Chhattisgarh

राज्य के इन जिलों में बारिश हो सकते हैं बारिश, अगले 48 घंटे के लिए मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी

Date : 04-Jul-2020

रायपुर। मौसम विभाग ने प्रदेश के कई जिलों में अच्छी बारिश की संभावना जताई है। रविवार को अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने या गरज चमक के साथ छींटे पड़ने के आसार हैं। एक-दो स्थानों पर भारी बारिश होने की संभावना है। प्रदेश में अधिकतम तापमान में गिरावट संभावित है। मौसम विभाग ने राहत आयुक्त छत्तीसगढ़ शासन को गरज-चमक के साथ भारी बारिश की चेतावनी दी है।मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा ने अगले 24 घंटे के लिए जांजगीर, धमतरी, बालोद, बस्तर, कोंडागांव, कांकेर, बीजापुर, सुकमा, दंतेवाड़ा, नारायणपुर जिलों में एक-दो स्थानों पर गरज-चमक के साथ भारी बारिश होने की संभावना जताई है। इसी तरह अगले 48 घंटे के लिए जशपपुर, बिलासपुर, जांजगीर, रायपुर, रायगढ़, बलौदाबाजार, गरियाबंद, धमतरी, महासमुंद, दुर्ग, बालोद, बेमेतरा, कबीरधाम, राजनांदगांव, बस्तर, दंतेवाड़ा, सुकमा, नारायणपुर, बीजापुर, कांकेर, कोंडागांव जिलों में एक-दो स्थानों पर गरज-चमक के साथ भारी बारिश होने की संभावना जताई है।

उन्होंने कहा है कि मानसून द्रोणिका अनूपगढ़ ,सीकर, ग्वालियर, सीधी, रांची, जमशेदपुर, हल्दिया और उसके बाद दक्षिण पूर्व की ओर होते हुए पूर्व मध्य बंगाल की खाड़ी तक 0.9 किलोमीटर ऊंचाई तक स्थित है। एक चक्रीय चक्रवाती घेरा पश्चिम मध्य और उत्तर पश्चिम बंगाल की खाड़ी के तट, उत्तर तटीय आंध्र प्रदेश और दक्षिण उड़ीसा के ऊपर 7.6 किलोमीटर ऊंचाई तक विस्तारित है। एक चक्रीय चक्रवाती घेरा पूर्व उत्तर प्रदेश और उसके आसपास 3.1 किलोमीटर ऊंचाई पर स्थित है। इन सिस्टमों के कारण प्रदेश के अधिकांश स्थानों में रविवार को हल्की से मध्यम या गरज-चमक के साछ छींटे पड़ने की संभावना है। आकाशीय बिजली गिरने और एक-दो स्थानों पर भारी बारिश की संभावना है।

View More...

रायपुर नगर निगम में हुआ 44 कर्मचारियों का प्रमोशन

Date : 04-Jul-2020

रायपुर। नगर निगम रायपुर के 44 कर्मचारियों का प्रमोशन किया गया है। इस संबंध में आयुक्त सौरभ कुमार ने शनिवार को आदेश जारी किया है। आदेश के मुताबिक सहायक ग्रेड-3 से लेखापाल के पद पर 2, सहायक ग्रेड-3 से सहायक ग्रेड 2 के पद पर 17, सहायक ग्रेड 3 से रिकॉर्ड कीपर के पद पर 9 और सहायक राजस्व निरीक्षक से राजस्व उपनिरीक्षक के पद पर 16 कर्मचारियों को पदोन्नत किया गया है। पदोन्नत किए गए कर्मचारियों को 10 दिनों के भीतर पदोन्नत पद पर कार्यभार ग्रहण करने कहा गया है। नहीं करने पर या पदोन्नति का परित्याग करते हैं तो उनकी पदोन्नति पर आगामी 1 वर्ष तक विचार नहीं किया जाएगा। 

View More...

