Chhattisgarh

रायपुर जिले में कोरोना मरीजों के उपचार के लिए 700 ऑक्सीजन नए बेड्स का काम हुआ पूरा

Date : 14-Apr-2021

रायपुर। रायपुर जिले में कोविड की चुनौतियों से मुकाबले में लगातार संसाधन झोंके जा रहे हैं। अब रायपुर में ही ऑक्सीजन बेड्स की संख्या 7 सौ बढ़ाई जा रही है। कुल बेड की संख्या में भी 2730 का इजाफा किया जा रहा है। बुधवार को इसमें 260 बिस्तरों का इजाफा हो जाएगा।

रायपुर कलेक्टर डॉ एस भारती दासन के मुताबिक इस समय आयुर्वेदिक कॉलेज कोविड अस्पताल और कोविड केयर सेंटर लालपुर में ऑक्सीजन सुविधा वाले 4 -4 सौ बिस्तर मरीजों के उपचार की व्यवस्था की जा रही है ।इसी तरह अटारी स्थित साइंस कॉलेज में भी 3 सौ बिस्तरों का कोविड अस्पताल विकसित किया गया है जिसमें डेढ़ सौ बिस्तर ऑक्सीजन सुविधाओं के साथ हैं।

श्री दासन ने बताया कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल स्वयं सारी व्यवस्थाओं की नियमित समीक्षा कर रहे हैं. उन्होंने बताया कि अब समाज सेवी संस्थाएं और विभिन्न वाणिज्यिक संस्थाएं भी इस महामारी से लड़ाई में आगे आ रहीं हैं. ऐसी संस्थाओं की तरफ से अभी 4 सौ बिस्तरों के आइसोलेशन सेंटर और कम से कम सौ बिस्तरों के ऑक्सीजन बिस्तरों की व्यवस्था हो चुकी है .कुछ औद्योगिक प्रतिष्ठानों तथा बैंक के सहयोग से जिला प्रशासन को 250 ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर तथा 3 सौ से अधिक ऑक्सीजन सिलेंडर मिले हैं।

इनके अलावा आयुष विश्विद्यालय भवन में 3 सौ बिस्तरों के तथा नया रायपुर स्थित होटल मैनेजमेंट भवन में 5 सौ बिस्तरों के आइसोलेशन सेंटर की स्थापना की गई है. यह सारी सुविधाएं पहले ही मौजूद विभिन्न शासकीय स्वास्थ्य सेवाओं के अतिरिक्त हैं. रायपुर के इंडोर स्टेडियम में भी 3 सौ बिस्तरों का आइसोलेशन सेंटर विकसित कर लिया गया है. प्रयास बालक छात्रावास सड्डू और प्रयास बालिका छात्रावास गुढ़ियारी में भी 300- 300 बेड की व्यवस्था की गई है. ई एस आई हॉस्पिटल रायपुर में भी कोविड केयर सेंटर बनाया गया है यहां 200 बेड की व्यवस्था है। जिसमें 100बेड ऑक्सीजन सुविधाओं युक्त होंगे। इसी तरह वूमेन वर्किंग हॉस्टल कोविड केयर सेंटर फुण्डहर बनाया गया है जिसमें 270 बेड की व्यवस्था की जा रही है जिसमें 15 बेड ऑक्सीजन की सुविधा वाले हैं।

श्री दासन ने कहा कि जिला प्रशासन स्वास्थ्य विभाग सहित विभिन्न विभागों के साथ समन्वय स्थापित कर पूरी मुस्तैदी से जुटा हुआ है. उन्होंने नागरिकों से कोविड नियमों का कड़ाई से पालन करने की अपील की है और कहा है कि जिले में संसाधनों की कोई कमी नहीं है।

View More...

इस जिले में अब तक 1 लाख 91 हजार से अधिक लोगों को लगा कोरोना का टीका

Date : 14-Apr-2021

कोरबा। कोरबा जिले में कोरोना संक्रमण से बचाव एवं उसे फैलने से रोकने के लिए 45 वर्ष या उससे अधिक उम्र के सभी लोगों का टीकाकारण तेजी से जारी है। जिले में अभी तक 45 वर्ष से अधिक के एक लाख 91 हजार 557 लोगों को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज दी जा चुकी है। इन लोगों में स्वास्थ्य कर्मी, फ्रंटलाइन वर्कर, सीनियर सिटीजन, पत्रकार सभी शामिल हैं।

