National

Previous123456789...355356Next

हिमाचल में जहरीली शराब पीने से अब तक 7 लोगों की मौत

Date : 20-Jan-2022

मंडी (एजेंसी)। हिमाचल में जहरीली शाराब पीने के कारण मरने वालों की संख्या अब 7 हो गई है। बुधवार को 5 लोगों ने दम तोड़ा था, वहीं गुरुवार तड़के 2 और लोगों की मौत हो गई है। मृतकों की पहचान सीता राम पुत्र बंगालू राम निवासी खनयोड तहसील सुंदरनगर के रूप में हुई है। बताया जा रहा है कि सीता राम ने घर मे दम तोड़ा है। उसने 17 जनवरी को शराब पी थी। सीता राम मिस्त्री का काम करता था। परिजनों को कमरे में पानी की बाेतल में शराब मिली हुई मिली है। पुलिस ने बोतल व शव कब्जे में लिया है। वहीं, भगत राम की गुरुवार तड़के मौत हो गई। वह नेरचौक मेडिकल कॉलेज में उपचाराधीन था।

इसके अलावा जहरीली शराब पीने से भर्ती गणपत की हालत नाजुक है। आधी रात को आईजीएमसी शिमला रेफर किया गया है। अभी तीन और लोगों की हालत नाजुक बताई जा रही है। बुधवार को पांच लोगों की मौत हुई थी। इस तरह अब तक सात लोग जान गंवा चुके हैं। एसडीएम धर्मेश रामोतरा ने मौत की पुष्टि की है।

View More...

विधानसभा के चुनाव के लिए भाजपा ने 60 से अधिक टिकट किए फाइनल, आज होगी उम्मीदवारों की घोषणा

Date : 20-Jan-2022

देहरादून (एजेंसी)। उत्तराखंड की पांचवीं विधानसभा के चुनाव के लिए भाजपा ने बुधवार को 60 से अधिक टिकट फाइनल कर दिए हैं। गुरुवार दोपहर 12 बजे पार्टी प्रत्याशियों की पहली सूची जारी कर देगी। शेष सीटों पर दोबारा मंथन के बाद अगले प्रत्याशियों की दूसरी सूची जारी हो सकती है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मदन कौशिक ने गुरुवार तक प्रत्याशियों की पहली सूची जारी हो जाने की पुष्टि की।

बुधवार को नई दिल्ली में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की अध्यक्षता में केंद्रीय संसदीय बोर्ड की बैठक हुई। बैठक में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, राष्ट्रीय महामंत्री संगठन बीएल संतोष, उत्तराखंड चुनाव प्रभारी प्रह्लाद जोशी, उत्तराखंड से मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक और प्रदेश महामंत्री संगठन अजेय कुमार शामिल हुए।

सूत्रों के मुताबिक, देर रात तक उत्तराखंड की सभी 70 विधानसभा सीटों पर आए नामों के पैनल पर मंथन हुआ। इनमें से 60 से अधिक सीटों पर नाम फाइनल कर लिए गए। पार्टी सूत्रों के मुताबिक मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी खटीमा और प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक हरिद्वार विधानसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे। उनके अलावा सभी मंत्रियों के टिकट भी फाइनल हो गए हैं। गुरुवार को पार्टी के केंद्रीय कार्यालय में पत्रकार वार्ता के दौरान प्रत्याशियों की पहली सूची जारी हो जाएगी। कोटद्वार, डोईवाला समेत करीब 10 सीटों पर पार्टी बाद में निर्णय करेगी।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने बताया कि केंद्रीय संसदीय बोर्ड की बैठक में सभी 70 सीटों के पैनल पर गहन विचार-विमर्श हुआ। अधिकांश विस सीटों पर नाम फाइनल हो चुके हैं। गुरुवार को प्रत्याशियों के नामों की घोषणा हो सकती है।

कांग्रेस भी जल्द जारी कर सकती है उम्मीदवारों की सूची

टिकट बंटवारे को लेकर कांग्रेस में भी लगातार मंथन का दौर जारी है। पार्टी सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस भी जल्द अपने उम्मीदवारों का एलान कर सकती है। दरअसल, भाजपा और कांग्रेस के बीच टिकटों की घोषणा को लेकर रणनीतिक तौर पर पहले आप, पहले आप की होड़ लगी थी। एक-दूसरे के उम्मीदवारों की सूची देखकर अपने पत्ते खोलने की बात कही जा रही थी। अगर भाजपा अपने सीटों का एलान गुरुवार को कर देती है तो समझा जाता है कि कांग्रेस की सूची भी जल्द जारी हो सकती है। यह भी बताया गया है कि हरक सिंह की कांग्रेस में वापसी पर भी पार्टी जल्द फैसला लेगी।

नामांकन 21 से..

