Health

Previous123456789...4142Next

दिल की बीमारियों से दूर रखना चाहते हैं तो इन टिप्स को जरूर करें फॉलो

Date : 28-Sep-2021

हेल्थ डेस्क (एजेंसी)। एक समय था जब यह माना जाता था कि दिल की बीमारी सिर्फ बूढ़े लोगों को होती है। लेकिन, समय के साथ यह सोच बदल गई है क्योंकि अब बूढ़े लोगों से कहीं ज्यादा युवा लोग दिल की बीमारी के शिकार हो रहे हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार भारत में करीब 6।2 करोड़ लोग दिल की बीमारी से ग्रसित है जिनकी उम्र 40 साल से कम है।

एक्सपर्ट्स के मुताबिक दिल की बीमारी का सबसे बड़ा कारण है खराब लाइफस्टाइल। खराब लाइफस्टाइल के कारण डायबिटीज, ब्लड प्रेशर, कोलेस्ट्रॉल आदि जैसी बीमारियां भी हो सकती है। अगर आप खुद को दिल की बीमारियों से दूर रखना चाहते हैं तो इन टिप्स को जरूर फॉलो करें-

वजन को रखें कंट्रोल 

ज्यादा वजन बहुत सी बीमारियों का कारण होता है। यह दिल की बीमारी से लेकर डायबिटीज के तक के खतरे को कई गुना बढ़ा देता है। इसलिए वजन कंट्रोल में रखना बहुत जरूरी होता है।

डेली एक्सरसाइज करें

अगर आप खुद को दिल की बीमारियों से सुरक्षित रखना चाहते हैं तो डेली कम से कम आधा घंटा एक्सरसाइज जरूर करें। आप अपने एक्सरसाइज को अपनी क्षमता के हिसाब से घटा या बढ़ा सकते है। डेली एक्सरसाइज करने से दिल की बीमारियों का खतरा कई गुना कम हो जाता है।

फाइबर से भरपूर डाइट लें

कई एक्सपर्ट्स के अनुसार जो लोग अपने डेली डाइट में फाइबर को शामिल करते है उन्हें दिल की बीमारियों का खतरा कई गुना तक कम हो जाता है। आपको बता दें कि ओट्स मील, साबुन अनाज, ब्राउन राइस, बींस में भारी मात्रा में फाइबर पाया जाता है। यह हार्ट अटैक और स्ट्रोक के खतरे को कम करता है।

पर्याप्त नींद लें

स्वस्थ रहने के लिए पर्याप्त नींद लें। पूरी नींद लेने से हाई ब्लड प्रेशर, स्ट्रोक और डायबिटीज के खतरे को कम किया जा सकता है। इसके अलावा स्ट्रेस को भी कम करने में मदद करता है।

भरपूर नींद लें

आपको बता दें कि जो लोग पर्याप्त मात्रा में नींद लेते हैं वह दिल की बीमारियों से कोसों दूर रहते है। पर्याप्त मात्रा में नींद लेने से आपको कोलेस्ट्रॉल और ब्लड प्रेशर लेवल कंट्रोल में रहता है। इसके साथ ही आप धूम्रपान करने से बचें।

नोट- उपरोक्‍त दी गई जानकारी व सुझाव सामान्‍य जानकारी के लिए हैं इन्‍हें किसी प्रोफेशनल डॉक्‍टर की सलाह के रूप में न समझें । कोई भी सवाल या परेंशानी हो तो डॉक्‍टर की सलाह जरूर लें ।

View More...