शहरी इलाकों के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्रों में इस टीकाकरण का सघन अभियान से आने वाले दिनों में 45 वर्ष या उससे अधिक के शत-प्रतिशत लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाने का लक्ष्य जिला प्रशासन ने रखा है। टीकाकरण केन्द्रों पर पर्याप्त संख्या में वैक्सीन की उपलब्धता सुनिश्चित की जा रही है। इसके साथ ही टीकाकरण केन्द्रों पर लोगों को टीका लगाने के बाद उनकी काउंसिलिंग भी की जा रही है। कोरबा जिले में 14 लाख 21 हजार से अधिक की जनसंख्या में 45 वर्ष और उससे अधिक उम्र के लगभग दो लाख 84 हजार 394 लोगों को कोरोना का टीका लगना है।

अभियान में कोरबा-कटघोरा शहरी इलाकों में सबसे ज्यादा लगे टीके - एक मार्च से शुरू हुए कोरोना वैक्सीन टीकाकरण अभियान में जिले में अब तक एक लाख 91 हजार 557 लोगों को कोरोना के टीके का पहला डोज लग चुका है। इनमें से 12 हजार से अधिक लोगों ने दूसरा डोज भी लगा लिया है। भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय की नई गाईड लाइन के अनुसार अब टीके का दूसरा डोज छह से आठ सप्ताह के बीच लगेगा। कोरबा और कटघोरा के शहरी इलाकों में सबसे अधिक 40 हजार 812 लोगों को कोरोना का वैक्सीन लगाया जा चुका है। ग्रामीण क्षेत्रों में पाली में 35 हजार 483 लोगों को, पोड़ी-उपरोड़ा विकासखण्ड में 28 हजार 080 लोगों को, कटघोरा विकासखण्ड में 30 हजार 161 लोगों को, करतला विकासखण्ड में 29 हजार 255 लोगों को एवं कोरबा ग्रामीण क्षेत्र में 27 हजार 766 लोगों को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगाई जा चुकी है। भारत सरकार के स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोविशील्ड टीके के पहले डोज से छह से आठ सप्ताह के अंतराल में कोवि शील्ड का दूसरा डोज लगाया जाना सुनिश्चित करने के निर्देश सभी जिला स्तरीय स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारियों को दिए गए हैं।

कोविड टीकाकरण के लिए 45 वर्ष या उससे अधिक उम्र के लोगों को किसी भी प्रकार की बीमारी संबंधी दस्तावेज या सर्टिफिकेट दिखाना अनिवार्य नहीं है। कोई भी व्यक्ति शासकीय या निजी टीकाकरण केन्द्र में पंजीयन आधार कार्ड, मतदाता परिचय पत्र, पासबुक, ड्राईविंग लायसेंस जैसे फोटो आईडी या शासकीय अभिलेख और अन्य दस्तावेजों के आधार पर अपना टीकाकरण करा सकता है। इसके साथ ही टीकाकरण कराने वाले व्यक्ति को टीकाकरण केन्द्र में अपना मोबाईल नम्बर भी बताना होगा। टीकाकरण के दौरान सामाजिक दूरी, सेनेटाईजर एवं मास्क का उपयोग जैसे निर्धारित प्रोटोकाल का पालन करना अनिवार्य है। टीकाकरण के पश्चात् आधा घंटा हितग्राही को निगरानी कक्ष मेें बैठाया जाता है।

View More...

रायपुर जिले में 60 निजी अस्पतालों को कोरोना उपचार के लिए मिली अनुमति

Date : 14-Apr-2021

रायपुर। कोविड-19 के संक्रमण की दशा में रायपुर जिले में 60 निजी अस्पतालों को उपचार के लिए अनुमति प्रदान की गई है। कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी डॉ एस भारतीदासन ने इन अस्पतालों में कोविड-19 के उपचार के दौरान मरीजों एवं परिजनों को किसी प्रकार की असुविधा नही हो, इसके लिए रेफरल संबंधी समन्वय, अस्पतालों में उपलब्ध बेड की स्थिति, डेड बॉडी मूवमेंट प्लान, प्राईवेट अस्पतालों में मरीजों के उपचार हेतु शासन के निर्धारित दर से अधिक दर लेने संबंधी अथवा अन्य किसी भी प्रकार की शिकायतों के निवारण एवं निजी अस्पतालों से समुचित समन्वय एवं सतत निगरानी के लिए पूर्व में जारी आदेश में आंशिक संशोधन करते हुए विभिन्न विभाग के अधिकारियों को नोडल अधिकारी बनाया है।

