Chhattisgarh

जिले में कोविड प्रोटोकाॅल का पालन करते हुए गणतंत्र दिवस का पर्व सादगी और सम्मान के साथ मनाया गया

Date : 27-Jan-2021

कोरबा। कोरोना संक्रमण के कारण कोरबा जिले में गणतंत्र दिवस का पर्व सादगी और सम्मान के साथ कोविड प्रोटोकाॅल का पालन करते हुए मनाया गया। अनुसूचित जाति, जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग एवं अल्प संख्यक कल्याण, स्कूल शिक्षा एवं सहकारिता मंत्री तथा जिले के प्रभारी मंत्री डा. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने आज गणतंत्र दिवस पर कोरबा जिला मुख्यालय स्थित सीएसईबी फुटबाॅल ग्राउंड पर आयोजित संक्षिप्त कार्यक्रम में ध्वजारोहण किया और सशस्त्र बलों की टुकड़ियों की सलामी ली।

उन्होंने इस अवसर पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का प्रदेश की जनता के नाम संदेश का भी वाचन किया। डा. टेकाम ने कोरबा वासियों को गणतंत्र दिवस की बधाई देते हुए संविधान के प्रावधानों का पालन करते हुए अग्रणी छत्तीसगढ़ के निर्माण में सहयोग की अपील की। इस अवसर पर अनेकता में एकता के प्रतीक गुब्बारे आकाश में छोड़े। प्रभारी मंत्री डाॅ. टेकाम ने साल और श्रीफल भेंटकर शहीदो के परिजनों का सम्मान भी किया।

कार्यक्रम में लगभग 50 कोरोना वारियर्स डॉक्टरों, पुलिस कर्मियों, स्वास्थ्य कर्मियों एवं स्वच्छता मित्रों को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में उत्कृष्ट कार्य करने वाले शासकीय अधिकारी-कर्मचारियों को भी पुरस्कृत किया गया। समारोह में पाली-तानाखार के विधायक मोहित केरकेट्टा, महापौर राजकिशोर प्रसाद, नगर निगम के सभापति श्याम सुंदर सोनी, कलेक्टर किरण कौशल, पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीणा, जिला पंचायत सीईओ कुंदन कुमार, नगर निगम आयुक्त एस जयवर्धन, एडीएम प्रियंका महोबिया, डीएफओ एन. गुरूनाथन सहित अन्य अधिकारीगण जनप्रतिनिधि एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

गणतंत्र दिवस के अवसर पर जिले के सभी शासकीय कार्यालयों में भी ध्वजारोहण किया गया। कोरोना संक्रमण की आशंका के कारण इस बार मुख्य समारोह में मार्च पास्ट नही हुई। सशस़्त्र बलों द्वारा केवल राष्ट्रीय ध्वज को सलामी दी गयी। कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए इस वर्ष गणतंत्र दिवस के कार्यक्रम में स्कुली छात्र-छात्राओं की भागीदारी भी प्रतिबंधित रही। सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित नहीं हुए। कार्यक्रम में सभी लोग मास्क पहनकर और सामाजिक दूरी का पालन करते हुए शामिल हुए। गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या से ही सभी शासकीय एवं सार्वजनिक भवनों तथा राष्ट्रीय महत्व के स्मारकों पर रोशनी की गई।

View More...

कमिश्नर चुरेन्द्र ने संभागायुक्त कार्यालय में किया ध्वजारोहण

Date : 27-Jan-2021

जगदलपुर। कमिश्नर चुरेन्द्र ने गणतंत्र दिवस के अवसर पर संभागायुक्त कार्यालय में ध्वजारोहण किया। आयुक्त कार्यालय में इस अवसर पर उपायुक्त सिदार, माधुरी सोम सहित आयुक्त कार्यालय, कृषि उप संचालक कार्यालय और कोष, लेखा एवं पेंशन के संभागीय कार्यालय के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

View More...

