Top News

अफगानिस्तान को अमेरिका ने 470 करोड़ की आर्थिक मदद देने का किया ऐलान

Date : 14-Sep-2021

नई दिल्ली (एजेंसी)। अफगानिस्तान में नई सरकार के गठन के बाद संयुक्त राष्ट्र संघ सहित कई देशों से आर्थिक पैकेज की घोषणा किए जाने की खबर सामने आ रही है। इस बीच अमेरिका ने 470 करोड़ रुपए का आर्थिक मदद देने का ऐलान किया है। संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की राजदूत लिंडा थॉम्पसन-ग्रीनफील्ड ने बयान जारी कर अवगत कराया है कि अमेरिका अफगानिस्तान की जनता के लिए 64 मिलियन डालर की मानवीय सहायता करने जा रहा है। अफगानिस्तान की आर्थिंक मंदी को देखते हुए अमेरिका ने यह निर्णय लिया है। साथ ही अन्य देशों से भी आगे बढ़कर सहयोग की करने की अपील भी की है।

उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा है कि ”मुझे यह घोषणा करते हुए गर्व हो रहा है कि अमेरिका अफगानिस्तान के लोगों के लिए नई मानवीय सहायता के रूप में 64 मिलियन डॉलर दे रहा है। यह नया वित्त पोषण यूनाइटेड नेशन और अंतरराष्ट्रीय एनजीओ के काम का समर्थन करेगा। हम अन्य देशों से भी एकजुटता दिखाने का आग्रह करते हैं।

अमेरिका से पहले संयुक्त राष्ट्र प्रमुख, न्यूजीलैंड, चीन, जर्मनी भी अफगानिस्तान को आर्थिक मदद देने का ऐलान कर चुके हैं। हालांकि अब तक भारत की ओर से इस तरह के का कोई घोषणा नहीं किया गया है।

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने अफगानिस्तान को दो करोड़ अमेरिकी डॉलर देने की घोषणा की

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतेरेस ने सोमवार को अफगानिस्तान में मानवीय अभियान का समर्थन करने के लिए दो करोड़ अमेरिकी डॉलर के आवंटन की घोषणा की। युद्धग्रस्त देश में ‘वास्तविक’ अधिकारियों ने लोगों तक सहायता पहुंचाने के लिए सहयोग करने का ‘वादा’ किया है। उन्होंने कहा, ‘अफगानिस्तान के लोगों को एक जीवन रेखा की जरूरत है। दशकों के युद्ध, पीड़ा और असुरक्षा के बाद वे शायद अपने सबसे खतरनाक समय का सामना कर रहे हैं। अंतरराष्ट्रीय समुदाय के लिए अब उनके साथ खड़े होने का समय है।’

चीन ने पहले ही 200 मिलियन यूआन (31 मिलियन डॉलर) की आर्थिक मदद देने की घोषणा की थी। वहीं न्यूजीलैंड के विदेश मंत्री नानैया महुता ने सोमवार को कहा कि अफगानिस्तान को मानवीय सहायता के रूप में 3 मिलियन डॉलर (2 मिलियन डॉलर) देने की घोषणा की है। महुता ने एक बयान में कहा, अफगानिस्तान में महत्वपूर्ण मानवीय आवश्यकता है, इस संकट से महिलाओं और लड़कियों पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है। 

View More...

पुलवामा में आतंकियों ने ग्रेनेड से किया हमला, तीन स्थानीय नागरिक घायल, तलाशी अभियान जारी

Date : 14-Sep-2021

पुलवामा (एजेंसी)। कश्मीर संभाग के पुलवामा में आतंकियों ने मंगलवार को ग्रेनेड हमला किया। यह हमला मुख्य चौक पर तैनात सुरक्षाबलों को निशाना बनाकर किया गया था। हालांकि ग्रेनेड सड़क पर जाकर फटा, जिसकी जद में आने से तीन स्थानीय नागरिक घायल हो गए। उन्हें उपचार के लिए नजदीकी अस्पताल ले जाया गया है। उधर, हमला करने के बाद फरार हुए आतंकियों की तलाश में इलाके की घेराबंदी कर अभियान चलाया जा रहा है।

