Top News

कोरोना का कहर : संसद में 875 कर्मचारी मिले कोरोना पॉजिटिव

Date : 25-Jan-2022

नई दिल्ली (एजेंसी)। संसद में 875 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। संसद सचिवालय ने बताया कि 31 जनवरी से शुरू होने वाले संसद के बजट सत्र से ठीक पहले, राज्यसभा के सभापति और उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू के साथ-साथ सदन के 875 स्टाफ कोविड-19 से संक्रमित पाए गए हैं। यह आंकड़ा महामारी की तीसरी लहर की शुरुआत के बाद 20 जनवरी तक की गई जांच का है।

सत्र 31 जनवरी से शुरू होने वाला है और इसके पहले हिस्से का समापन 11 फरवरी को होगा.संसद में तीसरी लहर शुरू होने के बाद से अब तक 2,847 जांच की जा चुकी है और इनमें से 875 लोगों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। उन्होंने कहा कि कुल जांच में से 915 जांच राज्यसभा सचिवालय द्वारा की गई और 271 नमूनों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

सत्र का आयोजन कोविड संबंधी प्रोटोकॉल का पालन करते हुए किया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोविड के मामलों में बढ़ोतरी के मद्देनजर, लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही एकसाथ चलेगी या अलग-अलग पालियों में, इस पर फैसला अभी किया जाना है। राज्यसभा के सभापति और उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू भी कोविड-19 से संक्रमित हो गए हैं। वह दूसरी बार कोविड-19 से संक्रमित हुए हैं।

उपराष्ट्रपति सचिवालय ने ट्वीट किया, ‘उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू के आज कोविड-19 से संक्रमित होने की पुष्टि हुयी, वह अभी हैदराबाद में हैं। उन्होंने एक सप्ताह तक पृथकवास में रहने का फैसला किया है। उन्होंने उन सभी लोगों को जांच कराने और खुद को पृथक करने की सलाह दी है जो उनके संपर्क में आए थे। ऐसा नहीं लग रहा है कि वह बुधवार को गणतंत्र दिवस समारोह में हिस्सा लेंगे।

संसद का बजट सत्र 31 जनवरी को शुरू होगा जब राष्ट्रपति दोनों सदनों की संयुक्त बैठक को संबोधित करेंगे और यह 8 अप्रैल को सम्पन्न होगा। केंद्रीय बजट एक फरवरी को पेश किया जाएगा. बजट सत्र का पहला चरण 11 फरवरी तक चलेगा। इसके बाद एक माह के अवकाश के बाद सत्र का दूसरा चरण 14 मार्च से शुरू होगा और 8 अप्रैल तक चलेगा।

साल 2020 का मॉनसून सत्र पहला ऐसा सत्र था, जो कोविड प्रोटोकॉल के तहत पूरी तरह चला। उस दौरान राज्यसभा की कार्यवाही दिन के आधे के समय और लोकसभा की कार्यवाही इसके बाद चलती थी। इसी तरह के प्रोटोकॉल का 2021 के बजट सत्र के पहले हिस्से में भी पालन किया गया। पिछले साल बजट सत्र का दूसरा हिस्सा, मॉनसून सत्र और शीतकालीन सत्र पहले की तरह आयोजित हुआ और दोनों सदनों की कार्यवाही सुबह 11 बजे से ही आरंभ हुई।

View More...

दिल्ली.एनसीआर के गैंगस्टरों को हथियार सप्लाई करने वाले दो बदमाशों को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने किया गिरफ्तार

Date : 25-Jan-2022

नई दिल्ली (एजेंसी)। दिल्ली-एनसीआर के गैंगस्टरों को हथियार सप्लाई करने वाले दो बदमाशों को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपियों की पहचान बवाना दिल्ली निवासी मनीष (25) और गांव बलवा, शामली, यूपी निवासी शौकीन (38) के रूप में हुई है। पुलिस ने आरोपियों के पास से कुल 27 पिस्टल, तमंचे, शार्ट गन, एक बाइक व आई-10 कार बरामद की है। आरोपी नामी गैंगस्टर नीरज बवानिया और टिल्लू ताजपुरिया गैंग के लिए हथियार सप्लाई कर रहे थे। आरोपी मनीष ने डीयू के रामजस कॉलेज से ग्रेजुएशन किया हुआ है। वह अपनी बुआ के बेटे लोकेश व अमित के साथ मिलकर गलत संगत में पड़ गया और हथियारों की सप्लाई करने लगा। पुलिस दोनों से पूछताछ कर मामले की छानबीन कर रही है।

