Chhattisgarh

सस्ते दर पर दवाई मिलने से 81.97 करोड़ से ज्यादा की हुई बचत

Date : 04-Feb-2023

रायपुर। मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल की सार्थक पहल से छत्तीसगढ़ के गरीब जनता तक सुलभ स्वास्थ्य सेवाएं पहुंच रही है। स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार मुख्यमंत्री  बघेल की सर्वोच्च प्राथमिकता रही है। इसके लिए राज्य के सभी नगरीय निकायों में  धनवंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर योजना के तहत जेनेरिक दवाओं की दुकानों का संचालन किया जा रहा है। इन दुकानों में देश की ख्याति प्राप्त कंपनियों की जेनेरिक दवाईयां 50 से 70 प्रतिशत कम कीमत पर उपलब्ध है। धन्वंतरी दवा दुकानों में सर्दी, खांसी, बुखार, ब्लड प्रेशर, इन्सुलिन के साथ गंभीर बीमारियों की दवा, एंटीबायोटिक, सर्जिकल आईटम भी रियायती मूल्य पर जरूरतमंदों को उपलब्ध कराए जा रहे हैं। 

मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल की पहल पर नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग द्वारा धनवंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर योजना 20 अक्टूबर 2021 से शुरू की गई है। योजना के तहत राज्य के समस्त 169 नगरीय निकायों में 194 धनवंतरी मेडिकल स्टोर खोले गये हैं। शासकीय चिकित्सकों को अस्पताल में इलाज हेतु आने वाले मरीजों को जेनेरिक दवाई लिखना अनिवार्य किया गया है। योजना से अब तक 135.33 करोड़ रूपए एम.आर.पी. की दवाईयों के विक्रय पर 81 करोड़ 97 लाख रूपए की छूट जरूरतमंद लोगों को दी गई है। गौरतलब है कि प्रदेश के विभिन्न नगरीय निकाय में संचालित धनवंतरी जेनेरिक मेडिकल की दुकानों से 44 लाख 48 हजार से अधिक नागरिकों ने सस्ती दवायें खरीदी है। जिससे लोगों को काफी राहत मिली है और कम मूल्य पर दवा उपलब्ध होने से बचत हो रही है।  धनवंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोरों में दवाओं की उपलब्धता एवं संचालन व्यवस्था की निगरानी नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया करते रहते है। उन्होंने विभागीय अधिकारियों को नागरिको  को स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए उच्च गुणवत्ता की जेनेरिक दवाएं रियायती दरों पर उपलब्ध कराने के लिए सभी जरूरी व्यवस्थायें लगातार करते रहने के निर्देश दिए है।

महासमुंद के धन्वंतरी मेडिकल स्टोर पर दवाइयाँ लेने आए शुभम् मिश्रा ने बताया कि अन्य मेडिकल पर 400-450 की दवाईयां यहां 160-170 में मिल जाती है। अब वह और उनके परिजन, दोस्त अन्य पड़ौसी भी बीमारी की दवाइयाँ यही से ख़रीदते है। कुछ दवाइयाँ नहीं मिल पाती पर ज़रूरत की दवाईयां कम क़ीमत पर मिल जाती है। वही मोहम्मद अपनी माँ के लिए दवाइयाँ लेने पहुँचे उन्होंने भी धन्वंतरी मेडिकल को ग़रीबों के लिए जीवनदायनी बताया। तो बागबाहरा की सर्दी बुख़ार से पीड़ित सावित्री साहू ने बताया कि दूसरे मेडिकल पर बहुत महँगी दवाइयाँ देते है लेकिन यहाँ वही दवाई कम क़ीमत पर मिल रही है। इससे पैसे की भी बचत हो रही है। स्टोर्स के संचालक का कहना है कि इस वर्ष मौसमी बीमारी की दवाइयाँ कई पीड़ित लोग लेने आये। जो दवाइयाँ उपलब्ध नहीं होती उन्हें बाद में लेकर उपलब्ध करा दिया जाता है ।

 

चिरमिरी पालिका निगम चिरमिरी स्थित स्टोर में दवाइयां खरीदने आए सपन कमार साहा बताते हैं कि मैं यहां माता-पिता के लिए दवाएं लेने आता हूं पहले मुझे 9 से 10 हजार दवाईयों पर खर्च करने पड़ते थे यहां मुझे उसी फॉर्मूले की असरकारक दवाएं मात्र 4-5 हजार में मिल रहीं हैं। वहीं गोदरीपारा की कलावती ने बताया कि मुझे प्रति सप्ताह बी.पी., शुगर व थाइराईड की 500 रुपए तक की दवा लगती थी, परन्तु मुझे यहां दवाएं 250 रुपए में मिली है, जिससे काफी बचत हो रही है।