जिसके तहत ओम हास्पीटल, महादेवघाट रोड सुन्दर नगर रायपुर, जगन्नाथ मल्टीस्पेशलिटी, महादेवघाट रोड, रायपुरा तथा संकल्प हास्पीटल, सरोना के लिए ए.के.पाण्डेय, कार्यक्रम अधिकारी, जिला महिला एवं बाल विकास रायपुर, मो.नं.-9893943474 को नोडल अधिकारी बनाया गया है।

इसी तरह मेडिसाइन हास्पीटल, न्यू राजेन्द्र नगर रायपुर, श्रेयांश मल्टीस्पेशलिटी.अवंति विहार रोड तेलीबांधा , व्ही केयर हास्पीटल, रिंग रोड नं. 1 एयरटेल ऑफिस के पास तेलीबाधा, के लिए प्रशांत शर्मा, लीड बैंक मैनेजर रायपुर मो.नं.- 9825103039‌ को, उपाध्याय हास्पीटल, हीरापुर रोड, मोहबा बाजार, सुयश हास्पीटल, गुढ़ियारी रोड कोटा , हरी कृष्णा हास्पीटल, कोटा मेन रोड रायपुर, के लिए लोकनाथ साहू, उप संचालक, पंचायत रायपुर, मो.नं.- 9425518911 को नोडल अधिकारी बनाया गया है।

व्ही वाय हास्पीटल. कमल विहार , रामकृष्ण केयर, पचपेड़ी नाका , एम.एम.आई. हास्पीटल, लालपुर, र्के लिए सौलाभ साहू, श्रैत्रीय परिवहन अधिकारी, रायपुर मो.नं.- 7771841777 को ,लाईफबर्थ हास्पीटल, समता कॉलोनी , ममता नर्सिंग होम, जवाहर नगर के लिए डॉ. डी.के. नेताम, संयुक्त संचालक, पशु चिकित्सा, मो.नं.- 9993292200 को नोडल अधिकारी बनाया गया है।

नारायणा हास्पीटल, देवेन्द्र नगर, यशोदा चिल्ड्रन हास्पीटल, सेक्टर- 2 देवेन्द्र नगर, हैरिटेज हास्पीटल टिम्बर मार्कट रोड, देवेन्द्र नगर, के लिए श्रीमती प्राची मिश्रा, जिला योजना एवं सांख्यिकी अधिकारी, मो.नं.-9827402874 को, जीवन अनमोल हास्पीटल, टैगोर नगर , भाटिया हास्पीटल राजा तालाब, कृष्णा हॉस्पिटल, न्यू राजेन्द्र के लिए व्ही.के. देवांगन महाप्रबंधक, जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र, रायपुर मो.नं.- 9827178458 को नोडल अधिकारी बनाया गया है।

बालाजी हास्पीटल. अवनी विहार मोवा , गौतम मल्टीस्पेशलिटी हास्पीटल, बलौदाबाजार रोड सेमरीया, रायपुर, के लिए भुपेन्द्र पाण्डेय, संयुक्त संचालक, समाज कल्याण मो.नं.- 9993211205 को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है।

बालको केंसर हास्पीटल, सेक्टर -24, नवा रायपुर के लिए नारायण सिंह लवतरे,उप संचालक, उद्यानिकी मो.नं.- 9425593869 को ,लक्ष्मी केयर हास्पीटल, कुशालपुर चौक , कालडा बर्न एन्ड प्लास्टिक केयर पचपेड़ी नाका ,वैदेही हास्पीटल, राधास्वामी नगर भाटागांव के लिए डॉ. रविन्द्र कनखिवाले, जिला आयुर्वेद अधिकारी, मो.नं.- 9926654294 को ,आयुष मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल,

बिहान हॉस्पिटल और छत्तीसगढ़ दंत हॉस्पिटल के लिए श्रीमती आशालता गुप्ता, कार्यपालन अभियंता लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, मो.नं.- 9424119710 को, गायत्री हॉस्पिटल, लालमती मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल और दांत चिकित्सा देखभालऔर लाइफ केयर हॉस्पिटल के लिए अजय ठाकुर, अधीक्षण, अभियंता जल संसाधन विभाग रायपुर, मो.नं.- 9644990030 को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है।

इसी प्रकार विद्या हॉस्पिटल और किडनी केंद्र, दीवन मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल, होप वेल हॉस्पिटल कटोरा तालाब के लिए सी.पी. जैन, अधीक्षण, अभियंता जल संसाधन मो.नं.- 9425213699 को , कल्याण हॉस्पिटल, राजधानी सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल, के लिए विरेन्द्र जायसवाल. मुख्य कार्यपालन अधिकारी,