बरामद हथियार

स्पेशल सेल के पुलिस उपायुक्त संजीव कुमार यादव ने बताया कि उनकी टीम को जानकारी मिली थी कि कुछ बदमाश लगातार नीरज बवानिया और टिल्लू ताजपुरिया गैंग के बदमाशों को हथियार सप्लाई कर रहे हैं। बदमाश एक दूसरे से व्हाट्सएप या टेलीग्राम एप पर संपर्क करते हैं। पुलिस ने इनकी जानकारी जुटाई। छानबीन के बाद 18 जनवरी को टीम को खबर मिली कि एक बदमाश बवाना इलाके में हथियारों की सप्लाई करने आने वाला है।

खबर मिलने के बाद पुलिस की टीम बवाना स्थित पेट्रोल पंप के पास ट्रैप लगा दिया। पुलिस ने आरोपी की पहचान कर बाइक सवार युवक को दबोचने का प्रयास किया तो उसने फरार होने की कोशिश की। पुलिस ने आरोपी को काबू कर लिया। आरोपी की पहचान मनीष के रूप में हुई। उसके पास से मिले बैग से 17 पिस्टल व तमंचे बरामद हुए। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर रिमांड लेकर पूछताछ शुरू की। उससे पूछताछ के आधार पर ही पुलिस की टीम ने 20 जनवरी को कार सवार दूसरे आरोपी को दबोच लिया।

आरोपी की पहचान बलवा गांव, शामली निवासी शौकीन के रूप में हुई। शौकीन के पास से कार से दस तमंचे व शार्ट गन के अलावा एक कारतूस बरामद कर लिया गया। आरोपी ने बताया कि वह पिछले 10-12 सालों से अवैध हथियारों का धंधा कर रहा है। उसकी पहचान नीरज बवाना गैंग के लोकेश से हुई, जिसके कहने वह हथियारों की सप्लाई कर रहा था। वहीं दूसरी ओर मनीष ने बताया कि वह अपने बुआ के लड़के लोकेश व अमित के साथ मिलकर बदमाशी करने लगा था। लोकेश जेल में बंद है। उसके पास से मिले हथियार वह चीकू और लोकेश के कहने पर लाया था। पुलिस दोनों से पूछताछ कर मामले की छानबीन कर रही है।

View More...

घाटी के आतंकियों को तालिबान बेच रहा अमेरिकी हथियार

Date : 24-Jan-2022

श्रीनगर (एजेंसी)। अफगानिस्तान से अमेरिकी सेना की घर वापसी का असर कश्मीर में दिखना शुरू हो गया है। माना जा रहा है कि लौटते समय जो हथियार अमेरिकी सेना अफगानिस्तान छोड़ गई थी, उसे अब तालिबानी बेच रहे हैं। रक्षा विशेषज्ञों के अनुसार यह हथियार चीन और पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई खरीद रही है। आईएसआई इन हथियारों को कश्मीर भेजे जा रहे आतंकियों को दे रही है। इसके संकेत हाल ही में स्थानीय कश्मीरी आतंकी संगठन पीपुल्स एंटी फासिस्ट फोर्स (पीएएफएफ) के सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो से मिले हैं।

वायरल वीडियो में आतंकियों को अमेरिका निर्मित हथियार और गोला.बारूद का उपयोग करते देखा जा सकता है। इतना ही नहीं आतंकी संगठन ने अपने कुछ आतंकियों की हथियारों के साथ तस्वीरें भी अपलोड की हैं। उनका दावा है कि उन्होंने इसका इस्तेमाल भारतीय सेना के खिलाफ हाल ही में पुंछ में हुए हमले में किया है, जिसमें सेना के 9 जवान शहीद हुए थे। सुरक्षा विशेषज्ञों के अनुसार इस वीडियो में आतंकियों को एम 249 ऑटोमेटिक राइफल्स, 509 टैक्टिकल गन, एम 1911 पिस्टल और एम-4 कार्बाइन इस्तेमाल करते हुए देखा जा सकता है। इन सभी हथियारों का इस्तेमाल अमेरिकी सेना भी कर रही है।

जिस समय अमेरिकी सेना अफगानिस्तान छोड़कर वापस लौटी थी तो रक्षा विशेषज्ञों ने संकेत दिए थे कि अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की वापसी का असर कश्मीर की स्थिति पर जरूर पड़ेगा। अब जब यह वीडियो वायरल हुआ है तो इससे यह संकेत मिल रहे हैं कि कश्मीर में आतंकियों को अमेरिका निर्मित अत्याधुनिक हथियार मिल रहे हैं जो अफगानिस्तान में अमेरिकी सेना द्वारा छोड़े गए थे। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार अमेरिकी सैनिकों ने जब अफगानिस्तान छोड़ा तो 80 मिलियन अमरीकी डालर के हथियार छोड़ गए। इसमें 6 लाख से अधिक अत्याधुनिक छोटे हथियार जैसे राइफल, मशीन गन, पिस्तौल, ग्रेनेड लांचर और आरपीजी हैं। इसके अलावा सर्विलांस इक्विपमेंट, रेडियो सिस्टम, ड्रोन, नाइट विजन गॉगल्स आदि भी इन सब में शामिल हैं।