नगरीय प्रशासन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि रायपुर जिले में 19, गरियाबंद में चार, बलौदाबाजार-भाटापारा में सात, धमतरी में सात, महासमुंद में छह, दुर्ग में 18, बालोद में आठ, बेमेतरा में आठ, राजनांदगांव में पांच, खैरागढ़-छुईखदान-गंडई में तीन, मोहला-मानपुर-अम्बागढ़ में एक, कबीरधाम में छह, बिलासपुर में 10 तथा गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही जिले में दो, धनवंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर संचालित किए जा रहे है।

इसी तरह से मुंगेली में चार, कोरबा में छह, जांजगीर-चांपा में नौ, सक्ती में छह, रायगढ़ में आठ, सारंगढ़-बिलाईगढ़ में पांच, जशपुर में पांच, सरगुजा में चार, बलरामपुर में पांच, सूरजपुर में छह, कोरिया में दो, मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर में पांच, बस्तर में तीन, कोण्डागांव में तीन, नारायणपुर में एक, कांकेर में छह, दंतेवाड़ा में पांच सुकमा में तीन और बीजापुर जिले में दो धनवंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर संचालित किए जा रहे है। शासकीय चिकित्सकों को अस्पताल में इलाज हेतु आने वाले मरीजों को जेनेरिक दवाई लिखना अनिवार्य किया गया है।

View More...

बजट में गरीब, आदिवासी,महिला, युवा वर्ग और किसानों का विशेष ख्याल रखा गया : बृजमोहन बृजमोहन

Date : 04-Feb-2023

रायपुर।  छत्तीसगढ़ के पूर्व कृषि मंत्री एवं वरिष्ठ भाजपा विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने एकात्म परिसर में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए बजट में छत्तीसगढ़ के लिए विशेष ध्यान रखने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण के प्रति आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में देश में अमृतकाल चल रहा है। जिसमें सभी वर्गों का कल्याण शामिल है। बजट में गरीब, आदिवासी, मध्यम वर्ग, महिला, युवा वर्ग और किसानों का विशेष ख्याल रखा गया है। यह बजट भारत की समृद्धि का बजट है। बजट के मूल में अंत्योदय विजन है। एक यह बजट मध्यम वर्ग, महिला व आत्मनिर्भर भारत का बजट है। 

पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा प्रस्तुत आम बजट में कई महत्वपूर्ण प्रावधान रखे गए हैं। जिसमें छत्तीसगढ़ प्रदेश के लिए भी कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए है। बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने बजट का आकार 39.44 लाख करोड़ से 12 प्रतिशत बढ़ाकर 45 लाख करोड़ कर लिया है।  नई व्यवस्था के तहत अब 7 लाख रुपये तक की आय वाले लोगों को कोई टैक्स नहीं देना होगा। इससे 95 प्रतिशत मध्यमवर्गीय आयकर दाताओं को राहत मिलेगी।  बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना का आवंटन 66 प्रतिशत से बढ़ाकर 79,000 करोड़ किया गया, परन्तु प्रदेश में विगत तीन वर्षों से भूपेश  बघेल सरकार द्वारा राज्यांश नहीं देने के कारण लाखों मकान नहीं बन सके हैं। 

प्रधानमंत्री अन्न कल्याण योजना के तहत 80 करोड़ लोगों पर 2 लाख करोड़ खर्च किया जाएगा। प्रधानमंत्री अन्न कल्याण योजना में अब 2024 तक प्रतिमाह 5 किलो अतिरिक्त चावल की घोषणा की गई है। परन्तु छत्तीसगढ़ की कंग्रेस सरकार गरीबों का अन्न स्वयं डकार गई और 5000 करोड़ रुपए खा गई। पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि खेती किसानी को बढ़ावा देने के लिए देश के 12 करोड़ किसानों को किसान सम्मान निधि का लाभ मिल रहा है एवं 2 लाख करोड़ तक अनुदान। प्रदेश सरकार केवल 21 लाख किसानों का धान खरीदती है लेकिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार 36 लाख किसानों के खाते में हर वर्ष 6 हजार रुपए देती है। जब प्रदेश में भाजपा की सरकार थी तो भूपेश बघेल कहते थे कि प्रदेश में 39 लाख किसान हैं और अब स्वयं 22 लाख किसानों का ही धान खरीद रहे हैं। बाकी 17 लाख किसान कहां गए? 