प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन शुक्रवार से शुरू होने जा रहे हैं। चुनाव आयोग ने इसकी तैयारी पूरी कर ली है। कोविड संक्रमण की वजह से पहली बार ऑफलाइन के साथ ही ऑनलाइन नामांकन की सुविधा भी दी जा रही है। हालांकि ऑनलाइन नामांकन पत्र भरने वालों को भी ऑफलाइन उसका प्रिंट जमा कराना होगा।

चुनाव आयोग के नोटिफिकेशन के मुताबिक, शुक्रवार से प्रदेशभर में विधानसभा चुनाव के नामांकन शुरू हो जाएंगे। 28 जनवरी तक नामांकन कर सकेंगे। इसके बाद 29 जनवरी को नामांकन की छंटनी होगी। 31 जनवरी तक नाम वापस ले सकते हैं। इसके बाद प्रत्याशियों की अंतिम सूची प्रकाशित कर दी जाएगी।
इस बार नामांकन की प्रक्रिया ऑफलाइन के साथ ऑनलाइन भी होगी। इसके लिए चुनाव आयोग ने सुविधा पोर्टल की शुरुआत की है। इस पोर्टल के माध्यम से प्रत्याशी अपने फॉर्म डाउनलोड कर सकता है, भर सकता है, शुल्क जमा करा सकता है।

दस हजार रुपये है जमानत राशि

विधानसभाचुनाव नामांकन के लिए सभी प्रत्याशियों के लिए जमानत राशि दस हजार रुपये है। आरक्षित वर्ग के प्रत्याशियों के लिए यह रकम पांच हजार रुपये होगी। राजपुर रोड के रिटर्निंग ऑफिसर रजा अब्बास ने बताया कि जो प्रत्याशी ऑनलाइन नामांकन करेगा, उसे नामांकन से जुड़े सभी दस्तावेज का प्रिंट लाकर संबंधित आरओ के पास जमा कराना होगा।

View More...

पर्स में रखें ये 5 चीजें, बरसने लगेगी माँ लक्ष्मी की कृपा

Date : 20-Jan-2022

न्युज डेस्क (एजेंसी)। फिर फिजूल खर्चे से बचने के लिए पर्स का सही तरीके से इस्तेमाल करना बहुत ज़रूरी है। जीवन में पैसे की कमी से बहुत सारे कष्ट का सामना करना पड़ता है। कभी-कभी बहुत मेहनत के बाद भी पैसे की किल्लत होती है, इसलिए पैसा वाली जगह पर अनुपयोगी और अपवित्र चीज नहीं रखनी चाहिए। आइये जानते हैं कि वास्तु के अनुसार पर्स में क्या रखा चाहिए और क्या नहीं रखना चाहिए।

इन चीजों को पर्स में रखने से होता है लाभ

1.पर्स में सोने या चांदी का सिक्का रखने से धन लाभ होता है।

2. लाल रंग के कागज़ पर अपनी इच्छा लिखकर उसे रेशमी धागे से बांधकर पर्स में रखें।

3. पर्स में चावल रखने से आपको अनचाहे खर्चों से राहत मिलती है और पैसों में बढ़ोतरी होती है।

4. वास्तु के अनुसार माँ लक्ष्मी(Maa lakshmi ) की बैठी हुई तस्वीर पर्स में रखने से कभी भी पैसों की किल्लत नहीं होती है।

5 – पैसों की समस्याओं से मुक्ति चाहते हैं,तो किसी किन्नर(Transgender ) को पैसा देने के बाद उससे एक रुपए का सिक्का वापस लेंऔर  उसे अपने पर्स में रखे या तिजोरी में रखे। ऐसा करने से आपकी धन संबंधी परेशानियां दूर होती है।

