International

भारतीय.अमेरिकी दम्पत्ति ने बिहार और झारखंड में स्वास्थ्यसेवा कार्यों के लिए दान किए एक करोड़ रुपए

Date : 30-Mar-2021

वाशिंगटन (एजेंसी)। भारतीय-अमेरिकी दम्पत्ति ने बिहार एवं झारखंड में स्वास्थ्यसेवा कार्यों के लिए एक करोड़ रुपए दान किए हैं। `बिहार झारखंड एसोसिएशन ऑफ नॉर्थ अमेरिका` (BJANA) ने सोमवार को बताया कि `रमेश और कल्पना भाटिया फैमिली फाउंडेशन` द्वारा BJANA को दिए इन 1,50,000 डॉलर का इस्तेमाल प्रान-BJANA पहल के जरिए दोनों राज्यों के ग्रामीण इलाकों में स्वास्थ्यसेवा प्रयासों के लिए किया जाएगा।

`प्रवासी एलुमनी नि:शुल्क` (प्रान) भारतीय-अमेरिकी चिकित्सकों की पहल है, जो बिहार एवं झारखंड में वंचित एवं कमजोर तबके के लोगों को स्वास्थ्यसेवा मुहैया कराने के लिए काम कर रहे हैं। इन चिकित्सकों ने रांची में प्रान क्लीनिक खोला है, जहां जरूरतमंदों को नि:शुल्क स्वास्थ्यसेवा दी जाती है।

BJANA के अध्यक्ष अविनाश गुप्ता ने उदारता से दान करने के लिए रमेश और कल्पना भाटिया को धन्यवाद दिया। पूर्व एफआईए अध्यक्ष आलोक कुमार ने भी कहा कि इस प्रकार के दान से बीजेएएनए को स्वास्थ्यसेवा के क्षेत्र में काम करने में मदद मिलेगी। भाटिया ने पटना स्थित एनआईटी से पढ़ाई की है और वह टेक्सास में सफलतापूर्वक अपना कारोबार चलाते हैं।

View More...

बांग्लादेश यात्रा के दौरान पीएम मोदी ने भारत.बांग्लादेश के बीच पांच सहमति पत्र पर किए हस्ताक्षर

Date : 28-Mar-2021

ढाका (एजेंसी)। अपने बांग्लादेश यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने भारत-बांग्लादेश के बीच पांच सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए। राष्ट्रपति अब्दुल हमीद के साथ प्रधानमंत्री मोदी ने भारत-बांग्लादेश सहयोग से संबंधित विषयों की एक विस्तृत श्रृंखला पर विचारों का आदान-प्रदान किए। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि दोनों नेताओं ने स्वास्थ्य, व्यापार, संपर्क, ऊर्जा, विकास सहयोग व अन्य क्षेत्रों में हुई प्रगति पर चर्चा की। दोनों नेताओं की वार्ता के बाद जारी संयुक्त बयान में कहा गया, ‘यह स्वीकार किया गया कि आतंकवाद वैश्विक शांति एवं सुरक्षा के लिए खतरा है, दोनों पक्षों ने सभी प्रकार के आतंकवाद का समूल नाश करने के प्रति अपना दृढ़ संकल्प दोहराया।’

पीएम मोदी ने सुरक्षा संबंधी मुद्दों पर बांग्लादेश के सहयोग के प्रति भारत की ओर से सराहना व्यक्त की। पीएम मोदी ने तीस्ता जल बंटवारा समझौता संबंधित हितधारकों के साथ परामर्श के जरिये पूरा करने के प्रति भारत के गंभीर एवं निरंतर प्रयासों को दोहराया।

संयुक्त बयान में कहा गया है, ‘दोनों नेताओं ने अपने अपने जल संसाधन मंत्रालयों को छह साझी नदियों- मानु, मुहुरी, खोवाई, गुमती, धार्ला और दूधकुमार के पानी के बंटवारे को लेकर अंतरिम समझौता प्रारूप को शीघ्र पूरा करने का निर्देश दिया।’

विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने संवाददाताओं से कहा कि भारत ने फेनी नदी के जल बंटवारे के लिए एक मसौदा को भी शीघ्र ही अंतिम रूप देने का अनुरोध किया है, जो बांग्लादेश की ओर से लंबित है। संयुक्त बयान के अनुसार दोनों नेताओं ने शांत, स्थिर और अपराधमुक्त सीमा के लिए प्रभावी सीमा प्रबंधन के महत्व पर बल दिया।

मानवीय पहलू के तौर पर प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी समकक्ष हसीना को 109 एबुलेंस की प्रतीकात्मक चाभी भी सौंपी। उन्होंने हसीना को एक प्रतीकात्मक डिब्बा भी भेंट किया जो भारत द्वारा बांग्लादेश को सौंपी गई कोविड-19 रोधी टीके की 12 लाख खुराकों का प्रतीक है।

हसीना ने अपने पिता और बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान की जन्मशती के मौके पर जारी किए गए सोने और चांदी का एक-एक सिक्का मोदी को भेंट किया। उन्होंने बांग्लादेश की 50वीं जयंती के मौके पर जारी चांदी का एक सिक्का भी मोदी को भेंट किया।

दोनों नेताओं ने भारत बांग्लादेश सीमा पर तीन नये सीमा हाटों, नयी यात्री ट्रेन मिताली एक्सप्रेस के उद्घाटन समेत डिजिटल तरीके से कुछ परियोजनाओं का भी उद्घाटन किया। यह दोनों पड़ोसी देशों के बीच मैत्री एक्सप्रेस (ढाका-कोलकाता) और बंधन एक्सप्रेस (खुलना-कोलकाता) के बाद तीसरी यात्री ट्रेन है।

हस्ताक्षरित सहमति पत्र आपदा प्रबंधन, लचीलापन एवं उपशमन, बांग्लादेश नेशनल कैडेट कोर और नेशनल कैडेट कोर के बीच सहयोग, व्यापार उपचार उपाय के क्षेत्र में सहयोग आदि से संबंधित हैं। दोनों प्रधानमंत्रियों ने राजनयिक संबंध की 50वीं सालगिरह पर भारत बांग्लादेश मैत्री टिकट भी जारी किया।

मोदी का यह दौरा, शेख मुजीबुर रहमान की जन्मशताब्दी, भारत और बांग्लादेश के बीच राजनयिक संबंध स्थापित होने के पचास वर्ष पूरे होने और बांग्लादेश मुक्ति संग्राम के पचास वर्ष पूरे होने से संबंधित है।
दो दिवसीय यात्रा पर शुक्रवार को बांग्लादेश पहुंचे मोदी ने ढाका में बांग्लादेश मुक्ति संग्राम के स्वर्ण जयंती समारोह और ‘बंगबंधु’ की जन्म शताब्दी समारोह में हिस्सा लिया था।

सुबह में मोदी दक्षिणपश्चिम बांग्लादेश के इश्वरीपुर गांव में सदियों पुराने जेशोरेश्वरी काली मंदिर गये और वहां प्रार्थना की। उन्होंने घोषणा की कि भारत मंदिर से संबद्ध सामुदायिक हॉल सह चक्रवात आश्रय का निर्माण करेगा। यह मंदिर 51 शक्तिपीठों में एक है।

मतुआ सम्प्रदाय के आध्यात्मिक गुरु हरिचंद ठाकुर की जन्मस्थली ओराकांडी के एक मंदिर में पूजा अर्चना करने के बाद प्रधानमंत्री ने समुदाय के लोगों से संवाद किया।  उन्होंने इस दौरान कहा कि भारत और बांग्लादेश दोनों ही देश अपने विकास से, अपनी प्रगति से पूरे विश्व की प्रगति देखना चाहते हैं। दोनों ही देश दुनिया में अस्थिरता, आतंक और अशांति की जगह स्थिरता, प्रेम और शांति चाहते हैं।

View More...