गणतंत्र दिवस पर शहीद हुए जिले के पुलिस जवानों के परिजनों को किया गया सम्मानित

Date : 27-Jan-2021

धमतरी। राष्ट्रीय पर्व गणतंत्र दिवस के मद्देनजर नक्सल मोर्चों में मुठभेड़ के दौरान शहीद हुए जिले के पुलिस जवानों के परिजनों को पुलिस विभाग के अधिकारियों द्वारा उनके घर पहुंच शाॅल और श्रीफल से सम्मानित किया गया। मिली जानकारी के मुताबिक आमगांव के शहीद निरीक्षक विनोद कुमार ध्रुव, ग्राम बरबांधा के देवनाथ नागवंशी, उपनिरीक्षक कोमलसिंह साहू के परिजनों को सम्मानित किया गया।

इसी तरह ग्राम सातबहना के प्रधान आरक्षक सियाराम ध्रुव, ग्राम पदमपुर के शिवप्रसाद शर्मा, खड़पथरा के देवनाथ नाग, गट्टासिल्ली के महावीर मरकाम, ग्राम-मल्हारी के विरेन्द्र सोम, दानीटोला वार्ड धमतरी के चंद्रशेखर रंगारी तथा ग्राम कोकड़ी के प्रधान आरक्षक नकुल ध्रुव के परिजनों को सम्मानित किया गया।

इसी तरह कोटपारा नगरी के शहीद आरक्षक हेमन्त सोम, लाइनपारा नगरी निवासी धर्मेन्द्र साहू, गागरा के संतोष कुमार नेताम, कमईपुर निवासी राधेश्याम नागवंशी, ग्राम-सांकरा के नोहरू राम नेताम, ग्राम-संबलपुर के नारायण सोरी, नारधा के ललित दीवान, बाजारपारा नगरी के प्यारेलाल सोम, छिपली के खिलावन बिसेन, ग्राम-फरसियां के रतनलाल मरकाम एवं ग्राम-जैतपुरी के शहीद आरक्षक शिवकुमार कोर्राम के परिजनों को सम्मानित किया गया। ग्राम-पोड़ागांव के शहीद आरक्षक विजय सूर्याकर, ग्राम-सेमरा के धनराज ध्रुव, विश्रामपुर के भूषण मंडावी, ग्राम-रावनसिंघी के वासुदेव ध्रुव, नवागांव-श्यामतराई के रामेश्वर ध्रुव, जंगलपारा नगरी के अमजद खान, पण्डरीपानी के खगेन्द्र कुमार कश्यप, आमगांव के चन्द्रहास ध्रुव, ग्राम-मारागांव के छबिलाल कांशी, ग्राम-भीतररास के नवल किशोर शांडिल्य, ग्राम-भैंसासांकरा के आदित्य साहू, कौहाबाहरा के निर्मल कुमार नेताम, परेवाडीह के टिकेश्वर कुमार ध्रुव तथा ग्राम डोकाल के शहीद आरक्षक तीला राम ठाकुर और ग्राम छिंदभर्री के शहीद सहायक आरक्षक कैलाश नेताम के परिजनों को सम्मानित किया गया। इसके अलावा ग्राम-अर्जुनी के शहीद एस.पी.ओ. तीरण सिंह मांझी एवं बजरंग चैक नगरी के शहीद अभिषेक गोलछा के परिजनों को सम्मानित किया गया।

View More...

सीएम बघेल ने ध्वजारोहण के बाद अमर शहीदों को दी श्रद्धांजलि

Date : 27-Jan-2021

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 72वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर जगदलपुर में ध्वजारोहण कर परेड की सलामी ली। उसके पश्चात उन्होंने जगदलपुर के अमर शहीद स्मारक में अमर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की।

View More...