कोरोना अपडेट : देश में बीते 24 घंटों में मिले कोरोना के 18 हजार 795 नए मामले, वहीं कोरोना ने 179 लोगों की जान

Date : 28-Sep-2021

नई दिल्ली (एजेंसी)। कोरोना महामारी को लेकर मंगलवार को बड़ी राहत की खबर आई है। करीब 201 दिनों के बाद देश में पहली बार कोरोना के नए मामलों की संख्या 20 हजार के नीचे है। इस दौरान कोरोना से होने वाली मौतों की संख्या में भी भारी कमी आई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, बीते 24 घंटों के दौरान कोरोना के 18,795 नए मामले सामने आए हैं और 179 लोगों की मौत हुई है। हालांकि इस दौरान 26,030 लोग स्वस्थ भी  हुए हैं। वहीं भारत में फिलहाल कोरोना के 2,92,206 एक्टिव मरीज हैं जो कि कुल मामलों के सिर्फ 0.87 फीसदी ही रह गए हैं।। यह आंकड़ा भी 192 दिनों बाद सबसे निचले स्तर पर पहुंच गया है। 

सोमवार को आए थे 26,041 नए मामले

बता दें कि सोमवार को बीते 24 घंटे में कोरोना के 26,041 नए मामले दर्ज किए गए थे, जबकि 276 संक्रमितों की मौत हो गई थी। वहीं, 29,621 मरीज इस बीमारी को मात देकर घर लौट गए थे। वहीं रविवार को बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस के 28,326 नए मामले सामने आए थे। जबकि 260 लोगों की मौत हो गई थी। वहीं, 26,032 संक्रमित मरीज ठीक होकर घर लौट गए।  

यहां देखें आज का पूरा आंकड़ा

बीते 24 घंटे में कुल नए केस आए- 18,795  

बीते 24 घंटे में कुल ठीक हुए- 26,030

बीते 24 घंटे में कुल मौतें- 179 

देश में कुल मामले: 3,36,97,581

देश में कुल रिकवरी: 3,29,58,002

देश में सक्रिय मामले: 2,92,206

देश में कुल मौतें: 4,47,373

केरल को भी राहत:

केरल में कोरोना सक्रमण से राहत मिलती दिखाई नहीं दे रही है। इस बीच मंगलवार को राज्य में पिछले 24 घंटे में 11,699 नए मामले दर्ज किए गए जबकि इस खतरनाक बीमारी से 58 लोगों की जान गई। बता दें कि कोरोना संक्रमण के मामले में केरल सबसे अधिक प्रभावित राज्यों में से एक रहा है। देश भर से दर्ज हो रहे कुल मामलों का लगभग 60 फीसदी हिस्सा केरल से सामने आ रहा है। 

देश में वैक्सीनेशन का आंकड़ा 87 करोड़ के पार:

भारत में कोरोना के खिलाफ वैक्सीनेशन अभियान लगातार जारी है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार अब तक देश में कुल वैक्सीनेशन का आंकड़ा 87,07,08,636 के पार हो गया है। वहीं बीते 24 घंटे में वैक्सीन की 1,02,22,525 डोज लगाई गईं।

View More...

कोरोना बुलेटिन : देश में बीते 24 घंटे में मिले 26 हजार से अधिक नए कोरोना पॉजिटिव मरीज, वहीं कोरोना से 276 संक्रमितों की हुई मौत

Date : 27-Sep-2021

नई दिल्ली (एजेंसी)। कोरोना मामलों को लेकर रविवार का दिन राहत देने वाला रहा। बीते 24 घंटे में कोरोना के 26,041  नए मामले दर्ज किए गए, जबकि 276 संक्रमितों की मौत हो गई। वहीं, 29,621 मरीज इस बीमारी को मात देकर घर लौट गए। कोरोना केस में आ रही गिरावट से हालात सामान्य हो रहे हैं। सूत्रों की मानें तो टीकाकरण अभियान तेज होने की वजह से कोरोना के नए मामलों में गिरावट दर्ज की जा रही है। 

स्वास्थ्य मंत्रालय  के आंकड़ों के मुताबिक, देश में कोरोना के 2 लाख 99 हजार 620 एक्टिव केस हैं, जबकि 3 करोड़ 29 लाख 31 हजार 972 लोग ठीक हो चुके हैं। वहीं, 3 करोड़ 36 लाख 78 हजार 786 कुल मामले सामने आए हैं। भारत में अब तक कोरोना से 4 लाख 47 हजार 194 लोगों की मौत हो चुकी है। 