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने पहली वैश्विक जलवायु चर्चा के लिए रूसी और चीन के राष्ट्रपति को किया आमंत्रित

Date : 27-Mar-2021

वाशिंगटन (एजेंसी)। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के प्रशासन ने पहली वैश्विक जलवायु चर्चा के लिए रूसी राष्ट्रपति व्लादीमीर पुतिन और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग को आमंत्रित किया है। प्रशासनिक अधिकारियों ने बताया कि इस समारोह के जरिए अमेरिका को जीवाश्म ईंधन से होने वाले जलवायु प्रदूषण को कम करने में वैश्विक स्तर पर प्रयासों को धार देने में मदद मिलने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि 22 और 23 अप्रैल को होने वाले कार्यक्रम के लिए शुक्रवार को विश्व के 40 नेताओं को निमंत्रण पत्र भेजने का कार्य जारी है।

वहीं दूसरी तरफ, अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने एक मई तक अफगानिस्तान से अपने सभी सैनिकों की वापसी की संभावना को खारिज कर दिया है। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और तालिबान के बीच पिछले साल हुए समझौते के तहत अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की वापसी के लिए यह समय सीमा तय की गई थी।

बाइडन ने व्हाइट हाउस के `ईस्ट रूम` में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ` एक मई की समय सीमा में काम समाप्त करना मुश्किल होगा, उन सैनिकों को वहां से बाहर निकालना मुश्किल होगा। इसलिए जो हम कर रहे हैं, जो मैं कर रहा हूं और जो विदेश मंत्री टोनी ब्लिंकन कर रहे हैं। वह यह है कि हम अपने सहयोगियों से मिल रहे हैं, उन अन्य देशों से जो नेटो सहयोगी हैं, जिनके सैनिक भी अफगानिस्तान में है। अगर हम वहां से अपने सैनिकों को वापस लाएंगे तो, इसे सुरक्षित तथा व्यवस्थित तरीके से करेंगे।`

View More...

प्रधानमंत्री मोदी ने शेख मुजीब उर रहमान स्मारक पहुंचे और दी श्रद्धांजलि

Date : 27-Mar-2021

ढाका (एजेंसी)। प्रधानमंत्री मोदी ने बांग्लादेश दौरे के दूसरे जशोरेश्वरी काली मंदिर में दर्शन किए और मां काली को सोने-चांदी का मुकुट चढ़ाया।

काली मंदिर की पूजा करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ओरकांडी मंदिर में पूजा-अर्चना की। इसके पश्चात प्रधानमंत्री मोदी शेख मुजीब उर रहमान स्मारक पहुंचे और इस महानायक को श्रद्धांजलि दी। तुंगीपारा में बंगबंधु संग्रहालय में प्रधानमंत्री मोदी ने शेख मुजीब उर रहमान को श्रद्धांजलि दी। प्रधानमंत्री मोदी के साथ बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना भी वहां मौजूद थीं। साथ ही वहां रखी विजिटर बुक में एक संदेश भी लिखा। इस विजिटर बुक में संदेश लिखकर पीएम मोदी ने अपने हस्ताक्षर भी किए। इसके अलावा प्रधानमंत्री मोदी ने वहां पौधारोपण भी किया।

View More...

