Chhattisgarh

मुख्यमंत्री बघेल ने राष्ट्रीय पर्यटन दिवस पर प्रदेशवासियों को दी बधाई व शुभकामनाएं

Date : 25-Jan-2023

रायपुर। मुख्यमंत्री बघेल ने 25 जनवरी को राष्ट्रीय पर्यटन दिवस पर प्रदेशवासियों को बधाई और शुभकामनाएं दी है। उन्होंने अपने बधाई संदेश में कहा है कि पर्यटन का देश-प्रदेश की अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण स्थान रखता है। इससे न सिर्फ लोगों को स्थानीय सांस्कृतिक, भौगोलिक, प्राकृतिक, ऐतिहासिक स्थलों को जानने का मौका मिलता है, बल्कि यह हजारों परिवारों के जीवनयापन के लिए आजीविका के नए रास्ते भी खोलता है। इसे देखते हुए राज्य सरकार अपने प्राचीन धरोहरों को विकसित कर प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने की कार्ययोजना पर काम कर रही है।

मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि पुरातात्विक धरोहरों और प्राकृतिक विविधताओं से परिपूर्ण छत्तीसगढ़ का पर्यटन देश में अपनी पहचान स्थापित करता जा रहा हैं। यहां प्राकृतिक सौंदर्य से परिपूर्ण अनेक रमणीय स्थलों के साथ-साथ गौरवशाली अतीत और समृद्ध विरासत को संजोए अनेक पुरातात्विक और ऐतिहासिक महत्व के स्थल हैं। सिरपुर में शैव, वैष्णव, बौद्ध और जैन मतों के सहअस्तित्व के पुरातात्विक प्रमाण है। सरगुजा के रामगढ़ में सीताबेंगरा गुफा, प्राचीनतम नाटयशाला, बस्तर में चित्रकोट, तीरथगढ़ के जलप्रपात, कुटुमसर की गुफाएं तक पूरे छत्तीसगढ़ में अनेक स्थल पर्यटन की दृष्टि से विशेष महत्व के हैं। महाप्रभु वल्लभाचार्य जी की जन्मस्थली के रूप में चम्पारण का विशेष धार्मिक महत्व है। प्राकृतिक स्थलों को पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने के साथ ही वहां मनोरंजन, ठहरने, भोजन आदि की व्यवस्था कर रिसोर्ट के रूप में विकसित किया जा रहा है। छत्तीसगढ़ की पवित्र भूमि में जहां-जहां भगवान श्रीराम वनवास काल में गए उन्हें राम वन गमन पथ के रूप में विकसित किया जा रहा है।

View More...

भेंट मुलाकात : शिकायत के दूसरे दिन ही रामरतन को मिली धान की राशि

Date : 25-Jan-2023

रायपुर। छत्तीसगढ़ सरकार को यूं ही किसानों की सरकार और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को यूं ही किसानों का मुख्यमंत्री नही कहा जाता। प्रदेश के मुख्यमंत्री बघेल की किसानों के प्रति संवेदनशीलता इतनी है कि खेती-किसानी और किसानों के बात आते ही सभी काम एक तरफ हो जाते है। ऐसे ही बानगी भेंट-मुलाकात के एक कार्यक्रम में देखने मिली और मुख्यमंत्री के निर्देश पर एक किसान को डेढ़ माह से लंबित धान की राशि 24 घंटे में ही मिल गई।

रायपुर जिले के तिल्दा-नेवरा विकासखंड के मांठ गांव में 22 जनवरी को भेंट-मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री बघेल से नगर गांव के किसान रामरतन ने सोसायटी में धान का लगभग डेढ़ माह से भुगतान लंबित रहने की शिकायत की। मुख्यमंत्री ने धैर्यपूर्वक रामरतन की बात सुनी। किसान रामरतन ने बताया कि सब कुछ तो ठीक है। सरकार की योजनाएं लोंगो को फायदा पहुंचा रही है, परंतु सोसायटी में 30 नवबंर को धान बेचने के बाद भी अभी तक उन्हें पैसा नहीं मिला है। मुख्यमंत्री बघेल ने इस पर विस्तार से रामरतन से पूछा। रामरतन ने आगे बताया कि उनकी बेटी कुसुम सगरवंशी ने 30 नवबंर को नगरगांव सोसायटी में धान बेचा था। उन्होंने मुख्यमंत्री बघेल के पूछने पर आगे बताया कि 38 डिसमिल खेत में इस साल धान लगाया था। कटाई-मिंझाई के बाद नगरगांव सोसायटी में 30 नवबंर को धान बेचा था पर धान का लगभग साढ़े ग्यारह हजार रूपये अभी तक खाते में नही आया है।

