Sports

आईटीआर ने 25 हजार किमी पेट्रोलिंग कर पाया पहला स्थान

आईटीआर ने 25 हजार किमी पेट्रोलिंग कर पाया पहला स्थान

बीजापुर। इंद्रवती टाइगर रिजर्व (आईटीआर) में पदस्थ अधिकारी व कर्मचारियों ने प्रदेश भर में सबसे ज्यादा जंगलों में पेट्रोलिंग कर पहला स्थान पाया हैं। अफसर अब इस काम में और ज्यादा कसावट लाने व कर्मियों को प्रोत्साहित करने हीरोस ऑफ द मंथ स्पर्धा शुरू की हैं। इस प्रतियोगिता में ज्यादा पेट्रोलिंग करने वाले बीएफओ (फारेस्ट बीट ऑफिसर) को इनाम देकर प्रोत्साहित किया जा रहा हैं।

देश के तीसरे सबसे बड़े इंद्रावती टाइगर रिजर्व क्षेत्र 2800 वर्ग किमी में विस्तारित हैं। इसमें 99 वन बीट हैं। यह पूरा इलाका बाघ, भालू, वन भैंसे, गौर, तेंदुआ समेत अन्य वन्यप्राणियों का रहवास स्थल हैं। इनकी सुरक्षा के लिए पूरे परिक्षेत्र के बीटों पर वनरक्षकों के द्वारा पैदल व मोटर साइकिलों से जंगलों में पेट्रोलिंग की जा रही हैं। 

इंद्रावती टायगर रिजर्व के उपनिदेशक गणवीर धम्मशील ने बताया कि दिसंबर में वनकर्मी 25 हजार किमी से ज्यादा पेट्रोलिंग की है, जो पूरे प्रदेश में पहला स्थान हैं। इससे पहले भी नवंबर में वन कर्मियों ने 21 हजार किमी पेट्रोलिंग की थी।

उपनिदेशक धम्मशील ने बताया कि इससे पहले यह पेट्रोलिंग क्षेत्र की संवेदनशीलता का हवाला देकर नहीं कि जाती थी। लेकिन वर्तमान में यहां लगातार पेट्रोलिंग हो रही है और इसकी रिपोर्ट हेड ऑफिस भेजी जा रही हैं। उन्होंने बताया कि पेट्रोलिंग की रिपोर्ट से एनटीसीए ( नेशनल टाइगर कंजर्वेशन अथॉरटी) भी संतुष्ट हैं। एनटीसीए भी लगातार पेट्रोलिंग रिपोर्ट की समीक्षा कर रही हैं। पेट्रोलिंग का असर अब जंगलों में दिखने लगा हैं। वही वन कर्मी भी उत्साहित हैं।

Related Topics