Chhattisgarh

बृजमोहन अग्रवाल ने रतनपुर पहुंचकर किए माँ महामाया के दर्शन

Date : 03-Oct-2022

रायपुर। नवरात्रि के षष्ठी तिथि पर भाजपा विधायक व पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने रतनपुर पहुँचकर 'राजराजेश्वरी माँ महामाया' के दर्शन प्राप्त किये। माँ के श्री चरणों में शीश झुकाकर आशीर्वाद लिया। साथ ही सिद्धपीठ गिरिजाबंध हनुमान जी, भैरव बाबा एवं शनि देव के दर्शन कर प्रदेशवासियों के कल्याण हेतु प्रार्थना की।

View More...

विधायक द्वारिकाधीश यादव ने बागबाहरा के एमके बाहरा में रूरल इंडस्ट्रियल पार्क रीपा का किया भूमिपूजन

Date : 03-Oct-2022

महासमुंद। संसदीय सचिव व विधायक द्वारिकाधीश यादव ने 2 अक्टूबर को बागबाहरा के एम.के. बाहरा में रूरल इंडस्ट्रियल पार्क (रीपा) का भूमिपूजन किया। तो वही महासमुंद विकासखंड की ग्राम पंचायत बिरकोनी में भी रीपा का भूमिपूजन हुआ। बिरकोनी में जनपद पंचायत सभापति अमर चंद्राकर ने भूमिपूजन किया। इस मौके पर जनप्रतिनिधि और ग्रामीणजन गौठान समिति के सदस्य दोनों विकासखंड के मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत अधिकारी कर्मचारी मौजूद थे।

जिले के पांचों विकासखण्ड के दो-दो गौठानों का रीपा के लिए चयन किया गया है। इनमें महासमुंद विकासखण्ड के बिरकोनी एवं कांपा, बागबाहरा के एम.के. बाहरा एवं तिलाईदादर, पिथौरा के बगारपाली एवं गोड़बहाल, बसना के नवागांव एवं चिमरकेल तथा सरायपाली के चिरको एवं भुथिया शामिल है। इन चयनित गौठानों को रीपा अंतर्गत दो-दो करोड़ रुपए दिए जायेंगे। जिससे वे आजीविका संबंधित गतिविधियों का संचालन कर सकेंगे। प्रथम चरण में प्रत्येक विकासखण्ड में दो गौठानों को रूरल इंडस्ट्रियल पार्क के रूप में विकसित किया जा रहा है। राज्य सरकार के बजट में इस योजना के लिए राशि का प्रावधान किया गया है।

इससे पहले राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती के अवसर पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने निवास कार्यालय से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश के विभिन्न गौठानों को आजीविका के केन्द्र के रूप में विकसित करने के लिए महात्मा गाँधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क (रीपा) का शिलान्यास किया। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल पर ग्रामीण गरीब परिवारों के लिए रोजगार और आय के साधन उपलब्ध कराने के लिए गांव के गौठानों को रूरल इंडस्ट्रियल पार्क के रूप में विकसित किया जा रहा है। इसके लिए यहां विभिन्न आजीविकामूलक गतिविधियां संचालित की जा रही हैं।

उसी तारतम्य में संसदीय सचिव ने रीपा का भूमिपूजन किया। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि इंडस्ट्रियल पार्क ग्रामीण गरीब परिवारों के लिए आजीविका का अतिरिक्त आय का साधन बनेगा। इस योजना के तहत प्रथम चरण में प्रत्येक विकासखण्ड में दो गौठानों का चयन किया गया है। ग्रामीण आजीविका पार्क में ग्रामीणों को आजीविका संवर्धन के लिए शासन की ओर से मूलभूत सुविधाएं, आधारभूत संचरना जैसे आंतरिक सड़क, विद्युत, जल एवं नाली व्यवस्था, वर्कशेड, भण्डारण, प्रशिक्षण, मार्केटिंग सपोर्ट, तकनीकी मार्गदर्शन इत्यादि उपलब्ध कराए जायेंगे। इस योजना में इच्छुक स्थानीय युवाओं, स्व-सहायता समूहों का चिन्हांकन कर उद्यमियों को बिजनेस प्लान के आधार पर मशीनरी तथा बैंक से ऋण विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत पात्रतानुसार अनुदान, सब्सिडी अथवा शून्य ब्याज दर पर ऋण लेने की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।

View More...

