Chhattisgarh

कोरोना के रोकथाम के लिए रायपुर निगम के ज़ोन 9 में 6 स्थानों पर होगा निशुल्क कोविड टीकाकरण आज

Date : 12-Apr-2021

रायपुर। कोविड-19 संक्रमण के कारगर रोकथाम के लिए 12 अप्रैल को सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक रायपुर निगम के ज़ोन 9 में 6 स्थानों निशुल्क कोविड टीकाकरण होगा। ज़ोन 9 के सतनाम भवन खमारडीह, कचना स्वास्थ्य केंद्र, आमासिवनी स्वास्थ्य केंद्र, लाभाण्डी स्वास्थ्य केंद्र, तेलीबांधा सामुदायिक भवन एवं आश्रय स्थल मोवा में 45 वर्ष एवं 45: वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्तियों का निःशुल्क टीकाकरण का कार्य किया जाएगा।

जानकारी देते हुए रायपुर निगम जोन 9 के जोन कमिश्नर संतोष पाण्डेय ने सभी पात्र नागरिकों से अनुरोध किया है कि सभी पात्र नागरिक आधार कार्ड अथवा वोटर आई डी के साथ उक्त स्थान में निर्धारित समय के दौरान आकर निःशुल्क कोविड टीकाकरण का लाभ ले सकते है।

View More...

भिलाई इस्पात संयंत्र बना कोराना का बड़ा हॉट स्पॉट, श्रमिकों की जान से प्रबंधन कर रहा खिलवाड़, कर्मचारियों में भारी रोष व्याप्त

Date : 12-Apr-2021

भिलाई। भिलाई इस्पात संयंत्र भी वर्तमान में कोराना का बड़ा हॉट स्पॉट बना हुआ है। कोरोना के इस दूसरी लहर में भी कई बडे बडे अधिकारी से लेकर कर्मचारी तक निपट गये है। इसके कारण यहां के कर्मचारियों में भारी रोष व्याप्त है।

पिछले साल जैसे रोस्टर सिस्टम लागू कर काम लिये जाने की मांग बीएसपी के कर्मचारी कर रहे है, लेकिन बीएसपी के कान में जू तक नही रेंग रहा है और बीएसपी प्रबंधन के लोग उत्पादन के चक्कर में कोरोना रूपी भट्टी में झोंक रहे हैं। इन सभी स्थितियों को देखते हुए छतीसगढ़ चेम्बर आफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज के प्रदेश महामंत्री अजय भसीन. प्रदेश उपाध्यक्ष भिलाई महेश बंसल,प्रदेश उपाध्यक्ष दुर्ग प्रकाश सांखला, प्रदेश मंत्री मनोज बक्त्यानी ने जिला कलेक्टर डाक्टर सर्वेश्वर भूरे को पत्र लिखकर रोस्टर सिस्टम लागू करते हुए अतिआवश्यकतानुसार दस से 15 प्रतिशत वर्करों की डयूटी लगाकर उत्पादन का कार्य कराये जाने की मांग की है।

इन्होंने कहा है कि भिलाई सम्पूर्ण व्यापार को लाक डाउन किया गया है , वहीँ भिलाई स्टील प्लांट को कोरोना महामारी के प्रसार को कम करने के लिए व्यापक राष्ट्रीय हित को ध्यान में रखते हुए, डीएम दुर्ग को बीएसपी प्रबंधन को बीएसपी के सभी उपकरणों को बंद करने का आदेश देना चाहिए या सभी 4 शिफ्टों में अधिकतम 10 से 15 प्रतिशत श्रमशक्ति के साथ काम करना चाहिए। तत्काल प्रभाव से कम से कम 30 दिन इससे बीएसपी कर्मचारी द्वारा किए जाने वाले संक्रमण की श्रृंखला को तुरंत तोड़ा जा सकेगा। भसीन ने इस्पात सचिव के पत्र और एस्मा अधिनियम के सीएल नंबर 2 (1) के संबंध में, हालांकि इस्पात उद्योग एस्मा के तहत आ रहा है, फिर भी बड़े राष्ट्रीय हित के लाभ के लिए समान कोयला, इस्पात, बिजली और उर्वरक एस्मा के तहत नहीं आएंगे । शुरुआत में अधिनियम की परिभाषा में इसका उल्लेख असेंबली द कॉन्टेक्ट ओरेविज आवश्यकताएँ के रूप में किया गया है। अब देश के लिए आवश्यक समय यानी मानव जाति की जान को बचाना है, जो सबसे बड़ा नियंत्रण है जो अन्य लोगों के लिए उपयुक्त है।