कांग्रेस के ही संघर्ष का प्रतिफल है, हमारा गणतंत्र: मोहन मरकाम

Date : 27-Jan-2021

रायपुर। कांग्रेस का संकल्प था कि देश में गणतंत्र की स्थापना हो, हमें गर्व है कि कांग्रेस के ही संघर्ष का प्रतिफल है, हमारा गणतंत्र। 26 जनवरी 1950 को प्रदत्त संविधान कांग्रेस के ही सपनों का साकार रूप है। हमारे संविधान में भारत वासियों की आकांक्षा एवं अपेक्षाओं की अनुगूंज हमें साफ सुनाई देती है। हमारे संविधान में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के आदर्शो की महक है। हमारा संविधान देश की एकता को मजबूत करने वाला संविधान है। हमारा संविधान, हमारे स्वाभिमान का प्रतीक है। परंतु खेदजनक है कि बाबा साहेब अंबेडकर तथा हमारे महान देश भक्तों द्वारा रचित इस संविधान का केन्द्र की भाजपा सरकार, अनादर ही नहीं करती, बल्कि मानने से भी इंकार करती है। भाजपा अपनी विचाराधारा को देश पर थोपना चाहती है। भाजपा संविधान के संपूर्ण स्वरूप को ही, नष्ट करना चाहती है। इससे देश की एकता के लिये गंभीर चुनौतियां आ जायेगी।

मित्रों, आप सभी के सहयोग से और जनता के प्रचंड बहुमत से हमें, छत्तीसगढ़ महतारी की सेवा का सौभाग्य मिला। पिछले दो-वर्षो में हमारे यशस्वी मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने चुनावी घोषणा पत्र में जो वायदे किये थे, उसमें अधिकतर हमने पूरे किये है। शपथ ग्रहण के तीन घंटे के भीतर ही, हमारे यशस्वी मुख्यमंत्री ने किसानों का कर्जा माफ तथा बिजली का बिल हाफ किये जाने का आदेश पारित किया था। प्रदेश के किसानों को धान का समर्थन मूल्य 2500 प्रति कि्ंवटल हम उन्हें अनवरत दे रहे है। भूपेश सरकार बापू के बताए रास्ते पर चलकर, ग्रामीण अर्थव्यवस्था के सुदृढ़ीकरण के साथ-साथ प्रदेश के सभी वर्गो के सर्वागीण विकास के लिये काम कर रही है।

हमारे यशस्वी मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में पिछले दो वर्षो में सैंकड़ों योजनाएं लागू की और प्रदेश में अनगिनत विकास कार्य हुए। हम एक ऐसे छत्तीसगढ़ के लिये संकल्पकृत है, जिसमें प्रदेश के रहने वाले प्रत्येक व्यक्ति के जीवन में खुशहाली आये। कांग्रेस सरकार के फैसलों ने प्रदेशवासियों में नई आशा और उत्साह भर दिया है। किसानों, आदिवासियों, गरीब-मजदूर सहित सभी वर्गो के हित में लिये जा रहे निर्णयों से छत्तीसगढ़ तेजी से खुशहाली की ओर बढ़ रहा है। किसान न्याय योजना, नरवा-गरवा अउ घुरवा-बाड़ी, डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य योजना, तेन्दूपत्ता संग्राहकों को तुरंत भुगतान जैसे फैसलों से मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की संवेदनशीलता और विकास-परख सोच की झलक मिलती है। भूपेश सरकार की आर्थिक नीतियों के कारण ही, कोरोना-काल में जब देश के दीगर हिस्सों में आर्थिक गतिविधियां ठप्प थी, तब छत्तीसगढ़ आर्थिक मंदी से बचा रहा।

