Sports

दो साल बाद टीम इंडिया और केन विलियमसन की कप्तानी में न्यूजीलैंड ने आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में बनाई जगह

दो साल बाद टीम इंडिया और केन विलियमसन की कप्तानी में न्यूजीलैंड ने आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में बनाई जगह

नईदिल्ली (एजेंसी)।  करीब दो साल का लंबा सफर करके वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप अब अपने आखिरी पड़ाव पर पहुंच गया है। दो साल बाद विराट कोहली की अगुवाई वाली टीम इंडिया और केन विलियमसन की कप्तानी में न्यूजीलैंड ने आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बनाई।

अब साउथैम्पटन के एजिस बाउल मैदान पर आज से टेस्ट इतिहास का सबसे बड़ा मुकाबला खेला जाएगा। क्रिकेट का यह अल्टीमेट टेस्ट वर्ल्ड नबर 1 टेस्ट टीम न्यूजीलैंड और वर्ल्ड नंबर 2 भारतीय टीम के बीच। शुरुआत में वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल की मेजबानी के लिए लिए लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान को चुना गया था लेकिन कोरोना के बाद बदले हालात में इस ऐतिहासिक मुकाबले की मेजबानी एजिस बाउल को दे दी गई।

आपकों बता दें कि भारत को फाइनल मैच से पहले यहां मैच अभ्यास का भी अवसर नहीं मिला। यह भी एक वजह है कि टीम इंडिया ने प्लेइंग 11 में अपने सभी अनुभवी खिलाड़ियों को ही मौका दिया है। न्यूजीलैंड हालांकि इंग्लैंड के खिलाफ हाल ही में दो टेस्ट मैच खेलकर प्रैक्टिस के मामले में इंडिया से बेहतर स्थिति में नज़र आती है।

भारत ने डब्ल्यूटीसी पीरियड में न्यूजीलैंड के साथ पिछले साल की शुरूआत में टेस्ट सीरीज खेली थी जहां उसे 0-2 से पराजय का सामना करना पड़ा था। उस सीरीज में कीवी गेंदबाजों ने भारतीय बल्लेबाजी क्रम को बिखेर दिया था।

न्यूजीलैंड के लिए मददगार साबित हो सकती है पिच

डब्ल्यूटीसी फाइनल को देखते हुए इस बारे में चर्चा चली थी कि न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज किस तरह भारतीय बल्लेबाजों को परेशान कर सकते हैं। लेकिन गावस्कर और पनेसर जैसे दिग्गज खिलाड़ियों का मानना है कि साउथैम्पटन में फिलहाल जो गर्मी पड़ रही है वह भारत के स्टार स्पिनर्स अश्विन और जडेजा को पिच से मदद दिला सकती है।

लेकिन न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाजों को स्विंग के लिए जाना जाता है और ड्यूक बॉल से उनका यह काम आसान भी हो जाता है। भारत के दिग्गज बल्लेबाज रोहित शर्मा और विराट कोहली को अक्सर न्यूजीलैंड के स्विंग गेंदबाजों के सामने परेशान होते देखा गया है। पिच क्यूरेटर साइमन ली ने कहा था कि वह चाहते हैं कि इस पिच पर पेस और बाउंस रहे।

भारत और न्यूजीलैंड के बीच अबतक 59 टेस्ट मुकाबले खेले गए हैं जिसमें भारत ने 21 जीते हैं और उसे 12 मुकाबलों में हार का सामना करना पड़ा है। हालांकि, भारत ने कीवी टीम के खिलाफ 16 मुकाबले घर में जीते हैं।

Related Topics