Astrology

Previous123456789...9798Next

जानें क्या कहतीं है आपकी ग्रहदशाएं, क्या करें की दिन होगा शुभ, जानिएं आज का राशिफल 18 जनवरी 2022

Date : 18-Jan-2022

मेष : मेष राशि वालों के लिए आज का दिन सुख शांति और प्रगतिदायक रहेगा। सुख के साधनों पर आपका धन खर्च हो सकता है। कार्यक्षेत्र में सहकर्मियों से सहयोग पाएंगे। आर्थिक पक्ष अनुकूल रहेगा। कारोबार में दिन लाभप्रद होगा। माता की सेहत का ध्यान रखना होगा।

वृषभ : आज का दिन वृष राशि वालों के लिए हलचल भरा हो सकता है। काम में फोकस की कमी रह सकती है, वजह मन में कई तरह के उठने वाले सवाल होगें। जो लोग परिवार से दूर हैं वह किसी माध्यम से भाई-बहनों से जुड़ सकते हैं। छोटी दूरी की यात्रा हो सकती है। फैशन, वस्त्र, श्रृंगार के क्षेत्र से जुड़े लोगों के लिए दिन कुछ बेहतर होगा।

मिथुन : मिथुन राशि के लोगों के लिए आज का दिन आर्थिक मामलों में अनुकूल रहेगा। मन को संयमित रखकर खर्च को नियंत्रित कर सकते हैं। कारोबार और कार्यक्षेत्र में अपनी वाणी और व्यवहार से आप सफलता हासिल करेंगे। सगे-संबंधियों से सहयोग और स्नेह बना रहेगा। आज निवेश में धन संचित करने में सफल होंगे।

कर्क : आपकी मानसिकता में अच्छे बदलाव आज देखने को मिल सकते हैं। चंद्रमा आपके प्रथम भाव में होंगे इसलिए जीवन के हर मुद्दे का आप शांति और शालीनता के साथ हल ढूंढ सकते हैं। आज के दिन वैवाहिक जीवन में भी अच्छे परिवर्तन देखने को मिल सकते हैं। बेवजह की चिंताओं से इस राशि के लोगों को मुक्ति मिल सकती है।

सिंह : बेवजह के खर्चे बढ़ सकते हैं, इसलिए सोच-समझकर धन खर्च करें। आज के दिन उधार के लेन-देन से भी इस राशि के जातकों को बचना चाहिए। परिवार में किसी व्यक्ति की तबीयत खराब है तो उनका विशेष ध्यान दें। गुरुजनों के सहयोग से शिक्षा क्षेत्र में आ रही परेशानियां दूर हो सकती हैं। आध्यात्मिक विषयों में रुचि बढ़ेगी।

कन्या : कन्या राशि के जातकों के लिए आज का दिन लाभदायक साबित हो सकता है। बीते समय में बनाई गई योजनाओं से इस राशि के कारोबारी लाभ कमा सकते हैं। जो लोग अपना बिजनस शुरू करना चाहते थे उनको भी सफलता मिल सकती है। विदेशी कारोबार से भी इस राशि के कुछ जातकों को मुनाफा हो सकता है। सेहत को लेकर थोड़ा सतर्क रहें।

तुला : चंद्रमा आज आपके दशम भाव में होंगे इसलिए करियर क्षेत्र में आ रही परेशानियां दूर हो सकती हैं। इस राशि के जो लोग नयी जॉब की तलाश में थे आज के दिन अच्छा ऑफर उनको मिलने की संभावना है। पारिवारिक जीवन में पिता के साथ आपके संबंधों में सुधार देखा जा सकता है। शाम के वक्त जीवनसाथी के साथ मिलकर आर्थिक मुद्दों पर बात कर सकते हैं।

वृश्चिक : धर्म-कर्म के कार्यों में इस राशि के लोगों की रुचि बढ़ेगी। पिता के जरिये इस राशि के कुछ लोगों को लाभ मिल सकता है। उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे इस राशि के लोग अपने परिवार के लोगों से आर्थिक सहायता आज के दिन पा सकते हैं। किसी अनजान व्यक्ति की मदद से जीवन की किसी बड़ी परेशानी का हल आज आप सकते हैं। शिक्षार्थियों के लिए दिन सुखद साबित होगा।

