Breaking News

पुलिस विभाग में बड़े पैमाने में तबादला, 9 इंस्पेक्टर, 1 एसआई सहित 10 पुलिस अधिकारी हुए इधर से उधर

Date : 27-Jul-2021

बालोद। पुलिस विभाग में एक बार फिर बड़े पैमाने में तबादला हुआ है। नौ इंस्पेक्टर और एक एसआई सहित 10 पुलिस अधिकारियों इधर से उधर किया गया है। एसपी सदानंद कुमार ने इस संबंध में आदेश जारी किया है।

View More...

अपने बंगले से वापस विधानसभा पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री, मुख्यमंत्री से चर्चा जारी

Date : 27-Jul-2021

रायपुर। सदन से निकलकर अपने बंगले पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव वापस विधानसभा पहुंच चुके हैं। मीडिया के घेरे से निकलकर बगैर कुछ कहे वे सीधे मुख्यमंत्री के चेंबर में गए हैं। मुख्यमंत्री के चेंबर में बैठक हो रही है। सभी मंत्री भी मौजूद हैं।

टीएस सिंहदेव के सदन से जाने के बाद विधानसभा स्थित मुख्यमंत्री के चेंबर में आपात बैठक हुई थी। इस दौरान सभी मंत्री मौजूद थे। अब टीएस सिंहदेव के वापस विधानसभा लौटते ही फिर बैठक जारी है। इधर संसदीय कार्य मंत्री रविन्द्र चौबे ने मीडिया से चर्चा के दौरान कहा है कि टीएस सिंहदेव को गलतफहमी हुई है, हम बात करेंगे। बातचीत से सुलह के रास्ते खुल जाएंगे। उनसे लगातार बातचीत चल रही है। टीएस सिंहदेव हमारी सरकार के वरिष्ठ मंत्री हैं। साथ ही बृहस्पत सिंह की जान के खतरे को रविन्द्र चौबे ने खारिज किया है। बता दें कि ये पूरा मामला उस वक्त शुरू हुआ जब सरकार की ओर गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू का बयान आया।

View More...

आपस में भिड़े भाजपा नेताओं के दो गुट, पूर्व मंत्री और भाजपा जिला महामंत्री में जमकर हुई तू.तू मैं.मैं, वीडियो हुआ वायरल

Date : 27-Jul-2021

बेमेतरा। भाजपा किसान मोर्चा ने खाद की किल्लत को लेकर सोमवार को प्रदेश भर में प्रदर्शन किया। इस बीच बेमेतरा जिले के नवागढ़ में भाजपा नेताओं के दो गुट आपस में भिड़ गए। पूर्व मंत्री और भाजपा जिला महामंत्री में जमकर तू-तू मैं-मैं हो गई। एक दूसरे को देख लेने की धमकी तक दे डाली। अब इसका वीडियो वायरल है।

दरअसल, खाद वितरण में गड़बड़ियों का आरोप लगाकर भाजपा ने सरकार को विधानसभा से लेकर सड़क तक घेरने की योजना बनाई थी। इसके लिए खाद किल्लत को लेकर अलग-अलग जिलों में भाजपा नेता और कार्यकर्ता एकत्र हुए थे। इस दौरान नवागढ़ में प्रदर्शन के दौरान पूर्व मंत्री दयालदास बघेल और भाजपा जिला महामंत्री विकास धर दीवान बीच चौराहे पर आपस में भिड़ गए है। दोनों के बीच विवाद बढ़ने लगा और एक-दूसरे को धमकी देने लगे।

नेताओं के बीच विवाद होता देख, कार्यकर्ताओं के साथ लोगों की भी भीड़ जुट गई। मामला बिगड़ता देख अन्य नेता और सुरक्षाकर्मियों को बीच-बचाव करने के लिए आना पड़ा। उसके बाद पूर्व मंत्री को उनकी कार तक पकड़कर ले गए। बताया जाता है कि एक समय में विकास धर दीवान, दयालदास बघेल के ही कट्‌टर समर्थक माने जाते थे। इसके पहले स्व. डेरहू प्रसाद (कांग्रेस) और विकास के पिता स्व. कुमारधर दीवान के एक दूजे के लिए बने हैं ऐसा कहा जाता था। अब हालात कुछ और हैं। इससे भाजपा की अंदरुनी लड़ाई खुल कर सबसे सामने आ गई।

 
 
View More...