भूलकर भी इन चीजों को न रखें पर्स में 

1. पर्स में कभी भी बेकार कागज़, कटे-फटे नोट, ब्लेड, रखने से आपको धन का अभाव हो सकता है।

2 – पर्स में उधारी के कागज़, पुराने बिल आदि नहीं रखने चाहिए इससे माँ लक्ष्मी नाराज होती है।

3. वास्तु के अनुसार पर्स में मरे हुए आदमी की तस्वीर नहीं रखनी चाहिए।

4 – पर्स में कभी भी चाबी नही रखनी चाहिए।

5 – पर्स में भूलकर भी बीड़ी ,सिगरेट आदि न रखें।

6 – पर्स में रुपये कभी मोड़कर नहीं रखें।

View More...

75 साल के इतिहास में पहली बार 30 मिनट देरी से शुरू होगी गणतंत्र दिवस परेड, पढे पूरी खबर

Date : 20-Jan-2022

नई दिल्ली (एजेंसी)। गणतंत्र दिवस पर सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए इस बार लालकिला 22 से 26 जनवरी तक पांच दिन के लिए बंद रहेगा। इस दौरान आम लोगों का प्रवेश वर्जित रहेगा। किसी भी स्थिति से निपटने के लिए भारी पुलिस बल की तैनाती रहेगी।

बता दे कि राष्ट्रीय राजधानी की सुरक्षा और हाल में पंजाब में पीएम नरेंद्र मोदी की सुरक्षा चूक को ध्यान में रखते हुए दिल्ली पुलिस अधिक सतर्कता बरतेगी। वही इस बार से गणतंत्र दिवस समारोह स्वतंत्रता सेनानी सुभाष चंद्र बोस की जयंती 23 जनवरी से ही शुरू हो जाएगा।

नहीं जाऊंगा बाइडेन के शपथ ग्रहण समारोह में, इनके साथ अन्याय नहीं होना चाहिए ….जानिए कौन

इतिहास में पहली बार 30 मिनट देरी से शुरू होगी गणतंत्र दिवस परेड

वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि हर साल गणतंत्र दिवस परेड सुबह 10 बजे शुरू होती थी, लेकिन इस साल यह 10.30 बजे शुरू होगी। ऐसा 75 साल में पहली बार होगा। उन्होंने कहा कि कोविड-19 प्रोटोकॉल की वजह से देरी होगी। अधिकारी के अनुसार परेड शुरू होने से पहले, जम्मू-कश्मीर में शहीद सुरक्षा कर्मियों को श्रद्धांजलि दी जाएगी। साथ ही झांकियां लाल किले तक जाएंगी और सार्वजनिक प्रदर्शन के लिए वहां खड़ी की जाएंगी, लेकिन मार्चिंग दस्ते नेशनल स्टेडियम में रुकें। COVID-19 प्रोटोकॉल के कारण, गणतंत्र दिवस पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों में शामिल कलाकारों को किसी से मिलने की अनुमति नहीं है. उन्होंने कहा कि समारोह पिछले साल की तरह 90 मिनट का होगा। प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी इंडिया गेट के पास राष्ट्रीय युद्ध स्मारक जाकर शहीदों को श्रद्धांजलि देंगे और फिर मार्च पास्ट होगा।

वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट दिखाना जरूरी

इस बार गणतंत्र दिवस के कार्यक्रम में 15 साल से छोटे बच्चे या स्कूली बच्चों को आने की अनुमति नहीं है। वही कार्यक्रम में हिस्सा लेने आए लोगों को वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट दिखाना अनिवार्य होगा।

View More...