स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव अंबिकापुर के प्रवास पर आज

Date : 03-Oct-2022

रायपुर। स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव आज यानि 3 अक्टूबर को अंबिकापुर प्रवास पर जाएंगे। वे 3 अक्टूबर को सवेरे छह बजे रायपुर से सड़क मार्ग द्वारा अंबिकापुर के लिए रवाना होंगे। वे दोपहर 12 बजे अंबिकापुर पहुंचेंगे।

View More...

पंडरिया विधानसभा के ग्राम इंदौरी पहुंचे मुख्यमंत्री बधेल, आमजनता से योजनाओं पर लिया फीडबैक

Date : 01-Oct-2022

रायपुर। मुख्यमंत्री बघेल शुक्रवार को अपने प्रदेश व्यापी भेंट-मुलाकात अभियान के तहत कवर्धा जिले के पंडरिया विधानसभा के ग्राम इंदौरी पहुंचे। उन्होंने वहां स्थानीय लोगों से रूबरू होकर राज्य शासन की महत्वाकांक्षी योजनाओं के जमीनी स्तर पर क्रियान्वयन का जायजा लिया। मुख्यमंत्री बघेल ने स्थानीय लोगों की मांग पर अनेक महत्वपूर्ण घोषणाएं भी की। इनमें इंदौरी के उप-स्वास्थ्य केंद्र का प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के रूप में उन्नयन, मरका में जिला सहकारी बैंक की शाखा, धौराबंद और खैरा, खरबना-राम्हेपुर और कोहड़िया-सूरजपुर-हरदी के बीच सड़क निर्माण, सहसपुर लोहारा के रणवीरपुर में पुलिस चौकी की स्थापना, झलमला-धोथेवाड़ा के बीच सकरी नदी पर नवीन पुल निर्माण की घोषणाएं शामिल हैं। इस अवसर पर वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री मोहम्मद अकबर, पंडरिया विधायक श्रीमती ममता चन्द्राकर, मुख्यमंत्री के सचिव सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशी एवं अधिकारीगण भी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने सम्बोधन में कहा कि नवरात्रि की पावन बेला में आप लोगों के बीच आया हूं। आप सभी को नवरात्रि की बहुत बधाई और शुभकामनाएं। इस वर्ष अच्छी बारिश हुई जिससे फसल भी अच्छी हुई और किसान खुशहाल हैं। प्रदेश में हमारी सरकार बनने पर सबसे पहले हमने किसानों का ऋण माफ किया और लगातार उनके हित में कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि राजीव गांधी किसान न्याय योजना की तीसरी किस्त दीवाली से पहले 17 अक्टूबर को किसानों के खातों में हस्तांतरित कर दी जाएगी। केन्द्र सरकार द्वारा 2500 रूपए में धान खरीदी पर असहयोग के बाद भी हमारी सरकार ने राजीव गांधी किसान न्याय योजना के माध्यम से किसानों को उनकी उपज का अच्छा दाम दिया है। विगत 4 मई से भेंट-मुलाकात का यह सिलसिला चल रहा है। लोगों से मिल रहे हैं, उनसे बातें हो रही हैं और योजनाओं का फीडबैक भी मिल रहा है।

मुख्यमंत्री बघेल ने ग्राम इंदौरी में भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के पहले स्थानीय माता चंडी मंदिर में पहुंचकर देवी की विधि-विधान से पूजा-अर्चना कर प्रदेशवासियों की खुशहाली एवं सुख समृद्धि की कामना की। माता चंडी मंदिर से भेट मुलाकात कार्यक्रम स्थल तक रोड शो के दौरान ग्रामीणों ने पूरे उत्साह के साथ मुख्यमंत्री का स्वागत किया। महिलाओं, बच्चों, बुजुर्गाें और युवाओं ने मुख्यमंत्री बघेल का नारियल, फूल, आरती कर भव्य स्वागत किया। रोड शो के दौरान मुख्यमंत्री ने सड़क के किनारे पर कुछ देर रुककर दुर्गा पंडाल में भी पूजा अर्चना की। इस दौरान जनप्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री को पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय राजीव गांधी की छायाचित्र भी भेंट की। युवाओं में मुख्यमंत्री की एक झलक पाने और फोटो लेने की भी होड़ लगी रही। मुख्यमंत्री बघेल ने आत्मीयतापूर्वक सभी का अभिनंदन स्वीकार किया।  