आतंकी संगठन नार्कोटेरर से मिले धन से खरीद रहे हथियार

रक्षा विशेषज्ञों का कहना है कि तालिबान ने अब अपनी अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए काबुल और उसके आसपास के इलाकों में सभी हथियारों को खुली बिक्री के लिए रख दिया है। इसे पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई और चीन ने खरीदा है। पाकिस्तान इसे जम्मू-कश्मीर में सक्रिय आतंकी संगठनों को प्रदान करता है।

जम्मू-कश्मीर के वरिष्ठ रक्षा विशेषज्ञ ब्रिगेडियर (रिटायर्ड) अनिल गुप्ता ने कहा, एक ऐतिहासिक घटना पड़ोसी अफगानिस्तान में हुई, जब अमेरिका ने अफगान नेशनल आर्मी के हाथों में बड़ी मात्रा में नवीनतम हथियार और गोला बारूद छोड़कर अपने सैनिकों को वापस बुलाने का फैसला किया। इस उम्मीद के तहत कि वे तालिबान के खिलाफ खड़े होंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ और अफगान सेना ताश के पत्तों की तरह बिखर गई, जिसके अधिकांश जवानों ने अपनी इकाइयों या पदों को हथियारों के साथ छोड़ दिया।

ब्रिगेडियर गुप्ता के मुताबिक भारत में सक्रिय आतंकी समूहों के आका नार्कोटेरर से प्राप्त धन का उपयोग इन हथियारों को खरीदने कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इसने एक बार फिर कश्मीर में आतंकी समीकरण को बदल कर रख दिया है और दहशतगर्दी की आग तेज होने लगी। उन्होंने कहा कि हाल ही में अमेरिका निर्मित असॉल्ट राइफल्स का आतंकियों से बरामद होना सुरक्षाबलों के लिए चिंता का विषय बन गया है। ऐसे हथियार उन आतंकवादियों को बढ़त प्रदान करते हैं।

दो हफ्तों में मारे आतंकियों के पास मिले अमेरिकन हथियार

बता दें, इस वर्ष के शुरूआती दो हफ्तों में ही सुरक्षाबलों द्वारा 14 आतंकियों को मार गिराया गया था, जिनमें से 6 पाकिस्तानी आतंकी थे। मारे गए आतंकियों के पास से अमेरिका निर्मित एम-4 कार्बाइन बरामद की गई थीं। इससे एक बात यह साफ हो जाती है कि आतंकियों के पास ऐसे अत्याधुनिक हथियारों का होना सुरक्षाबलों के लिए एक नई और बड़ी चुनौती है। इसलिए अब भारतीय सेना के बाद जम्मू-कश्मीर पुलिस को आतंकवादियों का मुकाबला करने के लिए अमेरिकी निर्मित सिग सॉयर 716 राइफल्स और सिग सॉयर एमपीएक्स 9 एमएम पिस्तौल मिल रही है। जम्मू-कश्मीर पुलिस देश की पहली ऐसी पुलिस फोर्स बनेगी जिसके पास ऐसे अत्याधुनिक हथियार होंगे जिससे वह और दृढ़ता से आतंकवाद का मुकाबला और उसका सफाया करेगी।

View More...

सीबीएसई रिजल्ट को लेकर बड़ी खबर, जानिये कब आएगा परिणाम

Date : 24-Jan-2022

नई दिल्ली (एजेंसी)। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड कक्षा 10 और 12 के लिए सीबीएसई टर्म 1 परिणाम 2021 जल्द ही जारी करेगा। इससे पहले, मीडिया रिपोर्ट्स कह रही थी कि 12वीं और सीबीएसई 10वीं के परिणाम 2022 24 जनवरी, 2022 को आने की उम्मीद है। लेकिन, एक बोर्ड अधिकारी ने कहा है कि सीबीएसई परीक्षा परिणाम 2022 आज घोषित नहीं किया जाएगा। सीबीएसई परिणाम तिथि 2022 की बोर्ड द्वारा पुष्टि की जानी बाकी है।

