National

राजधानी दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर सीएम केजरीवाल ने बुुलाई अहम बैठक, कोरोना को लेकर लिए जा सकते है कई अहम फैसले

Date : 12-Apr-2021

नई दिल्ली (एजेंसी)। राजधानी दिल्ली में लगातार बढ़ते जा रहे कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों ने आम आदमी पार्टी की चिंता बढ़ा दी है। रविवार को ही 24 घंटे के दौरान कोरोना के 10,774 नए मामले सामने आए हैं, जिसके बाद कोरोना केस 7,25,197 पहुंच गए हैं। हालात के मद्देनजर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार दोपहर अहम बैठक बुलाई है। इसमें स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के अलावा स्वास्थ्य के आला अधिकारी भी शामिल होंगे। इसमें कोरोना को लेकर कई अहम फैसले लिए जा सकते हैं।

वहीं, राजधानी दिल्ली में बढ़े संक्रमण के बीच विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना की यह लहर अभी और कहर ढा सकती है। प्रतिदिन मिलने वाले मरीजों की संख्या 15 हजार तक पहुंचने की आशंका जताई जा रही है। ऐसे में दिल्ली सरकार की नींद उड़ी हुई। यही वजह है कि दिल्ली सरकार न सिर्फ छोटे अस्पतालों को कोरोना मरीजों के इलाज की अनुमति दी है, बल्कि बेड की संख्या 18 से 20 हजार तक ले जाने की कवायद भी शुरू कर दी है।

मुख्य सचिव के स्तर पर कुछ दिन पहले हुई बैठक में तय हुआ है कि होम आइसोलेशन के लिए व्यवस्थाएं बेहतर की जाएं। पूर्व के अनुभवों को देखते हुए पिछली बार रह गई कमियों को दूर किया जाए। होम आइसोलेशन वाले मरीजों से इस बार फोन पर प्रतिदिन जानकारी ली जाए और उनकी सुविधाएं बढ़ाने पर भी विचार किया जा रहा है। गत दो मार्च को दिल्ली में 777 कोरोना के मरीज होम आइसोलेशन में थे। 11 अप्रैल को यह संख्या 17 हजार 93 पहुंच गई।
दिल्ली सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि होम आइसोलेशन की व्यवस्था को मजबूत किया जा रहा है। इस बारे में स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिए गए हैं। रविवार को दिल्ली में 10732 मरीज मिले हैं। संक्रमण की गति को देखते हुए विशेष मान रहे हैं कि अभी मामले और अधिक तेजी से बढ सकते हैं।

View More...

केंद्र से भेजी गई स्वास्थ्य टीमों ने कोरोना जांच, अस्‍पतालों के बुनियादी ढांचे, स्वास्थ्य सेवा कार्यबल और टीकाकरण के संबंध में भेजी रिपोर्ट

Date : 12-Apr-2021

नई दिल्ली (एजेंसी)। छत्तीसगढ़ में लगातार बढ़ते कोरोना संक्रमण पर प्रदेश की स्वास्थ्य व्यवस्थाओं का जायजा लेने रायपुर पहुँची टीम ने अपनी रिपोर्ट केंद्र सरकार को सौंप दी है। अधिकारियों की रिपोर्ट के बाद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने महाराष्ट्र, पंजाब और छत्तीसगढ़ को पत्र लिखकर वहां कोविड-19 की जांच, अस्‍पतालों के बुनियादी ढांचे, स्वास्थ्य सेवा कार्यबल और टीकाकरण के संबंध में आई रिपोर्ट पर सुधारात्मक उपाय करने को कहा है। इन राज्‍यों में केंद्र से भेजी गई स्वास्थ्य टीमों ने कोरोना जांच, अस्‍पतालों के बुनियादी ढांचे, स्वास्थ्य सेवा कार्यबल और टीकाकरण के संबंध में रिपोर्ट भेजी है।

बता दें कि वैक्‍सीन के स्‍टॉक कम होने की शिकायतों पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी केंद्र सरकार पर हमला बोला था। उन्‍होंने इसके लिए कुप्रबंधन को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा था कि पहले अपने नागरिकों को वैक्सीन दी जाए और उसके बाद ही दूसरे देशों को इसकी आपूर्ति की जाए। कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ हुई वर्चुअल बैठक में सोनिया गांधी ने कहा था कि सबसे पहले भारत में टीकाकरणपर ध्यान देना होगा।

View More...