देश में कोरोना महामारी आंकड़ों में:

बीते 24 घंटे में कुल नए केस आए-26,041 हजार

बीते 24 घंटे में कुल ठीक हुए- 29,621 हजार

बीते 24 घंटे में कुल मौतें-276

बीते 24 घंटे में कुल टीका- 38.18 लाख

देश में अभी सक्रिय मरीजों की संख्या-  2.99 लाख

अब तक कुल ठीक हुए लोग- 3.29 करोड़

अब तक कुल हुए संक्रमित- 3.36 करोड़

अब तक कुल मौतें- 4.47 लाख

अब तक कुल कोरोना टीका- 86.01 करोड़

View More...

कोरोना अपडेट : देश में बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस के मिले 26 हजार 964 नए मामले, जबकि 383 लोगों की हुई मौत

Date : 22-Sep-2021

नई दिल्ली (एजेंसी)। भारत में कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के बीच बुधवार को बड़ी राहत की खबर आई है। दरअसल, 186 दिनों बाद आज देश में सक्रिय मरीजों की संख्या सबसे कम आई है। वहीं स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस के 26,964 नए मामले सामने आए हैं, जबकि 383 लोगों की मौत हो गई। वहीं, 34,167 संक्रमित मरीज ठीक होकर घर लौट गए हैं। जबकि सक्रिय मरीजों की संख्या कम होकर आज 3,01,989 पहुंच गई जो कि 186 दिनों में सबसे कम है। देश में कुल मृतकों की संख्या की बात करें तो यह 4,45,768 हो गई है और अब तक कुल स्वस्थ मरीजों की संख्या  3,27,83,741 हो गई है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार मंगलवार को देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 26,115 नए मामले सामने आए थे जबकि 252 लोगों की मौत हो गई थी। वहीं, 34,469 संक्रमित मरीज ठीक होकर घर लौट गए थे। वहीं सोमवार की बात करें तो पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 30,256 नए मामले सामने आए थे जबकि 295 लोगों की मौत हो गई थी। वहीं, 43,938 संक्रमित मरीज ठीक होकर घर लौट गए थे। जबकि कल एक्टिव मरीजों की संख्या 3,18,181 थी। 

00 स्वस्थ होने की दर 97.77 फीसदी

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि सक्रिय मामले कुल संक्रमितों की संख्या का 0.90 फीसदी है, जो कि मार्च 2020 के बाद सबसे कम है। आंकड़े के मुताबिक बीते 24 घंटे की अवधि में सक्रिय मरीजों की संख्या में 7,586 की कमी दर्ज की गई है। जबकि मरीजों के स्वस्थ होने की दर 97.77 फीसदी दर्ज की गई है, जो मार्च 2020 के बाद से सबसे अधिक है।

00 देश में वैक्सीनेशन का आंकड़ा 82 करोड़ के पार

भारत में कोरोना के खिलाफ वैक्सीनेशन अभियान लगातार जारी है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में कुल वैक्सीनेशन का आंकड़ा 82,65,15,754 हो गया है। 

00 केरल में 15 हजार से अधिक कोरोना के मामले आए 

केरल में कोरोना सक्रमण से राहत मिलती दिखाई नहीं दे रही है। इस बीच मंगलवार को राज्य में पिछले 24 घंटे में 15,768 नए मामले दर्ज किए गए जबकि इस खतरनाक बीमारी से 214 लोगों की जान गई। जिससे संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 45 लाख 39 हजार 953 और मृतकों की संख्या बढ़कर 23,897 हो गई। बता दें कि कोरोना संक्रमण के मामले में केरल सबसे अधिक प्रभावित राज्यों में से एक रहा है। देश भर से दर्ज हो रहे कुल मामलों का लगभग 60 फीसदी हिस्सा केरल से सामने आ रहा है।

View More...