कोरोना काल में संसदीय सचिव, निगम-मंडलों में नियुक्ति अनुचित : धरमजीत सिंह

Date : 04-Jul-2020

रायपुर । पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह के बाद अब जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) विधायक दल के नेता धर्मजीत सिंह ने भूपेश सरकार द्वारा संसदीय सचिव के साथ निगम और मंडलों में नियुक्ति का विरोध किया है।
नेता प्रतिपक्ष धर्मजीत सिंह ने भूपेश सरकार पर तीखा हमला करते हुए कहा कि कोरोना काल में जब कांग्रेस सरकार ने बजट का तीस प्रतिशत काम कर दिया है तो संसदीय सचिव के अलावा निगम और मंडलों में नियुक्ति नहीं सही नहीं है क्योंकि इससे जनता पर आर्थिक बोझ बढ़ेगा। 

View More...

छत्तीसगढ़ के साथ भेदभाव को लेकर एनएसयूआई ने फूंका प्रधानमंत्री पुतला

Date : 04-Jul-2020

राजनांदगांव। केंद्र सरकार के द्वारा बेरोजगारों को रोजगार देने की बात कही गई थी। इसी के तहत केंद्र सरकार द्वारा गरीब कल्याण योजना का शुभारंभ किया गया है। इसके तहत सभी राज्यों में यह योजना लागू की गई है। इस योजना को छत्तीसगढ़ में लागू नहीं करने के विरोध में एनएसयूआई द्वारा शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला दहन सांसद कार्यालय सिविल लाइन के समक्ष किया गया है। पुतला दहन के तहत एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी भी की है।  पुतला दहन कार्यक्रम के संबंध में एनएसयूआई के अध्यक्ष विप्लव शर्मा ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ सरकार के साथ लगातार भेदभाव किया जा रहा है। केंद्र सरकार द्वारा गरीब कल्याण योजना,जो लागू की गई है उसे से छत्तीसगढ़ के बेरोजगार युवाओं को कोई लाभ नहीं मिल पा रहा है।

वहीं जिला भाजपा के अध्यक्ष मधुसूदन यादव का कहना है कि केंद्र सरकार द्वारा किसी भी राज्य से भेदभाव नहीं कर रही है। जिस राज्य में 25,000 से अधिक प्रवासी मजदूर आए हैं उस राज्य में यह योजना लागू की जा रही है। छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार द्वारा केंद्र सरकार को किसी भी प्रकार की जानकारी नहीं भेजी गई है,जिसके कारण यह योजना छत्तीसगढ़ में लागू नहीं हो पा रही है। उन्होंने कहा कि एनएसयूआई को प्रधानमंत्री का पुतला नहीं बल्कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का पुतला फूंकना चाहिए,जिन्होंने केंद्र सरकार की गाइडलाइन के तहत काम नहीं किया है यदि वे केंद्र को सही जानकारी देते तो यह योजना छत्तीसगढ़ में भी लागू हो जाती और यदि वे अभी भी केन्द्र सरकार को सही जानकारी दे दे तो छत्तीसगढ़ में यह योजना लागू हो जाएगी।

View More...

सांसद सुनील सोनी की कोरोना रिपोर्ट आई सामने

Date : 04-Jul-2020

रायपुर। छत्तीसगढ़ में सांसद के पीएसओ के कोरोना संक्रमित मिले के बाद से ही सांसद को क़्वारण्टीन कर दिया गया था। इसके बाद सांसद और उनकी पत्नी सहित पूरे परिवार का कोरोना सैंपल जांच के लिए भेजा गया था, जिसमें आज सांसद सुनील सोनी, उनकी पत्नी और परिवार के सभी सदस्यों का कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आया है। बता दें कि कल ही रायपुर सांसद के पीएसओ का कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आया था। उसके बाद से सुनील सोनी के संपर्क में आये बहुत से व्यक्तियों क्वारंटाइन किया गया है।

View More...