महाराष्ट्र में लगातार बढ़ते कोरोना को लेकर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे लेंगे बैठक आज, लॉकडाउन को लेकर ले सकते है बड़ा फैसला

Date : 12-Apr-2021

मुंबई (एजेंसी)। महाराष्ट्र में लगातार बढ़ते कोरोना को लेकर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे आज लॉकडाउन को लेकर बड़ा फैसला ले सकते हैं। मुख्यमंत्री ठाकरे आज डिप्टी सीएम अजित ठाकरे साथ बैठक कर लॉकडाउन पर फैसला करेंगे। सीएम उद्धव और डिप्टी सीएम अजित पवार के बीच यह बैठक  होगी।

जानकारी के मुताबिक उद्धव ठाकरे एक हफ्ते के लॉकडाउन के समर्थन में हैं। उन्होंने कोविड-19 मामलों के तेजी से बढ़ने की भयावह स्थिति को देखते हुए शनिवार को सख्त लॉकडाउन लगाने के संकेत दिये थे। बता दें कि प्रदेश सरकार ने पिछले हफ्ते कुछ पाबंदियों की घोषणा की थी जिनमें सप्ताहांत पर लॉकडाउन, रात्रि कर्फ्यू और दिन में निषेधाज्ञा शामिल हैं. ये पाबंदियां 30 अप्रैल तक जारी रहेंगी।

00 टास्क फोर्स से माना लॉकडाउन की जरूरत : स्वास्थ्य मंत्री
महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने रविवार को कहा कि प्रदेश में लॉकडाउन लगाने के संदर्भ में उचित फैसला 14 अप्रैल के बाद लिया जाएगा। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की अध्यक्षता में हुई टास्क फोर्स की डिजिटल बैठक में लॉकडाउन लगाने समेत विभिन्न मुद्दों पर चर्चा हुई।

टोपे ने कहा -आज की बैठक में लॉकडाउन की अवधि और इससे होने वाली आर्थिक गिरावट से कैसे निपटना है, इस पर चर्चा हुई। टास्क फोर्स का यह मानना है कि राज्य में कोरोना वायरस के हालात ऐसे हैं कि लॉकडाउन की जरूरत है।

00 लॉकडाउन को लेकर सरकार पर हमलावर विपक्ष
एक ओर जहां महाराष्ट्र सरकार लॉकडाउन पर विचार कर रही है तो वहीं लॉकडाउन को लेकर कोई फैसला न ले पाने पर विपक्ष ने सवाल उठाने शुरू कर दिए हैं। महाराष्ट्र में विपक्ष के नेता प्रवीण दरेकर ने कहा, `चिंता ये है कि लगातार बढ़ते मामलों के बावजूद लोग मानने को तैयार नहीं हैं। दो दिन के वीकेंड लॉकडाउन के बावजूद रविवार को मुंबई के दादर में भारी भीड़ उमड़ आई।`

00 महाराष्ट्र में कोरोना के डराने वाले आंकड़े
महाराष्ट्र में कोरोना के आंकड़ों की बात करें तो यह बेहद डराने वाले हैं। पिछले 24 घंटे में महाराष्ट्र में कोरोना के 63294 नए केस सामने आए हैं। वहीं 349 लोगों की जान गई है। महाराष्ट्र में एक दिन नए कोरोना मरीजों का यह अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। राज्य में अब तक कोरोना के 34,07,245 मरीज पाए गए है।

राज्य में कोरोना के फिलहाल 31,75,585 होम कोरोंटीन में है जबकि 25,694 इंस्टिट्यूशनल कोरोंटीन में है। अकेले मुंबई में पिछले 24 घंटे में 9,989 नए केस आए जबकि 58 मौत हुई। महाराष्ट्र में कोरोना की रफ्तार अगर नहीं थमी तो वो दिन दूर नहीं जब देश के एक राज्य से ही एक दिन में कोरोना के नए मरीजों की एक लाख को भई पार कर जाएगी।

View More...