स्वस्थ्य शरीर के लिए प्रोटीन होता है फायदेमंद, अच्छी बॉडी के लिए रखें इन बातों का खास ध्यान

Date : 21-Sep-2021

हेल्थ न्युज (एजेंसी)। प्रोटीन का हमारे जीवन में खासा महत्व होता है. क्योंकि शरीर की ग्रोथ और अच्छी हेल्थ के लिए प्रोटीन (protein)  की बहुत आवश्यक्ता होती है. अगर बात करें वयस्कों के लिए प्रोटीन (protein)  की तो इनके लिए हर दिन इसकी जरूरी मात्रा शरीर के वजन के हिसाब से 0.8 ग्राम, बच्चों के लिए 1.5 ग्राम और युवाओं के लिए 1.0 ग्राम जरूरी होता है.

एनिमल प्रोटीन में मीट, फिश, अंडे, चिकन और डेयरी प्रोडक्ट आते हैं जबकि प्लांट फूड प्रोटीन में बीन्स, नट, और अनाज आते हैं. न्यूट्रिशनल सप्लीमेंट इंडस्ट्री हाई प्रोटीन डाइट्स लेने पर जोर देती है. कई एथलीट भी मांसपेशियों की मजबूती के लिए हाई प्रोटीन लेते हैं. हालांकि कुछ वैज्ञानिकों का दावा है कि हाई प्रोटीन डाइट लेने के नुकसान भी हैं.

फूड से लिए जाने वाले प्रोटीन में अमीनो एसिड होना जरूरी है क्योंकि हमारा शरीर इसे अपने आप नहीं बना पाता है. बचपन, किशोरावस्था, प्रेग्नेंसी, ब्रेस्टफीडिंग और बुढ़ापे के दौरान पर्याप्त प्रोटीन की आवश्यकता होती है. वयस्क होने के बाद, हर दिन प्रोटीन की जरूरी मात्रा बनाए रखना जरूरी होता है. इसका मतलब ये है कि उम्र बढ़ने के साथ कुपोषण से बचने के लिए पर्याप्त प्रोटीन का सेवन जरूरी है. खासतौर से मांसपेशियों की ताकत को बनाए रखने के लिए प्रोटीन जरूरी है. प्रोटीन डाइट को वेट लॉस और मेटाबॉलिज्म बढ़ाने में भी कारगर माना जाता है.

हर दिन प्रोटीन की कितनी मात्रा लेनी चाहिए, इस पर बहुत कुछ स्पष्ट नहीं है. हालांकि, पुरुषों के लिए प्रति दिन 56 ग्राम और महिलाओं के लिए 46 ग्राम प्रोटीन लेना जरूरी माना जाता है. आप कम वसा वाले ग्रीक योगर्ट, चिकन ब्रेस्ट और एक कटोरी स्किम मिल्क अनाज से 46 ग्राम प्रोटीन प्राप्त कर सकते हैं. वजन के हिसाब से देखा जाए तो 63 किलोग्राम व्यक्ति को हर दिन 51 ग्राम प्रोटीन की आवश्यकता होती है. एक सक्रिय व्यक्ति के लिए 10 प्रतिशत कैलोरी प्रोटीन से आनी चाहिए. रेड मीट की बजाय फिश, योगर्ट और बीन्स से प्रोटीन की मात्रा बढ़ाने की कोशिश करें.

प्रोटीन मांसपेशियों, अंगों और हड्डियों के विकास और मजबूती के लिए जरूरी है. हालांकि, अधिक मात्रा में प्रोटीन शरीर में फैट के रूप में जमा हो जाता है. इससे मोटापा बढ़ने लगता है. एक्सपर्ट्स के अनुसार, कम कार्बोहाइड्रेट के साथ हाई प्रोटीन डाइट लेने से शरीर में फाइबर की कमी हो जाती है और इसकी वजह से कब्ज हो जाता है. मीट, फिश या फिर चिकन के जरिए बहुत ज्यादा प्रोटीन लेने से डायरिया हो सकता है. लिक्विड के रूप में बहुत ज्यादा प्रोटीन लेने से बार-बार बाथरूम जाना पड़ता है जिससे डिहाइड्रेशन और बार-बार प्यास महसूस हो सकती है. बहुत ज्यादा प्रोटीन किडनी और दिल को भी नुकसान पहुंचाती है. इसलिए प्रोटीन का चुनाव अपने शरीर के हिसाब से ही करना चाहिए।

 

View More...