सीबीएसई कक्षा 10, 12 परिणाम 2021-22 टर्म 1 cbse.gov.in 2022 पर उपलब्ध होगा। छात्र रोल नंबर और जन्म तिथि का उपयोग करके सीबीएसई परिणाम 2021 टर्म 1 की जांच कर सकते हैं। वे डिजिलॉकर ऐप और वेबसाइट के माध्यम से सीबीएसई 10वीं, 12वीं परिणाम 2022 तक भी पहुंच सकते हैं। सीबीएसई कक्षा 10 और 12 की परीक्षाएं 22 दिसंबर, 2021 को संपन्न हुई थीं। इस साल, सीबीएसई बोर्ड टर्म 1 और टर्म 2 परीक्षाओं के आधार पर अंक देगा, जिसे अंतिम अंकों में जोड़ा जाएगा।

बोर्ड का नाम: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड

सीबीएसई कक्षा 10, 12वीं कक्षा 1 का परिणाम 2021 समय: घोषित किया जाना है

सीबीएसई टर्म 1 रिजल्ट 2021 की तारीख: घोषित किया जाना है

 
सीबीएसई परिणाम 2021 टर्म 1 वेबसाइट: cbse.gov.in, results.digilocker.gov.in।

 
सीबीएसई कक्षा 10 परीक्षा तिथि: 30 नवंबर से 11 दिसंबर, 2021

सीबीएसई कक्षा 12 परीक्षा तिथि: 1 दिसंबर से 22 दिसंबर, 2021

सीबीएसई परिणाम 2021-22 टर्म 1 ऑनलाइन कैसे जांचें
सीबीएसई रिजल्ट की आधिकारिक वेबसाइट cbseresults.nic.in पर जाएं।

सीबीएसई परिणाम 2022 टर्म 1 विंडो नए टैब में खुलेगी।

 
दिए गए स्थान में बोर्ड रोल नंबर, जन्म तिथि, स्कूल नंबर, केंद्र संख्या और एडमिट कार्ड आईडी दर्ज करें।

‘सबमिट’ बटन पर क्लिक करें।

छात्रों को सीबीएसई परिणाम 2022 टर्म 1 की एक प्रति डाउनलोड करने की सलाह दी जाती है।

सीबीएसई टर्म 1 परिणाम 2021 की जांच करने के लिए वेबसाइटें
ऑनलाइन सीबीएसई परीक्षा परिणाम देखने के लिए वेबसाइटों की सूची नीचे दी गई है

सीबीएसई.gov.in

results.digilocker.gov.in

cbseresults.nic.in

सीबीएसई.nic.in

View More...

पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव में रोड शो और रैलियों पर पाबंदी जारी रहेगी या फिर मिलेगी छूट, फैसला आज

Date : 22-Jan-2022

नई दिल्ली (एजेंसी)। उत्तर प्रदेश, पंजाब समेत पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव में रोड शो और रैलियों पर पाबंदी जारी रहेगी या फिर इसमें छूट मिलेगी, इस पर चुनाव आयोग आज फैसला लेगा। सभी चुनावी राज्यों में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए इस बात की पूरी संभावना है कि रैलियों पर प्रतिबंध आगे भी जारी रहेगा। आठ जनवरी को चुनाव की घोषणा के बाद ही आयोग ने 15 जनवरी तक चुनाव रैलियों पर रोक लगा दी थी।

10 फरवरी से शुरू होने हैं विधानसभा चुनाव

बता दें कि पांच राज्यों में चुनाव अगले माह 10 फरवरी से शुरू होकर 7 मार्च तक चलेंगे और मतगणना 10 मार्च को होगी। आयोग ने सभी पार्टियों से इस बीच डिजिटल माध्यम से ही प्रचार करने का आग्रह किया था।

शिरोमणि अकाली दल ने की प्रतिबंध हटाने की मांग

पंजाब की पूर्व सत्ताधारी पार्टी शिअद ने राज्य में छोटी प्रचार सभाओं के लिए चुनाव आयोग से अनुमति मांगी है। शिअद ने चुनाव आयोग को लिखे पत्र में दावा किया कि प्रतिबंध से सभी दलों के उम्मीदवारों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि एक विधानसभा क्षेत्र के सभी मतदाताओं तक डिजिटल प्रचार के माध्यम से पहुंच पाना संभव नहीं है क्योंकि राज्य में कई पिछड़े क्षेत्र हैं जहां इंटरनेट ठीक से काम नहीं करता है।

आयोग ने 16 सूत्री दिशानिर्देश भी किए थे जारी

निर्वाचन आयोग ने प्रतिबंधों के साथ 16 सूत्री दिशानिर्देश भी जारी किए थे। उसने सार्वजनिक जगह पर नुक्कड़ सभा करने पर प्रतिबंध लगाए हैं, हालांकि सीमित संख्या में लोगों के घर-घर जाकर प्रचार करने की अनुमति भी दी गई है। आयोग द्वारा चुनाव नतीजों के बाद विजय जुलूस निकालने पर भी रोक लगाई गई है।

View More...