मुख्यमंत्री ने इसे गंभीरता से लेते हुए पहले तो अधिकारियों पर नाराजगी जताई और तत्काल रामरतन के धान का पैसा उनके बैंक खाते में जमा करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री के निर्देश पर कलेक्टर डॉ सर्वेश्वर भुरे ने स्वयं प्रकरण की जानकारी नगरगांव सोसायटी के प्रबंधक और जिला केन्द्रीय सहकारी बैंक के अधिकारियों से ली। अगले ही दिन 23 जनवरी को रामरतन के बैंक खाते में बेची गई धान की राशि 11 हजार 424 रूपये जमा करा दी गई। अपनी धान का पैसा मिल जाने पर रामरतन ने मुख्यमंत्री बघेल का आभार वयक्त किया और कहा कि भूपेश है तो भरोसा है।

View More...

टोल टैक्स को लेकर विवाद, टोल कर्मियों ने बाइक सवार सरपंच को पीटा, 5 लोग गिरफ्तार

Date : 25-Jan-2023

कवर्धा। जिले के बोड़ला टोल प्लाजा में बाइक के टोल टैक्स को लेकर हुए विवाद के बाद टोल कर्मियों ने सरपंच और उनके बेटों को बुरी तरह पीट दिया। इस दौरान मारियाटोला के सरपंच भुनेश्वर भास्कर व उनके बड़े और छोटे बेटे को चोट आई है। सरपंच भुनेश्वर को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मामले की शिकायत मिलते ही बोड़ला थाना पुलिस ने 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार यह घटना 23 जनवरी की है। मारियाटोला के सरपंच भुनेश्वर भास्कर अपने बेटों के साथ बोड़ला गए थे। बोड़ला से वापस अपने ग्राम मुड़ियापारा जाते समय नेशनल हाईवे में टोल प्लाजा के कर्मचारियों ने मोटर साइकिल को टोलप्लाजा से जाने का शुल्क मांगा। प्रार्थी व उसके साथियों ने टोल प्लाजा में मोटर सायकल का शुल्क कहां पैसा लगता है, की बात कही। इसी बात पर टोल प्लाजा के कर्मचारी ने वाद-विवाद कर गाली गलौच करने लगा और अपने अन्य साथियो को बुलाकर हाथ मुक्का एवं लोहे के पाईप, डण्डा व पत्थर से मारपीट करने लगे, जिससे प्रार्थी एवं उसके अन्य साथियों को गंभीर चोटें आई।

घटना के संबंध में थाना प्रभारी बोड़ला ने वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराकर तत्काल मौके पर पहुंचे। घटना के संबंध में जानकारी प्राप्त कर घटनास्थल से प्राप्त साक्ष्यों के आधार पर आरोपियो का कृत्य अपराध धारा 147,148,149,294,307,323,506(बी) भादवि के तहत् पाये जाने से उपरोक्त धाराओं के तहत् थाना बोड़ला में अपराध क्रमांक 22/23 कायम कर विवेचना में लिया गया। घटना में संलिप्त आरोपी बंदेश चंद्रवंशी, आनंद डाहिया, सतीश डाहिया, आकाश डाहिया एवं शिव प्रसाद द्विवेदी को विधिसंगत् गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड में भेजा गया है।

उपरोक्त संपूर्ण कार्यवाही में पुलिस अधीक्षक कबीरधाम एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कबीरधाम के मार्गनिर्देशन तथा पुलिस अनुविभागीय अधिकारी बोड़ला के दिशा-निर्देश में थाना बोड़ला एवं डॉयल 112 टीम द्वारा सराहनीय कार्य किया गया है।

View More...