कोरोना अपडेट : देश में पिछले 24 घंटों में मिले 30 हजार 773 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज, वहीं कोरोना से 309 लोगों की हुई मौत

Date : 19-Sep-2021

नई दिल्ली (एजेंसी)। देश में कोरोना की दूसरी लहर कम होने के बाद फिर से नए मामले बढ़ने लगे हैं। बीते चार दिन से लगातार कोरोना मरीजों की संख्या 30 हजार के पार है। कोरोना के नए मामलों में हुई बढ़ोत्तरी तीसरी लहर का संकेत है। देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 30,773 नए मामले सामने आए हैं, जबकि 309 लोगों की मौत हो गई। वहीं, 38,945 संक्रमित मरीज ठीक होकर घर लौट गए हैं।

देश के अलग-अलग हिस्सों में कोरोना के मामले धीरे-धीरे बढ़ने लगे हैं। करीब एक दर्जन राज्यों में कोरोना के दैनिक मामले एक हजार से ऊपर आ रहे हैं। इससे तीसरी लहर की आशंका बढ़ गई है। विशेषज्ञों ने भी सितंबर के तीसरे हफ्ते में तीसरी लहर की आशंका जताई थी। ऐसे में देश धीरे-धीरे तीसरी लहर की चपेट में आ रहा है। केरल, तमिलनाडु, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश. महाराष्ट्र, मिजोरम समेत कई राज्यों में कोरोना की रफ्तार बढ़ती जा रही है। केरल तो अब भी कोरोना का हॉटस्पॉट बना हुआ है। राज्य में रोजाना 20 हजार से ज्यादा नए संक्रमित मरीज निकल रहे हैं। 

00 देश में कोरोना महामारी आंकड़ों में

बीते 24 घंटे में कुल नए केस आए-30,773 हजार

बीते 24 घंटे में कुल ठीक हुए- 38,945 हजार

बीते 24 घंटे में कुल मौतें-309 सौ

बीते 24 घंटे में कुल टीका- 85.42 लाख

देश में अभी सक्रिय मरीजों की संख्या-  3.32 लाख

अब तक कुल संक्रमित हुए लोग- 3.34 करोड़

अब तक कुल ठीक हुए लोग- 3.26 करोड़

अब तक कुल मौतें- 4,44 लाख

अब तक कुल कोरोना टीका- 80.43 करोड़ 

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के मुताबिक, 18 सितंबर तक कुल 55,23,40,168 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं। वहीं, शनिवार (18 सितंबर) को 15 लाख 59 हजार से ज्यादा लोगों के सैंपल लिए गए। 

View More...

डायबिटीज के मरीज इन लक्षणों को भूलकर भी न करें अनदेखा, सेहत के लिए हो सकता है नुकसान

Date : 19-Sep-2021

हेल्थ न्युज (एजेंसी)। डायबिटीज एक आम बीमारी है लेकिन इसे कंट्रोल में रखना आसान काम नहीं होता है। डायबिटीज के मरीजों को खानपान से लेकर पूरी लाइफस्टाल पर बहुत ध्यान देना होता है। ब्लड शुगर बढ़ जाने पर मरीजों को कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। ब्लड शुगर बढ़ने या घटने पर कुछ खास तरह के लक्षण महसूस होते हैं जिन्हें नजरअंदाज करना भारी पड़ सकता है।