1 करोड़ किसानों को जैविक खेती के लिए बजट में प्रावधान रखा गया है। लगभग 20 लाख करोड़ रुपए का ऋण किसानों को दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि मिलेट उत्पादों के तहत अब छत्तीसगढ़ में पैदा होने वाले कोदो, कुटकी और रागी के उत्पादन को बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है जिससे छत्तीसगढ़ के किसानों को विशेष फायदा होगा। देश की 65 हजार सहकारी समितियों को कम्प्यूटरीकृत किया जाएगा।

अगले 3 सालों में 500 एकलव्य विद्यालयों में 38,800 शिक्षकों की भर्ती की जायेगी। छत्तीसगढ़ के 73 एकलव्य विद्यालयों में रिक्त शिक्षकों के पद भरे जाएंगे जिससे युवकों को रोजगार मिलेगा एवं वनांचल में शिक्षा व्यवस्था दुरुस्त होगी।

3 वर्षों में 47 लाख युवाओं को सहायता प्रदान करने के लिए एक अखिल भारतीय राष्ट्रीय शिक्षुता योजना के तहत प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण शुरू करने की घोषणा की गई है। इस बजट में पूंजीगत व्यय कुल व्यय का 33.4 प्रतिशत है, कुल पूंजीगत व्यय 10 लाख करोड़ है, जो देश में अधोसंरचना विकास में खर्च होगा। पैसा बाजार में आएगा व रोजगार बढ़ेगा। रेल्वे बजट 2.4 लाख करोड़ किया गया जो 2013-14 के बजट से 9 गुना अधिक है। इससे बिलासपुर जोन के 45 बड़े मध्यम और छोटे स्टेशनों में अमृत भारत योजना के तहत यात्री सुविधाओं का विकास होगा। रायपुर और बिलासपुर में मल्टी लेवल पार्किंग और यात्री प्रतीक्षालय बनेंगे। रायगढ़ राजनांदगांव भाटापारा भिलाई डोंगरगढ़ तिल्दा में यात्री सुविधाओं का विस्तार होगा। जनजातीय समूहों के विकास के लिए प्रधानमंत्री पीवीजीटी विकास मिशन शुरु होगा, अगले 3 साल में 15 हजार करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। इससे आदिवासी बहुल्य छत्तीसगढ़ में बुनियादी सुविधा सड़क, बिजली आदि का विकास होगा। सिकलसेल एनीमिया को खत्म करने का मिशन केन्द्र सरकार ने हाथ में लिया है। इस बीमारी से प्रभावित छत्तीसगढ़ की बड़ी आबादी को बड़ी राहत मिलेगी।  5G एप के लिए 100 नई प्रयोगशाला शुरू करने की नीति में भी छत्तीसगढ़ सर्वोच्च प्राथमिकता में है।

प्रधानमंत्री विश्व कर्मा कौशल सम्मान योजना की शुरूआत होगी। जिसके तहत हमारे शिल्पकार एवं कारीगर को इसके माध्यम से रोजगार मिलेगा। हमारे साफ-सफाई कर्मचारियों को अब आधुनिक मशीन उपलब्ध कराने का प्रावधान किया गया है। 81 लाख महिलाओं का सशक्तिकरण किया जाएगा एवं महिलाओं को बचत पर 2 लाख रुपए पर 7.5 प्रतिशत ब्याज दिया जाएगा।

देश के 50 एयरपोर्ट का नवीनीकरण किया जाएगा। पूर्व मंत्री एवं विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि पहले हमारे देश की आर्थिक स्थिति दुनिया में दसवें नंबर पर थी और अब 5 वें पहले नंबर पर हैं। कोरोनाकाल में जब पूरी दुनिया आर्थिक मंदी की दौर से गुजर रही है तो आज भारत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में तेजी से विकास कर रहा है। देश में आज 5.6 प्रतिशत की दर से वृध्दि हो रही है। देश में 7 फीसदी की विकास दर करने की कोशिश होगी।

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन जी को विकासोन्मुखी बजट पेश करने पर बधाई देते हुए बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि कैंसर की मुफ्त वैक्सीन पाने वाले राज्यों में अब छत्तीसगढ़ भी शामिल हो गया है। संवाददाता सम्मेलन में जिलाध्यक्ष रायपुर शहर जयंती पटेल, पूर्व जिलाध्यक्ष श्रीचंद सुंदरानी, जिला महामंत्री ओंकार बैस एवं रमेश ठाकुर मौजूद रहे।

View More...