उन्होंने कहा, छत्तीसगढ़ का दिल गांव में बसता है। भूपेश सरकार के फैसलों ने गांव में बसे छत्तीसगढ़वासियों का दिल जीत लिया है। गांवों में सरकार के फैसलों से नई उम्मीदें जागी है। राजीव गांधी न्याय योजना के तहत किसानों को सहायता राशि के रूप में करोड़ों की राशि दी जा रही है। मुख्यमंत्री ने ग्रामीण अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिये सुराजी गांव योजना लागू की, प्रदेश में पहली बार गोबर की खरीदी के लिये गो-धन न्याय योजना शुरू हुयी, इससे पशुपालकों को आर्थिक संबल मिला। हमें गर्व है कि हमारी सरकार ने 9000 करोड़ का कृषि ऋण तथा 244 करोड़ का सिंचाई कर माफ किया। बस्तर में किसानों की 4200 एकड़ भूमि लौटायी तथा लाखों एकड़ भूमि के वनाधिकार पत्रों का आदिवासियों को वितरण किया, 25 लाख श्रमिकों को कांग्रेस सरकार ने प्रतिदिन औसतन मनरेगा के तहत रोजगार दिये। हमारी सरकार ने छत्तीसगढ़ी संस्कृति को बढ़ावा देकर लोगों के मन में अपनी संस्कृति का गौरवभाव जगाया है। हमारी सरकार ने प्रदेश की जनता की भावनाओं और उम्मीदों के अनुरूप शासन-प्रशासन को संवेदनशीलता प्रदान की है। औद्योगिक इकाईयों में 1500 करोड़ रूपये का पूंजी निवेश किया गया। गांवों में गौठान और रोका-छेका की व्यवस्था से फसलों की सुरक्षा और गौ-वंश का संरक्षण सुनिश्चित किया गया है। श्रीराम वनगमन पथ के महत्वपूर्ण स्थलों को तेजी से विकसित किया जा रहा है।

उन्होंने कहा, स्वतंत्रता संग्राम के दौर से ही, कांग्रेस का विकास का नजरिया स्पष्ट रहा है। लोकतंत्र एवं संविधान के प्रति कांग्रेस की अटूट आस्था ही, हमारा मार्ग निधारित करती है। सामाजिक-आर्थिक नीतियों के लिये हमारे पास महात्मा गांधी, पं. जवाहरलाल नेहरू, सरदार वल्लभ भाई पटेल, डॉ. भीमराव अंबेडकर, लाल बहादुर शास्त्री, मौलाना अबुल कलाम आजाद के साथ-साथ श्रीमती इंदिरा गांधी एवं राजीव गांधी जैसे गौरवस्तंभ के आदर्श ही, हमारी धरोहर है। आने वाले वर्षो में कांग्रेस सरकार विकास के इस क्रम को आगे बढ़ाने के लिये संकल्पित है। हमारी सरकार की प्राथमिकताएं होगी-चिकित्सा, उद्योग एवं पर्यटन को विकसित करना, सिंचाई साधनों में वृद्धि करना, जंगलों को आदिवासियों की आय का साधन बनाना, माताओं को एनीमिया एवं बच्चों को कुपोषण से बचाना, छत्तीसगढ़ को शिक्षा का हब बनाना, बेरोजगारों को रोजगार तथा युवा प्रतिभाओं को उनके उज्जवल भविष्य के लिये बेहतर अवसर प्रदान कराना हमारा लक्ष्य है।

उन्होंने कहा, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में कांग्रेस सरकार की प्राथमिकताएं जनसामान्य के विकास, उन्नति एवं कल्याण के लिये समर्पित है। राज्य से गरीबी, बीमारी, बेरोजगारी, निरक्षरता, कुपोषण मिटाने हेतु तथा एक खुशहाल स्वस्थ्य एवं शिक्षित छत्तीसगढ़ बनाने के महान लक्ष्य को प्राप्त करने हेतु कांग्रेस सरकार संकल्पित है। जनहित ही हमारा उद्देश्य है, खुशहाली हमारा लक्ष्य है और प्रदेशवासियों की सेवा हमारा कर्तव्य।

View More...