देर रात मथुरा-दिल्ली रेल मार्ग पर पटरी से उतरे मालगाड़ी के 15 डिब्बे, कई ट्रेनों का बदला रूट

Date : 22-Jan-2022

आगरा (एजेंसी)। मथुरा जिले में शुक्रवार देर रात मथुरा-दिल्ली रेल मार्ग पर भूतेश्वर वृंदावन के मध्य सीमेंट से भरी मालगाड़ी के 15 डिब्बे पटरी से उतर गए हैं। यह ट्रेन दिल्ली से आगरा आ रही थी। इस दुर्घटना के कारण मथुरा की ओर आने वाली सभी ट्रेनों का रूट डायवर्ट किए गया है। दुर्घटना की सूचना मिलते ही रेलवे और पुलिस प्रशासन के स्थानीय अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं।

ट्रैक से हटाए जा रहे डिब्बे

रेलवे की टीम युद्ध स्तर पर ट्रैक से डिब्बे हटाने का काम कर रही है। हालांकि कोहरे के कारण उनको रेस्क्यू करने में परेशानी उत्पन्न हो रही है। बड़ी-बड़ी क्रेन से ट्रैक बोगियां हटाई जा रही हैं। मुंबई से आने वाली गाड़ी राजधानी शताब्दी साप्ताहिक ट्रेन युवा स्पेशल सहित आदि महत्वपूर्ण गाड़ियों को दिल्ली जाने के लिए अलग रूट पर डायवर्ट किया गया है।

तीनों रेल लाइन बाधित

उत्तर मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी डॉ. शिवम शर्मा के अनुसार वंडर सीमेंट साइडिंग राजस्थान से गाजियाबाद जा रही मालगाड़ी के 15 डिब्बे मथुरा-पलवल मुख्य मार्ग पर वृंदावन-भूतेश्वर पर पलट जाने से तीनों लाइन (अप, डाउन एवं तीसरी लाइन) बाधित हो गई है।

आगरा मंडल रेल प्रबंधक आनंद स्वरूप के नेतृत्व में रिस्टोरेशन कार्य किया जा रहा है। स्थानीय अधिकारी घटना स्थल पर तत्काल पहुंच गए और मंडल के वरिष्ठ अधिकारी भी सूचना मिलते ही घटना स्थल के लिए तत्काल रवाना हो गए। दुर्घटना राहत गाड़ियों को भी दिल्ली, आगरा, टूंडला एवं झांसी से तत्काल रवाना कर दिया गया है।

घटना के कारण मार्ग बाधित होने के फलस्वरूप निम्न गाड़ियों का मार्ग परिवर्तन/ निरस्तीकरण किया जा रहा है-
निरस्तीकरण

1. गाड़ी संख्या 04496 पलवल -आगरा कैंट, यात्रा प्रारंभ करने की तिथि 22.01.2022.
2. गाड़ी संख्या 04419 मथुरा –गाज़ियाबाद, यात्रा प्रारंभ करने की तिथि 22.01.2022.
3. गाड़ी संख्या 12050 निज़ामुद्दीन -वीरांगना लक्ष्मीबाई स्टेशन, यात्रा प्रारंभ करने की तिथि 22.01.2022.
4. गाड़ी संख्या 12049 वीरांगना लक्ष्मीबाई स्टेशन –निज़ामुद्दीन, यात्रा प्रारंभ करने की तिथि 22.01.2022.
5. गाड़ी संख्या 12280 नई दिल्ली -ग्वालियर यात्रा प्रारंभ करने की तिथि 22.01.2022.
6. गाड़ी संख्या 12279 ग्वालियर -नई दिल्ली यात्रा प्रारंभ करने की तिथि 22.01.2022.
7. गाड़ी संख्या 12059 कोटा -निज़ामुद्दीन यात्रा प्रारंभ करने की तिथि 22.01.2022.
8. गाड़ी संख्या 12060 निज़ामुद्दीन -निज़ामुद्दीन यात्रा प्रारंभ करने की तिथि 22.01.2022.
9. गाड़ी संख्या 12002 नई दिल्ली -रानी कमलापति स्टेशन यात्रा प्रारंभ करने की तिथि 22.01.2022.
10. गाड़ी संख्या 12001 रानी कमलापति स्टेशन -नई दिल्ली यात्रा प्रारंभ करने की तिथि 22.01.2022.