महंगाई रोकने में असफल मोदी सरकार, 1 साल में दूध के दाम में 8 रुण् प्रति लीटर की हुई बढ़ोतरी : धनंजय सिंह ठाकुर

Date : 04-Feb-2023

रायपुर। दूध के दाम में 3 रू. प्रति लीटर वृद्धि होने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि 100 दिनों में महंगाई कम करने का दावा कर सत्ता में आये मोदी सरकार 9 साल में महंगाई को नियंत्रित करने में असफल साबित हुयी है। मोदी सरकार के 9 साल के कार्यकाल में महंगाई कम होने के बजाये महंगाई में चौतरफा वृद्धि हुआ हैं। बीते 1 साल में दूध के दाम में लगभग 8 रु. से अधिक की वृद्धि हुई है। बजट के दूसरे दिन ही दूध के दाम में प्रति लीटर 3 रु. की वृद्धि हो गई है। दूध, दही से लेकर पुस्तक, कापी तक खाद्यय सामाग्रीयो के दामों में हुयी वृद्धि के प्रमुख कारण मोदी सरकार द्वारा लगायी गयी जीएसटी है। दूध दही पर लगाए गए 5 पर्सेंट जीएसटी के चलते दूध दही के दाम में लगातार वृद्धि हो रही है।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि यूपीए शासन काल में एलपीजी सिलेंडर वर्ष 2014 में 410 रू. प्रति सिलेंडर थी जो वर्ष 2023 में 1153 प्रति सिलेंडर कीमत में 170 प्रतिशत की वृद्धि, पेट्रोल 2014 में 71 रू. प्रति लीटर थी जो वर्ष 2023 में 102 रू. प्रति लीटर, कीमत में 41 प्रतिशत की वृद्धि, डीजल वर्ष 2014 में 57 रू. प्रति लीटर थी जो वर्ष 2023 में 95 रू. प्रति लीटर कीमत में 75 प्रतिशत की वृद्धि, सरसों तेल वर्ष 2014 में 90 रू. प्रति किलो थी, जो वर्ष 2023 में 200 रू. प्रति किलो कीमत में 122 प्रतिशत की वृद्धि, आटा वर्ष 2014 में 22 रू. प्रति किलो थी जो वर्ष 2023 में 35-40 रू. प्रति किलो कीमत में 81 प्रतिशत की वृद्धि, दूध वर्ष 2014 में 35 रू. प्रति लीटर थी जो 2023 में 60 रू. प्रति लीटर कीमत में 71 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। इसी तरह सब्जियों की कीमतों में 35 प्रतिशत तक वृद्धि हुई है। नमक 41 प्रतिशत महंगा हुआ है। दालें 60-65 प्रतिशत तक महंगी हो गई है।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि कोई भी ऐसी चीज नहीं है जिसकी कीमत इस सरकार में न बढ़ी हो। मोदी सरकार महंगाई को तो नियंत्रित कर नहीं पा रही है उल्टा पहले से ही परेशान जनता पर टैक्स का बोझ डाल कर अपना खजाना भरने में लगी है। भाजपा के सत्ता में आने से पहले 2014 में पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क 9.48 रू. प्रति लीटर था और डीजल पर 3.56 रू. प्रति लीटर। मोदी सरकार ने इसे बढ़ाकर पेट्रोल पर 32.98 रू. प्रति लीटर और डीजल पर 31.83 रू. प्रति लीटर कर दिया। ये सरकार यूपीए की तुलना में पेट्रोल-डीजल पर 186 प्रतिशत ज्यादा टैक्स वसूल रही है। 2021-22 में देश का कुल कर संग्रह भी 34 फीसदी बढ़कर 27.07 लाख करोड़ हो गया, जो बजट में लगाए गए 22.17 लाख करोड़ के अनुमान से 5 लाख करोड़ ज्यादा है। इसमें एक बड़ा हिस्सा जीएसटी का है। सरकार पहले ही जीएसटी से इतना पैसा कमा रही है फिर भी इसकी भूख शांत नहीं हो रही। अब आटा, दही, पनीर, जैसी रोजमर्रा की आवश्यक वस्तुओं पर जीएसटी दी गई है।  

View More...

मुख्यमंत्री बघेल के काफिले में अत्याधुनिक सुरक्षा मानकों से लैस काले रंग के नए टोयोटा फॉर्च्यूनर वाहन किए गए शामिल

Date : 04-Feb-2023

रायपुर। मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल के काफिले में अत्याधुनिक सुरक्षा मानकों से लैस काले रंग के नए टोयोटा फॉर्च्यूनर वाहन शामिल किए गए हैं। मुख्यमंत्री बघेल ने शुक्रवार को  सवेरे अपने निवास परिसर में अपने काफिले में शामिल हो रहे इन नए वाहनों की मंत्रोच्चार और विधि-विधान के साथ पूजा-अर्चना की।

मुख्यमंत्री इसके बाद नए वाहनों के काफिले में पुलिस लाइन रायपुर हेलीपेड के लिए रवाना हुए। जहां से वे हेलीकॉप्टर द्वारा कांकेर जिले के भानुप्रतापपुर में आयोजित होने वाले कार्यक्रम के लिए रवाना हुए। 

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री  बघेल के काफिले की पुरानी गाड़ियां करीब पांच साल चल चुकी हैं। सुरक्षा कारणों से इन गाड़ियों को बदला गया है। पुरानी गाड़ियां एक लाख 30 हजार किलोमीटर से ज्यादा चल चुकी हैं।

View More...