मध्यप्रदेश दतिया में लगा लॉकडाउन, भक्तों के लिए मां पीतांबरा मंदिर के कपाट अगले आदेश तक बंद

Date : 12-Apr-2021

दतिया (एजेंसी)। मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण के नियंत्रण के लिए दतिया में शुक्रवार की शाम 6 बजे से लॉकडाउन लागू कर दिया गया है, जो सोमवार को सुबह 6 बजे तक शुरू होगा। ऐसे में भक्तों के लिए मां पीतांबरा मंदिर के कपाट भी बंद रहेंगे। विदित हो कि धूमावती माई के दर्शन करने जाने वाले तमाम भक्त संकल्प धारण करते हैं कि वे नियमित रूप से 11, 21 या श्रद्धानुसार तय किए शनिवार की संख्या में मां के दर्शन करेंगे।

View More...

राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार को ागॉल ब्लैडर की समस्या, अस्पताल में हुए भर्ती

Date : 12-Apr-2021

मुंबई (एजेंसी)। राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार अस्पताल में भर्ती हुए है। उन्हें गॉल ब्लैडर की समस्या है, उनकी एक सर्जरी की जाएगी, जिसके कारण उन्हें भर्ती करवाया गया है.

एनसीपी नेता नवाब मलिक ने ट्वीट कर जानकारी दी है। उन्होंने कहा है, `हमारी पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार साहब को ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। कुछ दिनों पहले जब पवार को अस्पताल में भर्ती करवाया गया था, तब उनके गॉल ब्लैडर में जो स्टोन था उसे निकाल दिया गया था. हालांकि एक बार फिर से उन्हें दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है।

एनसीपी नेता नवाब मलिक ने ट्वीट कर कहा है, `हमारी पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार साहब को ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती कराया गया है और जैसा कि पहले बताया गया था, कल उनके गॉल ब्लैडर की बीमारी के लिए एक सर्जरी की जाएगी।

बता दें कि कुछ दिनों पहले भी एनसीपी के प्रमुख शरद पवार को पेट में अधिक दर्द की वजह से मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनके पेट में काफी वक्त से दर्द की शिकायत है। जांच रिपोर्ट में पता चला कि उनके गॉल ब्लैडर में समस्या है।

View More...

पीएम मोदी और गृह मंत्री शाह पश्चिम बंगाल में कई सार्वजनिक कार्यक्रमों को करेंगे संबोधित

Date : 12-Apr-2021

कोलकाता (एजेंसी)। बंगाल में चुनाव जीतने की लड़ाई जारी है, चुनावी घमासान के बीच चार चरण में मतदान पूरे हो चुके हैं। राज्य में आठ चरणों में मतदान होना है और इसकी आधी प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। अब पांचवे चरण का मतदान होना है जिससे पहले पार्टिया अपने प्रचार में किसी तरह की कोई ढिलाई नहीं दे रहे हैं। भाजपा भी अपन प्रचार में पूरा जोर लगा रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह सोमवार को पांचवे चरण के मतदान से पहले पश्चिम बंगाल में कई सार्वजनिक कार्यक्रमों को संबोधित करेंगे।

दोपहर 12:00 बजे, प्रधानमंत्री पूर्ब बर्धमान जिले के तालित साई सेंटर में एक चुनावी रैली को संबोधित करेंगे। उसके बाद, वह दोपहर 1.40 बजे नादिया जिले में कल्याणी विश्वविद्यालय के मैदान और उत्तर 24 परगना जिले के बारासात क्षेत्र में 3.10 बजे रैलियां करेंगे। बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी के अलावा केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह सुबह 11:30 बजे कलिम्पोंग जिले में एक रोड शो करेंगे।

रैली के बाद वह जलपाईगुड़ी जिले के धुपगुरी क्षेत्र और हेमताबाद विधानसभा क्षेत्र में एक जनसभा को संबोधित करेंगे। उनका सिलीगुड़ी में एक रोड शो करने का भी कार्यक्रम है। शाह ने रविवार को पश्चिम बंगाल में बैक-टू-बैक रोडशो का आयोजन किया और कई जनसभाओं को भी संबोधित किया।

पश्चिम बंगाल में पहले चार चरणों का मतदान पूरा हो चुका है। चौथे दौर के मतदान के दौरान कूच बिहार में एक मतदान केंद्र पर हिंसा भड़क गई थी, जिसको लेकर सत्तारूढ़ टीएमसी ने आरोप लगाया कि केंद्रीय बलों ने कूच बिहार में मतदान केंद्रों पर दो बार आग लगाई, जहां लोग अपने वोट डाल रहे थे। कूच बिहार में आधिकारिक सूत्रों ने गोलीबारी में चार लोगों की मौत की पुष्टि की।

पश्चिम बंगाल में पहले चार चरणों का मतदान पूरा हो चुका है। चल रहे चुनावों के पांचवें और छठे चरण 17 अप्रैल और 22 अप्रैल को होंगे। मतों की गिनती 2 मई में होगी।

View More...