इस संबंधत में इसलिए स्टील उद्योग को अन्य प्रकार से बंद करने या काम करने के लिए सोचा जा सकता है, यानी 10 से 15प्रशित मैन पावर; संयंत्र के अंदर 85 से 90 प्रशित तक लॉकडाउन को सच्ची भावना के साथ लागू करना।
इससे डीएम, दुर्ग द्वारा मौजूदा घोषित लाक डाउन हो सकती है। क्योंकि, अब भिलाई स्टील प्लांट में न तो कोई लॉकडाउन या सोशल डिस्टेंस लागू किया जा रहा है, न ही शब्द और न ही आत्मा में। यह लॉकडाउन केवल प्लांट परिसर के बाहर सड़क और बाजारों पर लागू किया जाता है। एवं भिलाई स्टील प्लांट अपने अधिकतम कर्मचारियों के साथ चलाया जा रहा है इस कारण से बीएसपी कोरोना महामारी की वर्तमान गंभीरता का मुख्य केंद्र बन गया है। अजय भसीन ने बताया की यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि कई मामले प्लांट कर्मचारी या उसके पति या पत्नी से आ रहे हैं, जहां कोरोना वायरस संक्रमण का वाहक स्वयं कर्मचारी है, जो व्यक्ति अधिकतम बाहर जाता है, वह संक्रमण का वाहक होता है, जो अपने परिवार के सभी लोगों को प्रभावित उसके प्रतिरक्षा शक्ति के अनुसार संक्रमित करता है।

इसी कड़ी में चेंबर के प्रदेश उपाध्यक्ष महेश बंसल एवं प्रकाश सांखला ने बताया की आप इसे कुछ कर्मचारी मामलों में देखेंगे जहां बीएसपी के 9 अस्पताल के सेकेंडरी अस्पताल में कोई इलाज या इनडोर प्रवेश या विशेष कोविड अस्पताल नहीं है। भिलाई में बहुत से कर्मचारियों के फ्लैट्एड मकान बहुत सटे हुए है, जिसके कारण से संक्रमित अपने घर में रहने के बावजूद पड़ोसी को संक्रमित होने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता , बाद के चरण में अस्पताल जाते हैं। आगे उन्होंने कहा की भिलाई स्टील प्लांट को तत्काल अलग अलग जगहों पर कोविड सेंटर बनाया जाना चाहिए जहाँ कर्मचारियों के साथ साथ व्यापारियों एवं आम जन मानस को रखा जा सके एवं अभी जब तक स्थिति नहीं संभलती तब तक भिलाई स्टील प्लांट के कर्मचारियों को रोस्टर प्रणाली के तहत काम करने हेतु बुलाया जान समय की मांग है नहीं तो वर्तमान स्थिति से भी भयंकर स्थिति का सामना हम सभी को करना पड़ सकता है एवं लाक डाउन खुलने की स्थिति में पुन: संक्रमण फैलने नहीं रोका जा सकता।

भिलाई स्टील प्लांट को करोना के बचाव हेतु प्लांट के अंदर जन जाग्रति पोस्टर, पंपलेट, लाउड स्पीकर के माध्यम से लानी होगी इस हेतु भिलाई इस्पात संयंत्र चाहे तो व्यापारियों एवं व्यापारिक संगठनों का सहयोग भी प्राप्त कर सकता है।

View More...