नॉन इंटरकनेक्टिविटी कार्य के चलते देर से चलेंगीं ये गाड़ियां

Date : 25-Jan-2023

बिलासपुर। राजनांदगांव से कलमना के बीच तीसरी लाइन का कार्य किया जा रहा है। इसके अंतर्गत अंतर्गत राजनांदगांव-कलमना सेक्शन के चाचेर रेलवे स्टेशन को तीसरी लाइन से जोड़ने के लिए नॉन इंटर लॉकिंग का कार्य किया जाएगा। यह कार्य 31 जनवरी से 3 फरवरी तक किया जाएगा । इस दौरान कुछ ट्रेनों को 20 मिनट से लेकर 2 घंटे 30 मिनट तक नियत्रित किया जाएगा।

इस दौरान 31 जनवरी को टाटानगर से चलने वाली 18109 टाटानगर - इतवारी एक्सप्रेस को गोंदिया एवं भंडारा रोड़ स्टेशनों के बीच 2 घंटे 30 मिनिट नियत्रित की जायेगी।

31 जनवरी को कोरबा से चलने वाली 18239 कोरबा - इतवारी एक्सप्रेस को गोंदिया एवं भंडारा रोड़ स्टेशनों के बीच 2 घंटे 30 मिनिट नियत्रित की जायेगी।

2 फरवरी को निजामुद्दीन से चलने वाली 12808 निजामुद्दीन - विशाखापटनम एक्सप्रेस को नागपुर एवं कामटी रोड़ स्टेशनों के बीच 1 घंटे 45 मिनिट नियत्रित की जायेगी।

1 फरवरी को कुर्ला से चलने वाली 22511 कुर्ला-कामाख्या एक्सप्रेस को नागपुर एवं कामटी रोड़ स्टेशनों के बीच 45 मिनिट नियत्रित की जायेगी।

1 फरवरी को इंदौर से चलने वाली 20917 इंदौर-पूरी हमसफर एक्सप्रेस को नागपुर एवं कामटी रोड़ स्टेशनों के बीच 40 मिनिट नियत्रित की जायेगी।

देरी से रवाना होने वाली गाडियां :

1 फरवरी को इतवारी से चलने वाली 18110 इतवारी - टाटानगर  एक्सप्रेस को 2 घंटे 30 मिनिट देरी से रवाना की जायेगी। वहीं 31 जनवरी को इतवारी से चलने वाली 18239 इतवारी-बिलासपुर शिवनाथ एक्सप्रेस 2 घंटे 30 मिनिट देरी रवाना की जायेगी।

View More...

जिलें में कन्या भ्रूण हत्या की रोकथाम के लिए रैली निकालकर रथ से किया प्रचार

Date : 25-Jan-2023

जांजगीर-चांपा। जिला स्तरीय राष्ट्रीय बालिका दिवस का आयोजन मंगलवार को स्वामी आत्मानंद स्कूल जांजगीर में किया गया। जिसमें बालिकाओं की रैली का आयोजन किया गया तथा पूरे जिलें में कन्या भ्रूण हत्या की रोकथाम के लिए रथ का भ्रमण करवाया गया। रथ को हरी झंडी मंजू सिंह सदस्य छ.ग. कर्मकार मंडल, कुसुमलता साहू सदस्य जिला पंचायत जांजगीर, पुष्पेन्द्र प्रताप सिंह उपाध्यक्ष जनपद पंचायत नवागढ़, प्रशांत शर्मा, प्राचार्या द्वारा किया गया। बालिकाओं का स्वास्थ्य परीक्षण कराया गया तथा उन्हें आयरन फोलिक ऐसिट गोली का वितरण किया गया। बालिकाओं हेतु मटका फोड़, रंगोली, चित्रकला प्रतियोगिता एवं बालिका क्वीज का आयोजन किया गया। इसमें सभी उत्साहपूर्वक भाग लिया।

जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास जिला जांजगीर-चांपा द्वारा 24 जनवरी को राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाये जाने का महत्व एवं बालिकाओं के शिक्षा के संबंध में जानकारी दी गई। मंजू सिंह द्वारा बालिकाओं के शिक्षा एवं दहेज के संबंध में जानकारी दी गई। बालिकाओं के अधिकार, घरेलू हिंसा, टोनही प्रताड़ना, दहेज प्रतिषेध अधिनियम के संबंध मेंं  अनुपमा सिंह कंवर, संरक्षण अधिकारी नवाबिहान जांजगीर द्वारा जानकारी दी गई।

