Life Style

इस दिशा में भूलकर भी ने सोय शादीशुदा महिलाएं, जीवन साथी संग होने लगते है झगडे, पड़ सकता कई मुश्किलों का सामना

इस दिशा में भूलकर भी ने सोय शादीशुदा महिलाएं, जीवन साथी संग होने लगते है झगडे, पड़ सकता कई मुश्किलों का सामना

न्युज डेस्क (एजेंसी)। हमारे जीवन में वास्तु शास्त्र का बहुत महत्व होता है. वास्तु के अनुसार अगर जीवन में सब किया जाए तो परेशानियां भी काम होती है. वास्तु शास्त्र में सोने की दिशा को लेकर भी कुछ महत्वपूर्ण बातें बताई गई हैं. वास्तु के अनुसार, कुछ खास दिशाओं में पैर करके सोने से इंसान का दुर्भाग्य प्रबल होता है और जीवन में परेशानियां बढ़ने लगती हैं. आइए आज आपको बताते हैं कि घर में वो कौन सी खास दिशाएं होती हैं, जहां लोगों को पैर करके सोने से बचना चाहिए.

सोते वक्त इस दिशा में ना करें पैर

वास्तु के अनुसार, हमें कभी भी दक्षिण दिशा की ओर पैर करके नहीं सोना चाहिए. इसे यमराज की दिशा माना जाता है. ऐसा कहते हैं कि इस दिशा में पैर करके सोने से यम देव नाराज हो जाते हैं जिसका असर हमारे स्वास्थ्य और उम्र दोनों पर पड़ सकता है. बुजुर्ग और अस्वस्थ लोगों को इस बात का विशेष ख्याल रखना चाहिए. दक्षिण दिशा में सिर करके सोना बहुत उत्तम माना जाता है.

कुंवारी लड़कियां इस दिशा में ना रखें पैर 

वास्तु शास्त्र के अनुसार, अविवाहित कन्याओं को दक्षिण-पश्चिम दिशा में पैर करके सोने से बचना चाहिए. कन्याओं के लिए इस दिशा में पैर करके सोना शुभ नहीं माना जाता है. हालांकि विवाह योग्य कन्याओं के लिए उत्तर की ओर पैर करके सोना शुभ होता है.

शादीशुदा महिलाएं इस दिशा में ना रखें पैर 

ऐसी मान्यताएं हैं कि शादीशुदा महिलाओं को वायव्य कोण में नहीं सोना चाहिए. यह उत्तर और पश्चिम के बीच का स्थान होता है. ऐसा कहते हैं कि इस दिशा में सोने से महिलाएं अलग घर बसाने का सपना देखने लगती हैं.

Related Topics