जनपद पंचायत धरसीवां मो.नं.- 9425582351 को, कृष्णा हॉस्पिटल के लिए रीमा मरकाम तहसीलदार खरोरा मो.नं.-96191972506 को ,अग्रवाल हॉस्पिटल, अनंत साई हॉस्पिटल, लाईफ लाइन अस्पताल के लिए सी.के.पाण्डेय, कार्यपालन अभियंता, लोक निर्माण विभाग सेतू निर्माण
मंडल मो.नं.- 9425529900 को नोडल अधिकारी बनाया गया है।

न्यू रायपुरा हॉस्पिटल, महामाया सुपरस्पेशलिटी हॉस्पिटल, मित्तल इंस्टिट्यूट आफ मेडिकल सांईस के लिए संजय वर्मा परि. अधी राष्ट्रीय राजमार्ग मो.नं.- 9425060677 को, एनकेडी हॉस्पिटल और मेटिनटी सेंटर, रायपुर इन्सिटियूट आफ मेडिकल साईन्स और दानी केयर हॉस्पिटलकेलिए आईलवार, अनुविभागीय अधिकारी, जल संसाधन विभाग, मो.नं.- 8435757082 को, एसएमसी हार्ट एंड आईवीएफ सेंटर,
स्वास्तिक नर्सिग होम, उर्मिला मेमोरियल हॉस्पिटल के लिए अवधिया. अधीक्षक जल संसाधन 946009035 को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है।

धन्वंतरि कैंसर और जवाइंट रिपलेशमेंट सेंटर, हॉरिजोन हॉस्पिटल, जय अंबे मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल के लिए एन. एस. छाबड़ा, कार्यपालन अभियंता, जल संसाधन क्रमांक-2, मो. नं.- 7440710251 को, खुशी हॉस्पिटल, राम किरण हॉस्पिटल,

संजीवनी सी.बी.सी.सी. कैसर हॉस्पिटल के लिए अभय अकोलेकर, कार्यपालन अभियंता, जल संसाधन मो. नं.- 9425503611 को , शुभकर्म हॉस्पिटल, सीआई. एल. टी. हॉस्पिटल के लिए एन आर के चन्द्रवंशी, उप पंजीयक, सहकारी संस्थायें, मो. नं.- 9406063442 को तथा लक्ष्मी केयर चंदखुरी तथा
श्रेयांश हॉस्पिटल आरंग के लिए विनायक शर्मा, अनुविभागीय दण्डाधिकारी, आरंग, मो. नं.- 9406388880 को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है।

कलेक्टर ने जिला प्रशासन से आवश्यक समन्वय हेतु डॉ. प्रकाश गुप्ता, सिविल सर्जन को सहायक नोडल अधिकारी की जिम्मेदारी सौंपी है। उन्होंने सभी नोडल अधिकारियों को अभिषेक कुमार सहायक कलेक्टर के निर्देशन एवं नियंत्रण में काम करने तथा प्रति दिवस रिपोर्ट देने निर्देशित किया है।

View More...

कोरोना संक्रमण की रोकथाम, उपचार और जरूरतमंदों की मदद के लिए राशि की नहीं होगी कमी : प्रभारी मंत्री रविंद्र चौबे

Date : 14-Apr-2021

रायपुर। कोरोना टीका लगवा चुके लोग कोविड-19 संक्रमण के दूसरे दौर में काफी हद तक सुरक्षित हैं। कोरोना संक्रमित होने वालों में, ऐसे लोगों की संख्या नगण्य है, जो कोरोना का पहले अथवा दोनों दौर का टीका लगवा चुके हैं। रायगढ़ जिले में कोरोना वैक्सीनेशन तेजी से कराया जा रहा है। पात्रतानुसार 94 प्रतिशत यानी 2,86,531 लोगों को प्रथम दौर का तथा 8443 लोगों को द्वितीय दौर का टीका लगाया जा चुका है। यह बातें जिला प्रशासन रायगढ़ के वरिष्ठ अधिकारियों एवं विशेषज्ञ चिकित्सकों ने कृषि एवं जल संसाधन मंत्री तथा रायगढ़ जिले के प्रभारी मंत्री रविंद्र चौबे द्वारा कोरोना महामारी प्रबंधन के संबंध में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ली जा रही समीक्षा बैठक के दौरान कही।

