Life Style

सुबह उठकर भूलकर भी न देखें इन चीजों को, नहीं तो पूरा दिन हो सकता है ख़राब

सुबह उठकर भूलकर भी न देखें इन चीजों को, नहीं तो पूरा दिन हो सकता है ख़राब

नई दिल्ली (एजेंसी)। सुबह जल्दी उठना स्वास्थ्य के लिए काफी फ़ायदेमंद माना जाता है. कहा तो ये भी जाता है कि सुबह की हवा-लाख रुपए की दवा. शास्त्रों में भी सुबह के समय को बहुत मूल्यवान बताया गया है. इस समय में हम जिस तरह की एनर्जी को स्टोर करते हैं, वो पूरे दिन हमारे साथ रहते हैं.

जो लोग सुबह के समय उठकर पूजा, पाठ, व्यायाम, स्नान या अपना कोई जरूरी काम करते हैं, उनका शरीर पूरे दिन एनर्जी से भरा रहता है और वे खुद को काफी फुर्तीला महसूस करते हैं. साथ ही हमारे काम बनते चले जाते हैं. लेकिन अगर सुबह के समय हम गलत बातें करें, गलत चीजों को देख लें तो हमारे दिमाग पर उसका नकारात्मक असर पड़ता है.

ऐसे में हमारा किसी काम में ठीक से मन नहीं लगता, कभी कभी व्यर्थ ही विवादों में समय निकल जाता है और कई बार तो पूरा दिन खराब चला जाता है. इसीलिए हमारे धर्म शास्त्रों में सुबह उठते समय ही प्रभु का नाम लेने की बात कही गई है, ताकि दिन की शुरुआत ही सकारात्मकता के साथ हो. ज्योतिष के मुताबिक सुबह उठते ही कुछ काम कभी नहीं करने चाहिए. इससे आप नकारात्मक ऊर्जा आकर्षित करते हैं और इसके कारण आपका पूरा दिन खराब हो सकता है.

आइना न देखें

कुछ लोग सुबह के समय उठते ही सबसे पहले अपना चेहरा देखना पसंद करते हैं, लेकिन ज्योतिष के अनुसार ऐसा नहीं करना चाहिए. इससे नेगेटिव एनर्जी का संचार होता है और इसका असर व्यक्ति के विचारों में नजर आता है. कई बार इसके कारण बनते हुए काम भी बिगड़ जाते हैं.

गंदे बर्तन

वास्तु के अनुसार रात में जूठे बर्तन कभी सिंक में छोड़ने ही नहीं चाहिए. लेकिन अगर आपकी रसोई में गंदे बर्तन पड़े भी हैं, तो सुबह उठते ही उन बर्तनों को न देखें. इससे आपका दिन तनावपूर्ण गुजरता है.

बंद घड़ी

घड़ी का चलते रहना ही शुभ होता है. सुबह सुबह कभी भी बंद घड़ी पर नजर नहीं डालनी चाहिए. न ही सुई और धागा देखना चाहिए. इससे आपका किसी से झगड़ा हो सकता है या किसी कारण से आपका दिन खराब हो सकता है.

जानवरों की तस्वीर

कुछ लोग घर में जानवरों की तस्वीर लगा देते हैं, सुबह उठने के साथ इन पर नजर नहीं डालनी चाहिए. इससे आपका दिन विवादों और उलझनों में बीतता है. बेहतर है कि आप अपने कमरे में किसी जानवर की तस्वीर ही न लगाएं.

क्या करें

सुबह के समय अपनी हथेलियों को देखना चाहिए क्योंकि इसमें आपकी तकदीर छिपी होती है. अपनी हथेली में देखते हुए ‘कराग्रे वसते लक्ष्मीः करमध्ये सरस्वती, करमूले तु गोविन्दः प्रभाते करदर्शनम’ बोलना चाहिए और प्रभु का मन में स्मरण करके उन्हें प्रणाम करना चाहिए.

Related Topics