ब्लड शुगर घटने-बढ़ने के संकेत-

ब्लड शुगर जब बढ़ जाता है तो नींद ठीक से नहीं आती है, बहुत प्यास लगती है, धुंधला दिखाई देता है और बार-बार पेशाब लगती है। वहीं ब्लड शुगर कम हो जाने पर कांपना, भूख लगना, पसीना आना, बेचैनी और चिड़चिड़ापन महसूस होता है। लक्षणों पर ध्यान देने के अलावा टाइप 2 डायबिटीज के मरीजों को इन 5 बातों को अनदेखा नहीं करना चाहिए।

पैर पर लगा कट या घाव-

अगर आपके पैर पर हुआ घाव नहीं भर रहा है तो आपको इसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। ये न्यूरोपैथी का संकेत हो सकता है। न्यूरोपैथी होने पर तंत्रिका तंत्र को नुकसान पहुंचता है। इस दौरान ऐसा महसूस होता है जैसे कि कोई तलवे में सुई चुभो रहा हो। लंबे समय तक ब्लड शुगर बढ़ा रहने की वजह से ऐसा होता है। आमतौर पर ये तलवों से शुरू होता है लेकिन हाथ और पैरों को भी प्रभावित कर सकता है। न्यूरोपैथी के वजह से हाथ-पैर सुन्न हो जाते हैं जिसका मतलब है कि घाव का दर्द ना महसूस होने पर ये शरीर में इंफेक्शन फैला सकता है। इसलिए इसे कभी भी नजरअंदाज ना करें।


आंखों के नीचे काले धब्बे-

डायबिटीज का आंखों पर गहरा असर पड़ता है। डायबिटिक रेटिनोपैथी, एक ऐसी स्थिति जिसमें ब्लड ग्लूकोज का स्तर बढ़ने पर रेटिना की रक्त वाहिकाएं क्षतिग्रस्त हो जाती हैं। इसकी वजह से आंखों की रोशनी जाने का भी खतरा रहता है। डायबिटिक रेटिनोपैथी के शुरुआती चरण में कोई स्पष्ट लक्षण नहीं होते हैं। जैसे-जैसे ये बढ़ता है, आंखों के नीचे काले धब्बे बढ़ने लगते हैं। इसलिए समय-समय पर अपने आंखों की जांच कराते रहें।

कमजोरी या शरीर का एक हिस्सा सुन्न हो जाना-

बिना डायबिटीज वालों की तुलना में डायबिटीज के मरीजों में स्ट्रोक (stroke) होने की संभावना 1।5 गुना अधिक होती है। स्ट्रोक तब होता है जब मस्तिष्क तक खून पहुंचने में कठिनाई होती है। इसके अलावा दोहरी दृष्टि, चलने-फिरने में दिक्कत, बोलने में कठिनाई, तेज सिर दर्द (Headache) और तेज चक्कर आना भी स्ट्रोक के लक्षण हैं। इससे बचने के लिए फिजिकल एक्टिविटी पर ध्यान दें और खानपान सही रखें।

ठीक से सुनाई ना देना-

अगर आपका ब्लड शुगर  लगातार बढ़ा हुआ या कम रहता है तो इसका असर शरीर के कई अंगों पर पड़ता है जिसमें कान भी शामिल है। रक्त वाहिकाओं को नुकसान पहुंचने के कारण कान से कम सुनाई देने लगता है। एक स्टडी के मुताबिक, जिन लोगों का ब्लड शुगर कंट्रोल में रहता है उनकी तुलना प्रिडायबिटिक लोगों में कान कमजोर होने की संभावना 30 फीसदी तक ज्यादा होती है।

पसंदीदा एक्टिविटी से दिलचस्पी खत्म हो जाना-

आपको ये जानकर आश्चर्य होगा कि डायबिटीज और डिप्रेशन के बीच गहरा संबंध है। डिप्रेशन की वजह से उदासी रहती है और दिन भर की एक्टिविटी से दिलचस्पी खत्म होने लगती है। यहां तक कि आपको अपना पसंदीदा काम करने का भी मन नहीं करता है।

View More...