कोरोना संक्रमण के चलते छत्तीसगढ़ में बस्तर को छोड़कर लगभग सभी जिलों में लगा लॉकडाउन

Date : 12-Apr-2021

रायपुर। कोरोना संक्रमण के चलते छत्तीसगढ़ में बस्तर छोड़कर लगभग सभी जिलों में लॉकडाउन लौट आया है। एक-एक कर प्रदेश के सभी जिले लॉक होते जा रहे हैं। कवर्धा में जहां आंशिक लॉकडाउन का ऐलान किया गया है। वहीं, 20 जिलों में टोटल लॉकडाउन का ऐलान किया गया है। जहां पर प्रशासन की सख्ती पहले से ज्यादा होगी।

यहां सिर्फ मेडिकल स्टोर को छोड़कर सभी दुकानों को बंद रखने का ऐलान किया गया है। सब्जी, किराना और शराब दुकानें भी लॉकडाउन के दौरान बंद हैं। मेडिकल इमरजेंसी के लिए अस्पताल खुले हैं। साथ ही वैक्सीनेशन का भी काम जारी है।

View More...

दुकानों व बाज़ारों में आवश्यक सामग्रियों की कालाबाजारी रोकने प्रशासन ने की कार्रवाई, दुकानदारों से 7 हजार 200 रुपए का वसूला जुर्माना

Date : 12-Apr-2021

बीजापुर। कलेक्टर अग्रवाल के निर्देशानुसार दुकानों तथा बाज़ारों में आवश्यक सामग्रियों की कालाबाजारी रोकने के लिए तहसीलदार बीजापुर के नेतृत्व में नगर पालिका परिषद, खाद्य एवं पुलिस विभाग के अमले ने बीजापुर नगर के दुकानों का आकस्मिक निरीक्षण किया गया।

इस दौरान दुकानदारों को सामग्रियों की मूल्य सूची चस्पा करने सहित स्टॉक पंजी संधारित किये जाने कहा गया। वहीं निर्धारित दर पर ही आवश्यक सामग्री का विक्रय करने की समझाइश दी गयी। इस दौरान नियमों का उल्लंघन करने वाले दुकानदारों से 7 हजार 200 रुपये जुर्माना वसूला गया। उक्त जांच दल ने दुकानदारों को कोविड संक्रमण से बचाव के दिशा-निर्देशों का कड़ाई के साथ परिपालन किये जाने की समझाईश दी। इस बारे में सीएमओ बीजापुर पवन मेरिया ने बताया कि नियत दर पर आवश्यक सामग्रियों की आपूर्ति की दिशा में उक्त जांच कार्रवाई निरन्तर जारी रहेगी।

View More...

गृह मंत्री साहू ने गरियाबंद जिले के विभागीय अधिकारियों की ली बैठक, कोरोना की तेज़ रफ़्तार को रोकने लॉकडाउन का सख्ती से पालन करने के दिए निर्देश

Date : 12-Apr-2021
रायपुर। गृह मंत्री और गरियाबंद जिले के प्रभारी मंत्री ताम्रध्वज साहू ने अपने निवास कार्यालय रायपुर सेवीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए गरियाबंद जिले के विभागीय अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने जिले में कोविड-19 की वर्तमान स्थिति तथा कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए लॉकडाउन की तैयारियों और वर्तमान में कोरोना मरीज़ों के लिए उपचार की व्यवस्थाओं पर विस्तृत जानकारी ली। उन्होंने अधिकारियों को जिले में टेस्टिंग बढ़ाने और आईसीयू बेड एवं वेंटीलेटर के पुख्ता इंतेज़ाम करने के निर्देश दिए।
 