प्रभारी मंत्री रविंद्र चौबे एवं उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल आज रायपुर स्थित अपने निवास कार्यालय से रायगढ़ जिले के जनप्रतिनिधियों, वरिष्ठ अधिकारियों की वर्चुअल बैठक लेकर रायगढ़ जिले में कोरोना महामारी प्रबंधन की स्थिति की गहन समीक्षा की। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण की रोकथाम, उपचार और जरूरतमंदों की मदद के लिए राशि की कमी नहीं आने दी जाएगी। जिला प्रशासन को उसकी आवश्यकता के अनुरूप फंड उपलब्ध कराया जाएगा। उन्होंने 14 अप्रैल से 22 अप्रैल तक रायगढ़ जिले में होने वाले लॉकडाउन की तैयारियों के बारे में भी कलेक्टर भीम सिंह, पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह से जानकारी ली। मंत्री रविंद्र चौबे ने कहा कि लॉक डाउन के दौरान श्रमिकों एवं जरूरतमंदों को राशन आदि की व्यवस्था सुनिश्चित की जानी चाहिए। कोरोना संक्रमित लोगों के उपचार के पुख्ता प्रबंध किए जाएं।

कोविड संक्रमित ऐसे लोग, जो होम आइसोलेशन में हैं। उनके दवाओं की आपूर्ति और फालोअप का भी विशेष ध्यान रखा जाये। मंत्री श्री चौबे ने कहा कि कोरोना संक्रमण की वर्तमान स्थिति गंभीर है। ऐसी स्थिति में हमारी यह जिम्मेदारी है, कि हम अपने कर्तव्य के निर्वहन के प्रति भी पूरी तरह से तत्पर और गंभीर रहें। उन्होंने कलेक्टर भीम सिंह को कोरोना महामारी नियंत्रण और पीड़ितों के इलाज की बेहतर व्यवस्था के लिए डीएमएफ की राशि के उपयोग के निर्देश दिए। इस अवसर पर विधायकगणों ने भी विधायक निधि की राशि का कोरोना नियंत्रण एवम उपचार की व्यवस्था के लिए उपयोग किए जाने की सहमति दी।

कलेक्टर भीम सिंह ने बताया कि कोरोना नियंत्रण के लिए 14 अप्रैल से 22 अप्रैल तक जिले में लॉकडाउन रहेगा। इसको लेकर आवश्यक तैयारियां कर ली गई हैं। बाहर से आने वाले लोगों एवं श्रमिकों को क्वारेंटिंन सेंटर में रखे जाने हेतु पंचायतों में क्वॉरेंटाइन सेंटर स्थापित किए जा रहे हैं। वहां भोजन, आवास, पेयजल आदि का प्रबंध सुनिश्चित किया गया है। कलेक्टर ने बताया कि रायगढ़ जिले में कोविड-19 के इलाज के लिए पर्याप्त प्रबंध किए गए हैं। मातृ-शिशु चिकित्सालय में 100 बिस्तर वाला, कोविड डेडिकेटेड हॉस्पिटल तथा मेडिकल कॉलेज रायगढ़ में 200 बिस्तर हॉस्पिटल संचालित है। अभी 54 आईसीयू तथा 332 ऑक्सीजन बेड कार्यरत हैं। इनकी संख्या बढ़ाने का भी प्रयास किया जा रहा है। 80 ऑक्सीजन बेड और तैयार किए जा रहे हैं। केआईटी रायगढ़ में 500 बिस्तर वाला कोविड-केयर सेंटर एक-दो दिन में तैयार हो जाएगा।

उन्होंने बताया कि सारंगढ़ स्थित मंगल भवन में 50 बेड वाला कोविड-केयर सेंटर संचालित है। लैलूंगा के एमसीएच में 50 बेडेड कोविड सेंटर तैयार किया जा रहा है। रायगढ़ स्थित निजी चिकित्सालयों में भी कोरोना मरीजों के इलाज के लिए पर्याप्त प्रबंध किए गए हैं। समीक्षा बैठक में विधायक रायगढ़ प्रकाश नायक और सारंगढ़ विधायक उत्तरी गणपत जांगड़े ,मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केशरी भी बैठक में वर्चुअल रूप से शामिल हुए। 

View More...

