Sports

भारत ने भेदा सेंचुरियन का किला, साउथ अफ्रीका को 113 रनों से हराया

भारत ने भेदा सेंचुरियन का किला, साउथ अफ्रीका को 113 रनों से हराया

 न्युज डेस्क (एजेंसी)।  जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी की कातिलाना गेंदबाजी के बाद आखिर में रविचंद्रन अश्विन ने भी अपनी बलखाती गेंदों का जलवा दिखाया जिससे भारत ने दक्षिण अफ्रीका को पहले टेस्ट क्रिकेट मैच के पांचवें दिन गुरुवार को 113 रन से हराकर तीन मैचों की सीरीज में 1-0 से बढ़त बनाई।

दक्षिण अफ्रीका की टीम 305 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए पांचवें दिन दूसरे सत्र के दूसरे ओवर में अपनी दूसरी पारी में 191 रन पर आउट हो गई। भारत ने अपनी पहली पारी में 327 और दूसरी पारी में 174 रन बनाए थे। दक्षिण अफ्रीका पहली पारी में 197 रन ही बना पाया था। भारत की तरफ से पहली पारी में शतक जड़ने वाले केएल राहुल को मैन ऑफ द मैच चुना गया।

भारत की यह दक्षिण अफ्रीकी धरती पर टेस्ट मैचों में चौथी जीत है लेकिन इससे उसने इस देश में पहली बार टेस्ट सीरीज जीतने की तरफ मजबूत कदम बढ़ा दिए हैं। सीरीज का दूसरा मैच तीन जनवरी से जोहानिसबर्ग में खेला जाएगा।

भारत ने सुबह के सत्र में तीन विकेट निकालकर लंच तक दक्षिण अफ्रीका का स्कोर सात विकेट पर 182 रन कर दिया था। उसने लंच के बाद बाकी बचे तीनों विकेट दो ओवर के अंदर निकालकर शानदार जीत दर्ज की। अश्विन (18 रन देकर दो) ने लगातार गेंदों पर आखिरी दो विकेट लेकर मैच का अंत किया।

बुमराह (50 रन देकर तीन विकेट) ने सुबह के सत्र में दक्षिण अफ्रीकी कप्तान डीन एल्गर (156 गेंदों पर 77 रन) को आउट करके शुरुआत की तो इसके बाद मोहम्मद सिराज (47 रन देकर दो) और मोहम्मद शमी (63 रन देकर तीन) ने अपनी भूमिका बखूबी निभाई। शाम के सत्र में बारिश की भविष्यवाणी की गई थी और ऐसे में भारत जल्द से जल्द विकेट निकालना चाहता था।

तेम्बा बावुमा (नाबाद 35) ने एक छोर संभाले रखा लेकिन आखिर में उनका साथ देने के लिए कोई खिलाड़ी नहीं बचा था। पिच से मिल रही असमान उछाल को देखते हुए एल्गर ने हमलावर तेवर अपनाए। उन्होंने बावुमा के साथ पहले 45 मिनट में 36 रन जोड़े। शमी ने इस बीच अपनी गेंद पर एल्गर का कैच छोड़ा, लेकिन वह बुमराह थे जिन्होंने दक्षिण अफ्रीकी कप्तान को परेशानी में रखा।

बुमराह ने कोण लेती गेंद पर एल्गर को पगबाधा आउट किया और अंपायर ने भी उंगली उठाने में हिचकिचाहट नहीं दिखाई। एल्गर ने बेमन से डीआरएस भी लिया लेकिन वह भी परिणाम से वाकिफ लग रहे थे। क्विंटन डिकॉक (21) ने आते ही बुमराह पर दो खूबसूरत चौके लगाए लेकिन सिराज ने जल्द ही उन्होंने बोल्ड कर दिया।

शमी ने इसके बाद वियान मुल्डेर (एक) को विकेट के पीछे कैच कराकर आते ही पवेलियन भेजा। लंच के बाद भी आसमान साफ था जिससे भारतीयों का खुश होना लाजिमी था। ऐसे में शमी ने पांचवीं गेंद पर ही मार्को जेनसन (13) को ऑफ स्टंप से बाहर जाती गेंद पर ऋषभ पंत के हाथों कैच कराकर भारतीयों की बांछें खिला दी। अश्विन ने इसके बाद कैगिसो रबाडा को बैकवर्ड प्वाइंट और लुंगी एनगिडी को लेग स्लिप में कैच कराकर भारत की बड़ी जीत सुनिश्चित की।

Related Topics