Chhattisgarh

केंद्र सरकार जिस तरह अपने निर्णयों से राज्य सरकारों को कर रही बाध्य : मंत्री टी.एस. सिंहदेव

Date : 29-Sep-2020

रायपुर। छत्तीसगढ़ के वाणिज्यिक कर मंत्री टी.एस. सिंहदेव ने सोमवार को केंद्र सरकार द्वारा राज्यों को क्षतिपूर्ति राशि जारी करने के मुद्दे पर अन्य राज्यों के वित्त मंत्रियों और आर्थिक विशेषज्ञों से वीडियो कॉन्फ्रेंस से चर्चा की। वीडियो कॉन्फ्रेंस में मुख्य रूप से जीएसटी क्षतिपूर्ति एवं जीएसटी परिषद की कार्यशैली पर चर्चा की गई। सिंहदेव ने वीडियो कॉन्फ्रेंस में कहा कि केंद्र सरकार जिस तरह अपने निर्णयों से राज्य सरकारों को बाध्य कर रही है, वह अनुचित है। सभी करों का संकलन केंद्र सरकार द्वारा किए जाने के बाद भी राज्यों को जीएसटी क्षतिपूर्ति प्रदान करने के बदले कर्ज लेने के लिए बाध्य किया जा रहा है। चर्चा में पश्चिम बंगाल, ओड़िशा और पुदुचेरी के वित्त मंत्रियों सहित आर्थिक विशेषज्ञों ने भी हिस्सा लिया।

वाणिज्यिक कर मंत्री सिंहदेव ने केंद्रीय वित्त मंत्री के जीएसटी क्षतिपूर्ति के स्थान पर ऋण लेने के प्रस्ताव पर कहा कि जब राज्यों ने अपने कर लेने का अधिकार छोड़कर केंद्र पर विश्वास किया है तथा वर्तमान परिस्थिति में धन संचय केंद्र सरकार की जिम्मेदारी है, तो ऋण का बोझ राज्यों पर नहीं डाला जाना चाहिए। केंद्र सरकार राज्यों पर दबाव डालने के बजाय अपने दायित्वों का निर्वहन कर जीएसटी क्षतिपूर्ति की राशि राज्यों को जारी करे।

सिंहदेव ने जीएसटी के नियमों की याद दिलाते हुए प्रश्न किया कि आज छत्तीसगढ़ को जितना समर्थन केंद्र से प्राप्त है, उससे अधिक छत्तीसगढ़ से केंद्र को जाता है, इसके बावजूद केंद्र सरकार का यह रवैया क्या लोकतांत्रिक है? बहुमत के आधार पर इस तरह की मनमानी करने से पहले केंद्र सरकार को सोचना चाहिए कि कल किसी और दल का बहुमत होगा एवं सत्ता उनके हाथ में होगी, क्या तब भी जीएसटी कॉउन्सिल इसी प्रकार कार्य करेगी?

सिंहदेव ने कहा कि जीएसटी कॉउन्सिल में एनडीए का बहुमत रहा है। उन्होंने इसका दुरुपयोग करते हुए राज्यों के मत को दरकिनार कर किसी भी अन्य दल का मत नहीं लिया गया। वोटिंग के माध्यम से उन्होंने अपने निर्णय को राज्यों पर थोपने का कार्य किया है। सिंहदेव ने कहा कि संघीय ढाँचे पर इस प्रकार का आघात करने वाली सरकार को यह समझना चाहिए कि लोकतंत्र इस प्रकार कार्य नहीं करता है। बल्कि इसमें सभी की आवाज सुनी जाती है। उन्होने चर्चा में शामिल सभी मंत्रियों एवं विशेषज्ञों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि जिन सभाओं में निर्णय पूर्व निर्धारित होते हैं एवं जहाँ हमारी आवाज नहीं सुनी जाती, उन सभाओं का हिस्सा बनना औचित्यहीन है।

View More...

आईपीएल में सट्टा खिलाते 4 सटोरियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

Date : 28-Sep-2020

बिलासपुर। आईपीएल में सट्टा लगाने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। आईपीएल पर सट्टे को लेकर कई इलाकों में सटोरिए सक्रिय हैं। वहीं पुलिस भी कार्रवाई कर रही है। इसी कड़ी में पुलिस ने मैच में सट्टा खिलाते 4 सटोरियों को गिरफ्तार किया है।

यह मामला सिविल लाइन थाना क्षेत्र के शुभम विहार कॉलोनी की है, जहां आईपीएल मैच में सट्टा खिलाते हुए आरोपी शैलेश कुमार कश्यप, रूपेश खोब्रागड़े, देव कुमार साहू और विनोद यादव को गिरफ्तार किया गया है।

बताया जा रहा है कि लम्बे समय से इस इलाके में सट्टा खिलाने की खबर पुलिस को मिल रही थी। इसके बाद पुलिस टीम और साइबर टीम ने राजस्थान रॉयल्स और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच में मैच में सट्टा खिलाते 4 सटोरियों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से एक एलईडी टीवी, एक टीवी, 2 सेटटॉप बॉक्स, 11 मोबाइल फोन, 10,000 रूपये नकद और करीब 50 लाख रुपए की सट्टा पट्टी बरामद किया है।

View More...