मंत्री साहू ने ब्लॉक मुख्यालय में कोरेनटाईन सेंटर बनाकर कोरोना पॉजिटिव मरीज़ों की ट्रेकिंग करने और उन्हें ट्रीटमेंट देने के निर्देश दिए। उन्होंने होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीज़ों का पंजीयन अनिवार्य रूप से करने और मरीज़ों को नियमित रूप से फ़ोन पर परामर्श देने के निर्देश बैठक में उपस्थित अधिकारियों को दिए। उन्होंने जिले में 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को दी जा रही कोरोना टीकाकरण की रफ्तार बढ़ाने के साथ ही विभिन्न संचार माध्यमों से कोविड टीकाकरण के प्रति जागरूक लाने के भी निर्देश दिए। उन्होंने बैठक में उपस्थित पुलिस अधीक्षक को 13 अप्रैल से 23 अप्रैल तक लगने जा रहे लॉकडाउन का कड़ाई से पालन करवाने के निर्देश दिए। लॉकडाउन में अवैध शराब और नशीली पदार्थों के तस्करी करने वालों पर सख्त कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने जिले के सभी चौकी और थाना क्षेत्रों में गश्त बढ़वाने और दिन में भी पेट्रोलिंग करवाने के निर्देश दिए हैं।
 
 
View More...

कोयले से भरी मालगाड़ी का एक डिब्बा उतरा पटरी से, रेलवे विभाग में रायगढ़ से लेकर बिलासपुर तक मचा हड़कंप

Date : 12-Apr-2021

रायगढ़। कोयले से भरी मालगाड़ी का एक डिब्बा पटरी से उतर गया जिसे रेलवे विभाग में रायगढ़ से लेकर बिलासपुर तक हड़कंप मच गया बृज राजनगर और बिलासपुर से आईं क्रेन की सहायता से मालगाड़ी के डिब्बे को हटाया गया तब कही जाकर रेलवे के अफसरों ने राहत की सांस ली।

इस संबन्ध में रायगढ़ आरपीएफ प्रभारी निरीक्षक राजेश वर्मा ने बताया कि आजअल सुबह 5/40 बजे me/n/miss लोको नंबर 32965 329690 कोल लोड गाड़ी का एक एमटी वैगन जिसका इंजन से 18वा है रायगढ़ यार्ड में किलो मीटर संख्या 3043 लाइन नंबर 9 में आते समय ड्रिलमेट हो गया। घटना की सूचना प्राप्त होने पर स्वंय एवम उपनिरीक्षक डीके शास्त्री और पोस्ट के स्टॉफ के साथ तत्काल घटनास्थल पर पहुँचे। वहाँ पर पहले से ही रायगढ़ स्टेशन मास्टर सहित रेलवे रायगढ़ के तमाम आला अफसर घटनास्थल पर पहुँच चुके थे। एआरटी बृजराजनगर सुबह 9 बजे घटनास्थल पर पहुँच कर रिलमेन्ट के कार्य मे लग चुके थे दोपहर 12 बजे बिलासपुर से पहुँची क्रेन की सहायता से रेलवे के आला अधिकारियों की मौजूदगी में रेलवे के कर्मचारियों ने कड़ी मेहनत कर शाम को 17/05बजे डिरेलमेंट वेगन को उठाकर पटरी पर रख दिया। तब जाकर रेलवे के तमाम अफसरों ने राहत की सांस ली ओएचई विभाग के रेलपथ कर्मचारियों द्वारा मरम्मत का कार्य किया जा रहा है।

बिलासपुर और बृज राजनगर से मिली मदद के बाद रायगढ़ रेलवे विभाग के अधिकारियों को राहत मिली। रेलवे ने कोयला लोड मालगाड़ी के डिब्बे के पटरी से उतरने के मामले की जांच शुरू कर दी गई है।

View More...