प्रदेश में फिर बढ़ी ठंड, हवाओं का सितम बरकरार

Date : 04-Feb-2023

रायपुर। प्रदेश में मौसम का मिजाज बदल गया है। निम्न स्तर पर उत्तर से आ रही ठंडी हवाओं के कारण एक बार फिर ठंड बढ़ गई है। मौसम विभाग के अनुसार शनिवार को सरगुजा संभाग में कुछ क्षेत्रों में हल्का कोहरा छाया रहेगा।  इसके साथ ही प्रदेश के बाकी क्षेत्रों में मौसम शुष्क रहेगा। रायपुर में शुक्रवार को न्यूनतम तापमान 13.4 डिग्री सेेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से दो डिग्री सेल्सियस कम है। कृषि विज्ञान केंद्र जशपुर में न्यूनतम तापमान 4.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

ठंडी हवाओं के चलते शहर के आउटर में शाम के बाद और सुबह ठंड काफी बढ़ गई है। दोपहर में भी कुछ लोग स्वेटर और जैकेट में नजर आ रहे हैं।चार-पांच दिन पहले यह लगने लगा था कि ठंड पूरी तरह चली गई है, लेकिन मौसम में एक बार फिर से बदलाव आया है।

मौसम विज्ञानियों का कहना है कि अभी कुछ दिनों तक मौसम ऐसा ही रहेगा। शुक्रवार को रायपुर का अधिकतम तापमान 31.6 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 13.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा ने बताया कि न्यूनतम तापमान में गिरावट अपने चरम पर है। इसमें ज्यादा गिरावट के आसार नहीं हैं।

View More...

छत्तीसगढ़ के 16 बाल वैज्ञानिकों के शोध को राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस में मिली सराहना

Date : 04-Feb-2023

रायपुर। छत्तीसगढ़ के 16 बाल वैज्ञानिकों के द्वारा अहमदाबाद में आयोजित राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस में प्रस्तुत शोधकार्य को विशेषज्ञों द्वारा खूब सराहना मिली। राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस का आयोजन 27 से 31 जनवरी तक गुजरात कौंसिल ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी और विज्ञान एंव प्रौद्योगिकी विभाग भारत सरकार के द्वारा गुजरात के अहमदाबाद में किया गया था।

इसमें भारत के अन्य राज्यों से लगभग 1200 बाल वैज्ञानिकों ने भाग लिया। अपर मुख्य सचिव रेणु पिल्ले ने 16 बाल वैज्ञानिकों में से 12 लड़कियों के चयन पर खुशी जाहिर करते हुए उनकी सराहना की। उन्होंने कहा की यह चयन इस बात को दर्शाता है की लड़कियां विज्ञान और शोधकार्य में भी बढ़-चढ़ कर भाग ले रहीं है। इससे समाज में भी एक सार्थक सन्देश जायगा।

राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस 2022 में पारिस्थितिक तंत्र, स्वास्थ्य और कल्याण तथा पांच उपविषयो अपने पारिस्थितिकी तंत्र को जाने, स्वास्थ्य, पोषण और कल्याण को बढ़ावा देना, पारिस्थितिकी तंत्र और स्वास्थ्य के लिए सामाजिक और सांस्कृतिक प्रथाए, आत्मनिर्भरता के लिए पारिस्थितिकी तंत्र आधारित दृष्टिकोण, पारिस्थितिकी तंत्र और स्वास्थ्य के लिए तकनीकी नवाचार पर शोधकार्य प्रस्तुत किया गया।

राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस में छत्तीसगढ़ के बाल वैज्ञानिक

राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस में छत्तीसगढ़ से  प्रियांश भादुड़ी, नंदिता केवट, रूपशिखा साहू, दिशा साहू, प्रियांशु पटेल,  राधिका कंवर, भूमिका जोशी, करम सैमुअल, महेश्वर साहू, जाह्नवी ठाकुर, किरण कंवर, खुशी झा, मनोहर बघेल, प्रार्थना केवट, अन्विका गुप्ता एवं अनन्या सिंह ने भाग लेकर शोध परियोजना प्रस्तुत किया। समापन सत्र में बाल वैज्ञानिकों को मेडल और प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया।