मुख्यमंत्री बघेल ने कोरोना को हराने में मदद के लिए आगे आ रहे संगठनों की सराहना

Date : 14-Apr-2021

रायपुर। मुख्यमंत्री बघेल की अपील पर राज्य में कोरोना को हराने में मदद के लिए विभिन्न संगठन और सामाजिक संस्थाएं बढ़-चढ़ कर भागीदारी निभाने आगे आने लगे हैं। इस कड़ी में आज मुख्यमंत्री बघेल को राजधानी रायपुर के विभिन्न औद्योगिक संस्थानों तथा क्रेडाई, बैंक आदि प्रतिष्ठानों ने एक करोड़ 39 लाख 75 हजार रूपए की राशि के राहत सामग्री प्रदत्त किए।

मुख्यमंत्री बघेल ने राज्य में कोरोना नियंत्रण हेतु शासन के साथ विभिन्न संगठनों के सहयोग की सराहना की और उनसे आज अपने निवास कार्यालय में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा करते हुए अपना आभार जताया। इस अवसर पर वीडियों कांफ्रेंसिंग में संसदीय सचिव विकास उपाध्याय, अध्यक्ष छत्तीसगढ़ हाउसिंग बोर्ड कुलदीप जुनेजा, महापौर एजाज ढेबर तथा जिला कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन और विभिन्न औद्योगिक प्रतिष्ठानों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री बघेल ने इस दौरान कहा कि राज्य में कोरोना की स्थिति पर नियंत्रण के लिए सरकार द्वारा हर आवश्यक उपाय किए जा रहे हैं। इसके तहत मरीजों की तत्परता से इलाज सुविधा के लिए अस्पतालों में बेडों की संख्या में निरंतर वृद्धि की जा रही है। इसके साथ ही कोविड सेंटर और क्वारेंटीन सेंटर भी तेजी से खोले जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में वर्तमान में शासकीय हो अथवा निजी अस्पताल कहीं भी ऑक्सीजन बेड की कमी नहीं है। इनकी अभी पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित हो गई है। इसी तरह एक-दो दिवस के भीतर राज्य में रेमडेसीवीर इंजेक्शन की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित कर ली जाएगी।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बताया कि राज्य में रेमडेसीवीर इंजेक्शन की आपूर्ति निरंतर जारी है। इसके लिए राज्य सरकार ने अखिल भारतीय सेवाओं के दो वरिष्ठ अधिकारियों प्रबंध संचालक छत्तीसगढ़ राज्य सड़क विकास निगम और कृषि विभाग के संयुक्त सचिव भोस्कर विलास संदीपन को दवाइयों की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए मुंबई और छत्तीसगढ़ राज्य औद्योगिक विकास निगम के प्रबंध संचालक अरूण प्रसाद को हैदराबाद में तैनात किया हैं। इससे निरंतर आपूर्ति में मदद मिल रही हैं।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री बघेल से गोयल टीएमटी से संदीप गोयल, क्रेडाई से आनंद सिंघानिया, उरला स्पंज आयरन एसोसिएशन से मनोज अग्रवाल, हीरा ग्रुप से विनोद पिलई, बजरंग ग्रुप से बजरंग अग्रवाल आदि ने भी वीडियों कांफ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा करते हुए राज्य में कोरोना नियंत्रण के लिए किए जा रहे प्रयासों की सराहना की। इन संस्थानों के माध्यम से अभी 69 लाख 75 हजार रूपए की राशि के 155 ऑक्सीजन कोनसेंटेटर तथा 70 लाख रूपए की राशि के 350 ऑक्सीजन सिलेंडर की राहत सामग्री प्राप्त हुई है।

View More...

गृह मंत्री साहू ने सभी रेंज के पुलिस महानिरीक्षकों और पुलिस अधीक्षकों की ली बैठक, कहा जिला प्रशासन से समन्वय कर लॉकडाउन का कराएं सख्ती से कराएं पालन

Date : 14-Apr-2021

रायपुर। गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने आज अपने रायपुर निवास कार्यालय से वीडियों कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से सभी रेंज के पुलिस महानिरीक्षकों और पुलिस अधीक्षकों की बैठक ली। उन्होंने कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जिलों में लगाए गए लॉकडाउन की स्थिति और कानून-व्यवस्था की समीक्षा करते हुए कहा कि जिला प्रशासन से समन्वय कर लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराएं।उन्होंने लॉकडाउन के दौरान चल रही गतिविधियों की जानकारी ली और कानून व्यवस्था के सुचारू संचालन के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