गौरतलब है कि बैखलाहट के चलते आतंकी संगठनों ने अपनी रणनीति में बदलाव किया है। वह हिट एंड रन के साथ-साथ ग्रेनेड हमलों को अंजाम देने की साजिश रच रहे हैं ताकि सुरक्षाबलों को नुकसान पहुंचाया सकें। इतना ही नहीं ऐसी घटनाओं को ओवर ग्राउंड वर्करों (ओजीडब्ल्यू) और हाइब्रिड आतंकियों द्वारा अंजाम दिया जा रहा है ताकि अगर उनमें से कोई मारा या पकड़ा भी जाता है तो आतंकी संगठनों को ज़्यादा बड़ा धक्का न लगे।

डीजीपी दिलबाग सिंह के मुताबिक कश्मीर में मौजूदा शांतिपूर्ण माहौल को बरकरार रखने के लिए पुलिस आतंकियों और उनके समर्थकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेगी। उन्होंने श्रीनगर में बढ़ती घटनाओं पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि जो नए मॉड्यूल सक्रिय हुए हैं वह पुलिस के रडार पर हैं और उनके खिलाफ जल्द ही कार्रवाई की जाएगी।

कश्मीर में आतंकवादी समर्थकों की बढ़ती संख्या के बारे में डीजीपी ने पहले भी यह कहा था कि पुलिस ओजीडब्ल्यू सहित आतंकियों और उनके समर्थकों के खिलाफ सख्ती से कार्रवाई करेगी। उन्होंने कहा था कि यह ओजीडब्ल्यू ही हैं जो चुनिंदा हत्या करने के लिए पिस्तौल उठाते हैं और निर्दोष नागरिकों को निशाना बनाने के लिए ग्रेनेड हमले करते हैं। हम उनके खिलाफ बहुत कड़े कदम उठा रहे हैं। बता दें कि कश्मीर में हाइब्रिड आतंकियों की मौजूदगी ने सुरक्षाबलों के कान खड़े कर दिए हैं। सुरक्षाबलों के लिए यह नई चुनौती है। स्लीपर सेल की तरह के ये पार्ट टाइम आतंकी निहत्थों को निशाना बना रहे हैं। कश्मीर में हाल ही में हुईं नेताओं व पुलिसकर्मियों की हत्याओं में हाइब्रिड आतंकी शामिल थे।

View More...

छग में खेलो के विकास के लिए नहीं होगी धनराशि की कमी, जल्द शुरू होगी बैडमिंटन अकादमी : सीएम बघेल

Date : 13-Sep-2021

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज यहां अपने निवास कार्यालय में आयोजित बैठक में विभिन्न खेल संघों के प्रतिनिधियों और खिलाड़ियों के साथ प्रदेश में खेलों को बढ़ावा देने, खेल सुविधाओं के विकास और खेल प्रतिभाओं को निखारने से सम्बंधित विषयों पर विस्तार के साथ विचार-विमर्श किया।

इस अवसर पर खेल एवं युवा कल्याण मंत्री उमेश पटेल वर्चुअल रूप से जुड़े। मुख्यमंत्री निवास में संसदीय सचिव विनोद सेवनलाल चंद्राकर, मुख्यमंत्री के सचिव सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशी, खेल एवं युवा कल्याण विभाग के सचिव नीलम नामदेव एक्का, संचालक खेल श्वेता सिन्हा, छत्तीसगढ़ ओलंपिक संघ के महासचिव गुरुचरण सिंह होरा सहित ओलंपिक संघ और विभिन्न खेल संघों के पदाधिकारी, अंतरराष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ी पदमश्री सबा अंजुम, हॉकी खिलाड़ी मृणाल चौबे, वेटलिफ्टर आकाशदीप सारंग सहित अनेक खिलाड़ी उपस्थित रहे।

खेलों को बढ़ावा देने लिया गया यह निर्णय :

छत्तीसगढ़ में शुरू होगी बैडमिंटन अकादमी : मुख्यमंत्री ने की घोषणा

खेलों के विकास के लिए धनराशि की नहीं होगी कमी

छत्तीसगढ़ खेल प्राधिकरण के माध्यम से अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय स्तर के कोचों की नियुक्ति की जाएगी