मुख्यमंत्री बघेल कांकेर जिले के प्रवास पर 27 व 28 जनवरी को

Date : 27-Jan-2021

उत्तर बस्तर कांकेर। प्रदेश के मुख्यमंत्री 27 एवं 28 जनवरी को कांकेर जिले के प्रवास पर रहेंगेे, वे 27 जनवरी को हेलीकाप्टर से दोपहर 3.30 बजे नरहरपुर विकासखण्ड के ग्राम श्रीगुहान के गौठान पहुंचेंगे तथा शाम 4.20 बजे तक गौठान का अवलोकन करेंगे उसके बाद वे वहां से प्रस्थान कर शाम 4.35 बजे जंगलवार काॅलेज ग्राउण्ड हेलीपेड पहुंचेंगे तथा वहां से प्रस्थान कर शाम 4.40 बजे कृषि विज्ञान केन्द्र कांकेर पहुंचकर कृषक छात्रावास, कृषि महाविद्यालय बालक छात्रावास और लघु धान्य प्रसंस्करण ईकाई का लोकार्पण करेंगे तथा कृृषि विज्ञान केन्द्र के अन्य गतिविधियों का अवलोकन और महिला स्व सहायता समूहों से चर्चा करेंगे, तत्पश्चात वे गढ़िया पहाड़ के लिए प्रस्थान कर शाम 5.55 बजे गढ़िया पहाड़ पहुंचेंगे तथा वहां से प्रस्थान कर शाम 7.15 बजे कोमलदेव जिला चिकित्सालय पहुंचकर सिटी स्केन मशीन का लोकार्पण करेंगे और वहां से प्रस्थान कर सर्किट हाऊस पहुंचेंगे और रात्रि विश्राम करेंगे।

मुख्यमंत्री श्री बघेल 28 जनवरी को दोपहर 12 बजे शासकीय नरहरदेव उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूल पहंुचकर अवलोकन करेंगे तथा उसके बाद वहां से प्रस्थान कर दोपहर 12.40 बजे गोविंदपुर हायर सेकेण्डरी स्कूल मैदान पहुंचकर जैव विविधता पंजी का विमोचन, विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण एवं शिलान्यास करेंगे तथा हितग्राहियों को सामग्री का वितरण करेंगे तथा आमसभा को संबोधित करेंगे, तत्पश्चात वे दोपहर 1.50 बजे पाटन जिला दुर्ग के लिए प्रस्थान करेंगे।

View More...

विधानसभा अध्यक्ष महंत ने जागरण दूत.जागेश्वर, अभिनंदन ग्रंथ का किया विमोचन

Date : 25-Jan-2021

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण, छत्तीसगढ़ी राजभाषा निर्माण एवं छत्तीसगढ़ी पत्रकारिता के पुरोधा जागेश्वर प्रसाद के व्यक्तित्व व कृतित्व पर आधारित अभिनंदन ग्रंथ ‘जागरण दूत-जागेश्वर’ का विमोचन छत्तीसगढ़ विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत के करकमलों द्वारा किया गया। डॉ. महंत के निवास पर आयोजित इस विमोचन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में डॉ. चरणदास महंत व कार्यक्रम के अध्यक्ष के रूप में पहली छत्तीसगढ़ी फिल्म ‘कहि देबे संदेश’ के निर्माता निर्देशक मनु नायक के अलावा पूर्व विधायक गुरमुख सिंह होरा, छसपा के अध्यक्ष दाऊ पी. चंद्राकर, प्रखर वक्ता अनिल दूबे व गीतकार रामेश्वर वैष्णव विशेष रूप से उपस्थित थे।

अभिनंदन ग्रंथ ‘जागरण दूत-जागेश्वर’ के विमोचन के उपरांत संपादक रामेश्वर वैष्णव ने कहा कि जागेश्वर का इस साल 75 वां वर्ष पूरा हो गया है। इस अवसर पर हम सभी साहित्यकारों ने सोचा की, उनके जन्मदिन पर एक अभिनंदन ग्रंथ का प्रकाशन किया जाए। जिससे आने वाली‍ पीढ़ियां जागेश्वर के छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण आंदोलन, किसान आंदोलन, छत्तीसगढ़ी राजभाषा निर्माण आंदोलन एवं छत्तीसगढ़ी पत्रकारिता में योगदान को जान पायेंगे। उनका व्यक्तित्व‍ इतना बड़ा है कि किसी एक पुस्तक में समाहित नहीं किया जा सकता, फिर भी कुछ सहयोगी साथी, समाजसेवी और साहित्यकारों के विचार सहित 60 से अधिक लेखों के संग्रह को एक ग्रंथ का रूप दिया गया है। जो कि आप सभी के हाथ में है और हमें उम्मीद है कि यह ग्रंथ आने वाली पीढ़ियों को छत्तीसगढ़, छत्तीसगढ़ी और छत्तीसगढि़यों के लिए संघर्ष करने को प्रेरित करेगी। ‘जागरण दूत-जागेश्वर’ छत्तीसगढि़यों के आत्म सम्मान और स्वाभिमान को जाग्रत करने का काम करेगी।