मार्ग परिवर्तन

1.गाड़ी संख्या 12001 रानी कमलापति स्टेशन -नई दिल्ली,
मार्ग परिवर्तित बरास्ता – आगरा कैंट -एत्मादपुर -मितावली -गाज़ियाबाद -नई दिल्ली
2. गाड़ी संख्या 14623छिंदवाड़ा –फिरोज़पुर ,
मार्ग परिवर्तित बरास्ता- आगरा कैंट -एत्मादपुर -मितावली -गाज़ियाबाद
3. गाड़ी संख्या 11057 छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस -अमृतसर,
मार्ग परिवर्तित बरास्ता – आगरा कैंट -एत्मादपुर -मितावली -गाज़ियाबाद
4. गाड़ी संख्या 12472 श्रीमाता वैष्णो धाम कटरा -बांद्रा टर्मिनस ,
यात्रा प्रारंभ करने की तिथि- 21.02.2022 वर्तमान में वृदावन से वापस नई दिल्ली /दिल्ली होते हुए – मार्ग परिवर्तित बरास्ता – रेवाड़ी-अलवर-जयपुर.
5. गाड़ी संख्या 12416 नई दिल्ली -इंदौर
यात्रा प्रारंभ करने की तिथि – 21.02.2022 वर्तमान में छाता से वापस नई दिल्ली /दिल्ली होते हुए – मार्ग परिवर्तित बरास्ता – रेवाड़ी-अलवर-जयपुर
6. गाड़ी संख्या 22634 निज़ामुद्दीन –थिरुअनंतपुरम
यात्रा प्रारंभ करने की तिथि- 21.02.2022 वर्तमान में छाता से वापस नई दिल्ली /दिल्ली होते हुए – मार्ग परिवर्तित बरास्ता – रेवाड़ी-अलवर-जयपुर
7. गाड़ी संख्या 11058 अमृतसर – छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस
यात्रा प्रारंभ करने की तिथि- 21.02.2022 वर्तमान में अझई से वापस निज़ामुद्दीन /गाज़ियाबाद होते हुए मार्ग परिवर्तित बरास्ता- गाज़ियाबाद –अलीगढ़ -मितावली -एत्मादपुर -आगरा कैंट
8. गाड़ी संख्या 12722 निज़ामुद्दीन -हैदराबाद
यात्रा प्रारंभ करने की तिथि- 21.02.2022 वर्तमान में पलवल से वापस निज़ामुद्दीन /गाज़ियाबाद होते हुए मार्ग परिवर्तित बरास्ता – गाज़ियाबाद -अलीगढ़ -मितावली -एत्मादपुर -आगरा कैंट .
9. गाड़ी संख्या 12172 हरिद्वार-लोकमान्य तिलक टर्मिनस
यात्रा प्रारंभ करने की तिथि- 21.02.2022 वर्तमान में होडल से वापस निज़ामुद्दीन /गाज़ियाबाद होते हुए मार्ग परिवर्तित बरास्ता- गाज़ियाबाद -अलीगढ़ -मितावली -एत्मादपुर -आगरा कैंट .
10. गाड़ी संख्या 19053 सूरत –मुज़फ्फरपुर
यात्रा प्रारंभ करने की तिथि- 21.01.2022 मार्ग परिवर्तित बरास्ता – ग्वालियर -भिंड -इटावा-कानपुर.
11. गाड़ी संख्या 19019 बांद्रा टर्मिनस –हरिद्वार
यात्रा प्रारंभ करने की तिथि -21.01.2022 मार्ग परिवर्तित बरास्ता – मथुरा –अलवर –रेवाड़ी -दिल्ली-गाज़ियाबाद

View More...

मुसीबत में फंसी छत्तीसगढ़ सरकार, नहीं चुका पाया एनआरडीए बैंक का कर्ज

Date : 21-Jan-2022

रायपुर। छत्तीसगढ़ में राजधानी रायपुर में एक नए मामले सियासत शुरू हो गई है. नवा रायपुर विकास प्राधिकरण ने यूनियन बैंक से कर्ज लेकर रिटेल कॉम्पलेक्स बनाया है लेकिन बैंक का कर्ज नहीं चुकाने पर यूनियन बैंक ने प्रॉपर्टी अपने कब्जे में ले लिया है. इसपर कांग्रेस और बीजेपी के नेता आमने- सामने आ गए है.