पीएम मोदी आज आजादी के अमृत महोत्सव से स्वर्णिम भारत की ओर कार्यक्रम की करेंगे शुरुआत

Date : 20-Jan-2022

नई दिल्ली (एजेंसी)। देश में आज, गुरुवार से ‘आजादी के अमृत महोत्सव से स्वर्णिम भारत की ओर’ कार्यक्रम की शुरुआत होने जा रही है। पीएम मोदी आज सुबह साढ़े 10 बजे वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए इस कार्यक्रम को संबोधित करेंगे। प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने इसकी जानकारी दी है। इस कार्यक्रम में ब्रह्म कुमारियों द्वारा आजादी के अमृत महोत्सव को समर्पित साल भर चलने वाले कार्यक्रमों की शुरुआत होगी। पीएमओ के अनुसार इन पहलों में 30 से अधिक अभियान और 15,000 से ज्यादा कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।

सात पहलों को हरी झंडी दिखाएंगे पीएम

कार्यक्रम के दौरान, प्रधानमंत्री ब्रह्म कुमारियों की सात पहलों को हरी झंडी दिखाएंगे। इनमें मेरा भारत स्वस्थ भारत, आत्मानिर्भर भारत: आत्मनिर्भर किसान, ‘महिलाएं: भारत की ध्वजवाहक’, अनदेखा भारत साइकिल रैली, एकजुट भारत मोटर बाइक अभियान और स्वच्छ भारत अभियान के तहत हरित पहलें शामिल हैं। इस कार्यक्रम के दौरान ग्रैमी अवार्ड विजेता रिकी रेज द्वारा आजादी के अमृत महोत्सव को समर्पित एक गाना भी जारी किया जाएगा।

View More...

निर्वाचन आयोग ने की घोषणा, पंजाब में अब मतदान 20 फरवरी को

Date : 18-Jan-2022

नई दिल्ली (एजेंसी)। निर्वाचन आयोग ने उपलब्ध कराए गए सभी तथ्यों पर विचार करने के बाद 8 जनवरी को पंजाब राज्य की विधानसभा के लिए वर्ष 2022 में होने वाले आम चुनावों की घोषणा की है, जिसके तहत चुनाव की अधिसूचना 21 जनवरी को जारी की जानी है और मतदान 14 फरवरी को होना था।

आयोग को राज्य सरकार, राजनीतिक दलों और अन्य संगठनों की ओर से कई अनुरोध – पत्र प्राप्त हुए हैं, जिसमें 16 फरवरी को मनाए जाने वाले गुरु रविदास जयंती समारोह में भाग लेने के लिए पंजाब से बड़ी संख्या में भक्तों की वाराणसी आवाजाही के संबंध में ध्यान आकर्षित किया गया है। उनलोगों द्वारा इस तथ्य की ओर भी ध्यान दिलाया गया है कि समारोह के दिन से लगभग एक सप्ताह पहले बड़ी संख्या में भक्त वाराणसी की ओर रवाना होना शुरू कर देते हैं और मतदान का दिन 14 फरवरी को रखे जाने से बड़ी संख्या में मतदाता मतदान से वंचित रह जाएंगे। इस स्थिति को देखते हुए उन्होंने मतदान की तिथि को बदलकर 16 फरवरी के कुछ दिनों बाद रखने का अनुरोध किया है। आयोग ने इस संबंध में राज्य सरकार और पंजाब के मुख्य चुनाव अधिकारी से भी जानकारी ली है।

इन अनुरोध – पत्रों, राज्य सरकार और मुख्य चुनाव अधिकारी द्वारा दी गई जानकारियों, पूर्व के निर्णयों और इस विषयसे संबंधित विभिन्न पहलुओं और परिस्थितियों की वजह से सामने आए इन नए तथ्यों पर विचार करने के बाद, अब आयोग ने पंजाब की विधानसभा के आम चुनावों को निम्नलिखित तरीके से पुनर्निर्धारित करने का निर्णय लिया है:

अधिसूचना जारी करने की तिथि: 25 जनवरी (मंगलवार)
नामांकन की अंतिम तिथि: 1 फरवरी (मंगलवार)
नामांकन की जांच की तिथि: 2 फरवरी (बुधवार)
नामांकन वापस लेने की तिथि: 4 फरवरी (शुक्रवार)
मतदान की तिथि : 20 फरवरी (रविवार)
मतगणना 10 मार्च (गुरुवार) को होगी।

View More...