प्रदेश में कोरोना की स्थिति चिंताजनक : सांसद सुनील सोनी

Date : 12-Apr-2021

रायपुर। प्रदेश में कोरोना संक्रमण अपने चरम पर है। स्थिति को देखते हुए राजधानी रायपुर सहित 16 से अधिक जिलों में लॉक डाउन लगा दिया गया है। इसी बीच प्रदेश में कोरोना की स्थिति का निरिक्षण करने केंद्र की उच्चस्तरीय टीम पहुंची है। टीम की प्रारंभिक रिपोर्ट के आधार पर रायपुर सांसद सुनील सोनी ने बड़े बयान दिया है। उन्होंने कहा कि राजधानी रायपुर में प्रतिदिन 10 हज़ार कोरोना केस आ सकते हैं। केंद्रीय टीम ने राज्य में कोरोना की स्थिति पर चिंता ज़ाहिर की है।

सांसद सुनील सोनी ने कहा कि राज्य में टेस्टिंग की कमी संक्रमण बढ़ने का बड़ा कारण रही है। केंद्र से भेजी गई 230 वेंटिलेटर पर मुख्यमंत्री एक साल बाद सवाल खड़ा करते हुए कह रहे हैं कि यह ख़राब है। ऐसे मौके पर राजनीति न किया जाए। केंद्र ने स्पष्ट किया है कि आयुष्मान योजना के तहत लोगों का इलाज होगा। इसका प्रचार सरकार को करना चाहिए।

वैक्सीन की भ्रम की स्थिति को दूर करें
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव बता रहे हैं कि देश में सबसे ज़्यादा वैक्सीन छत्तीसगढ़ ने लगाई है। कोई एहसान राज्य ने नहीं किया, ये वैक्सीन केंद्र ने मुफ़्त में भेजी है। हम सकारात्मक नज़रिए से काम कर रहे हैं। मुख्यमंत्री टीवी पर आकर भ्रम की स्थिति से जनता को दूर करे। वैक्सीन पर्याप्त आ रहा है। केंद्र और वैक्सीन भेजेगी। इसमें उतावलापन की ज़रूरत नहीं है। मैंने वैक्सीन का स्टॉक बढ़ाने की पहल केंद्र सरकार से की है।

सुनील सोनी ने कहा कि कोरोना की लड़ाई में स्वास्थ्य मंत्री की भूमिका ज़ीरो है। स्वास्थ्य मंत्री चाहते तो अब तक कोरोना के ख़िलाफ़ लड़ाई के लिए सेटअप खड़ा किया जा सकता था। केंद्र हर ज़िले में लैब के लिए पैसे दे रहा है, लेकिन राज्य सरकार का प्रयास काफ़ी नहीं है।

ज्ञातव्य है कि शनिवार को रायपुर जिले में अकेले 3797 कोरोना मरीज सामने आए थे। जबकि 42 लोगों की कोरोना से मौत हुई है। राजधानी में अभी सक्रिय मरीजों की संख्या 21 हजार 329 है। कोरोना से अब तक रायपुर में 1 हजार 155 लोगों की जान गई है। राजधानी में 88 हजार 478 कोरोना के केस मिल चुके हैं।

View More...

लॉकडाउन की अवधि में सभी लोग प्रशासन के निर्देशों का पालन करें : विधायक कुलदीप जुनेजा

Date : 12-Apr-2021

रायपुर। विधायक एवं छत्तीसगढ़ हाउसिंग बोर्ड के अध्यक्ष कुलदीप जुनेजा ने इस लॉक डाउन की अवधि में सभी लोगों से अपील की है के प्रशासन के निर्देशों का पालन करें। प्रशासन का सहयोग करें।उन्होंने कहा कि बहुत ही आवश्यक काम हो, आपातकालीन परिस्थिति हो तभी घर से निकले अन्यथा कोई भी घर से बाहर ना निकले।

जुनेजा ने लोगों को मास्क लगाने एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने कहा है। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में जो करोना है उसकी स्थिति भयावह है इसका असर बच्चों पर भी पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि अपने बच्चों और माता - पिता सहित अन्य सदस्यों को भी घर में ही रहने कहें। घर पर रहकर हीअपने परिवार की सुरक्षा करें।

View More...