इस अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ. चरणदास महंत ने जागेश्वर प्रसाद को बधाई देते हुए कहा कि उनका योगदान अतुलनीय है। आज छत्तीसगढ़ी के लिए हम क्या कर सकते है? कैसे इसको आठवीं अनुसूची में शामिल कराया जाए इसके लिए सब मिलकर प्रयास करेंगे। पूर्व में भी जब मैं लोकसभा में था तब छत्तीसगढ़ी को आठवीं अनुसूची में शामिल कराने का प्रयास किया। यहां से प्रस्ताव भी गया था, किन्तु सपना पूरा नहीं हुआ। चूकि आज सरकार में हैं तो यह हमारी पहली प्राथमिक्ता होगी और आप सभी के सहयोग से निश्चित ही हम छत्तीसगढ़ी को आठवीं अनुसूचीं में शामिल करायेंगे।

विज्ञप्ति के माध्यम से जयंत साहू ने बताया कि वरिष्ठ साहित्यकार सुधीर शर्मा के मंच संचालन में जागेश्वर प्रसाद के राज्य निर्माण आंदोलन को याद करते हुए पूर्व विधायक धमतरी गुरमुख सिंह होरा, फिल्म निर्माता मनु नायक, किसान नेता अनिल दूबे आदि ने भी अपने-अपने विचार रखे। विमोचन समारोह में वरिष्ठ गीतकार रामेश्वर शर्मा, साहित्यकार चेतन भारती, डॉ. पंचराम सोनी, चंद्रशेखर चकोर, रसिक बिहारी अवधिया, गोविंद धनगर, राजेश चौहान, जयंत साहू, राम पटवा, शशांक खरे, अशोक कश्यप, काविश हैदरी, संजीव दुबे, अशोक ताम्रकार, हरिराम पाल, लाला राम वर्मा, चंद्रप्रकाश साहू व सुश्री ममता अहार सहित अनेक साहित्यकार, पत्रकार उपस्थित थे।

View More...

राज्यपाल ने गणतंत्र दिवस पर प्रदेश व देशवासियों को दी बधाई व शुभकामनाएं

Date : 25-Jan-2021

रायपुर। राज्यपाल ने गणतंत्र दिवस के अवसर पर प्रदेश एवं देशवासियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने सीमाओं की रक्षा करने वाले हमारे प्रहरियों, कोरोना संक्रमण के खिलाफ योगदान देने वाले कोरोना वॉरियर्स और सुरक्षा बल के जवानों को उनके योगदान के लिए नमन किया है।

राज्यपाल ने अपने संदेश में कहा कि आज का दिन देश की आजादी के लिए सर्वस्व न्योछावर करने वाले महापुरूषों को याद करने का दिन है, जिनकी बदौलत हमें आजादी हासिल हुई है। उन्होंने कहा कि हमारे देश का गणतंत्र और आजादी कायम रहे इसका भार देश के नौजवानों पर भी है, उन्हें देश के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर करने के लिए इस अवसर पर प्रण लेना चाहिए।

View More...