आज से चार दिवसीय टीका उत्सव की शुरुआत

Date : 11-Apr-2021

नई दिल्ली (एजेंसी)। कोविड-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई को तेज करने के लिए भारत देश में चार दिवसीय `टीका उत्सव` मनाएगा। यह उत्सव रविवार यानी आज से शुरू होकर बुधवार (14 अप्रैल) तक जारी रहेगा। टीका उत्सव का उद्देश्य इस घातक संक्रामक बीमारी के खिलाफ अधिकतम पात्र लोगों को टीका लगाना है। बता दें, टीका उत्सव का आह्वान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों के साथ बातचीत के दौरान किया, जहां उन्होंने देश में चल रहे टीकाकरण अभियान पर कोविड- 19 की स्थिति पर चर्चा की।

00 प्रधानमंत्री ने उत्सव के दौरान शून्य अपव्यय पर जोर देने को कहा
प्रधानमंत्री मोदी ने बैठक में कहा, ‘कभी-कभी, यह माहौल को बदलने में मदद करता है। ज्योतिबा फुले की जयंती 11 अप्रैल को है और 14 अप्रैल को बाबा साहेब की जयंती है। क्या हम `टीका उत्सव` का आयोजन कर सकते हैं और `टीका उत्सव` का माहौल बना सकते हैं? उन्होंने आगे कहा, ‘हमें एक विशेष अभियान के माध्यम से ज्यादा से ज्यादा पात्र लोगों का टीकाकरण करना चाहिए और इस दौरान हमारी कोशिश होनी चाहिए कि हम शून्य अपव्यय करें। यदि टीका उत्सव के दौरान चार दिनों में शून्य अपव्यय होता है, तो यह हमारी टीकाकरण क्षमता को और बढ़ाएगा।’

00 विपक्ष ने की आलोचना
एक और जहां प्रधानमंत्री के आह्वान के बाद उत्तर प्रदेश और बिहार जैसे राज्यों ने इस उत्सव के लिए अपना पूरा समर्थन देते हुए सभी पात्र लाभार्थियों से अपील की कि वे चार दिनों में खुद का टीकाकरण कराएं, वहीं विपक्षी दल के नेताओं ने इसकी आलोचना की। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शुक्रवार को कहा कि देश में वैक्सीन की कमी एक गंभीर मुद्दा है, न कि कोई त्यौहार। उन्होंने ट्वीट किया, ‘बढ़ते कोरोना संकट के बीच, टीकों की कमी एक बहुत गंभीर मुद्दा है और उत्सव नहीं।’

00 टीकों की कमी
यहां ध्यान देने वाली बात है कि देश में यह उत्सव कोरोना वैक्सीन की कमी के दावों के बीच मनाया जा रहा है। महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ और झारखंड सहित कई राज्यों ने कहा है कि वे टीकों की खुराक की कमी के कारण टीकाकरण अभियान को जारी रखने में सक्षम नहीं होंगे। हालांकि, केंद्र ने इन दावों को खारिज कर दिया और कहा कि सभी राज्यों को पर्याप्त मात्रा में टीके आवंटित किए गए हैं और आने वाले दिनों में और अधिक आपूर्ति की जाएगी।

00 85 दिनों में 100 मिलियन खुराक देने वाले देशों में भारत सबसे आगे
उल्लेखनीय है कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को कहा कि भारत 85 दिनों में 100 मिलियन खुराक देने वाले देशों में सबसे आगे है। शनिवार शाम तक देश में प्रशासित कोविड-19 वैक्सीन खुराक की संचयी संख्या 10 करोड़ 12 लाख 84 हजार 282 है। मंत्रालय ने शनिवार को कहा कि विश्व स्तर पर दैनिक खुराक की संख्या के संदर्भ में, भारत औसत 38 लाख 93 हजार 288 खुराक के साथ शीर्ष पर बना हुआ है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, कोविड-19 वैक्सीन की 10 करोड़ खुराकें देने में अमेरिका को 89 दिन लगे, जबकि चीन को 102 दिन लगे।

View More...