प्रदेश में नहीं होगी आक्सीजन की कमीं : सीएम भूपेश बघेल

Date : 12-Apr-2021

रायपुर । राज्य में उत्पादित होने वाली आक्सीजन का 80 प्रतिशत अब मेडिकल आक्सीजन गैस के रूप में राज्य के अस्पतालों को प्रदान किया जायेगा। राज्य में कोरोना संक्रमण की स्थिति को देखते हुए अस्पतालों में आक्सीजन की आवश्यकता को देखते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा महामारी अधिनियम के तहत इस संबंध में अधिसूचना जारी कर दी हैं।

आदेश में यह भी कहा गया हैं कि अत्यंत आवश्यक स्थिति में उद्योगों को प्रदान की जाने वाली 20 प्रतिशत आक्सीजन भी अस्पतालों को प्रदान की जायेगी। स्वास्थ्य विभाग के विशेष सचिव सी आर प्रसन्ना द्वारा जारी आदेश में कहा गया हैं कि समस्त आक्सीजन गैस उत्पादन करने वाली संस्थाओं को यह सुनिश्चित करना होगा कि आक्सीजन गैस का उत्पादन निरंतर बिना रुकावट के अपनी पूर्ण क्षमता के साथ फैक्ट्री में किया जाए। राज्य के सभी संभाग आयुक्तों और जिला कलेक्टरों को इसे लागू करने के लिए सक्षम प्राधिकारी बनाया गया हैं।

View More...

राजधानी रायपुर में सिर्फ 1 ही दुकान में मिल रहा रेमिडेसिविर इंजेक्शन

Date : 12-Apr-2021

रायपुर। छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण इन दिनों चरम पर है, इस वक्त उपचार के लिए उपयोग में लाइ जाने वाली दवा रेमिडेसिविर के लिए खाद्य एवं औषधि विभाग के उपसंचालक ने रायपुर में इंजेक्शन मिलने वाली दुकानों की सूची जारी की है। जारी आदेश  के अनुसार यह सूची 27 मार्च की है। यहां सबसे बड़ी बात यह है कि सूचीबद्ध सभी दवा दुकानों में उपरोक्त इंजेक्शन उपलब्ध ही नहीं है। रायपुर के एक ही दवा दुकान कुमार मेडिकल में यह दवाई मिल रही है, जहां मरीजों के परिजनों को सुबह से लेकर शाम तक लाइन में खड़े होकर दवाई का इन्तजार करना पड़ रहा है।

उल्लेखीय है कि सूची में मौजूद नामों में मेडिकल काम्प्लेक्स की 8 दुकानें हैं, जिनमें सिर्फ एक ही दुकान में इंजेक्शन उपलब्ध है, जिस कारण मरीजों के परिजनों को दवाई के लिए लंबा इंतज़ार करना पड़ रहा है। रविवार होने के बाद भी लोग सुबह से ही कतार बढ़ होकर दवाई का इन्तजार कर रहे हैं, लेकिन दोपहर 2 बजे तक दवाई दुकान ही नहीं खुली है।

इसके साथ ही शेष दुकानों में स्टॉक नहीं होने की बात कही जा रही है। ऐसी में आज राजधानी में कोरोना संक्रमितों की संख्या लगभग 4 हजार के पार पहुँच गयी है। ऐसे में पूरे प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार ही 11 हजार के पार प्रति मरीज यह दवाई 6 वाइल की जरुरत है, ऐसे में प्रदेश में एक दिन में लगभग 12 हजार वाइल की जरुरत प्रतिदिन है, लेकिन यह दवाई प्रतिदिन 300 से 400 वाइल राजधानी पहुँच रही है, इसके साथ ही जनऔषधी केंद्र में 900 रूपये में मिलने वाली एक वाइल बाजार में 5000 से 5400 रूपये प्रति वाइल मिल रही है।

ऐसे में राज्य सरकार को इंजेक्शन के पर्याप्त इंतजाम की व्यवस्था करने की दिशा में विचार करना चाहिए साथ ही आपदा के वक्त को अवसर बना कर लाभ कमाने वालों पर भी कठोर कार्रवाई करने की दिशा में विचार करने की जरुरत है।

View More...