गृहमंत्री ने कहा कि पिछले लॉकडाउन के अनुभव से हमें बहुत कुछ सीखने को मिला है। उसी अनुभव के आधार पर एक्शन मोड में हमें काम करना है। उन्होंने कहा कि पुलिस अस्पतालों को पुलिस कर्मियों के लिए कोविड सेंटर के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। कोरोना संक्रमण का फैलाव रोकने के लिए जिला प्रशासन के साथ समन्वय बनाते हुए अपने संभाग और जिलों में लोगों से लॉकडाउन के नियमों का पालन कराएं और चेकिंग पॉइंट्स में मुस्तैद रहें। दिन में और रात में पेट्रोलिंग नियमित करें, गली, मोहल्ले में भी गश्त करते रहें। उन्होंने अवैध शराब और नशे के अवैध कारोबार पर भी नज़र रखने, पिछले वर्ष के लॉक डाउन में हुए नेचर ऑफ क्राइम की स्टडी करके अपने-अपने जिले में कानून व्यवस्था चुस्त रखने के निर्देश पुलिस अधिकारियों को दिए। गृह मंत्री ने कहा कि दवाइयों की कालाबाजारी और रेमडेसिविर वैक्सीन के अवैध बिक्री और ओवर रेट पर बेचने की शिकायत पर तुरंत कार्यवाही करें।

उन्होंने कहा कि सभी आईजी और एसपी अपने जिले में पुलिस विभाग के सभी कर्मियों, शहीद परिवार वालों का शतप्रतिशत वैक्सीनेशन कराएं और सभी थानों में मास्क और सैनिटाइजर की व्यवस्था सुनिश्चित करें तथा स्टाफ की जरुरत पड़ने पर ट्रेनी डीएसपी की भी ड्यूटी फील्ड में लगाएं। उन्होंने कोरोना संक्रमण की रोक थाम के लिए गाईड लाइन का पालन करते हुए इलाज में लगे डॉक्टरों, नर्सों एवं अन्य कर्मचारियों को पर्याप्त सुरक्षा देने के भी निर्देश दिए।
वीडियो कांफ्रेंसिंग में अपर मुख्य सचिव गृह सुब्रत साहू, विशेष पुलिस महानिदेशक आर के विज सहित गृह विभाग के वरिष्ठ अधिकारी और सभी रेंज के पुलिस महानिरीक्षक एवं पुलिस अधीक्षक जुड़े थे।

View More...

भारतरत्न डॉ भीमराव अम्बेडकर को मुख्यमंत्री बघेल ने उनकी जयंती पर किया नमन

Date : 14-Apr-2021

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भारत के संविधान निर्माता, समाज सुधारक और स्वतंत्र भारत के प्रथम विधि एवं न्याय मंत्री भारतरत्न डॉ. भीमराव अम्बेडकर को 14 अप्रैल को उनकी जयंती पर नमन किया है। 

 बघेल ने कहा है कि बाबा साहब डॉ. भीमराव अम्बेडकर ने भारतीय संविधान तैयार करने में केन्द्रीय भूमिका निभाते हुए सम्पूर्ण प्रभुत्व संपन्न गणराज्य की नींव रखने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया। उन्होंने दलितों के अधिकारों के लिए अभियान चलाया। दलितों के साथ उन्होंने मजदूरों और महिलाओं के अधिकारों की  वकालत की और उनके उत्थान के लिए संविधान में अनेक प्रावधान किए। राज्य सरकार बाबा साहब के बताए मार्ग पर चल कर समाज के कमजोर वर्गों के उत्थान के लिए अनेक योजनाओं पर अमल कर रही है। राज्य सरकार राजीव गांधी किसान न्याय योजना, गोधन न्याय योजना, वनवासियों को वन अधिकार मान्यता पत्रों के वितरण, लघु वनोपजों की समर्थन मूल्य पर खरीदी और महिला स्व सहायता समूह को स्वावलंबी बनाने की योजनाओं पर अमल कर न्याय की अवधारणा को आगे बढ़ाने का काम कर रही है।

श्री बघेल ने कहा है कि छत्तीसगढ़ सहित पूरे देश में बाबा साहब के लाखों अनुयायी बाबा साहब का जन्मदिन उत्साह और श्रद्धा से मनाते हैं। कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए घर पर बाबा साहब का जन्मदिन मनाएं। कोरोना संकट की स्थिति को देखते हुए प्रदेश के अनेक जिलों में लॉक डाउन लगाया गया है, सभी लोग लॉक डाउन का पालन करें, साथ ही कोरोना संक्रमण से बचाव के उपायों का पूरी सतर्कता और सावधानी के साथ पालन करें।

View More...