ग्राम इंदौरी में भेंट-मुलाकात के लिए पहुंचे मुख्यमंत्री बघेल का खुमरी पहनाकर और हल भेंटकर स्वागत किया गया। कार्यक्रम में चर्चा के दौरान किसान थानवर चंद्रवंशी ने मुख्यमंत्री को बताया कि वे लगभग पौने दो एकड़ क्षेत्र में कृषि कार्य करते है और उनका ऋण माफी योजना के तहत 20 हजार रूपए का कृषि ऋण माफ हुआ है। थानवर ने मुख्यमंत्री को धन्यवाद देते हुए कहा कि राजीव गांधी किसान न्याय योजना की किस्त त्यौहार के समय मिलने से अब त्यौहार की खुशी दोगुनी होगी। कार्यक्रम में ग्राम गोरखपुर से आए विजय निर्मलकर ने मुख्यमंत्री को बताया कि उन्हें एक लाख रूपए की ऋण माफी का लाभ मिला और राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत दो किस्त भी प्राप्त हो गया है। मुख्यमंत्री द्वारा पूछे जाने पर निर्मलकर ने बताया कि योजना से मिले पैसों से वे जगदलपुर इंजीनियरिंग कॉलेज में अध्ययनरत बच्चे की शिक्षा का खर्च उठाते है। ग्राम आछी के गोविंद चंद्रवंशी ने बताया की उनका 25 हजार रूपए का ऋण माफ हुआ। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि हमारी सरकार प्रति एकड़ धान के लिए 9000 रूपए और गन्ना के लिए 355 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब इनपुट सब्सिडी दे रही है।

ग्राम बरबसपुर से आए किसान संतोष यादव ने मुख्यमंत्री को बताया कि उन्होंने अब तक 90 हजार रूपए का गोबर बेचा है। जिससे उन्होंने दो बकरी खरीदी थी जिनकी संख्या अब 18 हो गई है। उन्होंने बताया कि 31 हजार रूपए में 4 बकरे और फिर से गोबर बेचकर 75 हजार का मोटर सायकल खरीदा है।

भेंट-मुलाकात में सोहागपुर की श्रीमती फूलबाई पटेल ने बताया कि उनके समूह ने एक लाख रूपए का वर्मी कम्पोस्ट बेचा है। इसके अलावा समूह के सदस्यों के द्वारा मछली पालन का भी कार्य किया जाता है, जिससे समूह को 25 हजार रूपए की आमदनी हुई। ग्राम मिरमिट्टी की श्रीमती गोमती ने बताया कि उनका बच्चा राम योगी शारीरिक रूप से कमजोर था। मुख्यमंत्री सुपोषण योजना के तहत गर्म भोजन और पोषक आहार मिलने से अब उनका बच्चा स्वस्थ हो गया है। मुख्यमंत्री ने बच्चे से बात की और उसे प्यार से जूनियर योगी कहकर पुकारा।

मुख्यमंत्री बघेल ने स्वामी आत्मानंद शासकीय अंग्रेजी माध्यम स्कूल कवर्धा की छात्रा रिंकी तिवारी से छत्तीसगढ़ी में सवाल पूछे जिसका जवाब छात्रा ने फर्राटेदार अंग्रेजी में देकर उन्हें हतप्रभ कर दिया। स्कूल की छात्रा करूणा कश्यप ने मुख्यमंत्री को स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूल प्रारंभ करने के लिए आभार व्यक्त करते हुए कहा कि हमारा स्कूल बहुत बढ़िया है, यहां अच्छी लाईब्रेरी, प्रशिक्षित शिक्षक एवं पढ़ाई के लिए सभी अत्याधुनिक सुविधाएं उपलब्ध हैं।

View More...