समाज सुधारक ज्योतिबा फुले को पीएम मोदी ने दी श्रद्धांजलि

Date : 11-Apr-2021

नई दिल्ली (एजेंसी)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने प्रख्यात समाज सुधारक ज्योतिबा फुले को रविवार को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि दी और कहा कि समाज सुधार के प्रति उनकी प्रतिबद्धता आने वाली पीढ़ियों को प्रेरित करती रहेगी।

मोदी ने एक ट्वीट कर फुले को महान समाजसेवी, विचारक, दार्शनिक और लेखक बताया तथा कहा कि वह जीवनपर्यन्त महिलाओं की शिक्षा और उनके सशक्तीकरण के लिए प्रतिबद्ध रहे।
महाराष्ट्र में 1827 में अत्यधिक पिछड़ी जाति में जन्मे श्री फुले ने सामाजिक भेदभाव के खिलाफ लड़ाई लड़ी और सबसे वंचित समुदायों के बीच शिक्षा का प्रचार करने का प्रयास किया।

उन्हें और उनकी पत्नी सावित्रीबाई फुले को महिलाओं के बीच शिक्षा को बढ़ावा देने के प्रयासों के लिए जाना जाता है।
प्रधानमंत्री के सुझाव पर देश में 11 से 14 अप्रैल तक `टीका उत्सव` का आयोजन किया जा रहा है। इसका उद्देश्य कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में अधिकतम संख्या में योग्य लाभार्थियों का टीकाकरण करना है। गौरतलब है कि 14 अप्रैल को संविधान निर्माता डॉ. भीमराव आंबेडकर की जयंती मनाई जाती है।

View More...

महाराष्ट्र में बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए सीएम उद्धव ठाकरे ने की सर्वदलीय बैठक, लॉकडाउन के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं, दुनिया ने लॉकडाउन को किया स्वीकार

Date : 11-Apr-2021

मुंबई (एजेंसी)। महाराष्ट्र में बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए सीएम उद्धव ठाकरे ने आज सर्वदलीय बैठक की। बैठक में सीएम उद्धव ने कहा कि राज्य में अगर केस कम नहीं हुए तो 21 अप्रैल तक स्थिति बेहद खराब हो जाएगी। साथ ही उन्होंने कहा कि ये वक्त लॉकडाउन का है, लॉकडाउन के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं है। दुनिया ने लॉकडाउन को स्वीकार किया है।

बैठक में मौजूद पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि अगर पूर्ण लॉकडाउन लगाया गया तो जनता सड़क पर आ सकती है। उन्होंने कहा कि लोगों को ध्यान में रखकर ही फैसला लेना होगा।

00 महाराष्ट्र में लागू है वीकेंड लॉकडाउन
महाराष्ट्र के सभी ज़िलों में कोरोना की रोकथाम को लेकर सरकार ने वीकेंड लॉकडाउन लगाया है। वीकेंड पर लगाए गए लॉकडाउन को अब तक उत्साहजनक प्रतिक्रिया मिली है और मुंबई, पुणे, औरंगाबाद तथा नागपुर समेत राज्य के अधिकतर हिस्सों में सड़कें और बाजार सुने पड़े हैं।

बहरहाल, राजधानी मुंबई के कुछ बाजारों समेत राज्य के कुछ स्थानों पर लोगों को एक ही जगह पर बड़ी संख्या में जमा होकर दूरी और अन्य नियमों को तोड़ते देखा गया। राज्य में पहला वीकेंड लॉकडाउन शुक्रवार रात आठ बजे शुरू हुआ और यह सोमवार सुबह सात बजे तक जारी रहेगा।

00 शुक्रवार का आए करीब 59 हज़ार केस
शुक्रवार को पिछले 24 घंटों में राज्य में 58,993 लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं और 301 मरीजों की मौत हुई। केवल मुंबई में 9,200 लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं और 35 लोगों की मौत हुई है।

View More...