कोरोना अपडेट : देश में बीते 24 घंटे में मिले 35 हजार नए कोरोना संक्रमित मरीज, वहीं 281 लोगों की कोरोना से मौत

Date : 18-Sep-2021

नई दिल्ली (एजेंसी)। भारत में कोरोना संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी जारी है। बीते 24 घंटे में कोरोना के 35 हजार नए मामले सामने आए हैं।  वहीं, 33 हजार 798 मरीजों को अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई है। कल 281 लोगों की कोरोना से मौत हुई। इन मामलों में केरल के 23 हजार 260 मामले और 131 मौतें शामिल हैं। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार रिकवरी रेट 97.65% है। वहीं कुल मामलों का 1.02% केस सक्रिय हैं।

पिछले चार दिनों से पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है और स्वस्थ होने वालों का आंकड़ा कम हो रहा है। वहीं 17 सितंबर को कोरोना के 34 हजार नए मामले सामने आए थे, यानी एक दिन में कोरोना के एक हजार नए मामले सामने आ गए हैं। कोरोना के रिकवरी रेट 97.65 फीसदी तक पहुंच गया है। कोरोना के बढ़े मामलों में केरल का बड़ा योगदान है। केरल में कोरोना के दैनिक मामले 20 हजार के पार आ रहे हैं। डेल्टा वैरिएंट की वजह से संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है। केरल के त्रिशूर जिले में सबसे 4 हजार 13 नए मामले सामने आए हैं। इसके बाद एर्णाकुलम में 3 हजार 143 जबकि कोझिकोड में कोरोना वायरस के 2 हजार 95 नए मरीज मिले। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि राज्य में कोरोना के उपचाराधीन मरीजों की संख्या 1 लाख 88 हजार 926 है और इनमें से 12.8 प्रतिशत लोग ही अस्पताल में भर्ती हैं।

आईसीएमआर के मुताबिक, 17 सितंबर तक 55,07,80,273 कोरोना सैंपल टेस्ट किए गए हैं। वहीं, शुक्रवार को 2.5 करोड़ लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई गई है। जो एक दिन में लगाए गए सर्वाधिक टीकाकरण का रिकॉर्ड है। देश में अभी तक 24 घंटे के भीतर इतनी बड़ी संख्या में लोगों को टीका नहीं लगाया गया था। दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर भाजपा ने 1 करोड़ से ज्यादा टीकाकरण करने का लक्ष्य रखा था, लेकिन भाजपा ने लक्ष्य पूरा करते हुए यह आंकड़ा ढाई करोड़ तक पहुंचा दिया। हालांकि, कांग्रेस ने इस पर सवाल खड़े किए हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने कहा कि भाजपा शासित राज्यों में सिर्फ टीकाकरण अभियान को बढ़ाया गया। 

00 देश में कोरोना महामारी आंकड़ों में

बीते 24 घंटे में कुल नए केस आए-35,662

बीते 24 घंटे में कुल ठीक हुए- 33,798

बीते 24 घंटे में कुल टीका- 2.5 करोड़

देश में अभी सक्रिय मरीजों की संख्या-  3.40 लाख

अब तक कुल संक्रमित हुए लोग- 3.33 करोड़

अब तक कुल ठीक हुए लोग- 3.26 करोड़

अब तक कुल मौतें- 4,42 लाख

अब तक कुल टीकाकरण- 80 करोड़

View More...