राष्ट्रीय त्यौहारो एवं रेल यात्रियो की सुविधाओ के लिए अब 27 जनवरी तक चलेगी दुर्ग.हटिया सुपरफास्ट पूजा स्पेशल ट्रेन

Date : 01-Oct-2022

रायपुर। राष्ट्रीय त्यौहारो एवं रेल यात्रियो की सुविधाओ को ध्यान में रखते हुये रेल प्रशासन ने दुर्ग -हटिया-दुर्ग के मध्य चल रही 08185 / 08186 हटिया-दुर्ग-हटिया द्वि-साप्ताहिक सुपरफास्ट पूजा स्पेशल के परिचालन का विस्तार 27 जनवरी, 2023 तक किया है।

यह गाड़ी दुर्ग से हटिया के लिये प्रत्येक बुधवार एवं शुक्रवार को यह गाड़ी 5 अक्टूबर से  27 जनवरी, 2023 तक 08186 नंबर के साथ चलेगी। इसी प्रकार विपरीत दिशा मे भी यह ट्रेन हटिया से दुर्ग के लिए प्रत्येक मंगलवार एवं गुरुवार को 4 अक्टूबर से 26 जनवरी, 2023 तक 08185 नंबर के साथ चलेगी । इस गाड़ी में 2 एसएलआर, 5 सामान्य, 1 एसी टू एवं 4 स्लीपर सहित कुल 12 कोच रहेगे।

View More...

मुख्यमंत्री बघेल ने अंतर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस पर सभी बुजुर्गों को स्वस्थ और खुशहाल जीवन के लिए दी शुभकामनाएं

Date : 01-Oct-2022

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेलने अंतर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस पर सभी बुजुर्गों को स्वस्थ और खुशहाल जीवन के लिए शुभकामनाएं दी हैं। मुख्यमंत्री ने अपने संदेश में कहा है कि बुजुर्गों के प्रति सम्मान व्यक्त करने के लिए पूरे विश्व में एक अक्टूबर को अंतर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस के रूप में मनाया जाता है। बुजुर्ग परिवार और समाज के मूल स्तंभ होते हैं। वे जीवन भर परिवार और समाज को अपना अमूल्य योगदान देते हैं। अनके पास अनुभव का अमूल्य खजाना होता है। उनके अनुभवों से हमें सीखने की कोशिश करनी चाहिए। उनकी खुशी, स्वास्थ्य और सम्मान का पूरा ध्यान रखना चाहिए।

View More...

गोधन न्याय योजना से निकली राहए ग्रामीण को मिला आय का जरिया : मुख्यमंत्री बघेल

Date : 01-Oct-2022

रायपुर। मुख्यमंत्री बघेल भेंट-मुलाकात की कड़ी में शुक्रवार को कबीरधाम जिले के पंडरिया विधानसभा क्षेत्र के दौरे पर थे। इस दौरान पहले वे इंदौरी पहुंचे फिर ग्राम कुकदूर में लोगों से भेंट-मुलाकात की। कुकदूर में मुख्यमंत्री के पहुंचने से पहले ही हजारों की संख्या में ग्रामीण अपने मुखिया से मिलने कार्यक्रम स्थल पहुंच चुके थे, जहां उनके चेहरों पर प्रदेश के मुखिया से मिलने और उनके सामने शासकीय योजनाओं को लेकर अपनी बात रखने की उत्सुकता देखने को मिली। जब मुख्यमंत्री कार्यक्रम स्थल पहुंचे तो जनता का उत्साह देखने को मिला। इस दौरान वन मंत्री मोहम्मद अकबर, पंडरिया विधायक श्रीमती ममता चंद्राकर विशेष तौर पर मौजूद रहे। वहीं भेंट-मुलाकात के दौरान ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री को बताया कि बीते पौने चार साल के बीच लागू शासकीय योजनाओं ने उनकी जिंदगी की तस्वीर बदलने का काम किया है। ग्राम लालपुर के ग्रामीण सुरेंद्र कुमार ने बताया कि गोधन न्याय योजना के अंतर्गत उन्होंने 470 क्विंटल गोबर बेचा, जिससे उन्हें 94 हजार रुपये मिले, इससे किश्त में ट्रैक्टर खरीदा। अब वे ट्रैक्टर से दूसरे खेतों की जुताई कर अच्छी आय अर्जित कर रहे हैं।

भेंट-मुलाकात अभियान के लिए पंडरिया विधानसभा के कुकदूर पहुंचने पर मुख्यमंत्री सबसे पहले प्राचीन बूढ़ी माई मंदिर पहुंचे और माता के दर्शन कर बूढ़ी माई से छत्तीसगढ़ प्रदेशवासियों की सुख-समृद्धि और खुशहाली की प्रार्थना की। मुख्यमंत्री बघेल ने बूढ़ी माई मंदिर परिसर में नीम का पौधा भी लगाया। आगर नदी के तट पर स्थित बूढ़ी माई मंदिर का अपना ऐतिहासिक और पौराणिक महत्व है। बताया जाता है कि सच्चे दिल से मन्नत मांगने वालों की मुराद माता अवश्य पूरा करती हैं। यहां मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के साथ भजन मंडली के सदस्यों ने सेल्फी भी ली। इस अवसर पर वन मंत्री मोहम्मद अकबर और विधायक श्रीमती ममता चंद्राकर भी उपस्थित रहीं।