विधानसभा मानसून सत्र : आज पेश होना था अनुपूरक बजट, विपक्ष के हंगामे से सदन कल तक स्थगित

Date : 27-Jul-2021

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा के मानसून सत्र का दूसरा दिन हंगामेदार रहा। आज विपक्ष प्रश्नकाल से ही हावी रहा और सिंहदेव-बृहस्पत मामले में दोनों के पक्ष की मांग करते हुए हंगामे करता रहा। इस बीच वॉक आउट भी हुआ। इसके बाद जब सदन की कार्रवाई शुरु हुई और विधानसभा अध्यक्ष ने अनुपूरक बजट पेश करने मुख्यमंत्री को आमंत्रित किया, तो विपक्ष ने जोरदार तरीके से विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया और गर्भगृह में प्रवेश कर गए। आखिरकार विधानसभा अध्यक्ष ने व्यवस्था देते हुए आज पूरे दिन के लिए सदन को स्थगित कर दिया।

विदित है कि पांच दिनों तक के लिए निर्धारित छग विधानसभा के मानसून सत्र का आज दूसरा दिन है। निर्धारित कार्यसूची के मुताबिक आज राज्य का अनुपूरक बजट पेश किया जाना था। प्रश्नकाल के बाद ध्यानाकर्षण संपन्न होते ही विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को अनुपूरक बजट सदन के पटल पर रखने आमंत्रित किया। सीएम बघेल जैसे ही अपने स्थान पर खड़े हुए विपक्ष ने हंगामा शुरू कर दिया।

गर्भगृह में प्रवेश किया

विपक्ष के सभी सदस्यों ने मांग रखी कि सदन में स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव और कांग्रेस सदस्य बृहस्पत सिंह का पक्ष आना चाहिए, इस पर आसंदी से व्यवस्था आनी चाहिए। इस बात को लेकर विपक्षी सदस्यों ने हंगामा करते हुए गर्भगृह में प्रवेश कर दिया और लगातार नारेबाजी करते रहे। मामला शांत ना होते देख विधानसभा अध्यक्ष ने आखिरकार सदन को आज पूरे दिन के लिए स्थगित किए जाने की घोषणा कर दी।

View More...

स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव के बंगले के बाहर लगा नो एंट्री का बोर्ड

Date : 27-Jul-2021

रायपुर। विधानसभा में हंगामे के बाद स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने वाकआउट कर दिया। उन्होंने कह कि जब तक विधायक बृहस्पत सिंह के मामले में पूर्ण जांच नहीं हो जाती है, वे सदन की कार्रवाई में हिस्सा नहीं लेंगे। इसके बाद खबर आ रही है कि सिंहदेव ने अपने बंगले के बाहर `नो एंट्री` का बोर्ड लगवा दिया है। अभी फिलहाल वे किसी से मुलाकात नहीं करेंगे।

View More...

राजधानी सुपर स्पेशिलिटी हॉस्पिटल का लायसेंस रद्द, आदेश जारी

Date : 27-Jul-2021

रायपुर। राजधानी रायपुर के पचपेड़ी नाका स्थित राजधानी सुपर स्पेशिलिटी हॉस्पिटल का लायसेंस रद्द हो गया है। रायपुर कलेक्टर सौरभ कुमार ने हॉस्पिटल का लायसेंस रद्द कर दिया है। इस संबंध में रायपुर कलेक्टर सौरभ कुमार ने आदेश जारी किया है।

17 अप्रैल को इस अस्पताल में हुआ था बड़ा हादसा
दरअसल, राजधानी सुपर हॉस्पिटल में 17 अप्रैल को बड़ा हादसा हुआ था। जिसके चलते 7 कोरोना मरीजों की मौत हो गई थी। शार्ट सर्किट होने के वजह से अस्पताल में आग लग गई थी।

View More...