कार्यक्रम में उपस्थित सभी अतिथियों के द्वारा भी बालिकाओं के शिक्षा के महत्व के बारे में अपना-अपना उद्बोधन दिया गया। कार्यक्रम में भगवानदास गढ़ेवाल अध्यक्ष नगरपालिका जांजगीर, रामविलास राठौर सभापति नगरपालिका जांजगीर, सूर्यकांत गुप्ता, जि.म.बा.वि.अधि. जांजगीर-चांपा, विकास सिंह परियोजना अधिकारी जांजगीर, परियोजना जांजगीर (नवागढ़-2) के समस्त पर्यवेक्षक, गजेन्द्र जायसवाल जि.बा.सं.अधि. जांजगीर एवं विभागीय कर्मचारी उपस्थित थे। कार्यक्रम के अंत में विकास सिंह परियोजना अधिकारी जांजगीर द्वारा अभार व्यक्त किया गया।

View More...

मुख्यमंत्री बघेल ने छत्तीसगढ़ के छात्र मास्टर आदित्य प्रताप सिंह चैहान को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल शक्ति पुरस्कार से सम्मानित किए जाने पर दी बधाई

Date : 25-Jan-2023

रायपुर। मुख्यमंत्री बघेल ने छत्तीसगढ़ के छात्र मास्टर आदित्य प्रताप सिंह चैहान को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल शक्ति पुरस्कार से सम्मानित किए जाने पर बधाई एवं शुभकामनाएं दी है। यह पुरस्कार आदित्य प्रताप सिंह को राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मु ने मंगलवार को प्रदान किया। मुख्यमंत्री ने कहा है कि यह छत्तीसगढ़ के लिए गर्व की बात है कि हमारे प्रदेश के होनहार बालक छोटी उम्र में नवाचार के क्षेत्र में कार्य कर रहे है और उपकरण का ईजाद कर रहे है। आदित्य प्रताप सिंह का कार्य पूरे समाज के लिए प्रेरणादायी है। उन्होंने छत्तीसगढ़ का नाम पूरे देश में रोशन किया है। मुख्यमंत्री ने मास्टर आदित्य के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए उनके माता-पिता और शिक्षकों को भी बधाई दी।

उल्लेखनीय है कि आदित्य को इनोवेशन के लिए यह पुरस्कार दिया गया है। आदित्य ने माइक्रोमा नामक उपकरण तैयार किया है, जो पानी से बैक्टीरिया, माइक्रो कास्टिक डिटेक्ट और फिल्टर कर सकता है। इस पुरस्कार में एक लाख की राशि,  मेडल, राष्ट्रपति के हस्ताक्षर युक्त प्रमाण-पत्र और साथ में स्मृति चिन्ह दिया गया है। आदित्य सिंह राजधानी रायपुर के निवासी है।

View More...

मुखयमंत्री बघेल जगदलपुर में गणतंत्र दिवस के मुख्य कार्यक्रम में होंगे शामिल

Date : 25-Jan-2023

जगदलपुर। मुख्यमंत्री बघेल 25 और 26 जनवरी को अपने दो दिवसीय बस्तर प्रवास रहेंगे। जगदलपुर में गणतंत्र दिवस के मुख्य समारोह में शामिल होने के लिए बस्तर पहुंच रहे मुख्यमंत्री बघेल अपने दो दिवसीय प्रवास के दौरान 25 जनवरी को गिरोला में आयोजित कार्यक्रम में लगभग 133 करोड रुपए के 98 विकास कार्यों का भूमिपूजन और लोकार्पण करेंगे। प्रस्तावित कार्यक्रम के अनुसार जगदलपुर के धरमपुरा में आयोजित छात्रावासी विद्यार्थियों के संभागीय सम्मेलन में भी शामिल होंगे। इसके पश्चात् लामनी पार्क में निर्मित पक्षी विहार तथा डोंगाघाट में बायोगैस से संचालित विद्युत निर्माण गृह का शुभारंभ करेंगे।