देश में 12 से 14 साल तक के बच्चों के लिए टीकाकरण का अभी कोई फैसला नहीं

Date : 18-Jan-2022

नई दिल्ली (एजेंसी)। देश में 12 से 14 साल तक के बच्चों का कोरोना रोधी टीकाकरण जल्द शुरू करने को लेकर केंद्र सरकार ने अभी कोई फैसला नहीं किया है। देश में अभी 15 से 18 साल तक किशोरों व वयस्कों का टीकाकरण जारी है। 12-14 वर्ष के आयु वर्ग में अनुमानित आबादी 7.5 करोड़ है। इतनी ही आबादी उन किशोरों की है, जिनका टीकाकरण अभी चल रहा है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आधिकारिक सूत्रों ने मंगलवार को यह बात कही। सूत्रों ने कहा कि 12 से 14 साल तक के बच्चों के टीकाकरण पर अभी निर्णय नहीं हुआ है। सोमवार को केंद्र सरकार के कोविड-19 वर्किंग ग्रुप (NTAGI) के अध्यक्ष डॉक्टर एनके अरोड़ा ने कहा था कि भारत में 12 से 14 साल के बच्चों का टीकाकरण मार्च में शुरू हो सकता है। उन्होंने कहा था कि मार्च तक 15 से 18 साल के किशोरों का टीकाकरण पूरा हो जाने की उम्मीद है। ऐसे में अगले चरण में 12 से 14 साल तक के बच्चों को टीका लगाए जाने की उम्मीद है।

3.45 करोड़ किशोरों को लगे टीके

डॉक्टर अरोड़ा के मुताबिक देश में 15-18 आयु वर्ग के 7.5 करोड़ लोग हैं। इनमें से 3.45 करोड़ किशोरों को कोरोना की वैक्सीन लग चुकी है। चूंकि, किशोरों को कोवाक्सिन लगाई जा रही है, इसलिए 28 से 42 दिन के अंदर उन्हें टीके की दूसरी खुराक भी दे दी जाएगी। यानी 15-18 आयु वर्ग का वैक्सिनेशन मार्च तक पूरा हो जाएगा। इसके बाद 12 से 14 साल वाले बच्चों का टीकाकरण पूरे जोर-शोर से शुरू किया जा सकेगा।

किशोरों को फरवरी में दूसरी खुराक

डॉ. अरोड़ा के अनुसार 15 से 18 आयु वर्ग के किशोर टीकाकरण प्रक्रिया में बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं और टीकाकरण की इस गति को देखते हुए इस आयु वर्ग के बाकी लाभार्थियों को जनवरी के अंत तक पहली खुराक लग जाने की संभावना है और उसके बाद उनकी दूसरी खुराक फरवरी के अंत तक दिए जाने की उम्मीद है। अरोड़ा ने कहा कि 15-18 वर्ष के आयु वर्ग का टीकाकरण हो जाने के बाद, सरकार मार्च में 12-14 वर्ष के आयु वर्ग के लिए टीकाकरण अभियान शुरू करने के बारे में नीतिगत फैसला कर सकती है।

View More...

सीएम योगी ने यूपी.टीईटी के लिए जारी किए निर्देश, अधिकारियों की जिम्मेदारी तय

Date : 18-Jan-2022

लखनऊ (एजेंसी)। योगी सरकार ने 23 जनवरी को होने वाली शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपी-टीईटी : 2021) को नकल विहीन, शांतिपूर्ण व पारदर्शिता से संपन्न कराने के लिए विस्तृत दिशानिर्देश जारी किए हैं। इसमें अधिकारियों के जिम्मेदारियां तय कर दी गई हैं। सुबह की पाली में टीईटी प्राथमिक स्तर व शाम की पाली में उच्च प्राथमिक स्तर की होगी। गौरतलब है कि प्रश्नपत्र लीक होने के बाद यह परीक्षा दोबारा आयोजित की जा रही है।

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा है कि यह परीक्षा जिला स्तर पर जिलाधिकारी की अध्यक्षता वाली समिति तय परीक्षा केंद्रों पर आयोजित कराएगी। प्रत्येक केंद्र पर दो स्टेटिक मजिस्ट्रेट लगाए जाएंगे, जिनकी देखरेख में पूरी परीक्षा होगी। इसी तरह उत्तर पुस्तिकाओं को कोषागार से प्रत्येक परीक्षा केंद्र पर सुरक्षित पहुंचाने की जिम्मेदारी डीएम द्वारा नामित सेक्टर मजिस्ट्रेट व डीआईओएस की होगी। प्रत्येक पाली के लिए स्टेटिक मजिस्ट्रेट व सेक्टर मजिस्ट्रेट अलग-अलग होंगे।