छत्तीसगढ़ के बड़े उद्योगों को दी जाएगी स्टेडियम के रखरखाव की जिम्मेदारी

कोचों की नियुक्ति, खिलाड़ियों की आवासीय सुविधा और डाइट की व्यवस्था के लिए लिया जाएगा बड़े उद्योगों से सीएसआर मद से सहयोग

मुख्यमंत्री ने सभी खेल संघों से अच्छे कोच नियुक्त करने का आग्रह किया

पुलिस और वन विभाग की तरह ही अन्य विभागों में खिलाड़ियों को नौकरी देने के संबंध में विचार विमर्श किया जाएगा

खेल प्राधिकरण की समिति में खिलाड़ी किए जाएंगे शामिल

View More...

कोरोना से जान गंवाने वाले लोगों के डेथ सर्टिफिकेट पर कोरोना से मौत का जिक्र, गाइडलाइन्स जारी

Date : 13-Sep-2021

नई दिल्ली (एजेंसी)। अब कोरोना से जान गंवाने वाले लोगों के डेथ सर्टिफिकेट पर इसे मौत के कारण के तौर पर दर्ज किया जाएगा। यह जानकारी भारत सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को दी है। सरकार ने बताया कि स्वास्थ्य मंत्रालय और इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने नई गाइडलाइन तैयार की हैं, जिसके तहत कोरोना से संबंधित मौतों में आधिकारिक डॉक्यूमेंट जारी किया जाएगा। सुप्रीम कोर्ट की तरफ से इस मामले में सख्ती दिखाए जाने के 10 दिन बाद सरकार ने यह गाइडलाइन्स जारी की हैं।

क्या कहती है गाइडलाइन?

गाइडलाइन के मुताबिक, सिर्फ उन मौतों को कोरोना संबंधित माना जाएगा, जिनमें मरीज का RT-PCR टेस्ट, मॉलिक्यूलर टेस्ट, रैपिड-एंटिजन टेस्ट किया गया हो या किसी हॉस्पिटल या घर में डॉक्टर ने जांच करके कोरोना संक्रमण की पुष्टि की हो। ऐसे मरीजों की मौत का कारण कोरोना मानकर डेथ सर्टिफिकेट में इसकी जानकारी दी जाएगी। जहर खाने, आत्महत्या, हत्या या एक्सीडेंट समेत दूसरे कारणों से होने वाली मौतों को कोरोना संबंधित मौत नहीं माना जाएगा, चाहे मरने वाला व्यक्ति कोरोना संक्रमित क्यों न हो।

ऐसे मरीज जिनकी अस्पताल में या घर पर मौत हुई और जिसमें पंजीकरण संस्था को जीवन और मृत्यु पंजीकरण एक्ट 1969 (सेक्शन 10) के तहत के मेडिकल सर्टिफिकेट का फॉर्म 4 और 4A दिया गया है, सिर्फ उनकी मौत ही कोरोना संबंधित मानी जाएगी।

टेस्ट कराने के 30 दिन में होने वाली मौतें कोरोना संबंधित मानी जाएंगी

सुप्रीम कोर्ट को सौंपे गए हलफनामे के मुताबिक, ICMR के अध्ययन के मुताबिक, किसी व्यक्ति के कोरोना संक्रमित होने के 25 दिनों के अंदर 95% मौतें हो जाती हैं। नियमों में बदलाव करते हुए अब कोरोना टेस्ट की तारीख या कोरोना संक्रमित पाए जाने के दिन से 30 दिन के अंदर होने वाली मौतों को कोरोना संबंधित मौत माना जाएगा, भले ही मरीज की मौत अस्पताल या घर में बनी फैसिलिटी से बाहर हो।

View More...

झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री के सलाहकार को रांची पुलिस ने किया गिरफ्तार

Date : 12-Sep-2021

रांची (एजेंसी)। झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी के सलाहकार सुनील तिवारी को रांची पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। सुनील तिवारी को यूपी के इटावा से गिरफ्तार किया गया है। 16 अगस्त को सुनील तिवारी के खिलाफ अरगोड़ा थाने में युवती के साथ दुष्कर्म, छेड़छाड़ और एसटी-एससी एक्ट के तहत प्राथमिकी दर्ज करायी गई थी। तिवारी की गिरफ्तारी के लिए रांची पुलिस लगातार छापेमारी कर रही थी। सुनील तिवारी के खिलाफ रांची के अरगोड़ा थाने में 16 अगस्त को दुष्कर्म, छेड़छाड़ और एसटी-एससी एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज हुई थी।

एक युवती ने सुनील तिवारी पर दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया था। सुनील तिवारी ने इस मामले को लेकर अग्रिम जमानत याचिका भी दायर की थी। जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया था। वहीं रांची के अरगोड़ा थाने में ही बाल श्रम से जुड़े एक मामले को लेकर भी सुनील तिवारी पर प्राथमिकी दर्ज की गई थी, जिसके बाद से ही वह फरार चल रहे थे।

गौरतलब है कि खूंटी की रहने वाली 18 वर्षीय युवती सुनील तिवारी के घर में नौकरानी के रूप में काम करती थी। उसने सुनील तिवारी पर यौन शोषण करने का आरोप लगाया है। ये भी कहा गया है कि सुनील द्वारा मारपीट की जाती थी और जान से मारने की धमकी भी दी जाती थी।

युवती ने इस पूरी घटना की जानकारी अपने परिवार को दी थी। फिर परिवार की सलाह पर पुलिस के पास जाने का फैसला लिया गया। युवती द्वारा लिखित शिकायत देने के बाद पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए जांच शुरू कर दी थी। पुलिस ने युवती की मेडिकल जांच करवा कर उसका बयान भी दर्ज करवाया था।

View More...

जम्मू कश्मीर : आतंकवादी हमले में एक पुलिस अधिकारी शहीद

Date : 12-Sep-2021

श्रीनगर (एजेंसी)। आतंकवादी हमले में एक पुलिस अधिकारी शहीद हो गए हैं.. . इससे पहले घायल हालात में पुलिस अधिकारी को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया था, हालांकि उन्होंने दम तोड़ दिया. वहीं अधिकारियों ने जानकारी दी कि इस आतंकवादी हमले में एक पुलिस अधिकारी शहीद हो गए हैं।

एक अधिकारी ने बताया कि करीब एक बजकर 35 मिनट के आसपास आतंकवादियों ने खानयार में एक पुलिस नाका पार्टी पर गोलीबारी की, जिसमें खानयार पुलिस थाने के परिवीक्षाधीन (प्रोबेशनरी) उप निरीक्षक अरशद अहमद घायल हो गए. इसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया. हालांकि उन्होंने इसके बाद दम तोड़ दिया।

अधिकारियों ने बताया कि घायल होने के बाद अधिकारी को इलाज के लिए एसएमएचएस अस्पताल भेजा गया था. अधिकारियों ने बताया कि इलाके की घेराबंदी कर दी गई है और हमलावरों को पकड़ने के लिए तलाश जारी है।

हाल ही में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को जम्मू कश्मीर की सुरक्षा और विकास कार्यों का जायजा लिया था. केंद्र और केंद्र शासित प्रदेश के शीर्ष अधिकारियों और प्रशासन के साथ उनकी यह बैठक ऐसे वक्त पर हुई है जब हाल ही में तालिबान ने अफगानिस्तान में नई अंतरिम सरकार के गठन का ऐलान किया है।

View More...

हिमाचल प्रदेश ऊना जिले में कोरोना विस्फोट, निजी स्कूल में 16 शिक्षक मिले कोरोना संक्रमित, मचा हडकंप

Date : 11-Sep-2021

ऊना (एजेंसी)। हिमाचल प्रदेश ऊना जिले के एक निजी स्कूल में कोरोना विस्फोट हुआ है। इस स्कूल में पदस्थ 16 शिक्षक कोरोना से संक्रमित मिले है. जिसके बाद से स्कूल प्रबंधन और प्रशासन में हड़कंप मच गया है। स्वास्थ्य विभाग ने शुक्रवार को रैपिड एंटीजन के 230 जबकि RTPCR के 81 सैंपल जांच के लिए एकत्रित किए गए, जिनमें से 16 लोग संक्रमित पाए गए हैं। ये सभी शिक्षक है। बहरहाल शिक्षकों को आइसोलेशन  में रहने के निर्देश दिए गए है. इसके साथ स्कूलों को बंद करने के आदेश जारी किए गए है।