मुख्यमंत्री 26 जनवरी को लालबाग में आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह में शामिल होकर ध्वजारोहण करेंगे तथा सिरहासार चौक स्थित शहीद स्मारक में शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे। इसके पश्चात् आमागुड़ा चौक में पुलिस स्मारक स्थल तथा चैक के उन्नयन कार्य का शुभारंभ करेंगे। मुख्यमंत्री इस दौरान तुरेनार में ग्रामीण औद्योगिक पार्क का अवलोकन भी करेंगे।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अपने दो दिवसीय बस्तर प्रवास के दौरान 25 जनवरी को गिरोला में आयोजित कार्यक्रम में बस्तरवासियों को लगभग 133 करोड़ रुपए की लागत के 98 विकास कार्यों की सौगात देंगे। वे इस कार्यक्रम में 68 करोड़ 42 लाख 80 हजार रुपए के 27 कार्यों का लोकार्पण और 65 करोड़ 18 लाख 40 हजार रुपए के 71 विकास कार्यों का भूमिपूजन करेंगे।

मुख्यमंत्री बघेल द्वारा गिरोला में आयोजित कार्यक्रम में लोक निर्माण विभाग द्वारा निर्मित 55 करोड़ 26 लाख 36 हजार रुपए की लागत के 18 विकास कार्यों का लोकार्पण करेंगे। इनमें लगभग 24 करोड़ रुपए की लागत से बकावंड से कोलावल के बीच लगभग 26 किलोमीटर लंबी सड़क और पुल के चैड़ीकरण का कार्य, 18 करोड़ 17 लाख रुपए की लागत से रायकोट से कुरेंगा के बीच निर्मित 23 किलोमीटर लंबी सड़क, 2 करोड़ 83 लाख रुपए की लागत से मारीगुड़ा से मैलबेड़ा के बीच 6 किलोमीटर लंबी सड़क निर्माण, 2 करोड़ 32 लाख रुपए की लागत से जेल में बैरक निर्माण कार्य, 2 करोड़ 7 लाख रुपए की लागत से दरभा में निर्मित 50 सीटर आईटीआई छात्रावास, 1 करोड़ 44 लाख रुपए की लागत से किलेपाल में निर्मित 50 सीटर आईटीआई छात्रावास, लोक निर्माण विभाग की सेतु निर्माण विभाग द्वारा 4 करोड़ 33 लाख रुपए की लागत से गंजोपारा से गुड़ियापारा के बीच निर्मित सेतु, मछलीपालन विभाग द्वारा 3 करोड़ 41 लाख रुपए की लागत से कोसारटेडा जलाशय में मछलीपालन के लिए केज स्थापना व फ्लोटिंग हाउस एवं गोदाम निर्माण, जगदलपुर नगर निगम द्वारा 1 करोड़ 23 लाख 3 हजार और 2 हजार किलोग्राम क्षमता के कंपोस्ट मशीन, 1 करोड़ 9 लाख रुपए की लागत से सिटी ग्राउण्ड के सामने निर्मित 10 दुकान और 2 हाल व प्रवेश द्वार, 96 लाख रुपए की लागत से आमागुड़ा चैक में निर्मित दुकान, स्वास्थ्य विभाग द्वारा 1 करोड़ 26 लाख रुपए की लागत से निर्मित एफ टाईप क्वार्टर सहित अन्य कार्यों लोकार्पण करेंगे।