इसके साथ ही बाल वैज्ञानिकों और शिक्षकों ने टीचर्स वर्कशॉप, मीट आफ साइंटिस्ट सेशन, लोकप्रिय विज्ञान वार्ता, प्रदर्शनी, गतिविधि शिविर, पोस्टर प्रस्तुती एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम में भाग लिया। राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस में वैज्ञानिक डॉ जे.के. राय एवं चार शिक्षकों अनिल तिवारी, जगदीश्वर राव, मीना जॉनसन और सीमा चतुर्वेदी ने भाग लेकर बाल वैज्ञानिकों को मार्गदर्शन किया।

इंडियन साइंस कांग्रेस में बाल वैज्ञानिकों ने प्रस्तुत किया शोध परियोजना

इसके अलावा राज्य स्तरीय बाल विज्ञान कांग्रेस से चयनित दो बाल वैज्ञानिक अनमोल मालवीय और कुमारी हर्षिता राठिया ने नागपुर, महाराष्ट्र में 3 से 7 जनवरी को आयोजित 108 वीं इंडियन साइंस कांग्रेस में अपना शोध परियोजना प्रस्तुत किया। इसके साथ हीं इण्यिन र्साइंस कांग्रेस में प्राईड ऑफ इंडिया-मेगा साईंस एस्पों में छत्तीसगढ़ विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद के वैज्ञानिकों डॉ. जे.के. राय और डॉ. बीना शर्मा एवं दो परियोजना स्टाफ द्वारा छत्तीसगढ़ विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद की विभिन्न गतिविधियों का प्रादर्श के माध्यम से प्रदर्शन किया।

View More...

लोक निर्माण मंत्री साहू ने रायपुर गोगांव रेलवे अंडर ब्रिज का किया लोकार्पण

Date : 04-Feb-2023

रायपुर। रायपुर शहरवासियों की बहुप्रतिक्षित मांग  पूरी हो गयी है। लोक निर्माण मंत्री  ताम्रध्वज साहू ने रायपुर रेलवे स्टेशन के पास 35.54 करोड़ रूपए  की लागत से बना 526 मीटर लंबा तेलघानी रेलवे ओवरब्रिज ब्रिज तथा उरकुरा- सरोना बायपास रेल लाइन में  15.73 करोड़ रूपए की लागत से तैयार 407 मीटर लंबे और 7.5 मीटर चौड़े गोगांव रेलवे अंडर ब्रिज का लोकार्पण किया।  इन दोनो बड़े निर्माण कार्यों की सौगात मिलने से रायपुर शहर की जनता को सुगम यातायात की सुविधा मिलेगी और यहां लगने वाले जाम से निजात मिलेगी। 

तेलघानी आरओबी से लगभग 3 लाख से अधिक आम नागरिकों के साथ-साथ संपूर्ण नगरीय क्षेत्र  को रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म 6 एवं 7 के लिए सुगम यातायात उपलब्ध होगा।  इसी तरह से  गोगांव आरयूबी के शुरू हो जाने से इस क्षेत्र की लगभग 3 लाख से भी अधिक की आबादी को लाभ मिलेगा। इन दोनों सुविधाओं के लिए  साहू ने छः लाख से अधिक शहर वासियों की ओर से मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल का धन्यवाद एवं आभार व्यक्त किया।

इस अवसर पर लोक निर्माण मंत्री  ताम्रध्वज साहू ने स्थानीय जनता को संबोधित करते हुए कहा कि ये दोनों ही ब्रिज मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल की प्राथमिकता वाले कामों में थे और इन्हें  जल्द से जल्द पूरा करने के निर्देश भी मुख्यमंत्री ने दिए थे। 

लोक निर्माण मंत्री ने कहा कि अब इन दोनों ब्रिजों से शहर वासियों को आने जाने में कोई तकलीफ नहीं होगी। शहर का एक कोना दूसरे कोने से आज जुड़ गया है और अब इस पार- उस पार की सीमाएं भी खत्म हो गयी हैं। दोनों ब्रिजों से शहर के दोनों तरफ आवागमन केसाथ साथ व्यापार व व्यवसाय और मेलजोल भी तेजी से बढ़ेगा। उन्होंने यहा भी  बताया कि लोगों की सुरक्षा के लिए पुराने तेलघानी ओवरब्रिज से भारी वाहनों का आवागमन भी बंद कर दिया गया है अब इस ब्रिज से केवल दो पहिया और छोटे चार पहिया वाहन ही गुजर सकेंगे। इससे लोगों को आवागमन में सहूलियत मिलेगी।