बेरोजगारों के नाम पर राजनीतिक रोटियां न सेंके भाजपा : कांग्रेस

Date : 04-Jul-2020

रायपुर । प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता आरपी सिंह ने एक बयान जारी कर भारतीय जनता पार्टी को यह समझाइश दी है कि युवाओं के नाम पर घड़ियाली आंसू बहाना और राजनीतिक रोटी सेकना बंद कर दे। प्रदेश का युवा इस बात को अभी भूला नहीं है कि जब डॉ. रमन सिंह की सरकार थी तब बेरोजगारी और हताशा का क्या आलम था? सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनामी (ब्डप्म्) की रिपोर्ट कहती है कि सितंबर 2018 में जब रमन सिंह की सरकार थी तब बेरोजगारी की दर छत्तीसगढ़ में 22.2ः थी। ब्डप्म् की ताजा रिपोर्ट जो कि अप्रैल 2020 में आई है वह कहती है कि छत्तीसगढ़ में बेरोजगारी की दर वर्तमान में घटकर 3.4ः रह गई है। भाजपा को यह भी नहीं भूलना चाहिए कि डॉ रमन सिंह के कार्यकाल में लगभग 22 लाख पंजीकृत शिक्षित बेरोजगार और लगभग इतने ही अपंजीकृत बेरोजगार थे तब युवाओं के प्रति वो प्रेम कहां छुपा हुआ था जो अब हरदेव सिन्हा के आत्मदाह के प्रयास के बाद उमड़ कर सामने आया है।
कांग्रेस प्रवक्ता आर पी सिंह ने भाजपा पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि आत्मदाह करने वाले बच्चू लाल, योगेश साहू और आत्मदाह का प्रयास करने वाले अन्य 8 लोगों के परिजनों को तत्कालीन सरकार के द्वारा कोई भी मदद नहीं दी गई। दिव्यांग स्वर्गीय योगेश साहू ने अपनी बहनों की शादी गरीबी और बेरोजगारी से व्यथित होकर रमन सिंह को 3 आवेदन दिए थे। लेकिन जब कोई कार्यवाही नहीं हुई और कहीं से कोई मदद नहीं मिली तब निराश होकर योगेश साहू ने तत्कालीन मुख्यमंत्री रमन सिंह के निवास के सामने आत्मदाह कर लिया था। इस घटना के बाद डॉ रमन सिंह का शर्मनाक बयान भी आया था। जिसमें उन्होंने कहा था कि ऐसी घटनाएं तो होती रहती हैं। स्वर्गीय योगेश साहू आत्मदाह प्रकरण का सबसे दुखद पहलू तो यह है कि डॉ रमन सिंह के कार्यकाल में स्वर्गीय साहू के इलाज का भुगतान तक अस्पताल को नहीं हुआ था। राज्य में भूपेश बघेल जी की सरकार बनने के बाद जब संबंधित अस्पताल ने भुगतान का देयक प्रस्तुत कर अपना भुगतान चाहा तब इस मामले का खुलासा हुआ है। एक दिव्यांग मृतक के इलाज का खर्च तक वहन नहीं कर पाने वाले लोग आज किस मुंह से हरदेव सिन्हा के नाम पर घड़ियाली आंसू बहा रहे हैं? अगर जरा भी नैतिकता है तो भारतीय जनता पार्टी के लोगों को तुरंत स्वर्गीय योगेश साहू से संबंधित अस्पताल का भुगतान करना चाहिए। अन्यथा भाजयुमो के नेताओं को आगामी 4 तारीख को 4 बजे 4 की संख्या में उपस्थित होकर डॉ रमन सिंह के 4000 पुतले फूकने चाहिए। कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह ने कहा है कि बहुत जल्द छात्र नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल माननीय मुख्यमंत्री जी से मिलकर स्वर्गीय योगेश साहू के उपचार का बिल भुगतान करने का आग्रह करेगा।

View More...

खाद्य मंत्री अमरजीत ने प्रदेश की सभी शासकीय उचित मूल्य की दुकानों में सीसीटीव्ही कैमरा जल्द लगाने दिए निर्देश