मुख्यमंत्री द्वारा इसके साथ ही लगभग 2 करोड़ 99 लाख रुपए की लागत से पाराकोट से सोसनपाल के बीच बनने वाली 4 किलोमीटर लंबी सड़क, लगभग 2 करोड़ 67 लाख रुपए की लागत से रानसरगीपाल से पखनारचा के बीच बनने वाली 4 किलोमीटर लंबी सड़क, लगभग सवा करोड़ रुपए की लागत से चित्रकोट मार्ग से गल्र्स पाॅलिटेक्निक काॅलेज के बीच सड़क का नवीनीकरण एवं मजबूतीकरण, लगभग 2 करोड़ 68 लाख रुपए की लागत से तिरथा चैक से सुधापाल तक बनने वाली 4 किलोमीटर लंबी सड़क, लगभग 2 करोड़ 24 लाख रुपए की लागत से बड़ांजी से कुम्हली तक पक्की सड़क का निर्माण, 1 करोड़ 79 लाख रुपए की लागत से पारापुर से मुतनपाल तक सड़क निर्माण, 1 करोड़ 25 लाख रुपए की लागत से बेलर से सिरिसगुड़ा के बीच सड़क निर्माण, 1 करोड़ 2 लाख रुपए की लागत से भैंसगांव से सांवरापाल के बीच सड़क निर्माण, चिंगपाल, गारेंगा, चपका, नलपावंड, छोटे देवड़ा, राजनगर और सोनपुर में 25.56-25.56 लाख रुपए की लागत से 200-200 मैट्रिक टन क्षमता के गोदाम का निर्माण, 17 करोड़ 77 लाख 61 हजार रुपए की लागत से जुनावानी, करमरी, टिकनपाल, बोडरेपाल, पेदावाड़़ा, छिंदवाड़ा, नवागांव, बड़े मोरठपाल, बड़े मारेंगा, एर्राकोट, कलेपाल, सिलकझोड़ी, दाबपाल, सालेपाल और मारीकोड़ेर में जल जीवन मिशन अंतर्गत कार्य, लगभग 5 करोड़ रुपए की लागत से जगदलपुर नगर निगम में सड़कों का मरम्मत कार्य, 1 करोड़ 6 लाख रुपए की लागत से भानसागर तालाब में पर्यटन व सिंचाई सुविधाओं के विकास सहित अन्य विकास कार्यों की आधारशिला रखेंगे।

View More...

हड़ताली डॉक्टरों का समर्थन करने मेकाज पहुंचे पूर्व शिक्षा मंत्री

Date : 25-Jan-2023

जगदलपुर। छत्तीसगढ़ में लगातार 5 दिनों से जूनियर डॉक्टरों के साथ ही इंटर्न , जेआर व अन्य डॉक्टर अपनी मानदेय में वृद्धि नही होने के कारण हड़ताल में है, मेकाज सहित सभी जगहों पर स्वास्थ्य व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा गई है, जिसके चलते लोग अस्पतालों में भर्ती मरीजों को जबरन छुट्टी दिलाते हुए घर ले जाने को विवश हो गए है ।

इसी कड़ी में मंगलवार को पूर्व शिक्षा मंत्री केदार कश्यप डॉक्टरों का समर्थन करने के लिए मेकाज पहुंचे, जहां भूपेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी किया, वही विरोध प्रदर्शन के रूप में डॉक्टरों ने रक्तदान भी किया, 

डॉक्टरों का समर्थन करने पहुंचे पूर्व शिक्षा मंत्री केदार कश्यप ने कहा कि 17 जनवरी से लगातार डॉक्टरों के द्वारा अपनी मांगों को पूरी करने के लिए हड़ताल की जा रही है, स्वास्थ्य मंत्री को प्रदेश के मरीजों की चिंता करनी चाहिए, स्वास्थ्य मंत्री जब खुद ही इन डॉक्टरों को मांग को जायज बताते हुए मांग को पूरी करने की बात कहते है तो फिर दिक्कत कहा आ रही है ।

कश्यप ने कहा कि मुख्यमंत्री व स्वास्थ्य मंत्री की आपसी  लड़ाई के चलते स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से बद से बदतर हो रही है, मेकाज में भर्ती होने वाले मरीज उपचार नहीं होने के कारण निजी अस्पताल की ओर रुख कर रहे है, अन्य राज्यो की तरह छत्तीसगढ़ के डॉक्टरों को भी समान वेतन मिलना चाहिए, 

वही डॉक्टरों का कहना है कि कम वेतन मिलने और मानदेय में 4 वर्ष के बाद भी किसी भी प्रकार से कोई भी वृद्धि नहीं होने पर छत्तीसगढ़ के जूनियर डॉक्टर से लेकर इंटर्न डाक्टर लगातार कई दिनों से अपनी मांगों को लेकर हड़ताल कर रहे है ।

अस्पताल के वार्डो की स्थिति पूरी तरह से बिगड़ गई है, सीनियर डॉक्टर के अलावा कुछ डॉक्टर काम तो कर रहे है, लेकिन मरीज की स्थिति को देखते हुए परिजन मरीजों का जबरन छुट्टी कराकर या तो अपने घर ले जा रहे है या फिर निजी अस्पताल का सहारा ले

रहे है, अपने विरोध प्रदर्शन के तहत मंगलवार को डॉक्टरों के द्वारा अस्पताल परिसर के स्टैंड में ही 2 बिस्तर लगाते हुए वहां पर 60 से अधिक डॉक्टरों ने रक्तदान किया । धरने में भाजयुमो प्रदेश मंत्री जयराम दास , बृजनंदन वर्मा , संजय उपाध्याय भी उपस्थित थे ।

View More...