कृमि मुक्त करने वर्तमान में जिले भर में बच्चों को खिलाई जा रही अल्बेंडाजॉल की गोलियां

Date : 28-Sep-2020

राजनांदगांव। सुपोषण के प्रति जन-जागरूकता के लिए जिले में लगातार विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। पोषण माह और कृमि मुक्ति दिवस के दौरान आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व मितानिनें गर्भवती व धात्री महिलाओं को बच्चों के पोषण के लिए विभिन्न माध्यमों से प्रेरित कर रही हैं। कृमि मुक्त करने के लिए वर्तमान में जिले भर में बच्चों को अल्बेंडाजॉल की गोलियां खिलाई जा रही हैं।
स्वास्थ्य एवं कल्याण परिवार कल्याण विभाग द्वारा 23 से 30 सितंबर तक राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस मनाया जा रहा है।

राष्ट्रीय कृमि मुक्ति अभियान का मूल उद्देश्य बच्चों में होने वाली खून की कमी (एनीमिया), कमजोरी एवं कुपोषण की रोकथाम करना है। इस कार्यक्रम में आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से एक से 19 वर्ष की आयु समूह के बच्चों के साथ-साथ आंगनबाड़ी से जुड़े सभी बच्चों को शामिल किया गया है। इसी के तहत ग्राम कोटरासरार की मितानिनों व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने एक से 19 वर्ष तक के बच्चों को कृमि मुक्ति के लिए अल्बेंडाजॉल नामक दवा खिलाई। इसके साथ ही कृमि संक्रमण से बचाव के लिए प्रेरित भी किया। उन्होंने बच्चों व पालकों को बताया, खुले में शौच नहीं करना चाहिए, नाखून साफ व छोटे रखें, स्वयं के साथ ही घर व घर के आसपास को स्वच्छ रखने का प्रयास करें। कोटरासरार में आयोजित कृमि मुक्ति दिवस कार्यक्रम में एनएम रीना साहू, मितानिन शारदा सिन्हा, जानकी साहू, बबीता, दुलारी साहू व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता राजकुमारी सिन्हा, मीना निषाद और द्रोपती मंडावी उपस्थिति रहीं।

जिले भर में कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा के निर्देशन और मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी के मार्गदर्शन में जिले के सभी विकासखंडों में राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस मनाया जा रहा है। कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से विकासखंडवार कार्यक्रम के संचालन एवं क्रियान्वयन की समय-समय पर मॉनिटरिंग भी कर रहे हैं। कोविड-19 महामारी के दौरान कोरोना प्रोटोकाल का पालन करते हुए ही कृमि मुक्ति कार्यक्रम के सफल संचालन व क्रियान्वयन किए जाने के निर्देश दिए गए हैं।

00 यह है अल्बेंडाजॉल की उचित खुराक
इस संबंध में सीएमएचओ राजनांदगांव डॉ. मिथलेश चौधरी ने बताया, कृमि मुक्ति कार्यक्रम में ग्राम की मितानिनों एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के माध्यम से एक वर्ष से 19 वर्ष तक के बच्चों को अल्बेंडाजॉल की टेबलेट खिलाई जा रही है। कृमि से मुक्त करने के लिए एक से 2 वर्ष तक के बच्चों को अल्बेंडाजॉल की आधी टेबलेट (200 मि.ग्रा.) पीस कर पानी के साथ खिलाई जाती है तथा 2 वर्ष से 19 वर्ष तक के बच्चों को 1 टेबलेट (400 मि.ग्रा.) चबा कर खानी होती है। टेबलेट खिलाने के संबंध में जिले की मितानिनों एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को विभिन्न आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए गए हैं।

कार्यक्रम के जिला नोडल अधिकारी डॉ. बीएल कुमरे ने जानकारी दी कि जिले में इस अभियान के अंतर्गत 1 वर्ष से 19 वर्ष तक के कुल 6.60 लाख से अधिक बच्चों को कृमिनाशक अल्बेंडाजॉल टेबलेट की दवा खिलाई जाने का लक्ष्य है। उन्होंने बताया, अपने हाथ साबुन से धोएं विशेषकर खाने से पहले व शौच जाने के बाद, हमेशा साफ पानी पीयें, जूते पहनें, खाने को ढंककर रखे और फल व सब्जियों को साफ पानी से अच्छी तरह धोकर ही उपयोग करें तो कृमि संक्रमण से बचा जा सकता है।

View More...