प्रधानमंत्री मोदी ने जेशोरेश्वरी काली मंदिर पहुंच की पूजा.अर्चना

Date : 27-Mar-2021

नई दिल्ली (एजेंसी)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बांग्लादेश दौरे का शनिवार को दूसरा दिन है। सबसे पहले PM मोदी दक्षिण-पूर्व सतखिरा स्थित जेशोरेश्वरी काली मंदिर पहुंचे, जहां उन्होंने पूजा-अर्चना की। इसे 51 शक्तिपीठों में से एक माना जाता है। उन्होंने कहा, मैंने कामना की कि मां काली दुनिया को कोरोना के संकट से मुक्ति दिलाएं।

मोदी ने काली मां की प्रतिमा को हाथ से बना हुआ मुकुट भी चढ़ाया। मुकुट को चांदी का बना हुआ है, जिस पर सोने की प्लेटिंग की गई है। इसे पारंपरिक कलाकारों ने करीब तीन हफ्ते में तैयार किया है। इसके बाद वह बांग्लादेश के टुंगीपाड़ा में स्थित शेख मुजीबुर्रहमान की समाधि स्थल पर पहुंचकर श्रद्धांजलि दी। इस दौरान बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना भी मौजूद रहीं। उन्होंने कहा, मेरी कोशिश रहती है कि मौका मिले तो इन 51 शक्तिपीठों में जाकर माथा टेकूं। मैंने सुना है कि यहां नवरात्रि में जब मां काली का मेला लगता है, तो सीमा के इस पार से भी बड़ी तादाद में भक्त यहां आते हैं। यहां एक कम्युनिटी हॉल की आवश्यकता है। यह भक्तों के लिए और आपदा के समय लोगों के लिए शरणस्थल का काम करे। भारत सरकार यह कम्युनिटी हॉल बनवाएगी।

View More...

फाइजर.बायोएनटेक ने 12 साल से कम उम्र के बच्चों पर शुरू किया कोरोना वैक्सीन ट्रायल

Date : 27-Mar-2021

वाशिंगटन (एजेंसी)। वैक्सीन बनाने वाली अमेरिकी कंपनी फाइजर इंक और बायोएनटेक एसई ने बच्चों पर कोरोना वैक्सीन का ट्रायल शुरू किया है। फाइजर और बायोएनटेक ने 12 साल से कम उम्र के बच्चों पर वैक्सीन का ट्रायल शुरू कर दिया है। कंपनियों को उम्मीद है की 2022 तक टीकाकरण की उम्र को एक्सपेंड कर दिया जाएगा।

फाइजर के प्रवक्ता शेरोन कैस्टिलो ने कहा कि शुरुआती चरण के परीक्षण में पहले वॉलिन्टियर को बुधवार को अपना पहला इंजेक्शन दिया गया था। कैस्टिलो ने कहा कि कंपनियों को 2021 की दूसरी छमाही में परीक्षण से डेटा मिलने की उम्मीद है। मॉडर्ना इंक ने भी पिछले हफ्ते एक ट्रायल लॉन्च किया है, वह एक बाल चिकित्सा परीक्षण हैं जिसमें 6 महीने तक के बच्चे भी शामिल होंगे।

इस अभियान के तहत अमेरिका और कनाडा में 6 महीने से 11 साल तक के 6750 बच्चों को ट्रायल के लिए रजिस्टर्ड किया गया है। अमेरिका के नेशनल एलर्जी और इंफेक्सियस डिजीज इंस्टीट्यूट के साथ मिलकर किए जा रहे इस ट्रायल में ये पता लगाना है कि क्या मॉडर्ना की mRNA-1273 वैक्सीन कोरोना वायरस के संपर्क में आने पर बच्चों में उससे सुरक्षा करने की क्षमता विकसित कर पाता है?