मुख्यमंत्री बघेल ने ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती गरीब नवाज की दरगाह शरीफ के लिए चादर और अकीदत के फूल किए रवाना

Date : 25-Jan-2023

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मंगलवार को यहां अपने निवास कार्यालय से अजमेर स्थित ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती गरीब नवाज की दरगाह शरीफ के लिए चादर और अकीदत के फूल रवाना किए।

मुख्यमंत्री ने हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती रहमतुल्लाह अलैह की दरगाह पर अपनी ओर से चादर और फूल पेश करने के लिए एल्डरमैन नईम रज़ा और फहीम खान को प्रदान किया। नईम ने बताया की चादर को रायपुर नगर निगम के महापौर एजाज ढेबर 40 लोगों के दल के साथ अजमेर शरीफ जायेंगे। 

मुख्यमंत्री द्वारा भेजी जा रही यह चादर  उर्स के मौके  पर दरगाह गरीब नवाज अजमेर शरीफ में पेश की जाएगी। साथ ही देश और छत्तीसगढ़ की अमन, चैन, खुशहाली, तरक्की, आपसी भाईचारा और सांप्रदायिक सौहार्द्र को बनाए रखने के लिए दुआएं की जाएगी।

View More...

राज्य के 23.21 लाख किसानों ने बेचा 105 लाख मीट्रिक टन धान

Date : 25-Jan-2023

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में 1 नवम्बर 2022 से शुरू हुई धान खरीदी का महाभियान निरंतर जारी है। प्रदेश में धान खरीदी का आंकड़ा अब तक के रिकार्ड तोड़ते हुए आज की तिथि में 105 लाख मीट्रिक टन से पार हो गया है। धान खरीदी का यह अभियान अभी 31 जनवरी तक जारी रहेगा। राज्य के 23.21 लाख किसानों ने धान विक्रय किया है। धान के एवज में किसानों को 21,738 करोड़ रूपए का भुगतान बैंक लिंकिंग व्यवस्था के तहत किया गया है।

उल्लेखनीय है कि पिछले वर्ष की तरह इस वर्ष भी धान खरीदी के साथ-साथ कस्टम मिलिंग के लिए निरंतर धान का उठाव जारी है। अब तक कुल धान खरीदी 105 लाख मीट्रिक टन में से 91.65 लाख मीट्रिक टन धान के उठाव के लिए डीओ जारी किया गया है, जिसके विरूद्ध मिलर्स द्वारा 84 लाख मीट्रिक टन धान का उठाव किया जा चुका है।

खाद्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि 24 जनवरी को 12 हजार से अधिक किसानों से 47 हजार मीट्रिक टन से अधिक धान की खरीदी की गई है। ऑनलाइन प्राप्त टोकन के जरिए किसानों से 3 हजार टन धान की भी खरीदी हुई है।

गौरतलब है कि इस साल राज्य में 24.98 लाख किसानों का पंजीयन हुआ है, जिसमें लगभग 2.32 लाख नये किसान शामिल हैं। किसानों को धान विक्रय में सहूलियत हो इस लिहाज से इस वर्ष राज्य में 135 नए उपार्जन केन्द्र शुरू किए गए, जिससे राज्य में धान खरीदी के लिए 2617 उपार्जन केन्द्र हो गया हैं। सामान्य धान 2040 रूपए प्रति क्विंटल तथा ग्रेड-ए धान 2060 रूपए प्रति क्विंटल की दर से खरीदा जा रहा है। इसी तरह राज्य में धान खरीदी की व्यवस्था पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है। सीमावर्ती राज्यों से धान के अवैध परिवहन को रोकने के लिए चेक पोस्ट पर माल वाहकों की चेकिंग की जा रही है। राज्य सरकार इस वर्ष प्रदेश के पंजीकृत किसानों से लगभग 110 लाख मीट्रिक टन धान खरीदी का लक्ष्य रखा है। धान खरीदी केन्द्रों में किसानों की चहल-पहल और धान की आवक से अनुमानित आंकड़े पार हो जाएंगे।

View More...