गांधी जयंती के दिन 253 करोड़ 61 लाख रुपए की 39 निर्माण कार्यों का मुख्यमंत्री भूपेश करेंगे भूमिपूजन-लोकार्पण

Date : 28-Sep-2020

दुर्ग । गांधी जयंती के अवसर पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जिले में विकास को नई इबारत गढ़ने वाली अधोसंरचनाओं की नींव रखेंगे एवं इन्हें लोकार्पित भी करेंगे। इस दिन 253 करोड़ 61 लाख रुपए की 39 निर्माण कार्यों का भूमिपूजन-लोकार्पण होगा। लोकार्पित होने वाले प्रमुख कार्यों में उद्यानिकी एवं वानिकी विश्वविद्यालय, सांकरा, पाटन का भूमिपूजन है। 55 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाली इस यूनिवर्सिटी का नाम महात्मा गांधी जी के नाम पर ही रखा गया है। यूनिवर्सिटी के माध्यम से क्षेत्र में उद्यानिकी की बढ़त की दिशा में बड़ी संभावनाएं खुलेंगी। गांधी जयंती के दिन तीन जगहों पर कार्यक्रम होंगे और मुख्यमंत्री सभी जगहों पर वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से लोकार्पण एवं भूमिपूजन कार्यों का शुभारंभ करेंगे। कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने आज अपने चेंबर में कार्यक्रम की व्यवस्था में लगे अधिकारियों को इस संबंध में आवश्यक सभी तैयारियां कर लेने के निर्देश दिये।

पहला कार्यक्रम होगा सांकरा में, यूनिवर्सिटी के भूमिपूजन के साथ ही हाउसिंग बोर्ड के शासकीय कर्मचारियों के आवासों का लोकार्पण भी- सांकरा, पाटन में महात्मा गांधी विश्वविद्यालय के भूमिपूजन के साथ ही ब्लाक मुख्यालय में शासकीय अधिकारियों-कर्मचारियों के रहने के लिए 5 करोड़ 48 लाख रुपए की लागत से बनाये गए आवास का लोकार्पण भी होगा। खारुन नदी में 8 करोड़ 35 लाख रुपए की लागत से उफरा से रवेली मार्ग में उच्चस्तरीय पुल तथा खम्हरिया नाला में अभनपुर-तर्रीघाट पाटन मार्ग में खम्हरिया नाला में 8 करोड़ 17 लाख से बनने वाले उच्चस्तरीय पुल के निर्माण कार्य का भूमिपूजन होगा। इसके साथ ही सहकारी बैंक की झीट शाखा का भूमिपूजन भी होगा। पाटन में 77 करोड़ 28 लाख रुपए के कार्यों का लोकार्पण-भूमिपूजन होगा। इसमें भूमिपूजन के 71 करोड़ 80 लाख रुपए के कार्य तथा लोकार्पण का एक कार्य शामिल है।

दुर्ग में ठगड़ा बांध के सौंदर्यीकरण कार्य का भूमिपूजन कार्यक्रम- दुर्ग में 138 करोड़ 35 लाख रुपए के कार्यों के लोकार्पण भूमिपूजन होंगे। ठगड़ा बांध को सुंदर बनाने, शहर का प्रमुख आकर्षण केंद्र बनाने यहां 13 करोड़ 49 लाख रुपए के कार्य होंगे। नागरिक सुविधाओं के अनुरूप ट्रैफिक का दबाव कम करने एवं सुंदरता बढ़ाने नेहरू चैक से मिनी माता चैक तक 8 किमी मार्ग का सुदृढ़ीकरण एवं सौंदर्यीकरण का कार्य होगा, इसकी लागत 68 करोड़ 16 लाख रुपए होगी। पुलगांव नाका से अंजोरा तक साढ़े छह किमी फोरलेन निर्माण कार्य होगा। इसकी लागत 56 करोड़ 39 लाख होगी।

तीसरा कार्यक्रम भिलाई में- भिलाई निगम में 30 कार्यों का भूमिपूजन लोकार्पण होगा। इसमें 12 करोड़ 22 लाख रुपए के लोकार्पण कार्यक्रम एवं 25 करोड़ 74 लाख रुपए के भूमिपूजन कार्यक्रम शामिल हैं। इस अवसर पर गांधी जी की प्रतिमा का लोकार्पण भी होगा। जोन क्रं. 4 के अंतर्गत सोनिया गांधी नगर से पंचशील होते हुए सुभाष नगर सी.एस.ई.बी. नगर तक स्थित नाले का चैनालाईजेशन कार्य किया जाना है, जिसमें लागत 80 लाख रू. है। जोन क्रं. 4 के अंतर्गत बापू नगर उड़िया बस्ती के पीछे से हाॅस्पिटल रोड होते हुए रमाताई स्कूल के सामने तक का चैनलाईजेशन का कार्य किया जाना है, जिसकी लागत 80 लाख रू. है। वार्ड क्रं. 25 करूणा हाॅस्पिटल नंदनी रोड से गौरवपथ तक तेलहा नाला का विकास कार्य किया जाना है, जिसकी लागत 2 करोड़ 49 लाख रू. है। कोसानाला का उन्नयन कार्य किया जाना है जिसकी लागत 17 करोड़ रू. है। वार्ड क्रं. 02 माॅडल टाउन सड़क 06 सीमेंटकरण कार्य किया जाना है, जिसकी लागत 10 लाख रू. है। वार्ड क्रं. 29 बापू नगर तालाब से वार्ड क्रं. 37 सुभाष नगर नाला के समानांतर मार्ग निर्माण कार्य किया जाना है, जिसकी लागत 70 लाख रू. है।