नहीं चुका पाया एनआरडीए बैंक का कर्ज

दरअसल यूनियन बैंक ने एक नोटिस प्रकाशित करवाया है. इसके अनुसार एनआरडीए को 2 अगस्त 2021 को एक डिमांड नोटिस जारी किया गया था. इसमें एनआरडीए को 317 करोड़ 79 लाख 62 हजार 793 रुपए के साथ ब्याज कानूनी शुल्क के साथ जमा करने की मांग की गई थी. बैंक ने राशि चुकाने के लिए 60 दिनों का समय दिया था लेकिन एनआरडीए कर्ज की राशि नहीं चुका पाया इसलिए 12 जनवरी को नवा रायपुर के कयाबंधा और बरौदा गांव की 2.659 हेक्टेयर जमीन पर बने कॉम्पलेक्स को बैंक ने अपने कब्जे में लिया.

गर्त में जाता कांग्रेस मॉडल- रमन सिंह 

इस मामले विपक्ष आक्रामक तेवर में नजर आ रहा है. पूर्व सीएम डॉ रमन सिंह राज्य सरकार को आड़े हाथ लेते हुए बयाना दिया है. डॉ रमन सिंह ने कहा कि, ये है गर्त में जाता कांग्रेस का 'छत्तीसगढ़ मॉडल'. आज कर्ज न चुकाने पर बैंक नया रायपुर की सरकारी संपत्तियों को कब्जे में ले रहा है. कल भूपेश बघेल सरकार के आर्थिक कुप्रबंधन और कर्ज लो घी पियो की आदत से विधानसभा, मंत्रालय, चौक-चौराहे के साथ छत्तीसगढ़ महतारी गिरवी हो जाएगी. 
  
रमन सिंह जिम्मेदार- मंत्री मोहम्मद अकबर

प्रदेश के आवास और पर्यावरण मंत्री मोहम्मद अकबर ने इसके लिए बीजेपी सरकार को जिम्मेदार ठहराया है. मंत्री मोहम्मद अकबर का ने बताया कि रिटेल कॉम्पलेक्स की दर रायपुर शहर की हॉट प्रॉपर्टी से अधिक है. बिना आबादी और बाजार वाले शहर में इतनी प्रॉपर्टी कोई नहीं खरीद रहा है . मंत्री अकबर ने रमन सिंह के आरोपों पर पलटवार करते हुए कहा कि, नवा रायपुर में मांग के आकलन और सर्वे किए बगैर निवेश करने और अत्यधिक लागत में निर्माण के लिए पूर्ववर्ती सरकार के निर्णय की वजह से ये स्थति बनी है. इसके लिए पूर्व सीएम डॉ रमन सिंह ही जिम्मेदार है.

View More...

पाकिस्तान के लाहौर शहर में हुआ एक के बाद एक चार जबरदस्त धमाके, 5 लोगों की मौत

Date : 21-Jan-2022

नेशनल डेस्क (एजेंसी)। पाकिस्तान के लाहौर शहर में गुरुवार को एक के बाद एक चार जबरदस्त धमाके हुए, जिसमें पांच लोगों की मौत हो गई. इस धमाके में 20 लोग बुरी तरह जख्मी भी हुए हैं. ये धमाके शहर के लाहौरी गेट के पास हुआ. धमाके इतने जबरदस्त थे कि घटनास्थल के आस-पास की दुकानों और इमारतों की खिड़कियां टूट गईं. वहीं, पास में खड़ी मोटरसाइकिलों को भी नुकसान पहुंचा है. फिलहाल घटनास्थल पर पुलिस पहुंच चुकी है और राहत एवं बचाव का कार्य जारी है.

View More...

मुलायम सिंह की छोटी बहू अपर्णा यादव बीजेपी में शामिल, अखिलेश यादव की आई प्रतिक्रिया

Date : 20-Jan-2022

उत्तर प्रदेश (एजेंसी)। मुलायम सिंह की छोटी बहू अपर्णा यादव के बीजेपी में शामिल होने पर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव की प्रतिक्रिया आ गई है। अखिलेश यादव ने कहा कि उन्हें इस बात की खुशी है कि समाजवादी पार्टी की विचारधारा का विस्तार हुआ है। उन्होंने यह भी कहा कि मुलायम सिंह यादव ने अपर्णा को काफी समझाने की कोशिश की थी।

अखिलेश यादव ने कहा, ”सबसे पहले मैं बधाई दूंगा और शुभकमानाएं और साथ ही साथ ही हमें खुशी इस बात की है कि समाजवादी विचारधारा का विस्तार हो रहा है। मुझे उम्मीद है कि हमारी विचारधारा वहां संविधान बचाएगी।” क्या अपर्णा को मुलायम सिंह यादव का आशीर्वाद प्राप्त है? इसके जवाब में अखिलेश ने कहा, ”नेताजी ने बहुत कोशिश की समझाने की।”