मॉडर्ना का शॉट 18 साल और उससे अधिक उम्र के लोगों को दिया जा रहा है, बता दें कि छोटे बच्चों के लिए अभी तक कोई COVID-19 वैक्सीन अधिकृत नहीं की गई है। फाइजर और बायोनटेक एसई की योजना है कि बाद में ये इस ट्रायल को एक्सपेंड करेंगे जिसमें वे युवा लोगों में एंटीबॉडी के स्तर को मापकर, वैक्सीन द्वारा उत्पन्न सुरक्षा, सहनशीलता और प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया का परीक्षण करेंगे।

कैस्टिलो ने कहा कि कंपनियों को 2021 की दूसरी छमाही में परीक्षण से डेटा मिलने की उम्मीद है। फाइजर 12 से 15 साल की उम्र के बच्चों में वैक्सीन का परीक्षण कर रहा है। कंपनी को उम्मीद है कि आने वाले हफ्तों में उस परीक्षण से डेटा प्राप्त होगा।

View More...

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कोरोना वैक्सीन एस्ट्राजेनेका का लगवाया पहला टीका

Date : 20-Mar-2021

लंदन (एजेंसी)। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने शुक्रवार को कोविड-19 वैक्सीन एस्ट्राजेनेका का पहला टीका लगवाया। इसके साथ ही इस वैक्सीन को लेकर उठाए जा रहे संदेहों को भी खारिज किया है। उन्होंने सभी लोगों से इसके इस्तेमाल की अपील करते हुए कहा कि वैक्सीन लगाने से उन्हें किसी भी तरह की कोई परेशानी नहीं हुई।

लंदन के सेंट थॉमस अस्पताल में वैक्सीन का टीका लगवाने के बाद जॉनसन ने कहा, `वैक्सीन लगाकर मुझे अच्छा महसूस हो रहा है। ये बहुत जल्दी हो गया और मुझे कोई परेशानी भी नहीं हुई।` उन्होंने कहा, `मैं लोगों से अपील करता हूं, जब भी आपको वैक्सीन लगवाने को लेकर निर्देश मिले, आप जरूर जाए ये आपके साथ साथ आपके परिवार और आपके आसपास सभी के लिए बेहतर होगा।`

00 प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने ट्वीट करके वैज्ञानिकों का किया धन्यवाद
प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने ट्वीट करते हुए कहा, `मैंने अभी अभी ऑक्सफोर्ड एस्ट्राजेनेका वैक्सीन का अपना पहला टीका लगवाया है। इस अवसर पर मैं इस कार्य में लगे सभी असाधारण वैज्ञानिकों, NHS स्टाफ और वालंटियर्स का धन्यवाद करता हूं। हमारी जिंदगी को वापस पटरी पर लाने के लिए वैक्सीन सबसे बेहतर विकल्प है।` बता दें कि, ब्रिटेन में कोविड-19 के खिलाफ टीकाकरण अभियान तेजी से चल रहा है। यहां के आधे से ज्यादा वयस्कों को अब तक इसकी पहली डोज दी जा चुकी है।

00 कुछ देशों ने लगाई थी इस्तेमाल पर रोक
गौरतलब है कि फ्रांस, स्पेन, इटली और जर्मनी ने एस्ट्राजेनेका वैक्सीन के इस्तेमाल पर रोक लगा दी थी। इन देशों का कहना था कि वैक्सीन के इस्तेमाल से लोग खून के थक्कों की शिकायतें कर रहे हैं। डब्ल्यूएचओ और यूरोपीय संघ की ड्रग रेगुलेटरी एजेंसी ने वैक्सीन को पूरी तरह सुरक्षित बताते हुए कहा था, `हमारी वैज्ञानिक राय ये है कि एस्ट्राजेनेका वैक्सीन लोगों को कोविड-19 से बचाने में पूरी तरह से सेफ और प्रभावकारी है। ऐसी खबरें मिली थी कि टीकाकरण कराने के बाद कुछ लोगों ने ब्लड क्लॉटिंग की शिकायत की है। लेकिन जांच करने के बाद ये पाया गया है कि ब्लड क्लॉटिंग या ब्रेन हैम्ब्रेज जैसी समस्याओं का वैक्सीन से कोई संबंध नही है।” इसके बाद ज्यादातर यूरोपीय देशों ने इसके दोबारा इस्तेमाल को मंजूरी दे दी थी।

View More...