जोन क्रं. 04 अंतर्गत विभिन्न वार्डो में सीमेंटीकरण कार्य किया जाना है, जिसकी लागत 83 लाख रू. है। वार्ड क्रं. 28 बप्पा आटा चक्की सतनामी मोहल्ला क्षेत्र में सीमेंटीकरण का कार्य किया जाना है, जिसकी लागत 16 लाख रू. है। वार्ड क्रं. 36 तेल्हानाला जी.ई.रोड से वार्ड 29 मस्जिद तक नाला एवं पुलिया निर्माण कार्य किया जाना है, जिसकी लागत 2 करोड़ 89 लाख रू. है। वार्ड क्रमांक 29 बापू नगर से नंदिनी रोड सी.एस.ई.बी. पावर स्टेशन तक नाला एवं पुलिया निर्माण किया जाना है जिसकी लागत 1 करोड़ 66 लाख रूपए है। वार्ड क्रमांक 30 सिटी टेलर्स से वार्ड क्रमांक 29 बापू नगर नाला तक नाला निर्माण जिसकी लागत 78 लाख रूपए है। वार्ड क्रमांक 33 सड़क 11 से मांझी चैक होते हुए वार्ड क्रमांक 31 मस्जिद रोड तक नाला एवं पाथवे निर्माण कार्य जिसकी लागत 65 लाख रूपए है। वार्ड क्रमांक 30 का मुख्य नाला निर्माण कार्य किया जाना है जिसकी लागत 38 लाख रूपए है। वार्ड क्रमांक 28 राजीव नगर एवं श्रमिक नगर में नाली निर्माण किया जाना है जिसकी लागत 37 लाख रूपए है। अमृत मिशन योजना अंतर्गत वार्ड क्रमांक 01 खम्हरिया में उद्यान निर्माण कार्य किया जाना है जिसकी लागत 47 लाख रूपए है। वार्ड क्रमांक सुपेला रावण भाठा में पेवर ब्लाक लगाने का कार्य जिसकी लागत 9 लाख रूपए है। वार्ड क्रमांक 50 ए मार्केट के सामने उद्यान के चारों तरफ पेवर ब्लाॅक लगाने का कार्य जिसकी लागत 7 लाख रूपए है। वार्ड क्रमांक 29 बापू नगर उद्यान का निर्माण एवं सौंदर्यीकरण कार्य जिसकी लागत 75 लाख रूपए है। सुलभ के पास गौतम नगर में नाला किनारे उद्यान विकास कार्य 36 लाख रूपए है।

वार्ड क्रमांक 36 गौतम नगर में उद्यान विकास कार्य जिसकी लागत 13 लाख रूपए है। वार्ड क्रमांक 37 मार्केट एरिया में पेविंग ब्लाॅक लगाने कार्य जिसकी लागत 19 लाख रूपए है। वार्ड क्रमांक 13 राजीव नगर में सामुदायिक भवन निर्माण कार्य जिसकी लागत 25 लाख रूपए है। वार्ड क्रमांक 16 शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला कुरूद भिलाई के नवीन शाला भवन में आहाता एवं अतिरिक्त कमरा निर्माण कार्य की लागत 30 लाख रूपए है। वार्ड क्रमांक 31 दुर्गा मंदिर में चर्च के पीछे बाउण्ड्रीवाल एवं सामुदायिक भवन निर्माण कार्य की लागत 16 लाख रूपए है। वार्ड क्रमांक 28 तिरंगा चैक स्कूल ग्राउण्ड में 100 नग एल.ई.डी. लाईट लगाकर पोल लगाने का कार्य की लागत 15 लाख रूपए है। वार्ड क्रमांक 34 अण्डा चैक ग्राउण्ड में 150 नग एल.ई.डी लाईट लागकर पोल लगाने का कार्य की लागत 21 लाख रूपए है। वार्ड क्रमांक 21 सुंदरनगर केम्प-2 बैकुंठधाम में स्वागतद्वार निर्माण कार्य की लागत 9 लाख रूपए है। वार्ड क्रमांक 38 तालाब गहरीकरण एवं सौंदर्यीकरण कार्य की लागत 39 लाख रूपए है। खुर्सीपार भिलाई में नवीन महाविद्यालय भवन का निर्माण 4 करोड़ 65 लाख रूपए है।

View More...