26 जनवरी के दिन प्रदेश भर में अलर्ट जारी

Date : 25-Jan-2021

रायपुर। 26 जनवरी के मद्देनजर प्रदेश भर में अलर्ट जारी कर दिया गया है। खासतौर पर नक्सल गतिविधियों पर विशेष ध्यान रखा जाएगा। गणतंत्र दिवस पर कोई भी अनहोनी न हो, इसके लिए सुरक्षा बल के जवानों को मुस्तैद कर दिया गया है। क्योंकि अक्सर नक्सली इन मौकों पर किसी न किसी घटनाओं को अंजाम देने के फिराक में होते हैं।

इस संबंध में गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि सुरक्षा व्यवस्था को लेकर केंद्रीय गृह मंत्रालय का आदेश काफी गोपनीय होता है। जिस पर ज़्यादा चर्चा नहीं किया जा सकता है। छत्तीसगढ़ की नक्सल स्थिति को देखते हुए केंद्र की खास नजर होती है। एक अलग रणनीति भी बनाई जाती है। नक्सली 15 अगस्त, 26 जनवरी और नक्सली सप्ताह के मौके पर बड़ी घटना को अंजाम देने के फिराक में होते हैं। इसलिए नक्सलियों की गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है। जहां नक्सल मूवमेंट होने की सूचना रहती है, वहां फ़ोर्स का मूवमेंट बढ़ा दिया जाता है। उसके अनुरूप ही रणनीति तैयार की जाती है।

उन्होंने आगे कहा कि अब तक नक्सल परिस्थितियों में जितने भी रणनीति बने है, उसमें 99% कामयाबी मिली है। 26 जनवरी के लिए भी हम तैयार हैं। जहां-जहां जरूरत है, वहां के लिए निर्णय ले लिया गया है। क्योंकि नक्सली अक्सर छुपकर वार करना, पेड़ काटकर रास्ते रोक कर हमला करना, टिफ़िन बम लगाना, एम्बुश लगाना, पर्चे फेंकना और बैनर लगाने का काम करते हैं। इन सब से निपटने के लिए फोर्स तैयार है।

View More...

सीएम बघेल जगदलपुर में करेंगे ध्वजारोहण, विधानसभा अध्यक्ष महंत जांजगीर.चांपा में ध्वजारोहण कर परेड की लेंगे सलामी

Date : 25-Jan-2021

रायपुर। 72वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बस्तर जिला मुख्यालय जगदलपुर में ध्वजारोहण करेंगे। विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत जांजगीर-चांपा में ध्वजारोहण कर परेड की सलामी लेगें।राज्य शासन के सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा प्रदेश के जिला मुख्यालय में ध्वजारोहण करने वाले मुख्य अतिथियों की सूची जारी कर दी गई है। 26 जनवरी गणतंत्र दिवस समारोह में इस बार ध्वजारोहण के लिए मंत्रीगणों के साथ-साथ संसदीय सचिवों को मुख्य अतिथि बनाया गया है।

गृह एवं लोक निर्माण मंत्री ताम्रध्वज साहू महासमुंद में, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री टी.एस. सिंहदेव बलौदाबाजार-भाटापारा में, कृषि एवं जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे दुर्ग में, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम कोरबा में, वन मंत्री मोहम्मद अकबर राजनांदगांव में, उद्योग मंत्री कवासी लखमा कांकेर में, नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया सरगुजा में, महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेंडि़या रायगढ़ में, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं ग्रामोद्योग मंत्री गुरू रूद्रकुमार नारायणपुर में, राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही में, उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल बिलासपुर में खाद्य, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता संरक्षण मंत्री अमरजीत भगत बालोद में ध्वजारोहण कर परेड की सलामी लेगें।

संसदीय सचिव यू.डी. मिंज बलरामपुर में, विकास उपाध्याय बेमेतरा में, रेखचंद जैन बीजापुर में, इंद्र शाह मंडावी दंतेवाड़ा में, चन्द्रदेव प्रसाद राय धमतरी में, विनोद सेवन लाल चन्द्राकर गरियाबंद में, चिंतामणि महाराज जशपुर में, द्वारिकाधीश यादव कबीरधाम में, कुंवर सिंह निषाद कोण्डागांव में, गुरूदयाल सिंह बंजारे कोरिया में, शकुंतला साहू मुंगेली में, शिशुपाल सोरी सुकमा में और डॉ. रश्मि आशीष सिंह सूरजपुर जिला मुख्यालय में आयोजित गणतंत्र दिवस मुख्य समारोह में ध्वजारोहण कर परेड की सलामी लेंगे।

View More...