तंजानिया के राष्‍ट्रपति जॉन मेगुफुली की हृदय रोग से निधन

Date : 18-Mar-2021

तंजानिया (एजेंसी)। तंजानिया के राष्‍ट्रपति जॉन मेगुफुली की दार-ए-सलाम के एक अस्‍पताल में मृत्‍यु हो गई है। वे 61 वर्ष के थे। टेलीविजन पर एक प्रसारण में उप-राष्‍ट्रपति सामिया सुलुहू हसन ने कहा कि राष्‍ट्रपति की मृत्‍यु हृदय रोग से हुई है, जिससे वे पिछले दस वर्षों से संघर्ष कर रहे थे।

उप-राष्‍ट्रपति ने 14 दिन के राष्‍ट्रीय शोक की घोषणा भी की। अफ्रीकी देश के संविधान के अनुसार, उप-राष्‍ट्रपति सुश्री हसन को नए राष्‍ट्रपति के रूप में शपथ दिलाई जाएगी और वे जॉन मेगुफुली के शेष कार्यकाल के लिए राष्‍ट्रपति के पद पर काम करेगी।

View More...

अमेरिका के जॉर्जिया में तीन स्पा केंद्रों में हुई गोलीबारी, हादसे में 4 महिला समेत 8 लोगों की मौत

Date : 17-Mar-2021

वॉशिंगटन (एजेंसी)। अमेरिका के जॉर्जिया में तीन स्पा केंद्रों में गोलीबारी की खबर है। जॉर्जिया के अटलांटा में स्थित तीन स्पा केंद्रों में गोलीबारी हुई, इस हादसे में चार महिलाओं समेत आठ लोगों की मौत हो गई है। स्थानीय पुलिस और अमेरिकी मीडिया ने इस बात की पुष्टि की है। खबरों की माने तो आरोपी को हिरासत में ले लिया गया है।

अटलांटा पुलिस ने बताया कि उन्हें पिडमॉन्ट रोड पर गोल्ड मसाज स्पा में एक डकैती की खबर मिली थी। पुलिस ने आगे बताया कि जब हम वहां पहुंचे, वहां तीन लोगों के शव मिले। अटलांटा के पुलिस प्रमुख रोडनी ब्रायंट का कहना है कि पुलिस टीम जब गोल्ड मसाज स्पा में थी, तभी एक और कॉल आया।

इस कॉल के जरिए खबर दी मिली कि एरोम थैरेपी स्पा में गोली चली है और इस हादसे में एक शख्स की मौत हो गई है। इसके अलावा चेरोकी काउंटी मसाज पार्लर में हुई गोलीबारी से चार लोगों की मौत हो गई। अटलांटा पुलिस विभाग ने जानकारी दी कि यहां तीन स्पा केंद्रों में गोलीबारी की गई है, जिसमें आठ लोगों की मौत हो गई है।

पुलिस ने बताया कि मृतकों में चार महिलाएं हैं, जो एशियाई मूल की दिखती हैं। मामले में पुलिस ने चेरोकी काउंटी मसाज पार्लर के पास संदिग्ध बंदूकधारी 21 साल के रॉबर्ट आरोन लॉन्ग को हिरासत में ले लिया है। पुलिस शख्स से पूछताछ कर रही है, हालांकि अभी तक गोलीबारी करने के पीछे की वजह साफ नहीं हुई है।

View More...