जिले में पुलिस ने डेढ़ किलो से अधिक गांजा के साथ युवक को किया गिरफ्तार

Date : 28-Sep-2020

कोरबा। मानिकपुर चौकी पुलिस ने एक युवक से डेढ़ किलो से अधिक गांजा बरामद कर गिरफ्तार किया है। लाकडाउन में वह गांजा खपाने के लिए जा रहा था।

जानकारी के अनुसार कुआभट्ठा बाई पास रोड निवासी अजय कुमार सारथी उर्फ राजा पिता कुंवर सिंह सारथी 19 वर्ष, सफेद व नीले रंग के थैले में 1 किलो 562 ग्राम मादक पदार्थ गांजा कीमत 15,000 रुपये रखकर बिक्री करने के लिए लेकर जा रहा था। मुखबिर से सूचना मिली थी कि एक व्यक्ति पैदल बुधवारी बाजार बाईपास रोड से गुरुघासीदास चौक की ओर एक सफेद- नीला रंग के थैला में मादक पदार्थ बिकी करने के लिए आने वाला है।

सूचना पर युवक को रास्ते से पकड़ लिया गया। उसने खरसिया से गांजा लेकर आना बताया है।जिसकी जांच की जा रही है। आरोपी के विरूद्ध धारा 20 (बी) एनडीपीएस एक्ट के तहत् जुर्म दर्ज कर गिरफ्तार करते हुए न्यायिक अभिरक्षा में जेल दाखिल कराया गया।
कोरबा नगर पुलिस अधीक्षक राहुल देव शर्मा ने बताया कि पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीणा और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कीर्तन राठौर के द्वारा जिले में अवैध करोबार पर शिकंजा कसने सर्व थाना/चौकी प्रभारीगण को निर्देशित किया गया है। आदेश के परिपालन में शहर व आसपास के क्षेत्रों में अपराधियों पर निरंतर कार्रवाई की जा रही है। अभी लाकडाउन का लाभ उठाकर भी अपराध करने वालों के इरादों को त्वरित कार्यवाही कर नाकाम किया जा रहा है।

View More...

रायपुर,अम्बिकापुर से बनारस हवाई सेवा शीघ्र प्रारम्भ करने मंत्री अमरजीत भगत ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर किया आग्रह

Date : 28-Sep-2020

रायपुर । मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ के विभिन्न शहरों को हवाई सेवा से जोड़ा जा रहा है । अभी हाल ही में राज्य के जगदलपुर-रायपुर से हैदराबाद के लिए हवाई सेवा शुरू की गई है । अब रायपुर, अम्बिकापुर से बनारस हवाई सेवा प्रारम्भ करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है । जिसमे आज मुख्यमंत्री को मंत्री अमरजीत भगत ने पत्र लिखकर रायपुर, अम्बिकापुर से बनारस हवाई सेवा शीघ्र प्रारम्भ करने का आग्रह किया है ।

मंत्री भगत ने लिखा है कि उत्तरी छत्तीसगढ़ के सरगुजा क्षेत्र में भौगोलिक दृष्टि से कई मामलों में अपार संभावनाएं होने के बावजूद हवाई सेवा का इंतजार हो रहा है । अम्बिकापुर के दरिमा हवाई अड्डा 1500 मीटर की हवाई पटटी समेत कई अर्हताएं पूरी करता है । उत्तरी क्षेत्र में चिकित्सा, शिक्षा और सांस्कृतिक एवं पर्यटान के क्षेत्र में तेजी से विकास के लिए हवाई सेवा जरूरी है । मंत्री भगत ने जगदलपुर -रायपुर से हैदराबाद के लिए हवाई सेवा शुरू करने पर मुख्यमंत्री बघेल के प्रति आभार व्यक्त किया है । उन्होंने कहा है कि राज्य के दक्षिण क्षेत्र में इस हवाई सेवा से लोंगों की सुविधाएं बढ़ी है । इससे चिकित्सा, शिक्षा और सांस्कृतिक एवं पर्यटान के क्षेत्र में तेजी से विकास होगा ।

गौरतलब है कि अम्बिकापुर के दरिमा एयरपोर्ट को अपग्रेड करवाने के लिये मंत्री अमरजीत भगत ने निरंतर प्रयास कर रहे हैं । इस संबंध में उन्होंने केंद्रीय उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी को पत्र लिखा था। उन्होंने केंद्रीय मंत्री से सरगुजा जिले के अंबिकापुर(दरिमा) हवाई अड्डे का श्रेणी में सुधार करते हुए 3-सी केटेगिरी में शामिल करने हेतु आवश्यक कार्यवाही का अनुरोध किया था। साथ ही उन्होंने पत्र में सेवा विस्तारण अंर्तराज्यीय सेवा के रूप में रायपुर-बनारस (अंबिकापुर होते हुए) उड़ान योजना में स्वीकृत प्रदान करने का अनुरोध किया था। मंत्री भगत ने पत्र में लिखा कि छत्तीसगढ़ राज्य का उत्तरी भाग को उड़ान योजना के तहत् हवाई सेवा की सुविधा उपलब्ध कराने हेतु महानिदेशक नागरिक उड्ययन के निर्धारित मापदण्ड अनुसार 3-सी श्रेणी की सुविधा एवं तकनीकी स्वीकृति दिया जाना आवश्यक है।’
मंत्री अमरजीत भगत की पत्र के जवाब में केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने लिखा है कि राज्य सरकार अंबिकापुर हवाई अड्डे का विकास कर रही है जिसके लिए भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण आवश्यकतानुसार तकनीकी सहायता दे रहा है।