संसदीय सचिव  विकास उपाध्याय ने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार ने मुख्यमंत्री  बघेल की अगुवाई में कई ऐसी योजनाएं चलाई हैं जिससे लोगों की जेब में पैसा आया है। पहले शहर की यातायात व्यवस्था 7-8 लाख की आबादी के हिसाब से थी परन्तु अब  यह बढ़कर  लगभग 25 लाख की आबादी तक पहुंच गयी है। शासन की योजनाओं से लाभ लेकर लोगों ने अपनी सहूलियत के लिए वाहन भी खरीदे हैं तो उनको चलाने के लिए अच्छी सड़कें देना सरकार की जिम्मेदारी है। इसी जिम्मेदारी को निभाते हुए शहर में दो नए ब्रिजों का शुक्रवार को  लोकार्पण हुआ है। लोगों को निरंतर अबाध आवागमन की सुविधा मिलेगी इसके लिए मैं मुख्यमंत्री सहित लोक निर्माण मंत्री का भी आभार व्यक्त करता हूं।

इस मौके पर छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मंडल के अध्यक्ष  कुलदीप जुनेजा, महापौर  ऐजाज ढेबर, रायपुर ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र के विधायक  सत्यनारायण शर्मा, जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के अध्यक्ष  पंकज शर्मा, अन्य जनप्रतिनिधिगण सहित लोक निर्माण विभाग एवं रेल विभाग के अधिकारीगण उपस्थित थे।

View More...

मुख्यमंत्री बधेल को लिखा अभिनेता अमिताभ बच्चन ने लिखा पत्र, कहा.छत्तीसगढ़ बने मिलेट्स में विश्व विख्यात

Date : 04-Feb-2023

रायपुर। मकर संक्रांति के अवसर पर मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत कई फिल्मी हस्तियों को मिलेट से बने गिफ्ट हैंपर्स भेजे थे, इसी हैम्पर को पाकर बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन ने मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया है और कहा है कि छत्तीसगढ़ वैसे तो कई विशेषताओं के लिए प्रसिद्ध है, आपके द्वारा भेजे गए मिलेट के खाद्य प्रदार्थों के लिए आपका धन्यवाद। 

मुख्यमंत्री ने इस पत्र को अपने ट्विटर अकाउंट पर साझा करते हुए अमिताभ बच्चन का धन्यवाद जताया है। 

बता दें कि गिफ्ट हैंपर्स के माध्यम से मुख्यमंत्री बघेल ने मकर संक्रांति की बधाई भी प्रेषित की थी। 

मुख्यमंत्री ने अपने ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट कर इसकी जानकारी भी दी थी। 

उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार लगातार मिलेट्स को बढ़ावा दे रही है। मिलेट्स को प्रोत्साहन देने के क्रम में हाल ही के दिनों में मुख्यमंत्री ने विधानसभा में सभी विधायकों को मिलेट्स से बने व्यंजनों का लंच भी करवाया था। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा मिलेट्स को लेकर किए जा रहे कार्यों की तारीफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी कर चुके हैं।

View More...

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व सहायिका ने अपनी 6 सुत्रीय मांगों को लेकर अनिश्चित कालीन हड़ताल पर

Date : 03-Feb-2023
दीपेश साहा पखांजूर बंगबंधु पत्रिका _ अपने 6 सुत्रीय मांगो को लेकर कोयलीबेड़ा बलॉक के चार सेक्टर के 102 आंगनबाड़ी केंद्र के महिला कार्यकर्ता व सहायिका ने सरकार के खिलाफ अनिश्चित कालीन हड़ताल शुरू कर दिया है… आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओ ने कलेक्टर दर पर मानदेय बढ़ाने सहित अन्य मांगो को लेकर हड़ताल पर चले गए है,वही हड़ताल का समर्थन देने पहुंचे पूर्व विधायक मंतूराम पवार कहा कांग्रेस सरकार ने चूनावी वादा किया था ,कांग्रेस की सरकार बनने से आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका को कलेक्टर की दर पर मानदेव दिया जयगा ही मगर सरकार बनने का चार साल से भी ज्यादा होने पर भी मांग को पूरा नही किया गया,मंच पर ही बैठे मंत्री अनिला भेड़िया से फोन से बात किया, मंत्री ने मंतूराम पवार को आस्वत किया कि एक दो दिन के अंदर निराकरण किया जायेगा। तत्काल मौके पर ही विभागीय मंत्री अनिला भेड़िया से फोन पर संपर्क कर समस्या की जानकारी देते हुए सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के सम्मुख बात कही गई जिसमे उन्होंने आश्वासन दिया आने वाले एक दो दिन तक इसका समाधान हो जाएगा। इस खबर से सभी कार्यकर्ताओं के बीच खुशी की झलक दिखी साथ प्रांतीय अध्यक्ष कल्पना चंद ने कहा ऐसे जनप्रतिनिधि की आवश्यकता हमे है की किसी भी समस्या का निराकरण सीधे मंत्री जी से बात कर समस्या को उपर तक पहुंचाए इस पर सभी कार्यकर्ताओं ने मिलकर पूर्व विधायक मंतुराम पवार जी का आभार व्यक्त किया। आंगनबाड़ी केंद्रों में ताला जड़ दिया है,नेताजी सुभाषचंद्र बोस स्टेडियम के सामने में धरना शुरू कर दिया है…बता दे कि बीते दिनों से लगातार मांगो को पूरा करने के लिए धरना प्रदर्शन किया जा रहा था, अब अनिश्चिकालीन धरना प्रदर्शन हड़ताल शुरू कर दिया है.. और जब तक मांगे पूरी नही होती हैं.. तब तक आंदोलन जारी रखने की बात आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने कही हैं। पूरे छत्तीसगढ़ के आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की हड़ताल मे जाने से जिसका सीधा असर आंगनबाड़ी जाने वाले छोटे छोटे ननिहाल बच्चो,गर्वबती महिला एवं कुपोषित बच्चों को पोस्टिक आहार से वंचित होना पड़ रहा है इधर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का कहना है कि कांग्रेस सरकार की चूनावी वादा किया था,जब तक हमारी 6 सूत्री मांगे पूरी नहीं होती है तब तक लगातार अनिश्चितकालीन हड़ताल जारी रहेगी।
View More...