क्या सपा ने टिकट देने से इनकार कर दिया था इसलिए अपर्णा ने पार्टी बदली? यह पूछने पर अखिलेश ने कहा” ”टिकट अभी पूरे नहीं बटे हैं. टिकट किसको मिलना है किसको नहीं मिलेगा यह क्षेत्र और जनता पर निर्भर करता है। आतंरिक सर्वे पर भी निर्भर करता है।” उन्होंने यह भी कहा कि जिन लोगों को सपा टिकट नहीं दे पा रही है उन्हें बीजेपी टिकट दे रही है। अपर्णा यादव पर तंज कसते हुए अखिलेश ने आगे कहा कि उन्हें जानवरों की सेवा प्रिय है। आज यूपी में गायें भूखी हैं। गाय मां को जो भूखा रखता है उन्हें पाप होगा।

मुख्यमंत्री योगी ने किया अपर्णा का स्वागत

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने समाजवादी पार्टी (सपा) के संरक्षक मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव के भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल होने पर उनका स्वागत किया है। योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को ट्वीट कर कहा, ”अपर्णा जी का भाजपा परिवार में स्वागत हैं।” मुख्यमंत्री ने अपर्णा के भाजपा में शामिल होने के बाद पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ उनकी एक तस्वीर भी ट्वीट की।

बीजेपी में शामिल हुईं मुलायम की छोटी बहू 

सपा के संरक्षक और वरिष्ठ नेता मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव बुधवार को दिल्ली में भाजपा मुख्यालय में पार्टी में शामिल हुईं। भाजपा की उत्तर प्रदेश इकाई के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और पार्टी के मीडिया विभाग के प्रभारी अनिल बलूनी ने उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई।

View More...

राजधानी दिल्ली के सुप्रीम कोर्ट में कोरोना ब्लास्ट, 10 जज कोविड पॉजिटिव, कई कर्मचारी भी संक्रमित

Date : 20-Jan-2022

नई दिल्ली (एजेंसी)। देश में  कोरोना का कहर बरपा जा रहा है। यहाँ आये दिन केस बढ़ते जा रहे है। आपको बता दे की राष्ट्रिय राजधानी दिल्ली में सुप्रीम कोर्ट में कोरोना ब्लास्ट हुआ है।

सुप्रीम कोर्ट पर कोरोना कहर बनकर टूट पड़ा है। देश कीसर्वोच्च अदालत के दस जज इसकी चपेट में आ गए हैं। आधिकारिक सूत्रों ने मंगलवार को कहा कि महामारी के संक्रमण ने कामकाज को काफी प्रभावित किया है। उन्होंने यह भी कहा कि कर्मचारियों के संक्रमित होने की दर 30 प्रतिशत के करीब पहुंच गई है। हल्के लक्षण वालों को होम आइसोलेशन में ही रखा गया है। चीफ जस्टिस पूरे मामले पर नजर बनाए हुए हैं।

मुख्य न्यायाधीश सहित सुप्रीम कोर्ट के 32 जजों में से अब तक 10 जज कोरोना पॉजिटिव हुए हैं। डॉ. श्यामा गुप्ता के नेतृत्व में केंद्र सरकार की एक मेडिकल टीम संक्रमित न्यायाधीशों और कर्मचारियों की चिकित्सा आवश्यकताओं की देखभाल के लिए लगभग चौबीसों घंटे काम कर रही है। हर दिन करीब 100-200 आरटी-पीसीआर जांच कर रही है। संक्रमण दर लगातार 30% के आसपास है। सूत्रों ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में लगभग 1500 कर्मचारियों में से 400 ने अब तक महामारी की तीसरी लहर में सकारात्मक परीक्षण किया है।

मेडिकल टीम के डॉक्टर भी कोविड पॉजिटिव

सुप्रीम कोर्ट में सीजीएचएस केंद्र में पांच डॉक्टरों में से तीन ने सकारात्मक परीक्षण किया है। उन्हें भी आइसोलेशन में रखा गया है। इससे डॉ. गुप्ता की टीम पर दबाव बढ़ गया है। 9 जनवरी को चार न्यायाधीशों ने सकारात्मक परीक्षण किया था। एक हफ्ते के भीतर संक्रमित जजों की संख्या दोगुनी हो गई है।

ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान के तहत सकारात्मकता दर लगातार दो दिनों तक 5% से ऊपर रहने पर रेड अलर्ट घोषित किया जाता है। सुप्रीम कोर्ट में न्यायाधीशों के बीच सकारात्मकता दर पिछले दो दिनों से लगभग 25% बनी हुई है। यह सीजेआई रमना के लिए नई चिंता का विषय है। वे लगातार सभी न्यायाधीशों और कर्मचारियों के स्वास्थ्य की निगरानी कर रहे हैं।

View More...