धनु : आज के दिन हर सतर्कता और ईमानदारी के साथ हर कार्य को करें। कोई भी बड़ा फैसला लेने से पहले अनुभवी लोगों की सलाह अवश्य लें। सामाजिक स्तर पर मिलेजुले परिणाम आपको प्राप्त होंगे। आज के दिन अपने इलेक्ट्रोनिक चीजों को संभालकर रखें टूट-फूट की संभावना है। कुछ लोगों को अचानक से धन लाभ मिल सकता है।

मकर : आपके सप्तम भाव में चंद्रमा आज विराजमान होना वैवाहिक जीवन में कई सकारात्मक बदलाव लेकर आ सकता है। जिन लोगों की शादी हाल ही में हुई है वो जीवनसाथी के साथ किसी हिल स्टेशन पर घूमने निकल सकते हैं। मीडिया और राजनीति के क्षेत्र में काम करने वाले लोग अपनी वाणी के कामयाबी हासिल कर सकते हैं।

कुंभ : आज उन लोगों से थोड़ी दूरी बनाकर चलें जो नकारात्मक बातें करते हैं। स्वास्थ्य को लेकर थोड़ा सावधान रहें, बाहर का तला-भुना भोजन न खाएं। कुछ जातकों को अपने मामा के पक्ष के लोगों से आज धन लाभ मिल सकता है। छोटे भाई-बहनों के जरिये लाभ की स्थिति बनने की संभावना है। किसी अनजान व्यक्ति से दोस्ती हो सकती है।

मीन : आपके लिए दिन सुखद रहने की संभावना है। विद्यार्थियों को शिक्षा जीवन में कोई उपलब्धि मिल सकती है। प्रेम में पड़े मीन राशि के जातक अपने लवमेट को शादी के लिए प्रपोज कर सकते हैं। संतान पक्ष को लेकर कोई चिंता थी तो वह भी आज के दिन दूर हो सकती है। रोजगार की तलाश में हैं तो आज कोई अवसर आपको प्राप्त हो सकता है।

View More...

आज का हिन्दू पंचांग

Date : 18-Jan-2022

हिन्दू पंचांग  
 दिनांक - 18 जनवरी 2022
 दिन - मंगलवार
 विक्रम संवत - 2078
 शक संवत -1943
 अयन - उत्तरायण
 ऋतु - शिशिर 
 मास -  माघ (गुजरात एवं महाराष्ट्र के अनुसार - पौष)
 पक्ष -  कृष्ण 
 तिथि - प्रतिपदा 19 जनवरी   सुबह 06:53 तक तत्पश्चात द्वितीया
 नक्षत्र - पुष्य 19 जनवरी सुबह 06:43 तक तत्पश्चात अश्लेशा
 योग - विषकंभ  शाम 04:09 तक तत्पश्चात प्रीति
  राहुकाल - शाम 03:34 से शाम  04:57 तक
 सूर्योदय - 07:19
 सूर्यास्त - 18:18
 दिशाशूल - उत्तर  दिशा में

 व्रत पर्व विवरण -
 विशेष - प्रतिपदा को कूष्माण्ड(कुम्हड़ा, पेठा) न खाये, क्योंकि यह धन का नाश करने वाला है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)

 गुरुमूर्ति पूजा में कैसी हो 
 पूजा में गुरु की चरण सहित की  तस्वीर हो..... पूरी, वो पूजा में रखनी चाहिये |