Date : 04-Jul-2020

रायपुर। खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने प्रदेश की सभी शासकीय उचित मूल्य की दुकानों में सीसीटीव्ही कैमरा जल्द लगाने के निर्देश दिए हैं। भगत ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित सभी जिलों के खाद्य अधिकारियों की बैठक में खाद्यान्न भण्डारण और वितरण की समीक्षा की। उन्होंने राज्य के सभी पहुंचविहीन क्षेत्रों की राशन दुकानों में खाद्यान्न भण्डारण और वितरण की जानकारी ली और तीन दिन के भीतर चार माह के लिए पर्याप्त मात्रा में खाद्यान्न भण्डारण करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने सभी राशन कार्डधारी परिवारों के सदस्यों की आधार सिडिंग शीघ्र करने को कहा है, ताकि अगस्त माह में वन नेशन वन राशन कार्ड योजना छत्तीसगढ़ में भी शुरू की जा सके। उन्होंने कहा कि राज्य के सभी राशन दुकानों की दीवारों को तिरंगा कलर से पोताई करने के निर्देश दिए गए थे। जिन दुकानों में पोताई का कार्य नहीं हो पाया है, उन दुकानों में एक सप्ताह के भीतर पोताई कराने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि तिरंगा कलर में पोताई होने से प्रदेश की राशन दुकानों में एकरूपता आएगी और अंजान व्यक्ति भी देखकर पहचान जाएगा राशन दुकान को। मंत्री भगत ने राशन दुकानों का युक्तियुक्तकरण करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि 8 लाख से अधिक एपीएल परिवारों के राशन कार्ड बनाए गए हैं। राशन कार्डों की संख्या बढ़ने से राशन दुकानों की संख्या भी बढ़ाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक ग्राम पंचायतों में एक-एक राशन दुकान एवं शहरी क्षेत्रों के वार्डों में आवश्यकता के अनुरूप एक या दो राशन दुकान खोले जाए, जहां नए राशन दुकान खोलने की जरूरत हो उसका प्रस्ताव शीघ्र देने को कहा है। भगत ने कहा कि नए राशन दुकान में तिरंगा कलर से पोताई और सीसीटीव्ही कैमरा लगाने के बाद ही दुकान का संचालन शुरू किया जाए।  भगत ने प्रदेश के जिन उचित मूल्य की दुकानों की शिकायतें आई है, उसका तत्काल निराकरण करने के निर्देश दिए हैं। भगत ने खाद्य विभाग द्वारा कोरोना काल में लोगों को खाद्यान्न उपलब्ध कराने के कार्य को महत्वपूर्ण बताया। उन्होंने कहा कि विषम परिस्थितियों में भी नागरिकों एवं प्रवासी श्रमिकों को समय पर राशन उपलब्ध कराया गया वह बड़ी उपलब्धि है।

खाद्य विभाग के सचिव डॉ. कमलप्रीत सिंह ने बताया कि राज्य के शहरी क्षेत्रों के 50 प्रतिशत से अधिक उचित मूल्य की दुकानों में सीसीटीव्ही कैमरा लगाए जा चुके हैं। सभी दुकानों में एक सप्ताह के भीतर सीसीटीव्ही कैमरा लगवाने के निर्देश जिला खाद्य अधिकारियों को दिए गए हैं। राशन दुकानों में सीसीटीव्ही कैमरा लगने के बाद सॉफ्टवेयर के माध्यम से उपभोक्ता मोबाइल पर अपने राशन दुकानों को देख सकेेंगे और राशन दुकान खुली या बंद होने की जानकारी घर बैठे ले सकेंगे। इसके माध्यम से सभी उचित मूल्य की दुकानों में होने वाली गतिविधियों की जानकारी भी मिलेगी और इसकी मॉनिटरिंग भी आसानी से हो सकेगी। बैठक में विशेष सचिव मनोज सोनी, एमडी मार्कफेड सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

View More...

सांसद सरोज के विरुद्ध बिना मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग के आयोजन पर की शिकायत दर्ज

