जाता रहेगा। पुराना संसद भवन का निर्माण साल 1921 में शुरू हुआ था। उस समय इसके निर्माण पर 83 लाख रुपये खर्च किए गए थे। छह साल में संसद भवन बनकर तैयार हो गया था। वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नए संसद भवन का शिलान्यास पिछले साल 10 दिसंबर को किया था।

Related Topics