 सर्वफलप्रदायक माघ मास व्रत
 17 जनवरी से लेकर 16 फरवरी तक (गुजरात एवं महाराष्ट्र अनुसार माघ मास दिनांक 02 फरवरी से) माघ महिना रहेगा |
 पुण्यदायी स्नान सुधारे स्वभाव
माघ मास में प्रात:स्नान (ब्राम्हमुहूर्त में स्नान) सब कुछ देता है | आयुष्य लम्बा करता है, अकाल मृत्यु से रक्षा करता है, आरोग्य, रूप, बल, सौभाग्य व सदाचरण देता है | जो बच्चे सदाचरण के मार्ग से हट गये हैं उनको भी पुचकारके, इनाम देकर भी प्रात:स्नान कराओ तो उन्हें समझाने से, मारने-पीटने से या और कुछ करने से वे उतना नहीं सुधर सकते हैं, घर से निकाल देने से भी इतना नहीं सुधरेंगे जितना माघ मास में सुबह का स्नान करने से वे सुधरेंगे |
 तो माघ स्नान से सदाचार, संतानवृद्धि, सत्संग, सत्य आचरण उदारभाव आदि का प्राकट्य होता है | व्यक्ति की सुंदरता माने समझ उत्तम गुणों से सम्पन्न हो जाती है | उसकी दरिद्रता और पाप दूर हो जाते हैं | दुर्भाग्य का कीचड़ सूख जाता है | माघ मास में सत्संग-प्रात:स्नान जिसने किया, उसके लिए नरक का डर सदा के लिए खत्म हो जाता है | मरने के बाद वह नरक में नहीं जायेगा | माघ मास के प्रात:स्नान से वृत्तियाँ निर्मल होती हैं, विचार ऊँचे होते हैं | समस्त पापों से मुक्ति होती है | ईश्वरप्राप्ति नहीं करनी हो तब भी माघ मास का सत्संग और पुण्यस्नान स्वर्गलोक तो सहज में ही तुम्हारा पक्का करा देता है | माघ मास का पुण्यस्नान यत्नपूर्वक करना चाहिए |
 यत्नपूर्वक माघ मास के प्रात:स्नान से विद्या निर्मल होती है | मलिन विद्या क्या है ? पढ़-लिखके दूसरों को ठगो, दारु पियो, क्लबों में जाओ, बॉयफ्रेंड – गर्लफ्रेंड करो – यह मलिन विद्या है | लेकिन निर्मल विद्या होगी तो इस पापाचरण में रूचि नहीं होगी | माघ के प्रात:स्नान से निर्मल विद्या व कीर्ति मिलती है | ‘अक्षय धन’ की प्राप्ति होती है | रूपये – पैसे तो छोड़के मरना पड़ता है | दूसरा होता है ‘अक्षय धन’, जो धन कभी नष्ट न हो उसकी भी प्राप्ति होती है | समस्त पापों से मुक्ति और इन्द्रलोक अर्थात स्वर्गलोक की प्राप्ति सहज में हो जाती है |
 ‘पद्म पुराण’ में भगवान राम के गुरुदेव वसिष्ठजी कहते हैं कि ‘वैशाख में जलदान. अन्नदान उत्तम माना जाता है और कार्तिक में तपस्या, पूजा लेकिन माघ में जप, होम और दान उत्तम माना गया है |’

View More...

जानें क्या कहतीं है आपकी ग्रहदशाएं, क्या करें की दिन होगा शुभ, जानिएं आज का राशिफल 12 जनवरी 2022

Date : 12-Jan-2022

मेष : आज के दिन मेष राशि के जातकों की धर्म-कर्म के कार्यों में रुचि बढ़ेगी। पारिवारिक जीवन में माता-पिता का सहयोग आपको प्राप्त होगा। आज शतरंज जैसे दिमागी खेल आप खेल सकते हैं। सामाजिक स्तर पर अपनी बातों से लोगों का दिल जीत सकते हैं। हालांकि दिन ढलने के बाद इस राशि के लोगों को धन हानि हो सकती है इसलिए धन से जुड़े मामलों को लेकर सावधान रहें।

वृषभ : आज के दिन विद्यार्थियों को शिक्षा के क्षेत्र में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है, हालांकि सहपाठियों का सहयोग आपको प्राप्त होगा। खर्चों में वृद्धि हो सकती है इसलिए सोच-समझकर धन खर्च करें। चंद्रमा आज आपके एकादश भाव में विराजमान होंगे इसलिए आध्यात्मिक विषयों में भी आपकी रुचि जाग सकती है। विदेशी व्यापार से लाभ होगा।