विधानसभा के मानसून सत्र में कांग्रेस विधायक बृहस्पत मामले को लेकर हुआ हंगामा, स्वास्थ्य मंत्री सदन छोड़ कर निकले बाहर

Date : 27-Jul-2021

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा के मानसून सत्र के दूसरे दिन भी कांग्रेस विधायक बृहस्पत सिंह मामले को लेकर हंगामा हुआ। इस बीच स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव सदन छोड़कर बाहर निकल गए। उन्होंने कहा कि जब तक इस मामले में सरकार का सही जवाब नहीं आता तब तक मैं अपने आप को सदन में खड़े होने योग्य नहीं समझता। टीएस सिंह देव इतना बोलकर अपनी सीट छोड़ कर चले गए। टीएस सिंह देव के इस ऐलान के बाद विपक्ष पार्टी ने हंगामा किया। हंगामे को देखते हुए कुछ देर के लिए सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी गई।

बता दें कि छत्तीसगढ़ विधानसभा के मानसून सत्र के पहले ही दिन हंगामा हो गया। विपक्ष ने कांग्रेस विधायक बृहस्पत सिंह पर हुए जानलेवा हमले का मामला उठा दिया। विपक्ष ने विधानसभा समिति से मामले की जांच कराने की मांग की। सदन में हंगामा की वजह से पहले सदन 5 मिनट फिर 3 बजे तक स्थगित कर दिया था। 3 बजे कार्रवाई शुरू होने के बाद विधानसभा अध्यक्ष ने कहा, मैंने आपकी बात सुन ली है।

View More...

असम और मिजोरम के बीच सीमा विवाद बना हिंसक, असम पुलिस के छह जवानों की मौत

Date : 27-Jul-2021

गुवाहाटी (एजेंसी)। असम और मिजोरम के बीच सीमा विवाद ने एक बार फिर हिंसक रूप ले लिया है। इस हिंसा में असम पुलिस के छह जवानों की जान चली गई है। हिंसा में वाहनों पर हमला किए जाने की भी खबरें हैं। दोनों ही राज्‍यों के मुख्‍यमंत्रियों ने इस मसले पर ट्वीट कर एक दूसरे के अधिकारियों पर आरोप लगाए हैं। इस मसले पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दोनों ही राज्‍यों के मुख्‍यमंत्रियों से बात की है। इस घटना का एक वीडियो सामने आया है जिसमें लोग लाठियां लिए नजर आ रहे हैं।

असम के मुख्यमंत्री ने कहा- मिजोरम की ओर से हुई गोलीबारी

असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्व सरमा ने ट्वीट कर बताया कि सोमवार को मिजोरम की ओर से उपद्रवियों द्वारा की गई फायरिंग में कछार जिले में असम पुलिस के छह कर्मियों की मौत हो गई। वहीं असम के मंत्री परिमल शुक्लाबैद्य (Parimal Suklabaidya) ने कहा कि हिंसा में करीब 80 लोग घायल भी हुए हैं। असम पुलिस की ओर से कोई फायरिंग नहीं हुई। मिजोरम की ओर से जलियांवाला बाग में अंग्रेजों की ओर से की गई फायरिंग की तरह गोलीबारी की गई।

ऊंचाई पर थी मिजोरम पुलिस

वहीं सीआरपीएफ एडीजी संजीव रंजन ओझा ने कहा कि सीआरपीएफ को स्थिति पर नियंत्रण करने का निर्देश दिया गया है। गृह मंत्री अमित शाह ने असम और मिजोरम के मुख्यमंत्रियों से बात की है। दोनों राज्‍यों पुलिस बलों को घटनास्थल से हटाने पर सहमति बनी है। उन्‍होंने यह भी बताया कि मिजोरम पुलिस ऊंचाई पर मौजूद थी और असम पुलिस के जवान मैदानी इलाकों में थे। आंसू गैस के गोले से कुछ राउंड की गोलीबारी के बाद अचानक दोनों तरफ से स्वचालित हथियारों से फायरिंग होने लगी जिसमें असम पुलिस के छह जवानों की मौत हो गई है।

पुलिस अधीक्षक को भी लगी गोली

दोनों राज्यों की सीमा पर लगातार हो रही फायरिंग के दौरान जंगल में मौजूद असम पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि फायरिंग और पत्थरबाजी में घायल होने वालों में कछार के पुलिस अधीक्षक निंबाल्कर वैभव भी शामिल हैं। उनकी टांग में गोली लगी है।

अचानक होने लगी फायरिंग

बताया जाता है कि दोनों ओर के अधिकारी जब मतभेदों को सुलझाने के लिए बातचीत कर रहे थे, तभी दोनों से उपद्रवियों ने अचानक फायरिंग शुरू कर दी। इससे पहले, मिजोरम के आइजी (उत्तरी रेंज) लालबियकथांगा खिआंगते ने बताया कि रविवार रात करीब 11.30 बजे समस्या ग्रस्त इलाके में ऐतलांग स्ट्रीम के पास खेत में खाली पड़ीं कम से कम आठ झोपडि़यों को आग लगा दी गई थी। ये झोपडि़यां असम सीमा से लगते वैरेंगते गांव के किसानों की थीं।

View More...

