National

 देश में 12 से 14 साल तक के बच्चों के लिए टीकाकरण का अभी कोई फैसला नहीं

देश में 12 से 14 साल तक के बच्चों के लिए टीकाकरण का अभी कोई फैसला नहीं

नई दिल्ली (एजेंसी)। देश में 12 से 14 साल तक के बच्चों का कोरोना रोधी टीकाकरण जल्द शुरू करने को लेकर केंद्र सरकार ने अभी कोई फैसला नहीं किया है। देश में अभी 15 से 18 साल तक किशोरों व वयस्कों का टीकाकरण जारी है। 12-14 वर्ष के आयु वर्ग में अनुमानित आबादी 7.5 करोड़ है। इतनी ही आबादी उन किशोरों की है, जिनका टीकाकरण अभी चल रहा है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आधिकारिक सूत्रों ने मंगलवार को यह बात कही। सूत्रों ने कहा कि 12 से 14 साल तक के बच्चों के टीकाकरण पर अभी निर्णय नहीं हुआ है। सोमवार को केंद्र सरकार के कोविड-19 वर्किंग ग्रुप (NTAGI) के अध्यक्ष डॉक्टर एनके अरोड़ा ने कहा था कि भारत में 12 से 14 साल के बच्चों का टीकाकरण मार्च में शुरू हो सकता है। उन्होंने कहा था कि मार्च तक 15 से 18 साल के किशोरों का टीकाकरण पूरा हो जाने की उम्मीद है। ऐसे में अगले चरण में 12 से 14 साल तक के बच्चों को टीका लगाए जाने की उम्मीद है।

3.45 करोड़ किशोरों को लगे टीके

डॉक्टर अरोड़ा के मुताबिक देश में 15-18 आयु वर्ग के 7.5 करोड़ लोग हैं। इनमें से 3.45 करोड़ किशोरों को कोरोना की वैक्सीन लग चुकी है। चूंकि, किशोरों को कोवाक्सिन लगाई जा रही है, इसलिए 28 से 42 दिन के अंदर उन्हें टीके की दूसरी खुराक भी दे दी जाएगी। यानी 15-18 आयु वर्ग का वैक्सिनेशन मार्च तक पूरा हो जाएगा। इसके बाद 12 से 14 साल वाले बच्चों का टीकाकरण पूरे जोर-शोर से शुरू किया जा सकेगा।

किशोरों को फरवरी में दूसरी खुराक

डॉ. अरोड़ा के अनुसार 15 से 18 आयु वर्ग के किशोर टीकाकरण प्रक्रिया में बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं और टीकाकरण की इस गति को देखते हुए इस आयु वर्ग के बाकी लाभार्थियों को जनवरी के अंत तक पहली खुराक लग जाने की संभावना है और उसके बाद उनकी दूसरी खुराक फरवरी के अंत तक दिए जाने की उम्मीद है। अरोड़ा ने कहा कि 15-18 वर्ष के आयु वर्ग का टीकाकरण हो जाने के बाद, सरकार मार्च में 12-14 वर्ष के आयु वर्ग के लिए टीकाकरण अभियान शुरू करने के बारे में नीतिगत फैसला कर सकती है।

Related Topics