हाथ से हाथ जोड़ो' अभियान में विधायक नाग का योगदान, घर-घर तक पहुंचाया राहुल गांधी का संदेश

Date : 03-Feb-2023
पखांजूर बंगबंधु पत्रिका । कांग्रेस पार्टी के अंतागढ़ विधायक अनूप नाग ने परलकोट के हरनगढ़ से डोंडे के मध्य हाथ से हाथ जोड़ो अभियान के तहत घर-घर जाकर राहुल गांधी का संदेश लोगों तक पहुंचाया. इसके साथ ही उन्होंने राज्य सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं से भी लोगों को अवगत कराया. इसके अलावा, उन्होंने केंद्र सरकार की जनविरोधी नीतियों के बारे में ग्रामीणों को बताया और लोगों से 2023 में एक बार फिर से कांग्रेस को वोट देने की अपील की । *विधायक नाग ने बीजेपी पर जनता को बांटने का लगाया आरोप* विधायक नाक ने कार्यक्रम में संबोधित करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी जाति व धर्म के नाम पर जनता को बांटने का काम कर रही है. वहीं, कांग्रेस पार्टी आम जन को जोड़ने का कार्य कर रही है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस आपसी भाईचारे को स्थापित करने के लिए आमजन के दुख सुख में भागीदार बनकर देश में पुनः आपसी भाईचारा स्थापित करने का काम कर रही है. इसके लिए राहुल गांधी ने भारत जोड़ो यात्रा की हैं । *महंगाई-बेरोजगारी भाजपा की देन :- नाग* विधायक नाग ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने महंगाई के साथ-साथ बेरोजगारी बढ़ा रखी है. किसान और युवा भाजपा से परेशान हैं. उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ सरकार की ओर से चलाई जा रही महत्वाकांक्षी योजनाओं की जानकारी देते हुए कहा कि राजीव गांधी किसान न्याय योजना और गोधन न्याय योजना लागू कर राज्य सरकार ने देश में एक मिसाल कायम की है । उन्होंने कहा कि परलकोट सहित पुरे अंतागढ़ विधानसभा में विकास की गंगा बहाई जा रही है और इतिहास में पहली बार छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा लगातार चार वर्षो से ऐतिहासिक बजट देकर पुरे क्षेत्र में विकास कार्य कराए गए हैं । *हाथ से हाथ मिलेंगे, तो दिल से दिल भी मिलेंगे :- विधायक नाग* श्री नाग ने कहा राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के बाद कांग्रेस पार्टी ने हाथ से हाथ जोड़ो कार्यक्रम शुरू किया है. कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के निर्देश पर हाथ से हाथ जोड़ो अभियान शुरू किया गया है उन्होंने कहा की हमारा मानना है कि हाथ से हाथ मिलाएंगे तो दिल से दिल भी मिलने लगेंगे । *इनकी रही मौजूदगी* ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष पंकज साहा, एल्डरमैन जगदीश साहा, अमल बड़ाई, मोतीलाल शील, निरंजन ढाली, सुशीला मंडल, भगीरथ हालदार, सुधीन अधिकारी, हर्षित दास, रंजीत बैरागी, प्रकाश राय, अभिराज ढाली समेत सैकड़ों की संख्या में कांग्रेसी कार्यकर्ता एवं ग्रामीण मौजूद थे ।
View More...