ऑक्सफोर्ड.एस्ट्राजेनेका के टीके का जर्मनी और फ्रांस पांच देशों ने लगाई इसके इस्तेमाल पर रोक

Date : 16-Mar-2021

बर्लिन (एजेंसी)। ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका के टीके से खून का थक्का जमने के मामले सामने आने के बाद जर्मनी, फ्रांस, इटली, आयरलैंड और नीदरलैंड ने भी इसके इस्तेमाल पर रोक लगा दी है। वहीं ऑक्सफोर्ड वैक्सीन ग्रुप के वैक्सीनोलॉजिस्ट प्रो. एंड्रयू पोलार्ड ने कहा, टीके से खून का थक्का जमने का कोई भी आपसी संबंध नहीं है।

एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए उन्होंने बताया कि ब्रिटेन में औसतन हर माह खून का थक्का जमने के करीब तीन हजार मामले सामने आते हैं। टीकाकरण के बीच भी ऐसे मामले आ रहे हैं और ऐसे मामलों को इससे जोड़ा जा रहा है। उधर, ब्रिटेन की दवा नियंत्रक एजेंसी एमएचआरए के वैक्सीन सेफ्टी लीड डॉ. फिल ब्रायन ने कहा है कि लोग बिना किसी डर और झिझक के टीका लगवाएं।

00 एस्ट्राजेनेका ने कहा, टीका सुरक्षित
एस्ट्राजेनेका और वैश्विक स्वास्थ्य अधिकारियों ने दावा किया है कि टीका सुरक्षित है। फ्रांस के राष्ट्रपति एमनुएल मैक्रों ने कहा है कि फ्रांस में एस्ट्राजेनेका कोरोना वायरस टीके का इस्तेमाल एहतियात के तौर पर निलंबित किया जा रहा है। हालांकि किन वजहों से ऐसा किया जा रहा है, इस बारे में उन्होंने विस्तृत जानकारी नहीं दी।
इटली के दवा नियंत्रक ने सोमवार को एहतियाती कदम उठाते हुए एस्ट्राजेनेका के कोविड-19 रोधी टीके के इस्तेमाल पर अस्थायी रोक लगा दी। टीका लेने के बाद रक्त के थक्के बनने की घटनाओं संबंधी खबरें आने के बाद यह कदम उठाया गया है।

इटली ने कहा कि यह फैसला अन्य यूरोपीय देशों की ओर से उठाए गए कदमों के मद्देनजर लिया गया। इटली के उत्तरी पिडमोंट क्षेत्र में 57 वर्षीय एक शिक्षक ने शनिवार को टीका लगवाया था और रविवार सुबह उसकी मौत हो गई। इस मामले सहित अन्य ऐसे मामलों में शवों को परीक्षण के लिए भेजा गया है।

जर्मनी ने भी एस्ट्राजेनेका कोविड टीके के संभावित दुष्प्रभावों के बारे में आई खबरों के बाद इसके इस्तेमाल पर रोक लगा दी। सरकार ने कहा है कि टीका लगाने वालों के शरीर में रक्त के थक्के जमने की खबरों के मद्देनजर यह कदम उठाया गया।

00 नॉर्वे ने भी लगाई थी रोक
नॉर्वे में कोविड-19 रोधी टीका एस्ट्राजेनेका लगने के बाद खून के थक्के जमने के गंभीर मामले सामने आने के बाद आयरलैंड के स्वास्थ्य अधिकारियों ने रविवार को इस टीके पर अस्थायी रोक लगा दी थी।
आयरलैंड के डिप्टी चीफ मेडिकल ऑफिसर डॉ. रोनन ग्लिन ने कहा कि नॉर्वे की मेडिसिन्स एजेंसी के मुताबिक एस्ट्राजेनेका टीका लगने के बाद वयस्कों में खून के थक्के जमने के चार मामले सामने आए, जिसके बाद इस पर रोक लगाने का कदम उठाया गया।

00 दुनिया में कुल संक्रमित 12.05 करोड़ पार
विश्व में कोरोना वायरस से संक्रमितों का आंकड़ा सोमवार को 12.05 करोड़ पार हो गया। जबकि इस महामारी से दुनिया में अब तक 26.66 लाख लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। हालांकि सोमवार तक विश्व में संक्रमण से कुल 9.70 करोड़ लोग ठीक भी हुए हैं।

View More...