मिथुन : आज आप आत्मविश्वास से भरे रहेंगे जिससे कार्यक्षेत्र में हर कार्य को तेजी के साथ आप पूरा कर सकते हैं। निवेश किया था तो आज के दिन धन लाभ हो सकता है। इस राशि के कारोबारियों को आज काफी मेहनत मशक्कत करते देखा जा सकता है। पारिवारिक जीवन में संतुलन होगा भाई-बहनों का सहयोग आपको प्राप्त हो सकता है। संचित धन में वृद्धि हो सकती है।

कर्क : कर्क राशि के जातक अपने हुनर और काम करने के तरीके से कार्यक्षेत्र में अपनी छवि आज के दिन सुधार सकते हैं। वहीं कुछ जातकों का स्थान परिवर्तन भी आज के दिन हो सकता है। पारिवारिक जीवन में मिले जुले परिणाम प्राप्त होंगे, आज के दिन अपने दायित्वों को पूरा करने के लिए आप आगे आएंगे। किसी मित्र के साथ मिलकर अपना कारोबार शुरू कर सकते हैं।

सिंह : आज सिंह राशि के लोगों को भाग्य का साथ मिल सकता है। यदि कार्यक्षेत्र में किसी सीनियर के साथ मतभेद था तो वो भी आज दूर हो सकता है। संपत्ति में इजाफा हो सकता है। नए विषयों का अध्ययन आज के दिन सिंह राशि के कुछ जातक कर सकते हैं। पिता के जरिये सिंह राशि के कुछ जातकों को आर्थिक लाभ प्राप्त हो सकता है।

कन्या : आज के दिन असंतोष की भावना आपके अंदर घर कर सकती है इसलिए मन की चंचलता को दूर करने के लिए आपको योग ध्यान करना चाहिए। कारोबारियों को लेन-देन करते समय सतर्कता बरतनी चाहिए। इस राशि के कुछ जातकों को घर के सामान पर धन खर्च आज के दिन करना पड़ सकता है। आयात-निर्यात का कारोबार करते हैं तो लाभ मिलने की संभावना है।

तुला : तुला राशि की विवाहित महिलाओं को अपने जीवनसाथी से वस्त्रादि आज के दिन उपहार में मिल सकते हैं। आर्थिक रूप से भी आज का दिन सुखद साबित हो सकता है, संचित धन में वृद्धि होगी। सामाजिक स्तर पर आप अपनी बातों का जादू बिखेर सकते हैं। हालांकि साझेदारी में कारोबार करने वाले इस राशि के जातक किसी वजह से आज के दिन परेशान नजर आ सकते हैं।

वृश्चिक : आज के दिन वृश्चिक राशि के लोगों में आलस्य की अधिकता देखी जा सकती है। पिता से किसी बात को लेकर मतभेद पैदा हो सकते हैं लेकिन आपको उनसे बात करते समय मर्यादा का उल्लंघन नहीं करना चाहिए। इस राशि के कुछ जातकों को आज के दिन अचानक से धन लाभ मिल सकता है। सामाजिक स्तर पर किसी पुराने परिचित से आज के दिन मुलाकात हो सकती है।

धनु : अध्ययन और अध्यापन में इस राशि के जातकों की रुचि बढ़ेगी। परिवार के किसी सदस्य को शिक्षा के क्षेत्र में कोई उपलब्धि हासिल हो सकती है। लव लाइफ में अच्छे बदलाव आएंगे, लवमेट आपके साथ घूमने की डिमांड आज के दिन रख सकता है। यदि खेलकूद में हिस्सा लेने वाले हैं तो आज जीत आपको हासिल हो सकती है।

मकर : आज के दिन संपत्ति से जुड़े किसी मामले में आपको सफलता मिल सकती है। माता के स्वास्थ्य में अच्छे बदलाव आएंगे। कार्यक्षेत्र में इस राशि के जातकों को अपने सीनियर अधिकारियों का सहयोग प्राप्त होगा। संतान के स्वास्थ्य को लेकर कुछ चिंताएं हो सकती हैं। दिन ढलने के बाद जीवनसाथी के साथ इस राशि के कुछ जातक रोमांटिक पल बिता सकते हैं।

