National

सरकार ने पांच अलगाववादी नेताओं की सुरक्षा वापस ली

सरकार ने पांच अलगाववादी नेताओं की सुरक्षा वापस ली

श्रीनगर (एजेंसी ): जम्मू कश्मीर प्रशासन द्वारा आलगावादियों को प्रदान की गई सभी सरकारी सुरक्षा वापस ले ली है। माना जा रहा है यह सरकार का बड़ा फैसला है। आलगावादियों को दी गई सुरक्षा तथा सरकारी वाहन रविवार शाम तक वापस लेने का आदेश जारी हुआ। इन 5 अलगाववादी नेताओं में मीरवाइज उमर फारूक, अब्दुल गनी बट, बिलाल लोन, हाशिम कुरैशी, शाबिर शाह शामिल हैं.

आदेश के अनुसार, अलगाववादियों को प्रदान की गई सभी सुरक्षा और वाहन रविवार शाम तक वापस ले लिए जाएंगे। उन्हें या किसी अन्य अलगाववादियों ने आदेश के तहत किसी भी सुरक्षा बल या कवर प्रदान नहीं किया जाएगा। यदि उनके पास कोई अन्य सुविधा है, तो उन्हें तुरंत वापस ले लिया जाएगा।

अधिकारियों ने कहा कि अगर कोई अन्य अलगाववादी हैं जिनके पास सुरक्षा या सुविधाएं हैं, तो पुलिस समीक्षा करेगी।  एक शीर्ष अधिकारी ने बताया था कि केंद्र सरकार ने एक सुझाव दिया था जिसके बाद ऐसे व्यक्तियों को मिली सुरक्षा की समीक्षा की जाएगी जिनपर आईएसआई के साथ संबंधों का शक है.

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को अपनी श्रीनगर यात्रा के दौरान कहा था कि  पाकिस्तान के जासूसी एजेंसी से धन प्राप्त होने वालो लोगों को मिली सुरक्षा का भी समीक्षा होना चाहिए। उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा जम्मू-कश्मीर के कुछ तत्वों के आईएसआई और आतंकवादी संगठनों के साथ संबंध हैं। उनकी सुरक्षा की समीक्षा की जानी चाहिए।

 
बता दें कि पिछले दिनों पुलवामा में हुए आतंकी हमलें में सीआपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। हमले के बाद से केन्द्र सरकार द्वारा अहम फैसले लेते हुए अलगावादियों को मिली सरकारी सुरक्षा वापस लेने का फैसला लिया है।

Related Topics