पूर्व मंत्री, पार्षद और कांग्रेस नेताओं के दुर्व्यवहार से आहत डॉक्टर ने दिया इस्तीफा

Date : 11-Apr-2021

भोपाल (एजेंसी)। भोपाल स्थित जेपी अस्पताल में एक युवक की मौत के बाद परिजनों ने हंगामा कर दिया। परिजनों का आरोप है कि इलाज में लापरवाही बरती गई। मौत की सूचना मिलते ही पूर्व मंत्री पीसी शर्मा और पूर्व पार्षद गुड्डू चौहान कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ अस्पताल पहुंच गए। यहां नेताओं ने ड्यूटी पर मौजूद डॉक्टरों को जमकर फटकारा।

इस हंगामे के बाद मरीज का इलाज करने वाले डॉ. योगेंद्र श्रीवास्तव ने अपने साथ दुर्व्यवहार का आरोप लगाकर पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने कहा कि `मरीज बहुत ही गंभीर स्थिति में अस्पताल लाया गया था। उसका सैचुरेशन लेवल 30% था और हमने परिवार को पहले ही बता दिया था कि इनका बचना मुश्किल है। उन्हें बाहर नहीं भेज सकते थे, क्योंकि उनकी स्थिति बेहद नाजुक थी। जब 2 घंटे बाद उनकी मौत हुई तो कुछ बाहरी लोग आए और मेरे साथ दुर्व्यवहार किया, मुझ पर सबके सामने चिल्लाया, जिससे मैं बहुत आहत हूं और मैं ऐसे नौकरी नहीं कर सकता, मैंने अपनी नौकरी से इस्तीफा दे दिया है।`

पूर्व मंत्री पीसी शर्मा और पूर्व पार्षद गुड्डू चौहान ने आरोप लगाया कि विधायक के अस्पताल में आने के बावजूद कोई स्टाफ उन्हें जानकारी नहीं दे रहा था। पीसी शर्मा ने कहा कि उन्होंने किसी से बदतमीजी नहीं की, लेकिन उनके साथ आए लोगों ने ऊंची आवाज में डॉक्टर से बात जरूर की। उनका गुस्सा जायज था, क्योंकि अस्पताल में कोई जवाब ही देने वाला नहीं था, जो यह बता दे कि मरीज के साथ हुआ क्या था।

वहीं घटना के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट करते हुए घटना की निंदा करते हुए लिखा है कि `हमारे कोरोना योद्धा लगातार अपनी जान दांव पर लगाकर पीड़ित मानवता की सेवा में कार्यरत हैं। मैं स्वयं भी कई बार अपील कर चुका हूं कि हम सभी को एकजुट होकर, राजनीति से ऊपर उठकर इन सभी का सहयोग करना चाहिए और इनका मनोबल बढ़ाना चाहिए, ताकि वे और बेहतर तरीके से समाज की सेवा करें। आज भोपाल के जेपी अस्पताल में जिस प्रकार कुछ लोगों ने डॉक्टर्स और वहां मौजूद स्टाफ के साथ अभद्र व्यवहार किया, हंगामा खड़ा किया, वह बेहद शर्मनाक है। किसी भी व्यक्ति को हमारे डॉक्टर्स के साथ दुर्व्यवहार करने का कोई अधिकार नहीं है।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि आज की घटना के कारण जेपी अस्पताल के एक वरिष्ठ चिकित्सक ने अत्यंत व्यथित होकर इस्तीफा तक सौंप दिया है. हम एक सभ्य समाज में रह रहे हैं, इस समय जब साथ मिलकर खड़े होने की ज़रूरत है, ऐसे में हंगामा करना न तो जनहित में है और न ही इससे कोरोना का मुकाबला किया जा सकता है। आज जेपी अस्पताल में जो घटना हुई, ऐसी घटनाओं से दिन और रात कार्यरत हमारे डॉक्टर्स, पैरामेडिकल स्टाफ और चिकित्सा सेवाओं से जुड़े लोगों का मनोबल गिरता है। मैं पुनः अपील करता हूं, सभी लोग सभ्य और जिम्मेदार नागरिक होने का परिचय दें, डॉक्टर्स का मनोबल गिराने की जगह उनका मनोबल बढ़ाएं।`

View More...