आजीविका के नए अवसर बने :

कुकदूर में भेंट-मुलाकात कार्यक्रम की शुरुआत मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ महतारी की पूजा-अर्चना करते हुए दीप प्रज्वलन कर की। इस दौरान शिव शंभू महिला स्वयं समूह की सदस्य बैगा जनजातीय समूह की महिलाओं और ग्राम कुकदूर के सरपंच ने मुख्यमंत्री को विशेष पगड़ी "फेटा" पहना कर स्वागत किया। इसके बाद प्रदेश के मुखिया ने भेंट-मुलाकात के लिए पहुंचे क्षेत्रीय ग्रामीणों से सीधे संवाद किया। मुख्यमंत्री ने आमजनता से शासकीय योजनाओं से मिल रहे लाभ को लेकर जानकारी ली। वहीं इन योजनाओं से ग्रामीणों की जिंदगी में आए बदलाव के बारे में जानना चाहा।

इस दौरान ग्राम लालपुर के ग्रामीण सुरेंद्र कुमार ने बताया कि छत्तीसगढ़ शासन द्वारा लगभग तीन साल पहले लागू गोधन न्याय योजना के अंतर्गत उन्होंने 470 क्विंटल गोबर बेचा, जिससे मिली राशि से सुरेन्द्र कुमार ने किश्त में ट्रैक्टर खरीदा। अब वे ट्रैक्टर से दूसरे खेतों की जुताई कर अधिक आय अर्जित कर रहे हैं। वहीं आदर्श गोठान से जुड़ीं नारी शक्ति स्व-सहायता समूह की महिला सदस्य ने बताया कि वहां उन्होंने 466 क्विंटल गोबर बेचा, जिससे उन्होंने 2 लाख रुपये अर्जित किये। इस राशि को लघु उद्योग स्थापित करने में उपयोग किया गया। समूह की महिलाएं अगरबत्ती, पॉपकॉर्न बनाने का काम करती हैं। साथ ही उक्त महिला सदस्य ने अपना किराना दुकान भी खोला है।

यहां भेंट-मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री ने पूछा कि वर्मी कम्पोस्ट का उपयोग कौन खेत में कर रहा है! इस पर किसान रमाकांत शुक्ला ने बताया कि उनके खेत में वर्मी कम्पोस्ट का उपयोग किया गया है। पिछले साल 300 क्विंटल गन्ना उपज हुई थी, अब 500 क्विंटल होने की उम्मीद है। उनकी बात सुनकर मुख्यमंत्री ने सभी किसानों से वर्मी कम्पोस्ट का उपयोग करने की सलाह दी। जबकि शासकीय योजना से स्वास्थ्य क्षेत्र में सुधार पर ग्राम पोलगी के हितग्राही ने बताया कि हाट बाजार क्लीनिक योजना के अंतगर्त उनके गांव में हर शनिवार मोबाइल मेडिकल यूनिट पहुंचता है, साथ डॉक्टर आते हैं और बेहतर इलाज करते हैं। ग्रामीणों के मन में सरकार के प्रति संतुष्टि के भाव देखकर मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों से शासकीय योजनाओं का ज्यादा-से-ज्यादा लाभ लेने की अपील की।

दीपावली के पहले छायी रौनक :