कुंभ : आज के दिन कुंभ राशि के जातक अपनी दिनचर्या में अच्छे परिवर्तन लाने की कोशिश कर सकते हैं। साहस-पराक्रम में आज के दिन वृद्धि देखने को मिलेगी। इस राशि के कुछ जातक शेयर बाजार में पैसा आज के दिन लगा सकते हैं। पारिवारिक जीवन में छोटे भाई-बहनों के साथ अच्छा समय आप बिता सकते हैं। गले से संबंधित कोई स्वास्थ्य समस्या हो सकती है इसलिए तला-भुना भोजन खाने से बचें।

मीन : मीन राशि के कई जातक आज स्वादिष्ट भोजन का आनंद लेते नजर आ सकते हैं। पैतृक कारोबार करते हैं तो लाभ मिल सकता है। वाणी में मधुरता देखने को मिलेगी जिससे सामाजिक स्तर पर आप मान-सम्मान पा सकते हैं। काम के सिलसिले में इस राशि के कुछ जातकों को आज के दिन यात्रा करनी पड़ सकती है। स्वास्थ्य में अच्छे बदलाव देखने को मिल सकते हैं।

View More...

आज का हिन्दू पंचांग

Date : 12-Jan-2022

 हिन्दू पंचांग 
 दिनांक - 12 जनवरी 2022
 दिन - बुधवार
 विक्रम संवत - 2078
 शक संवत -1943
 अयन - दक्षिणायन
 ऋतु - शिशिर 
 मास -  पौस
 पक्ष -  शुक्ल 
 तिथि - दशमी शाम 04:49 तक तत्पश्चात एकादशी
 नक्षत्र - भरणी दोपहर 02:00 तक तत्पश्चात कृत्तिका
 योग -  साध्य सुबह 11:38 तक तत्पश्चात शुभ
  राहुकाल -  दोपहर 12:47 से दोपहर 02:09 तक
 सूर्योदय - 07:19
 सूर्यास्त - 18:14
 दिशाशूल - उत्तर दिशा में

 व्रत पर्व विवरण - साम्ब दशमी (ओडिशा),स्वामी विवेकानंद जयंती (दि.अ.), राष्ट्रीय युवा दिवस 
 विशेष -

 एकादशी के दिन करने योग्य 
 12 जनवरी 2022 बुधवार को शाम 04:50 से 13 जनवरी, गुरुवार को शाम 07:32 तक एकादशी है ।
 विशेष - 13 जनवरी, गुरुवार को एकादशी का व्रत (उपवास) रखें ।
 एकादशी को दिया जलाके विष्णु सहस्त्र नाम पढ़ें
   .....विष्णु सहस्त्र नाम नहीं हो तो १० माला गुरुमंत्र का जप कर लें l अगर घर में झगडे होते हों, तो झगड़े शांत हों जायें ऐसा संकल्प करके विष्णु सहस्त्र नाम पढ़ें तो घर के झगड़े भी शांत होंगे l