कोरोना अपडेट : देश में पिछले 24 घंटों में मिले 37 हजार 950 नए कोरोना मरीज, वहीं कोरोना से 320 लोगों की हुई मौत

Date : 17-Sep-2021

नई दिल्ली (एजेंसी)। भारत में कोरोना संक्रमण के मामलों में उतार-चढ़ाव जारी है।  बीते 24 घंटों में देशभर में 34,403 कोरोना मामले देखने को मिले हैं। हालांकि इस दौरान कुल 37,950 लोग पूरी तरह से ठीक भी हुए हैं। इस समय देश में कोरोना के 3,39,056 मामले सक्रिय हैं। कोरोना के बढ़ते मामलों ने तीसरी लहर आने का संकेत देना शुरू कर दिया है। विशेषज्ञों की मानें तो सितंबर के आखिरी में तीसरी लहर दस्तक दे सकती है। अक्तूबर में तीसरी लहर पीक पर रहने की संभावना है। 

केरल में कोरोना के मामले जिस तेजी से घटने चाहिए उस रूप में नहीं घट रहा । यहां कोरोना का दैनिक आंकड़ा 20 हजार के ऊपर बना हुआ है। दक्षिण के राज्यों से कोरोना के सबसे अधिक नए मामले सामने आ रहे हैं।  तामिलनाडु और आंध्र प्रदेश में भी पिछले कई दिनों से 1 हजार से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। हालांकि, इन सबके बीच रिकवरी रेट  बढ़ने से कोविड के एक्टिव मामले घटे हैं। देश में कोरोना का रिकवरी रेस 97.65% पर है। वहीं कुल मामलों का 1.02% केस सक्रिय हैं।

केरल में गुरूवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 22,182 नए मामले सामने आए थे, जबकि 178 मरीजों की मौत हो गई थी। इसके साथ ही यहां कुल मामले बढ़कर 44,46,228 हो गए और मृतकों की संख्या 23,165 पर पहुंच गई।

00 देश में कोरोना महामारी आंकड़ों में

बीते 24 घंटे में कुल नए केस आए-34,403

बीते 24 घंटे में कुल ठीक हुए- 37,950

देश में अभी सक्रिय मरीजों की संख्या-  3.39 लाख

अब तक कुल संक्रमित हुए लोग- 3.33 करोड़

अब तक कुल ठीक हुए लोग- 3.25 करोड़

अब तक कुल मौतें- 4,42 लाख

अब तक कुल कोरोना टीका- 77.24 करोड़

View More...

कोरोना अपडेट : देश में बीते 24 घंटे में कोरोना के मिले 30 हजार 570 नए कोरोना मरीज, वहीं कोरोना से 431 लोगों की मौत

Date : 16-Sep-2021

नई दिल्ली (एजेंसी)। देश में चार दिनों की राहत के बाद गुरुवार को एक बार फिर से कोरोना के नए मामले 30 हजार से अधिक आए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार बीते 24 घंटे में कोरोना के 30,570 नए मामले सामने आए हैं और 431 लोगों की मौत हो गई। इस दौरान  38,303 लोग स्वस्थ होकर घर लौट गए। वहीं देश में एक्टिव मरीजों की संख्या 3,42,923 है। देश में कुल मृतकों की संख्या की बात करें तो यह 4,43,928 हो गई है और अब तक कुल स्वस्थ मरीजों की संख्या 3,25,60,474 हो गई है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार बुधवार को बीते 24 घंटे में कोरोना के 27,176 नए मामले दर्ज किए गए थे जबकि 284 संक्रमितों की मौत हो गई थी। वहीं, 38,012 मरीज इस बीमारी को मात देकर घर लौट गए थे। हालांकि पिछले महीने के मुकाबले कोरोना केस में गिरावट आ रही है, जो कि लोगों के लिए एक राहत की खबर है। लेकिन केरल में कोरोना का आंकड़ा अब भी चिंता का सबब बना हुआ है।

00 केरल में भी बढ़े मामले

केरल में  पिछले 24 घंटे में कोरोना के 17,681 नए मामले सामने आए हैं और 208 लोगों की मृत्यु दर्ज की गई।  वही राज्य में बुधवार को बीते 24 घंटे में कोरोना के 15,876 नए मामले सामने आए थे और 129 लोगों की मौत हुई थी।

देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस वैक्सीन की 64,51,423 डोज लगाई गईं, जिसके बाद कुल वैक्सीनेशन का आंकड़ा 76,57,17,137 हो गया है।

View More...
Previous123456789...4142Next