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि ग्राम कुकदूर में आयोजित भेंट मुलाकात के दौरान बताया कि छत्तीसगढ़ में किसानों को उनकी उपज का सही दाम राज्य सरकार दे रही है। कोदो-कुटकी, रागी जैसे लघु धान्य फसलों और दलहनी फसलों की भी खरीदी समर्थन मूल्य पर की जा रही है। तेंदूपत्ता 4000 रुपए प्रति मानक बोरा में खरीद रहे हैं। 7 से बढ़ाकर 65 तरह के लघुवनोपजों की खरीदी सरकार कर रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि गांव उत्पादन का केंद्र बने, शहर खरीदी का केंद्र बने, हम इस पर काम कर रहे हैं। पिछली सरकार में 3 हजार स्कूल बंद किए गए और हमने सारे स्कूलों को खोला है। हमने स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी स्कूल खोले, गरीब किसान के बच्चे भी इस स्कूल में पढ़ रहे हैं। हम अच्छे स्कूल खोल रहे हैं ताकि सभी को अच्छी शिक्षा मिल सके। इस दौरान मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों की जरूरतों को समझते हुए कहा कि, राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना की किश्त इस बार दीपावली के सात दिन पहले ही आ जाएगी। मुख्यमंत्री की बात सुनकर जनता के चेहरे खुशी से चमक उठे और यह रौनक उनके मुस्कान के तौर पर साफ झलक रही थी।

मुख्यमंत्री ने कुकदूर में जनआकांक्षाओं का रखा ध्यान, की घोषणाएं :

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ग्राम कुकदूर में भेंट-मुलाकात के दौरान जन संवाद किया। इस दौरान आमजनों की ओर से क्षेत्रीय जरूरतों के लिहाज से अनेक मांगें रखी गईं। मुख्यमंत्री ने भी जनआकांक्षाओं का ख्याल रखते हुए अनेक घोषणाएं कीं, जो इस प्रकार हैं -
1. क्रांति जलाशय की वर्षों से लंबित मांग को पूरा किया जाएगा।
2. ग्राम कोदवागोड़ान में आत्मानंद हिंदी माध्यम स्कूल खोली जाएगी।
3. हरिहर नाला पुल निर्माण कराया जायेगा।
4. ग्राम पंचायत कुकदूर दैहान टोला यादव पारा में पुलिया निर्माण कराया जाएगा।
5. ग्राम कुई में सर्व-सुविधायुक्त आदिवासी सामुदायिक भवन का निर्माण कराया जाएगा।
6. ग्राम पंचायत कुकदूर बैगापारा में ट्रांसफार्मर लगाने की स्वीकृति दी।
7. नगर पंचायत पंडरिया को नगर पालिका बनाया जाएगा।
8. सिंहपुर से छिरहा होते हुए कुलीडोंगरी मार्ग में सड़क निर्माण कराया जाएगा।
9. बाघामुड़ा से नेउगांव तक सड़क निर्माण कराया जाएगा।
10. ग्राम कुंडा में कॉलेज खोला जाएगा।
11. दामापुर में जिला सहकारी बैंक की शाखा खोली जाएगी।

मुख्यमंत्री ने आदिवासी परिवार के घर जमीन पर बैठकर किया भोजन :

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ग्राम कुकदूर में आदिवासी किसान भगत राम पुसाम के घर जमीन में बैठकर भोजन किया। यहां मुख्यमंत्री को छत्तीसगढ़िया भोजन और पारंपरिक व्यंजन परोसे गए। भोजन में चेंच भाजी, ठेठरी, खुरमी, फरा, कुटकी से बनी खीर और सिलबटे से पिसी टमाटर की चटनी मुख्यमंत्री को परोसी गई थी। इस दौरान मुख्यमंत्री बघेल के साथ वन मंत्री मोहम्मद अकबर, पंडरिया विधायक श्रीमती ममता चंद्राकर, कलेक्टर जन्मेजय महोबे व आदिवासी समाज के अन्य गणमान्य नागरिकों ने भोजन ग्रहण किया। इस अवसर पर भगत राम पुसाम ने अतिथि देव भवः की परम्परा का निर्वहन करते हुए मुख्यमंत्री बघेल का आत्मीय स्वागत एवं अभिनंदन किया। मुख्यमंत्री ने भगत राम के घर पर भोजन के उपरांत उनके परिवार के सभी सदस्यों से मुलाकात की।

View More...