 मकर संक्रांति 
 आत्मोद्धारक व जीवन-पथ प्रकाशक पर्व – मकर संक्रांति (14 जनवरी 2022 शुक्रवार को पुण्यकाल दोपहर 02:30 से सूर्यास्त तक )
 जिस दिन भगवान सूर्यनारायण उत्तर दिशा की तरफ प्रयाण करते हैं, उस दिन उतरायण (मकर संक्रांति) का पर्व मनाया जाता है | इस दिन से अंधकारमयी रात्रि कम होती जाती है और प्रकाशमय दिवस बढ़ता जाता है | उत्तरायण का वाच्यार्थ है कि सूर्य उत्तर की तरफ, लक्ष्यार्थ है आकाश के देवता की कृपा से ह्दय में भी अनासक्ति करनी है | नीचे के केन्द्रों में वासनाएँ, आकर्षण होता है व ऊपर के केन्द्रों में निष्कामता, प्रीति और आनंद होता है | संक्रांति रास्ता बदलने की सम्यक सुव्यवस्था है | इस दिन आप सोच व कर्म की दिशा बदलें | जैसी सोच होगी वैसा विचार होगा, जैसा विचार होगा वैसा कर्म होगा | हाड-मांस के शरीर को सुविधाएँ दे के विकार भोगकर सुखी होने की पाश्चात्य सोच है और हाड-मांस के शरीर को संयत, जितेन्द्रिय रखकर सदभाव से विकट परिस्थितियों में भी सामनेवाले का मंगल चाहते हुए उसका मंगलमय स्वभाव प्रकट करना यह भारतीय सोच है |
सम्यक क्रांति.... ऐसे तो हर महिने संक्रांति आती है लेकिन मकर संक्रांति साल में एक बार आती है | उसीका इंतजार किया था भीष्म पितामह ने | उन्होंने उत्तरायण काल शुरू होने के बाद ही देह त्यागी थी |
पुण्यपुंज व आरोग्यता अर्जन का दिन
 जो संक्रांति के दिन स्नान नहीं करता वह ७ जन्मों तक निर्धन और रोगी रहता है और जो संक्रांति का स्नान कर लेता है वह तेजस्वी और पुण्यात्मा हो जाता है | संक्रांति के दिन उबटन लगाये, जिसमे काले तिल का उपयोग हो |
 भगवान सूर्य को भी तिलमिश्रित जल से अर्घ्य दें | इस दिन तिल का दान पापनाश करता है, तिल का भोजन आरोग्य देता है, तिल का हवन पुण्य देता है | पानी में भी थोड़े तिल डाल के पियें तो स्वास्थ्यलाभ होता है | तिल का उबटन भी आरोग्यप्रद होता है | इस दिन सुर्योद्रय से पूर्व स्नान करने से १० हजार गौदान करने का फल होता है | जो भी पुण्यकर्म उत्तरायण के दिन करते हैं वे अक्षय पुण्यदायी होते हैं | तिल और गुड के व्यंजन, चावल और चने की दाल की खिचड़ी आदि ऋतु-परिवर्तनजन्य रोगों से रक्षा करती है | तिलमिश्रित जल से स्नान आदि से भी ऋतु-परिवर्तन के प्रभाव से जो भी रोग-शोक होते हैं, उनसे आदमी भिड़ने में सफल होता है |

 सूर्यदेव की विशेष प्रसन्नता हेतु मंत्र
ब्रम्हज्ञान सबसे पहले भगवान सूर्य को मिला था | उनके बाद रजा मनु को, यमराज को.... ऐसी परम्परा चली | भास्कर आत्मज्ञानी हैं, पक्के ब्रम्ह्वेत्ता हैं | बड़े निष्कलंक व निष्काम हैं | कर्तव्यनिष्ठ होने में और निष्कामता में भगवान सूर्य की बराबरी कौन कर सकता है ! कुछ भी लेना नहीं, न किसी से राग है न द्वेष है | अपनी सत्ता-समानता में प्रकाश बरसाते रहते हैं, देते रहते हैं |
 ‘पद्म पुराण’ में सूर्यदेवता का मूल मंत्र है : ॐ ह्रां ह्रीं स: सूर्याय नम: |  अगर इस सूर्य मंत्र का ‘आत्मप्रीति व आत्मानंद की प्राप्ति हो’ – इस हेतु से भगवान भास्कर का प्रीतिपूर्वक चिंतन करते हुए जप करते हैं तो खूब प्रभु-प्यार बढेगा, आनंद बढेगा |
 