छत्तीसगढ़ सरकार ने अंबिकापुर हवाई अड्डे को 3-सी श्रेणी के तहत अपग्रेड करने की योजना को मंजूरी दे दी है। साथ ही उन्होंने जवाब में यह भी लिखा है कि ‘ऑपरेशन के उन्नयन के लिए रनवे, टैक्सीवे और एप्रन के लिए उच्च पेवमेंट क्लासीफिकेशन नंबर की आवश्यकता होती है जो कि संचालित होने वाले विमानों के प्रकार पर निर्भर करता है। छत्तीसगढ़ सरकार से मंजूरी मिलने के बाद, स्थानीय पीडब्ल्यूडी अधिकारियों ने रनवे के विस्तार की योजना बनायी है। केंद्रीय उड्डयन मंत्री ने दरिमा एयरपोर्ट के उन्नयन के लिये आवश्यक दिशा निर्दश भी दिये। अंबिकापुर उत्तर छत्तीसगढ़ का एक बेहद महत्वपूर्ण शहर है। जगदलपुर एयरपोर्ट के बाद अंबिकापुर एयरपोर्ट के उन्नयन से छत्तीसगढ़ के विकास को नई दिशा मिलेगी। साथ ही सरगुजा जिले का मैनपाट प्रदेश का इकलौता हिल स्टेशन है, इससे पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। साथ हवाई सेवा आरंभ होने का फायदा क्षेत्रवासियों का मिलेगा, रायपुर व बनारस के लिये उनकी यात्रा अवधि कम हो जाएगी।

View More...

जशपुर जिले में लाॅकडाउन को 30 सितम्बर को खोलने के कलेक्टर ने दिए निर्देश

Date : 28-Sep-2020

जशपुरनगर। कलेक्टर महादेव कावरे ने आज कलेक्टर कार्यालय के कक्ष में अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने जशपुर जिले में 7 दिनों के लिए लगाए गए लाॅकडाउन को 30 सितम्बर को खोलने के निर्देश दिए है। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक बालाजी राव, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी के.एस.मण्डावी, वनमण्डलाधिकारी कृष्ण जाधव, अपर कलेक्टर आई.एल.ठाकुर, डिप्टी कलेक्टर आकांक्षा त्रिपाठी, मुख्यचिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी पी.सुथार, नगरपालिका अधिकारी बसंत बुनकर, डीपीएम गनपत नायक उपस्थित थे।

कलेक्टर ने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि जशपुर जिले में 22 सितम्बर रात्रि 12 बजे से 29 सितम्बर रात्रि 12 बजे को इसकी समयावधि पूर्ण हो जाएगी। आगामी 30 सितम्बर से सभी दुकानें कार्यालय आदि पूर्व की तरह संचालित होंगी। साथ ही लोगों को कोरोना संक्रमीण की सुरक्षा के लिए सोशल डिस्टेंश का पालन एवं मास्क लगाने और सेनिटाईजर का उपयोग करने कहा गया है। उन्होंने स्वास्थ्य अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि ऐसे क्षेत्र जहां कोरोना पाॅजिटिव पाए जाएंगे उन्ही जगहों को कंटनमेंट जोन घोषित किया जाना है। साथ ही संबंधित क्षेत्र के आसपास के लोगों का भी कैम्प लगाकर कोरोना जांच करने के निर्देश दिए। उन्होंने लाॅकडाउन खुलने के उपरांत दुकानदारों ठेलेवालों को सेनिटाईजर अनिवार्य रूप से रखने के निर्देश दिए है। साथ ही ठेलेवाले अपने ठेले चारों तरफ रस्सी का घेराव करने और उसमें सेनिटाईजर रखने के लिए भी कहा गया है ताकि ग्राहक सामान लेने आए तो सबसे पहले सेनिटाईजर का उपयोग करने फिर सामान खरीदें । इससे कोरोना संक्रमण से सुरक्षित बचा जा सकता है। उन्होंने लोगों को कोरोना जांच की सुरक्षा देने के लिए नगरीय क्षेत्र में नगरपालिका भवन एवं अन्य भवन का चिन्हांकन करके लोगों का कोरोना जांच अनिवार्य रूप से करने के निर्देश दिए है। ताकि जिला अस्पताल के अलावा अन्य जगहों पर भी कोरोना जांच का लाभ लोगों को मिल सके।