जागरुकता रथ को विधायक छाबड़ा ने दिखाई हरी झंडी

Date : 01-Oct-2022

बेमेतरा। आयुष्मान-भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना जिले में 7 अक्टूबर तक मनाया जायेगा। आयुष्मान भारत पखवाड़ा अंतर्गत विधायक बेमेतरा आशीष कुमार छाबड़ा ने योजना के जागरुकता हेतु जागरुकता रथ व स्कुली बच्चों की साईकिल रैली को विधायक कार्यालय से हरी झण्डी दिखा कर रवाना किया। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. खेमराज सोनवानी, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ प्रदीप कुमार घोष, जिला कार्यक्रम प्रबंधक लता बंजारे, जिला परियोजना समन्वयक आयुष्मान भारत मनोज कुमार साहु एवं स्वास्थ्य विभाग के अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

प्रचार प्रसार रथ के माध्यम से जिले के छूटे हुए सभी राशनकार्डधारी पात्र हितग्राहियों से अपील करते हुए अपने एवं अपने परिवार के सभी सदस्यों का आयुष्मान कार्ड बनवाने की अपील की गई हैं। आयुष्मान-भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना अंतर्गत् एसईसीसी सूची में शामिल परिवार, अन्त्योदय एवं प्राथमिकता राशन कार्ड धारी परिवारों को रू. 5 लाख/परिवार एवं शेष अन्य राशनकार्ड धारी परिवारों को रू. 50 हजार/परिवार प्रति वर्ष मिलेगा। ई-कार्ड (आयुष्मान कार्ड) निःशुल्क बनवाकर योजना का लाभ शासकीय एवं समस्त पंजीकृत निजी चिकित्सालय में ले सकते हैं। अन्य अतिरिक्त गंभीर बीमारी हेतु मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना अंतर्गत 20 लाख रुपये तक स्वास्थ्य सहायता प्रदान किया जा रहा हैं।

आयुष्मान कार्ड बनाने की प्रक्रिया पूर्ण रुप से निःशुल्क है, इस संबंध में अधिक जानकारी हेतु टोल फ्री नम्बर 104 या निकटतम स्वास्थ्य केन्द्र या कार्यालय, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी बेमेतरा में प्राप्त किया जा सकता हैं।

View More...

बुजुर्गों के प्रति अधिक संवेदनशीलता से व्यवहार किये जाने की जरूरत : मंत्री अनिला भेंड़िया

Date : 01-Oct-2022

रायपुर। समाज कल्याण मंत्री अनिला भेंड़िया ने एक अक्टूबर अंतर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस के अवसर पर सभी बुजुर्गों को बधाई और शुभकामनाएं दी है। उन्होंने बुजुर्गों के स्वस्थ और खुशहाल जीवन की कामना करते हुए कहा है कि बुजुर्ग परिवार के साथ ही समाज के सम्मानीय सदस्य होते हैं। बुजुर्गों के प्रति अधिक संवेदनशीलता से व्यवहार किये जाने की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि वरिष्ठ नागरिकों की सुरक्षा, संरक्षण तथा सम्मान के प्रति जन सामान्य में चेतना विकसित करने के लिए प्रतिवर्ष अंतर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस मनाया जाता है। श्रीमती भेंड़िया ने कहा कि बुजुर्गों को सम्मानपूर्वक जीवन के लिए और स्नेह का वातावरण देना हर नागरिक का कर्तव्य है। जन-जन में बुजुर्गों के प्रति संवेदनशील-सम्मानजनक व्यवहार और सुरक्षा के भाव से ही अंतर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस सार्थक होगा।

View More...

मुख्यमंत्री बघेल ने ग्राम कुकदूर में आदिवासी परिवार भगत राम पुसाम के घर जमीन में बैठकर किया भोजन

Date : 01-Oct-2022

रायपुर। मुख्यमंत्री बघेल ने पंडरिया विधानसभा क्षेत्र के ग्राम कुकदूर में आदिवासी परिवार भगत राम पुसाम के घर जमीन में बैठकर भोजन किया। मुख्यमंत्री को छत्तीसगढ़िया भोजन और पारंपरिक व्यंजन परोसे गए। भोजन में चेंच भाजी, ठेठरी, खुरमी, फरा, कुटकी से बनी खीर और सिलबटे से पिसी टमाटर की चटनी मुख्यमंत्री को परोसी गई।

मुख्यमंत्री बघेल के साथ वन, परिवहन, आवास एवं पर्यावरण मंत्री मोहम्मद अकबर, पंडरिया विधायक श्रीमती ममता चंद्राकर,कलेक्टर जनमेजय महोबे व आदिवासी समाज के अन्य गणमान्य नागरिकों ने भी भोजन ग्रहण किया। इस अवसर पर भगत राम पुसाम ने अतिथि देव भवः की परम्परा का निर्वहन करते हुए मुख्यमंत्री बघेल का आत्मीय स्वागत एवं अभिनंदन किया।

View More...