दरअसल, स्कूल खुलने से पहले ही स्वास्थ्य विभाग की टीम ने स्कूलों में कोविड टेस्ट करने शुरू कर दिए हैं, ताकि विद्यार्थियों को संक्रमण से बचाया जा सके. स्वास्थ्य खंड गगरेट की नोडल अधिकारी डॉ. सुमन ने बताया कि एक निजी स्कूल के 16 शिक्षक कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. अभी और भी टेस्ट लिए जाएंगे और उनकी हिस्ट्री भी देखी जाएगी. उधर, शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण घटने होने पर ही स्कूल खोले जाएंगे. सरकार इस मामले पर जल्दबाजी नहीं करेगी. उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग की ओर से स्कूलों को खोलने को लेकर भेजे प्रस्ताव की उनके पास अभी कोई जानकारी नहीं है।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि 14 सितंबर तक स्कूलों को विद्यार्थियों के लिए बंद रखा गया है. आजकल नौवीं से बारहवीं कक्षा के विद्यार्थियों की परीक्षाएं जारी हैं. जल्द इस बाबत फैसला लिया जाएगा. उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति के लिए कई जमीनी प्रयास किए हैं. हितधारकों तक पहुंचने के लिए कार्यशालाएं आयोजित की जा रही हैं. कुल्लू, मंडी और कांगड़ा में कार्यशालाएं हो चुकी हैं. 13 सितंबर को सोलन में होगी. सितंबर में सभी जिलों में इसे पूरा किया जाएगा. कार्यशालाओं में मिलने वाले सुझावों पर अमल किया जाएगा. ब्लाक स्तर पर भी इन कार्यशालाओं का आयोजन किया जाएगा।

View More...

विदेशों में भी दमक रही है छत्तीसगढ़ की संस्कृति, अमेरिका में भी तिजहारिनों ने खाया करु.भात

Date : 11-Sep-2021

रायपुर । संयुक्त राज्य अमेरिका में बसे एवं प्रवास कर रहे छत्तीसगढ़ के लोगों ने लोकपर्व तीजा का धूमधाम से आयोजन किया। उन्होंने इस आयोजन की जानकारी और तस्वीरें मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के रायपुर स्थित निवास कार्यालय को भी भेजी हैं।

मुख्यमंत्री बघेल ने अमेरिका में निवास कर रहे सभी छत्तीसगढ़ियों को पर्व की बधाई दी है। बघेल ने कहा है कि मुझे यह जानकर खुशी हुई कि छत्तीसगढ़ की संस्कृति का गौरव सुदूर अमेरिका में भी दमक रहा है। छत्तीसगढ़िया लोगों ने वहां भी अपनी मिट्टी की खुशबू को सहेज कर रखा है। इसी आत्मगौरव और स्वाभिमान को जगाने के लिए सरकार पिछले पौने तीन वर्षों से लगातार काम कर रही है।

अमेरिका में नार्थ अमेरिकन छत्तीसगढ़ एसोसिएशन, ग्लोबल छत्तीसगढ़ कम्युनिटी (नाचा) भारत के बाहर भारतीय संस्कृति को बढ़ावा दे रहा है। इसी क्रम में हरतालिका तीज व्रत संयुक्त राज्य अमेरिका में पूरे विधि विधान से मनाया गया। नाचा के संस्थापक गणेश कर और दीपाली सरावगी ने अमेरिका में रहने वाले सभी छत्तीसगढ़ी परिवारों के लिए इस पूजा की मेजबानी की। कर के घर करु भात का आयोजन किया गया, जिसमें सभी छत्तीसगढ़ी एनआरआई शामिल हुए।

सरावगी ने बताया है कि इस पर्व का आयोजन पहली बार किया गया। छत्तीसगढ़ी पारंपरिक पकवान ‘ठेठरी‘ ‘खुरमी‘ तैयार किया गया, इसके बाद मिट्टी और रेत से भगवान शिव बनाकर पूजा करते हुए आराधना की गई। अब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इस तरह का आयोजन हर साल करने का निर्णय लिया गया है।