कलेक्टर ने स्वास्थ्य एवं नगरीय निकाय के अधिकारियों को लाईवलीहुड आईसोलेशन सेंटर में सेनिटाईजर का छिड़काव, बाथरूम की अच्छे से साफ-सफाई करने के निर्देश दिए है ताकि मरीजों को किसी प्रकार कोई दिक्कत न होने पाए उन्होंने कोरोना टेस्ट और होमक्वारेंटाईन से डिस्चार्ज हुए मरीजों का आॅनलाईन एन्ट्री करने के लिए भी कहा गया है। मुख्यचिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि कोविड हाॅस्पिटल में 53 मरीज और लाईवलीहुड आईसोलेशन सेंटर में 38 मरीजों को रखा गया है। होमआईसोलेशन वाले मरीजों को मापदण्ड पूरा करने पर सुविधा दी जा रही है।

View More...

कोरोना वायरस संकमण से बचाव के लिए फिजिकल डिस्टेंसिंग, मास्क व समय-समय पर हाथ धोना, सेनिटाईज करना अधिक जरूरी कलेक्टर

Date : 28-Sep-2020

रायपुर। कलेक्टर डॉ एस. भारतीदासन ने जिले में कोरोना वायरस से बचाव एवं रोकथाम के लिए 21सितम्बर रात्रि 9 बजे से 28 सितम्बर की रात्रि 12 बजे तक कंटेनमेंट जोन घोषित करते हुये आम जनता के आवागमन और कार्यालय एवं व्यवसाय संचालन पर प्रतिबंध लागू किया गया था।इसी तरह जिले में व्यवसायिक गतिविधियों के लिये समय-सीमा निर्धारित की गई थी। रायपुर जिले में व्यवसायिक गतिविधियों के लिए समय-सीमा निर्धारित करने एवं सम्पूर्ण जिले को कंटेनमेंट जोन घोषित करने के पश्चात यह अवलोकन किया गया है कि लॉकडाउन स्थायी समाधान नहीं है बल्कि कोरोना वायरस संकमण से बचाव एवं संकमण की श्रृंखला को तोड़ने के लिए फिजिकल डिस्टेंसिंग, मास्क एवं समय-समय पर हाथ धोना,सेनिटाईज करना अधिक जरूरी है। इसके साथ-साथ आत्मनियंत्रण और जागरूकता आवश्यक है।

शासकीय कार्यालय निर्धारित समयावधि में होंगे संचालित*
कलेक्टर डॉ भारतीदासन ने 29 सितम्बर से समस्त कार्यालय शासन की निर्धारित समयावधि में संचालित करने के निर्देश दिए हैं।व्यावसायिक गतिविधियों के संचालन पर सामान्यत: कोई प्रतिबन्ध नहीं होगा किन्तु कोई भी दुकान या व्यावसायिक संस्थान रात 8 बजे के बाद संचालित नहीं होंगे। पेट्रोल पंप एवं मेडिकल दुकानें निर्धारित समय में ही खुलेंगे। रेस्टोरेंट, होटल संचालन एवं टेक-अवे और होम डिलिवरी की अनुमति रात 10 बजे तक ही होगी। कार्यालय प्रमुख अपने कार्यालय परिसर में फिजिकल डिस्टेसिंग, मास्क का उपयोग एवं समय-समय पर हाथ धोने, सेनिटाईज करने आवश्यक व्यवस्था अनिर्वायतः सुनिश्चित करेंगे। यदि किसी कार्यालय में इस निर्देश की अवहेलना पाई जाती है तो संबंधित कार्यालय प्रमुख को इसके लिए उत्तरदायी माना जाएगा।इसके लिए फ्लाइंग स्क्वाड तथा संबंधित इंसिडेंट कमांडर या उनके द्वारा अधिकृत अधिकारी अर्थदण्ड अधिरोपित कर सकेंगे। अर्थदण्ड की कटौती वेतन से भी की जा सकेगी।

निर्देशों का पालन नहीं करने वाले होंगे दंडित*
कलेक्टर ने कोविड-19 के संकमण के रोकथाम एवं नियमों के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए राज्य शासन द्वारा समय-समय पर जारी दिशा-निर्देशों का पालन नहीं किए जाने की दशा में महामारी रोग अधिनियम, 1897 के अधीन निर्मित विनियम के तहत जुर्माना अधिरोपित करने के निर्देश दिए हैं।