Date : 04-Jul-2020

भिलाई । राज्यसभा सांसद सरोज पांडे द्वारा कोरोना संक्रमण काल के दौरान सार्वजनिक आयोजनों का अनेक सामाजिक कार्यकर्ताओं ने विरोध किया है ! सरोज पांडे के विरुद्ध आरोप लगाया गया है कि उन्होंने कोरोना संक्रमण काल होने के बावजूद गत 22 जून को अपने जन्मदिन, 28 जून को वर्चुअल रैली और 2 जुलाई को रिसाली में गार्डन के भूमिपूजन कार्यक्रमों के माध्यम से भीड़ इकट्ठा कर कानून का उल्लंघन किया है ! जबकि छत्तीसगढ़ में तेजी से फैलते कोरोना संक्रमण के कारण भूमि पूजन या अन्य समारोह पर प्रतिबन्ध है ! ये तस्वीरें सांसद सरोज पाण्डेय ने खुद अपनी फेसबुक वाल पर पोस्ट की है,जिसमें साफ नजर आ रहा है कि, वे बिना मास्क के भीड़ के साथ खड़ी है जहां उनके साथ मौजूद लोगों में किसी ने भी मास्क नहीं लगाया है ।

मॉडल टाउन भिलाई के सामाजिक कार्यकर्ता श्रीनिवास खेड़िया ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री, मुख्य सचिव, राज्यपाल, राज्यसभा के सभापति, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष, राष्ट्रपति और दुर्ग एसपी को पत्र लिखकर राज्यसभा सांसद सरोज पांडे द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने व बिना मास्क के सार्वजनिक आयोजनों की सिलसिलेवार शिकायत दर्ज करवाई है ! अपनी शिकायत की समर्थन में श्रीनिवास खेड़िया ने सांसद सरोज पाण्डेय के अनेक फोटो व अख़बार की कतरने उपलब्ध करवाई है ! जिसमें बिना मास्क व बिना सोशल डिस्टेंसिंग के वे अपने कार्यकर्ताओं के साथ साफ नजर आ रही है !  राष्ट्रबोध के पास उपलब्ध उक्त शिकायत ज्ञापन में खेड़िया ने लिखा है कि, राज्यसभा सांसद द्वारा 22 जून को अपने जन्मदिन पर कोरोना संक्रमण काल के दौरान लागू नियमों का पालन नहीं किया गया ! इसके अलावा 27 और 28 जून को भाजपा की वर्चुअल रैली तथा 1 जुलाई को प्रेस कांफ्रेंस के दौरान सांसद सरोज पांडे ने मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन नहीं किया ! श्रीनिवास खेडिया ने अपनी शिकायत में कहा कि,सरोज पाण्डेय द्वारा 2 जुलाई को भी बिना मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग के समारोह पूर्वक भूमि पूजन का आयोजन कराना नियम विरुद्ध है, इसलिए उन पर विधि अनुसार कार्रवाई होनी चाहिए !

इसी तरह आदर्श नगर,पोटिया, दुर्ग निवासी सामाजिक कार्यकर्ता हेमा साहू ने भी नगरी निकाय के सचिव, कलेक्टर दुर्ग व रिसाली नगर निगम कमिश्नर ज्ञापन देकर रिसाली में रंग-बिरंगी दीवार  और गार्डन बनाने की भूमि पूजन समारोह के विरुद्ध शिकायत दर्ज करवाई है ! राष्ट्रबोध को दी गई उक्त ज्ञापन की प्रति में उन्होंने लिखा है कि एक तरफ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आगामी 2 साल तक सांसद निधि की रकम कोरोना राहत के लिए खर्च करने की घोषणा करते हैं, वही उन्हीं के पार्टी के सांसद अपनी निधि के 1.5 करोड़ से आमोद प्रमोद में साधनों में खर्च करने की तैयारी कर रही है ! जबकि पत्रकार और पर्यावरण प्रेमी सुरेंद्र शर्मा ने प्रस्तावित गार्डन व दीवार बनाने से वहां लगे लगभग 300 वृक्षों को नुकसान पहुंचने की आशंका जताई ! सोशल मीडिया में एक लेख के माध्यम से सुरेन्द्र शर्मा ने भूमि पूजन के लिए भीड़ इकट्ठा होने पर हैरानी जताई है ! 