सीएम योगी ने दिए ये आदेश
वहीं योगी आदित्यनाथ ने इस परीक्षा को लेकर कहा है कि, टीईटी के लिए दागी व संदिग्ध छवि वाले संस्थानों को किसी भी हालत में केंद्र न बनाया जाए। इनकी पहले ही जांच कर ली जाए। परीक्षा केंद्र निर्धारण में संस्थान के पिछले रिकॉर्ड को जरूर देखें। सीएम ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ हुई बैठक में कहा, आगामी 23 जनवरी को प्रस्तावित शिक्षक पात्रता परीक्षा (टी.ई.टी.) के सुव्यवस्थित आयोजन के संबंध में पुख्ता तैयारियां कर ली जाएं। प्रत्येक केंद्र पर कोविड प्रोटोकॉल का पालन सुनिश्चित किया जाए। शिक्षक पात्रता परीक्षा (टी.ई.टी.) परीक्षा केंद्र निर्धारण में संस्थान के पिछले रिकॉर्ड को अवश्य देखा जाए। दागी/संदिग्ध छवि के संस्थानों को परीक्षा केंद्र न बनाया जाए। टी.ई.टी. परीक्षा की शुचिता हेतु एसीएस गृह व एडीजी कानून-व्यवस्था, प्रमुख सचिव बेसिक शिक्षा के साथ सभी जिलाधिकारियों, बेसिक शिक्षा अधिकारियों व परीक्षा से जुड़े अन्य अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से संवाद कर व्यवस्थाओं की पड़ताल करें।

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने प्रत्येक परीक्षा केंद्र पर प्रत्येक पाली के लिए पर्याप्त पुलिस बल की तैनाती के निर्देश दिए हैं। इसके अतिरिक्त आवश्यक संख्या में महिला पुलिसकर्मियों की तैनाती भी करने को कहा है। ये निर्देश समस्त मंडलायुक्तों, जिलाधिकारियों, पुलिस आयुक्तों व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों को जारी किए गए हैं।

अपर मुख्य सचिव ने प्रत्येक परीक्षा केंद्र पर प्रश्नपत्र खोले जाने और परीक्षा समाप्त होने के बाद ओएमआर उत्तर पत्रक सील करने की वीडियो रिकार्डिंग कराने के निर्देश दिए हैं। वहीं, शासन की घोषणा के क्रम में परीक्षा में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों को परिवहन निगम की बसों और सिटी बसों में नि:शुल्क यात्रा सुविधा दी जाएगी। इसके लिए परिवहन निगम के अधिकारियों के साथ बैठक कर आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा गया है।

कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई से होगा पालन
– प्रत्येक केंद्र पर कोविड हेल्पडेस्क बनाया जाएगा।
– पर्याप्त संख्या में थर्मल स्कैनर व ऑक्सीमीटर की व्यवस्था की जाएगी।
– प्रत्येक परीक्षा कक्ष में हैंड सैनिटाइजर रखे जाएंगे।
– अतिरिक्त सर्जिकल मास्क रखा जाए, जिसे अभ्यर्थियों के भूलकर आने पर उपलब्ध कराया जाएगा।
– अभ्यर्थियों को उचित दूरी पर बैठाया जाएगा।

View More...