सार्वजनिक स्थलों में मास्क या फेस कवर नहीं पहनने की स्थिति में 100 रुपये,होम क्वारेन्टाइन के दिशा निर्देशों का उल्लंघन किए जाने की स्थिति में 1000 रुपये, सार्वजनिक स्थलों पर थूकते हुये पाये जाने की स्थिति में 100 रुपये,दुकानों या व्यावसायिक संस्थानों के मालिकों द्वारा सोशल और फिजिकल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन किये जाने की स्थिति में 200 रुपये से दंडित किया जाएगा। यदि नियमों का उल्लंघन करने वाले किसी व्यक्ति द्वारा जुर्माना देने से इंकार किया जाता है तो संबंधित के विरूद्ध एपिडेमिक डिसीजेज एक्ट, 1897 यथासंशोधित 2020 सहपठित छत्तीसगढ़ एपिडेमिक डिसीजेज कोविड-19 रेगुलेशन 2020 के रेगुलेशन 14 एवं भारतीय दण्ड सहिता, 1860 की धारा 188 के अधीन संबंधित पुलिस थाना में एफ.आई.आर. दर्ज कराई जाएगी। यदि किसी दुकान या व्यावसायिक संस्थान में दूसरी बार उल्लंघन पाया जाता है तो उक्त दुकान या व्यावसायिक संस्थान को आगामी 15 दिवस के लिए सील किया जायेगा।

View More...

जिले में महुआ शराब बेचते हुए 4.5 लीटर कच्ची शराब के साथ 4 लीटर कच्ची शराब जप्त

Date : 28-Sep-2020

सूरजपुर। लाॅकडाउन में जिले की मदिरा दुकानें बंद रहने के दौरान कलेक्टर रणबीर शर्मा के निर्देशन में आबकारी अपराधों पर नियंत्रण हेतु जारी अभियान के तहत आबकारी उपनिरीक्षक सहदेव मरकाम द्वारा 27 एवं 28 सितंबर को शहर गश्त के दौरान मुखबीर की सूचना पर तीन प्रकरण कायम किए गए। वार्ड 9, नवापारा काॅलेज रोड निवासी आंगनबाड़ी सहायिका ममता पति बंशीलाल देवांगन के कब्जे से 6.5 लीटर कच्ची महुआ शराब जप्त कर आबकारी अधिनियम 1915 की गैरजमानती धारा 34(2) 59(क) के तहत प्रकरण कायम कर न्यायिक रिमांड पर जेल दाखिल किया गया। अन्य प्रकरणों में भट्ठापारा निवासी बबीता पति रंजीत गोंड पर महुआ शराब बेचते हुए 4.5 लीटर कच्ची शराब के साथ धारा 34(1)(ब) एवं महुआपारा निवासी अशोक आत्मज विजय साहू के कब्जे से 4 लीटर कच्ची शराब जप्त कर धारा 34(1)क के तहत प्रकरण विवेचना में लिया गया।

View More...

अखिल भारतीय पत्रकार सुरक्षा समिति ने राज्यपाल, सीएम के नाम कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

Date : 28-Sep-2020

रायपुर। राज्यपाल अनुसूईया उईके और छत्तीसगढ़ के मुखिया भूपेश बघेल से छत्तीसगढ़ प्रदेश के तमाम पत्रकार साथी एक ही अनुरोध करते है कि प्रदेश के वरिष्ठ पत्रकार कमल शुक्ला (कांकेर) पर जो जानलेवा हमला हुआ है ,यह आपके मार्गदर्शन/नेतृत्व में चलने वाले प्रदेश को शर्मसार कर देने वाली निंदनीय घटना है ,प्रदेश में घटित इस घटना से पूरे देश में छत्तीसगढ़ का नाम और सरकार की छवि धूमिल हुई है, लेकिन ये चंद असामाजिक तत्व जिन लोगो ने जिसके भी इशारे पर यह कार्य किया है, वह बहुत ही बड़ा गुनाहगार जो ऐसे लोगो को संरक्षण देने का काम कर रहा है ,कांकेर की शर्मनाक घटना को अंजाम देने वाले आरोपियों को तो गिरफ्तार कर लिया गया है, परंतु इनके मोबाइल फोन के पिछले एक माह का रिकॉर्ड निकाला जावे ,जिससे कानून के रखवाले उस गुनहगार तक पहुच सकते है ,जिसके भी संरक्षण में यह कृत्य किया गया है वह मुख्य आरोपी है ,

राज्यपाल और छत्तीसगढ़ के मुखिया भूपेंश बघेल से अखिल भारतीय पत्रकार सुरक्षा समिति के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद शर्मा के आदेशानुसार एवं प्रदेश सचिव प्रशांत ईलमकार मार्गदर्शन में राजनांदगाँव जिला अध्यक्ष मनोज सिंह चंदेल एवं जिले के समस्त कार्यकारिणी के सदस्यों ने जिला कलेक्टर राजनांदगाँव को राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौपा और

उन प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष आरोपियों पर i धारा 307 एऔर के तहत अपराध कायम किया जाना चाहिए एवं पूरे प्रदेश में हो रहे पत्रकार साथियो के ऊपर अत्याचार, धमकी,मारपीट और पुलिस द्वारा लगाए जा रहे फर्जी केसों पर तुरंत रोक हेतु , प्रदेश के समस्त जिलों के पुलिस अधीक्षकों को तुरन्त निर्देश दिया जाये।

View More...