ओज-तेज-बल का स्त्रोत : सूर्यनमस्कार
सूर्यनमस्कार करने से ओज-तेज और बुद्धि की बढ़ोत्तरी होती है | ॐ सूर्याय नम: | ॐ भानवे नम: | ॐ खगाय नम: ॐ रवये नम: ॐ अर्काय नम: |..... आदि मंत्रो से सूर्यनमस्कार करने से आदमी ओजस्वी-तेजस्वी व बलवान बनता है | इसमें प्राणायाम  भी हो जाता है, कसरत भी हो जाती है |
सूर्य की उपासना करने से, अर्घ्य देने से, सूर्यस्नान व सूर्य-ध्यान आदि करने से कामनापूर्ति होती है | सूर्य का ध्यान भ्रूमध्य में करने से बुद्धि बढती है और नाभि-केंद्र में करने से मन्दाग्नि दूर होती है, आरोग्य का विकास होता है |

 आरोग्य व पुष्टि वर्धक : सूर्यस्नान
सूर्य की धूप में जो खाद्य पदार्थ, जैसे-घी, तेल आदि २ – ४ घंटे रखा रहे तो अधिक सुपाच्य हो जाता है | धूप में रखे हुए पानी से कभी –कभी स्नान कर सकते हैं | इससे सूखा रोग (Rickets) नहीं होता और रोगनाशिनी शक्ति बरक़रार रहती है |
 सूर्य की किरणों से रोग दूर करने की प्रशंसा ‘अथर्ववेद’ में भी आती है | कांड – १, सूक्त २२ के श्लोकों में सूर्य की किरणों का वर्णन आता है |
मैं १५-२० मिनट सूर्यस्नान करता हूँ | लेटे–लेटे सूर्यस्नान करना और भी हितकारी होता है लेकिन सूर्य की कोमल धूप हो, सूर्योदय से एक-डेढ़ घंटे के अंदर-अंदर सूर्यस्नान कर लें | इससे मांसपेशियाँ तंदुरस्त होती हैं, स्नायुओं का दौर्बल्य दूर होता है | सूर्यस्नान का यह प्रसाद मुझे अनुभव होता है | मुझे स्नायुओं में दौर्बल्य नहीं है | स्नायु की दुर्बलता, शरीर में दुर्बलता, थकान व कमजोरी हो तो प्रतिदिन सूर्यस्नान करना चाहिए |
 सूर्यस्नान से त्वचा के रोग भी दूर होते हैं, हड्डियाँ मजबूत होती हैं | रक्त में कैल्शियम, फ़ॉस्फोरस व लोहें की मात्राएँ बढती हैं, ग्रंथियों के स्त्रोतों में संतुलन होता है | सूर्यकिरणों से खून का दौरा तेज, नियमित व नियंत्रित चलता है | लाल रक्त कोशिकाएँ जाग्रत होती हैं, रक्त की वृद्धि होती है | गठिया, लकवा और आर्थराइटिस के रोग में भी लाभ होता है | रोगाणुओं का नाश होता है, मस्तिष्क के रोग, आलस्य, प्रमाद, अवसाद, ईर्ष्या-द्वेष आदि शांत होते हैं | मन स्थिर होने में भी सूर्य की किरणों का योगदान है | नियमित सूर्यस्नान से मन पर नियंत्रण, हार्मोन्स पर नियंत्रण और त्वचा व स्नायुओं में क्षमता, सहनशीलता की वृद्धि होती है |
 नियमित सूर्यस्नान से दाँतों के रोग दूर होने लगते हैं | विटामिन ‘डी’ की कमी से होनेवाले सूखा रोग, संक्रामक रोग आदि भी सूर्यकिरणों से भगाये जा सकते हैं |
 अत: आप भी खाद्य अन्नों को व स्नान के पानी को धूप में रखों तथा सूर्यस्नान का खूब लाभ लो |
दृढ़ संकल्पवान व साधना में उन्नत होने का दिन
 उत्तरायण यह देवताओं का ब्राम्हमुहूर्त है तथा लौकिक व अध्यात्म विद्याओं की सिद्धि का काल है | तो मकर संक्रांति के पूर्व की रात्रि में सोते समय भावना करना कि ‘पंचभौतिक शरीर पंचभूतों में, मन, बुद्धि व अहंकार प्रकृति में लीन करके मैं परमात्मा में शांत हो रहा हूँ | और जैसे उत्तरायण के पर्व के दिन भगवान सूर्य दक्षिण से मुख मोडकर उत्तर की तरफ जायेंगे, ऐसे ही हम नीचे के केन्द्रों  से मुख मोडकर ध्यान-भजन और समता के सूर्य की तरफ बढ़ेंगे | ॐ शांति .... ॐ आनंद .... ‘
 रात को ‘ॐ सूर्याय नम: |’ इस मंत्र का चिंतन करके सोओगे तो सुबह उठते-उठते सूर्यनारायण का भ्रूमध्य में ध्यान भी सहज में कर पाओगे | उससे बुद्धि का विकास होगा |