उल्लेखनीय है कि गत 6 अप्रैल को प्रधानमंत्री मोदी ने कैबिनेट बैठक के बाद यह घोषणा की थी कि आगामी 2 सालों तक सांसद निधि की रकम कोरोना राहत कार्यों के लिए खर्च की जाएगी ! जबकि सांसद सरोज पांडे द्वारा सांसद निधि से 1.5 करोड़ की लागत से दीवार व गार्डन बनवाया जा रहा है ! इस बारे में पड़ताल करने जब राष्ट्रबोध ने रिसाली नगर निगम के कमिश्नर प्रकाश सर्वे से बात कि, तो उन्होंने बताया कि हमारे पास सांसद निधि का पैसा उपलब्ध करा दिया गया है !
हो सकता है कि, रिसाली में रंग बिरंगी दीवार और गार्डन बनवाने के लिए सांसद सरोज पाण्डेय की राज्यसभा सांसद निधि का 1.5 करोड़ पुराने वित्तीय सत्र को हो! लेकिन हैरानी की बात यह है कि, जिस वक्त देश भयानक कोरोना महामारी से जूझ रहा है ऐसे में जहां समाज को अस्पताल व अन्य राहत कार्यों की जरूरत है जिसे लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने भी अपने इरादे साफ कर दिए है, बावजूद इसके सांसद सरोज पाण्डेय द्वारा अपनी राज्यसभा सांसद निधि की रकम आमोद प्रमोद जैसे साधनों में खर्च किए जाने पर जागरूक जनता में हैरानी होना स्वाभाविक है !

प्रबुद्ध वर्ग में इस बात की भी चर्चा है कि, यदि कोई आम आदमी कोरोना संक्रमण काल के दौरान बिना मास्क व बिना शारीरिक दुरी के ऐसे आयोजन करता तो क्या उसके विरुद्ध भारतीय दंड संहिता 1860 के अंतर्गत दण्डनीय अपराध की धारा 188 के अनुसार कर्रवाई नहीं होती ?

View More...

आज राज्य के कई स्थानों में हो सकती है बारिश

Date : 04-Jul-2020

रायपुर। चक्रवाती घेरा और द्राणिका के असर से प्रदेश में देर रात मानसून की रिमझिम बारिश से लोगों को राहत मिली। रायपुर में भी शाम को गरज-चमक के साथ शुरू हुई बारिश रात भर होती रही। प्रदेश के अनेक स्थानों में आज भी हल्की से मध्यम वर्षा होने और गरज-चमक के साथ छीटे पड़ने की संभावना है। प्रदेश में एक-दो स्थानों पर मेघ गर्जन के साथ आकाशीय बिजली गिरने और भारी वर्षा होने की संभावना है।

View More...

भिलाई में दसवीं की छात्रा ने रिजल्ट बिगड़ने पर लगाई फांसी

Date : 04-Jul-2020

भिलाई  छत्तीसगढ़ के एजुकेशन हब कहलाने वाले भिलाई के नजदीक उतई क्षेत्र के एक निजी स्कूल की 10वीं की छात्रा सौम्या (15) ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सीजी बोर्ड के 10वीं में दो विषयों पर सप्लीमेंट्री आने के बाद से सौम्या डिप्रेशन में थी। सुबह जब परिजन उसे तलाशते हुए गए तो घटना का पता चला। फंदा काटकर परिजन जिंदा होने की उम्मीद में उसे अस्पताल भी ले गए। लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस को छात्रा के पिता ने बताया है कि छात्रा रिजल्ट बिगड़ने के बाद से डिप्रेशन में थी। संभवत: इसलिए खुदकुशी की है।

छात्रा ने सुसाइडल नोट में लिखा ये मर्म 
लोग कहते है…कि अगर आप डिप्रेशन में हैं…तो किसी को बताओ,लेकिन सच्चाई यह है कि जब आप अवसाद में रहते है तो कोई आपको सुनने वाला नहीं रहता है। ऐसे में टिक-टॉक आर्टिस्ट जैसे सिया कक्कड़ आत्महत्या कर लेती है। इसलिए कृपया डिप्रेशन का शिकार लोगों से बात करें। (जैसा कि सौम्या ने अपने सुसाइडल नोट में अंग्रेजी में लिखा, जिसका हिंदी अनुवाद)

ऐसे रहस्ययुक्त सुसाइड नोट का अर्थ कुछ संदिग्ध जरुर है लेकिन इससे यह स्पष्ट होता है कि, छात्रा ने बेहद मानसिक तनाव के हालातों में आत्महत्या की !

View More...