कोरोना संक्रमण के रोकथाम के लिए सांसद संतोष पांडेय ने कलेक्टर को सौंपा 21 लाख का चेक

Date : 14-Apr-2021

राजनांदगांव। सांसद संतोष पांडेय ने कोरोना संक्रमण के रोकथाम के लिए कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा को 21 लाख रुपये का चेक सौंपा है, जानकारी के मुताबिक सांसद पांडेय ने कोरोना रोकथाम के लिए आवश्यक उपकरण क्रय के उद्देश्य से सांसद मद से 21 लाख रुपए दिए हैं।

00 सांसद मद से 21 लाख रुपए दिए
राजनांदगांव लोकसभा क्षेत्र के संतोष पांडेय वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए मदद की है, कोविड-19 के रोकथाम और नियंत्रण के लिए आवश्यक उपकरण खरीदने के लिए मदद की है। सांसद मद से 21 लाख रुपए दिए हैं, सांसद ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव को लेकर चिंता व्यक्त की है।

00 कोरोना गाइडलाइन्स का पालन करने की अपील
राजनांदगांव कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा से सांसद संतोष पांडेय ने कोरोना रोकथाम को लेकर कई मुद्दों पर चर्चा की उन्होंने कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव को लेकर चिंता जाहिर की सांसद ने सभी लोगों से कोरोना गाइडलाइन्स का पालन करने की अपील की।

View More...

रमजान माह के शुभारंभ पर सीएम बघेल ने लोगों को दी मुबारकबाद

Date : 14-Apr-2021

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पवित्र रमजान माह के शुभारंभ के अवसर पर मुस्लिम समाज सहित आम जनता को मुबारकबाद दी है। श्री बघेल ने अपने शुभकामना संदेश में कहा है कि रमजान नेकियों, रहमतों और बरकतों का महीना है। यह महीना जहां देश और दुनिया के लिए प्यार एवं भाईचारे का पैगाम लेकर आता है, वहीं यह हमें आत्म- अनुशासन से जीवन जीने की प्रेरणा देता है।

मुख्यमंत्री बघेल ने कहा है कि यह पवित्र महीना कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन की मुश्किल घड़ी में शुरू हो रहा है। उन्होंने कहा है कि समस्त मानव जाति के लिए प्रेम, भाईचारे और इंसानियत का पैगाम लेकर आने वाले इस महीने में हम सब मिलकर लोगों के स्वस्थ रहने, कोरोना महामारी से निज़ात और देश-प्रदेश की खुशहाली की दुआ करें। मुख्यमंत्री ने कहा है कि रमजान का यह महीना प्यार, भाईचारा, रहमत और बरकत लेकर आए। उन्होंने अपील की है कि कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए सभी घर पर ही रहे और सुरक्षित रहें। संकट के इस समय में लॉकडाउन और फिजिकल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए रमजान के महीने की इबादतें भी अपने-अपने घर में ही करें।

View More...

अवैध शराब बिक्री कर रहे शराब माफिया को खरोरा पुलिस ने किया गिरफ्तार, उनके पास से 96 पौव्वा देशी मदिरा बराबद

Date : 13-Apr-2021

रायपुर। राजधानी के खरोरा थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम रासौटा में अवैध शराब बिक्री कर रहे शराब माफिया को खरोरा पुलिस ने धर दबोचा। ये मामला ग्राम रासौटा का है जहां संजय उर्फ संजू रात्रे देशी मदिरा लोगों को ज्यादा दामों में बेच रहा था। इसकी सूचना पुलिस को मिली तो खरोरा थाना प्रभारी नितेश सिंह ठाकुर ने टीम गठित कर मौके पर भेजा तो पुलिस ने देखा कि एक व्यक्ति देशी शराब बेच रहा था जिसे पुलिस ने घेराबंदी कर गिरफ्तार कर लिया।

खरोरा थाना प्रभारी ने बताया कि टीम ने सूझबूझ से आरोपी को गिरफ्तार किया है। मुखबिरों से ये सूचना मिली कि संजय उर्फ़ संजू रात्रे शराब बेच रहा है। जिसे पुलिस ने घेराबंदी कर गिरफ्तार किया है। पुलिस को संजय के पास से 96 पौव्वा देशी मदिरा मसाला जुमला 17 लीटर जिसकी कीमत लगभग 10,000 रुपये है पुलिस ने उसके पास से बरामद किया। आरोपी के खिलाफ पुलिस ने अपराध क्रमांक 161/2021 धारा 34 (2) आबकारी अधिनियम तहत कार्रवाई की है।

View More...