शर्तों के आधार पर ऑफलाईन कक्षाएं प्रारंभ करने की दी अनुमति, आदेश जारी

Date : 27-Jul-2021

रायपुर। प्रदेश में स्कूल शिक्षा विभाग की ऑफलाईन कक्षाएं प्रारंभ करने के संबंध में राज्य शासन द्वारा निर्णय लिया गया है। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा इस संबंध में आज यहां मंत्रालय से जारी आदेश अनुसार ऑफलाईन कक्षाएं प्रारंभ करने की अनुमति शर्तों के आधार पर दी गई है।

ऑफलाईन कक्षाएं प्रारंभ करने की शर्तो के अनुसार स्कूल शिक्षा विभाग के अंतर्गत सभी निजी एवं शासकीय विद्यालयों में कक्षा 10वीं एवं 12वीं की कक्षाएं सोमवार 2 अगस्त 2021 से प्रारंभ होगी। स्कूल शिक्षा विभाग के अंतर्गत सभी निजी एवं शासकीय विद्यालयों में कक्षा एक से 5वीं और कक्षा 8वीं की कक्षाएं प्रारंभ करने के संबंध में ग्रामीण क्षेत्रों के लिए संबंधित ग्राम पंचायत और स्कूल की पालक समिति की अनुशंसा प्राप्त करना आवश्यक है। शहरी क्षेत्रों के लिए संबंधित वार्ड पार्षद एवं स्कूल की पालक समिति की अनुशंसा प्राप्त करना जरूरी है। उनकी अनुशंसा प्राप्त होने पर ही यह कक्षाएं सोमवार 2 अगस्त 2021 से प्रारंभ की जा सकेंगी।

आदेश की शर्तो के अनुसार यह कक्षाएं उन्हीं जिलों में प्रारंभ की जाएगी, जिनमें कोरोना की पॉजिटिविटी दर 7 दिनों तक 1 प्रतिशत से कम रही हो। विद्यार्थियों को ऑफलाईन कक्षाओं में एक दिवस के अंतर पर बुलाया जाएगा, अर्थात प्रतिदिन केवल आधी संख्या में ही विद्यार्थी बुलाऐ जाएंगे। किसी भी विद्यार्थी को यदि सर्दी, खांसी, बुखार आदि होगा तो उसे कक्षा में नहीं बैठाया जाएगा। आदेश अनुसार ऑनलाईन कक्षाएं यथावत संचालित की जाती रहेंगी। किसी भी विद्यार्थी के लिए उपस्थिति अनिवार्य नहीं होगी। केन्द्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर जारी कोरोना संक्रमण से बचाव के निर्देशों का पूर्णतः पालन सुनिश्चित करना होगा। आदेश में सभी शिक्षण संस्थाओं के कमरों की साफ-सफाई ठीक प्रकार से करने को कहा गया है।

View More...

कोरोना बुलेटिन : प्रदेश में 411 लोगों ने दी कोरोना को मात, मिले 192 नए कोरोना मरीज, 1 मरीज की मौत

Date : 27-Jul-2021

रायपुर। छत्तीसगढ़ में कोरोना की रफ्तार अब थमने लगी है. अलग अलग जिलों मिल रहे मरीजों की संख्या में कमी आई है। इसी बीच सोमवार को प्रदेश में 192 नए मरीजों की पहचान की गई है। दूसरी ओर 01 मरीज की उपचार के दौरान मौत हो गई. राहत की बात यह रही कि बीते 24 घंटे में 411 मरीज इस वायरस को मात देकर घर लौटे है।

छत्तीसगढ़ में सोमवार को 192 नए संक्रमित मरीजों की पुष्टि होने के बाद कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 10 लाख एक हजार 359 हो गई है. अब तक 9 लाख 85 हजार 324 मरीज स्वस्थ हुए हैं। प्रदेश में अब तक 13 हजार 517 कोरोना संक्रमित मरीज की मौत हो चुकी है. नए मरीज मिलने और डिस्चार्ज होने के बाद अब सक्रिय मरीजों की संख्या 2 हजार 518 हो गई है।

View More...