तीज का यह कार्यक्रम शशि साहू, तिजेंद्र साहू, वंदना देडसेना, नमिता कैस्थ, सोनू जोशी, निर्मल साहू, लक्ष्मीन साहू और मुनीश कैस्थ, मीनल मिश्रा, अभिजीत जोशी, सरिता साहू, किरण पटेल, शत्रुघ्न बरेठ, रुक्मणी बरेठ, रोशनी साहू, अरेश साहू, संदीपन साहू आदि ने मिलकर आयोजित किया। नाचा की संयुक्त सचिव मीनल मिश्रा ने कहा कि दशकों बाद तीज पूजा में शामिल होना बहुत खुशी की बात है और यह परंपरा हमें हमारी मातृभूमि छत्तीसगढ़ से जोड़ेगी।

View More...

सभी ट्रांसपोर्टर्स के लिए खुशखबरी, केंद्र सरकार ने बंद किये छग समेत इन राज्यों के परिवहन चेकपोस्ट, आदेश जारी

Date : 11-Sep-2021

न्युज डेस्क (एजेंसी)। देशभर के सभी ट्रांसपोर्टर्स के लिऐ बड़ी खुशखबरी है। केन्द्र सरकार ने छत्तीसगढ़ समेत 12 राज्यों के परिवहन चेकपोस्ट बंद करने के निर्देश दे दिए है।

बता दें कि आल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस की बड़े लम्बे समय से चली आ रही मांग को आखिरकार केन्द्र सरकार ने पुरा कर दिया है। केन्द्र सरकार ने लूट के अड्डे परिवहन चेकपोस्ट बंद करने के लिए राज्य सरकारो को आदेश जारी किया।

इन सभी राज्यो के( RTO बेरियर ) परिवहन चेकपोस्ट होंगे बंद

महाराष्ट्र , मध्यप्रदेश , पशिचम बंगाल, बिहार ,केरला , तेलंगाना , आंध्रप्रदेश, पांडिचेरी , गोवा , उतराखंड, छत्तीसगढ , राजस्थान

View More...

योगी सरकार ने बड़ा फैसला, मथुरा में शराब.मांस की बिक्री पर लगा प्रतिबंध

Date : 11-Sep-2021

मथुरा (एजेंसी)। मथुरा को लेकर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने मथुरा के श्रीकृष्ण जन्मस्थल के 10 वर्ग किमी क्षेत्र को तीर्थ स्थल घोषित कर दिया है। तीर्थ स्थल क्षेत्र में शराब और मांस की बिक्री नहीं होगी। इस पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगा दिया गया है। ब्रज में आने वाले लाखों श्रद्धालुओं की आस्था को देखते हुए योगी सरकार ने यह फैसला लिया है। 

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मथुरा आए थे। उन्होंने श्रीकृष्ण जन्मस्थान पर ठाकुरजी के दर्शन किए। इस दौरान उन्होंने संतों की इच्छा के अनुरूप मथुरा में मांस और मदिरा की बिक्री पर रोक लगाने का एलान किया था। उन्होंने कहा था कि इससे प्रभावित लोग दुग्ध का व्यवसाय शुरू कर सकते हैं। 

मुख्यमंत्री ने कहा था कि जो लोग अब तक हिंदू त्योहार को नजरअंदाज करते थे। मंदिर जाने से कतराते थे, वो भी अब कहने लगे हैं कि राम हमारे भी हैं और कृष्ण भी हमारे हैं। उन्होंने कहा कि मथुरा की सांस्कृतिक और आध्यात्मिक महिमा को पुनर्जीवित करने के लिए शराब और मांस के व्यापार में लगे लोग दूध बेचना शुरू कर सकते हैं। 

00 तीर्थ स्थल में नगर निगम के 22 वार्ड शामिल

मथुरा को तीर्थ स्थल घोषित किए जाने की मांग लगातार उठा रही थी। इसको ध्यान में रखते हुए योगी सरकार ने मथुरा-वृंदावन में श्रीकृष्ण जन्म स्थल को केंद्र में रखकर 10 वर्ग किमी क्षेत्र को तीर्थ स्थल घोषित किया है। इसमें नगर निगम के कुल 22 वार्ड शामिल हैं। योगी सरकार के फैसले पर ब्रज के संतों और लोगों ने खुशी जताई है। 

View More...