International

अग्रिम मोर्चों पर तैनाती के लिए जल्द ही तीन लाख और सैनिकों की होगी भर्ती, राष्ट्रपति ने दिए आदेश

अग्रिम मोर्चों पर तैनाती के लिए जल्द ही तीन लाख और सैनिकों की होगी भर्ती, राष्ट्रपति ने दिए आदेश

बीजिंग (एजेंसी)। जंग के दौरान अग्रिम मोर्चों पर तैनाती के लिए चीन जल्द ही तीन लाख और सैनिकों की भर्ती करने जा रहा है। चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने युद्धों में बढ़त बनाने के लिए सेना में नई  भर्ती का निर्देश दिया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक तीन लाख और सैनिकों की आवश्यकता पड़ेगी।

राष्ट्रपति जिनपिंग ने युद्ध में बढ़त बनाने के लिए अग्रिम मोर्चों पर नई तैनातियों का आदेश दिया

चीनी सेनाओें के मुख्य कमांडर शी चिनपिंग ने सैन्य प्रतिभाओं के लिए हुए सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि प्रतिभाओं के पास सशस्त्र चीनी सेना में उच्च गुणवत्ता के विकास की कुंजी है। साथ ही सैन्य प्रतिस्पर्धा में विजयी होने के लिए और भावी युद्धों में बढ़त के लिए सैनिकों का प्रतिभावान होना जरूरी है। शी ने कहा कि नई प्रतिभाओं को समर्थन दिए जाने की जरूरत है, ताकि पीपुल्स लिब्रेशन आर्मी (पीएलए) के वर्ष 2027 तक के लक्ष्यों को निर्धारित किया जा सके। 

209 अरब डालर के सालाना सैन्य बजट के साथ चीनी सेना को अत्याधुनिक बनाने की कवायद जारी है। संगठनात्मक सुधारों के साथ ही उन्हें हाइपरसोनिक हथियारों समेत नए अस्त्र-शस्त्रों से लैस किया जा रहा है। अमेरिकी सेना के अनुसार, चीन ने हाल ही में लंबी दूरी की मिसाइल लांच की है जो पूरी दुनिया का फेरा लगा सकती है। इसे हाइपरसानिक वाहन से छोड़ा गया था और यह लक्ष्य को भेदते हुए चीन लौट आई थी।

चीनी राष्ट्रपति ने कहा कि लड़ने की क्षमता को और मजबूत करने व जीत को शुरुआती बिंदु बनाने की जरूरत है। इसके लिए सैन्य प्रतिभा को उभारना ही परम लक्ष्य है। युद्ध जीतने के लिए सैन्य अफसरों को वैज्ञानिक शिक्षा के साथ ही तकनीकी क्षमताओं को भी बढ़ाना होगा। उन्होंने कहा कि इसके लिए प्रथम श्रेणी के सैन्य स्कूलों को भी स्थापित करने की जरूरत है। ताकि सैन्य अफसरों को प्रथम श्रेणी का सैन्य प्रशिक्षण मिल सके।

Related Topics