सीएम केजरीवाल ने किया एलान, आप ने भगवंत मान को बनाया सीएम उम्मीदवार

Date : 18-Jan-2022

मोहाली (एजेंसी)। पंजाब विधानसभा चुनाव में 48 साल के सांसद भगवंत मान आम आदमी पार्टी का सीएम चेहरा होंगे। आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने मोहाली में इसका एलान किया। उन्होंने कहा कि 22 लाख लोगों ने मान के पक्ष में राय दी है। इसके बाद कुछ लोगों ने नवजोत सिद्धू का नाम भी लिया था। इस दौरान भगवंत मान की माता हरपाल कौर और उनकी बहन भी मौजूद रहीं। मंगलवार दोपहर में केजरीवाल के एलान से पहले ही पूरे शहर में भगवंत मान के पोस्टर लग गए थे। नाम की घोषणा के बाद मंच पर केजरीवाल ने भगवंत मान को गले लगाया।

पार्टी के सहप्रभारी राघव चड्ढा ने भगवंत मान को सीएम घोषित किए जाने पर बधाई दी। इसके बाद उन्होंने मंच से साडा सीएम भगवंत मान नारा लगाया। इसके बाद भगवंत मान के जीवन से जुड़ा एक वीडियो भी मंच पर चलाया गया। इसमें उनके परिजनों, रिश्तेदारों व आम लोगों की राय को शामिल किया गया।

भगवंत मान की बहन मनजीत कौर ने कहा कि वह खुशनसीब समझती हूं कि मेरे भाई को इतनी बड़ी जिम्मेदारी सौंपी गई है। उन्होंने कहा कि आम घर पैदा हुए है। सुख दुख सब कुछ देखा है। उन्होंने कहा कि 20 साल के कॉमेडी के करियर में भी लोगों के मुद्दों को उठाया था। उन्होंने बताया कि वह लोगों को दिल से खुश करना चाहते थे। उन्होंने कहा कि उनके परिवार से किसी ने चुनाव नहीं लड़ा था। उन्होंने बताया कि वह पटियाला के एक निजी स्कूल में काम करती हैं। उनके स्कूल तो मोती महल के बिल्कुल पास है लेकिन वहां पर कोई दिन नहीं जाता, जहां पर लाठीचार्ज नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि मैं वायदा करती कि यह लड़ाई जब जीतेंगे तो मेरा भाई सबके चेहरे पर मुस्कान लेकर आएगा। क्योंकि मेरे भाई ने रंगला पंजाब बनाने का जो सपना देखा है, उसके लिए सहयोग की जरूरत है।

View More...

बैंक ने लोन देने से किया इनकार तो, शख्स ने बैंक में लगा दी आग

Date : 11-Jan-2022

नई दिल्ली (एजेंसी)। बैंक से लोन मिलना वर्तमान समय में बेहद आसान हो चुका है। आलम यह है कि खुद बैंक लोगों को सस्ते दर पर लोन देने के लिए आमंत्रित करती है, तो कई तरह के प्रलोभन भी देती है। हालांकि लोन देने की एक निश्चित प्रक्रिया और मापदंड है, जिसमें खरा उतरने और प्रमाणिकता सिद्ध होने के बाद ही लोन दिया जाता है।

इस लोन की सुविधा का लाभ कर्नाटक के हावेरी में एक शख्स लेना चाहता था, लेकिन मापदंड में खरा नहीं उतर पाने की वजह से उस शख्स को बैंक ने लोन देने से मना कर दिया, जिसके बाद उसने जो किया, उससे हड़कंप मचना स्वाभाविक था।

दरअसल, लोन नहीं मिलने पर गुस्साए एक युवक ने बैंक की बिल्डिंग को ही आग के हवाले कर दिया। पहले तो लगा कि बैंक की बिल्डिंग में आग लग गई है, लेकिन जब इस बात का पता लगाया गया कि आग कैसे लगी तो सभी के पैरों तले जमीन खिसक गई, क्योंकि आग लगी नहीं लगाई गई थी। हालांकि सूचना मिलने से मौके पर पहुंची दमकल की टीम ने आग पर काबू पा लिया।

मिली जानकारी के अनुसार आरोपी को लोन की जरूरत थी और इसके लिए वह बैंक गया। हालांकि, दस्तावेजों के वेरिफिकेशन के बाद बैंक ने शख्स को कर्ज देने से इंकार कर दिया। इससे गुस्साए व्यक्तित ने रविवार को बैंक में ही आग लगा दी।

आरोपी शख्स के खिलाफ कगिनेल्ली पुलिस ने केस दर्ज किया है और उसे भारतीय दंड संहिता यानी आईपीसी की धारा 436, 477 और 435 के तहत गिरफ्तार कर लिया गया है।

View More...
Previous123456789...355356Next