View More...

जाने क्या कहती है आपकी ग्रहदशाएं, क्या करें कि दिन होगा शुभ, जानिए आज का राशिफल 11 जनवरी 2022

Date : 11-Jan-2022

मेष : आज के दिन आपकी राशि में विराजमान चंद्रमा आपकी कई मानसिक पीड़ाएं हर सकते हैं। दिन की शुरुआत आप योग-ध्यान से कर सकते हैं। वैवाहिक जीवन में आपको अच्छे परिवर्तन देखने को मिलेंगे। पारिवारिक जीवन में यदि लोगों के बीच किसी वजह से मनमुटाव की स्थिति बनी थी तो उसमें आज सुधार देखने को मिल सकता है।

वृषभ : आज आपमें ऊर्जा का संचार खूब रहेगा। काम में तेजी बनाए रखेंगे। आज के दिन कुछ गतिविधियों के चलते आपका धन खर्च हो सकता है। विदेशी व्यापार करने वाले इस राशि के जातको के लिए आज का दिन अच्छा साबित हो सकता है। शाम के समय आपकी मुलाकात किसी पुराने मित्र से हो सकती है। स्वास्थ्य का ध्यान रखें, क्रोध से बचें।

मिथुन : आज के दिन मिथुन राशि के कारोबारियों को धन लाभ प्राप्त हो सकता है। अटकी हुई योजनाएं पूरी हो सकती हैं इस राशि के जो जातक सरकारी क्षेत्रों में कार्य करते हैं उनके लिए भी दिन अच्छा रहेगा। कुछ जातक अपने हुनर से अतिरिक्त आमदनी कमा सकते हैं। बड़े भाई-बहनों के साथ शाम के समय आप अच्छा समय बिता सकते हैं।

कर्क : अपने दोस्त की मदद से आज के दिन आपको कोई पार्ट टाइम जॉब मिल सकती है। नौकरी पेशा लोग अपने हुनर से सीनियर्स की नजर में अच्छी छवि बना सकते हैं। इस राशि के कुछ जातकों को किसी दोस्त या रिश्तेदार के घर काम के सिलसिले में आज जाना पड़ सकता है। इस राशि के बेरोजगार लोगों को आज के दिन रोजगार मिलने की संभावना है। दैनिक कार्य करने वाले लोगों को लाभ हो सकता है।

सिंह : पिता के साथ आज आपके संबंधों में सुधार आ सकता है। पारिवारिक जीवन सुखमय बना रहेगा। इसके साथ ही भाग्य का भी आज के दिन आपको साथ मिलेगा जिससे कार्यक्षेत्र और निजी जीवन की कई समस्याएं दूर हो सकती हैं। धार्मिक गतिविधियों में सिंह राशि के कुछ जातक आज के दिन हिस्सा लेते देखे जा सकते हैं। सामाजिक स्तर पर ख्याति बढ़ेगी।

कन्या : आज के दिन सेहत के प्रति कोताही बरतना आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है। किसी पुरानी बीमारी से परेशान हैं तो दवाइयां समय पर लें। अनचाही यात्रा करनी पड़ सकती है। बेवजह के खर्चो को काबू में रखना चाहते हैं तो सही बजट प्लान आपको बनाना चाहिए। माता के पक्ष के लोगों से इस राशि के कुछ जातकों की मुलाकात आज के दिन हो सकती है।

तुला : अपने दिल की बातें खुलकर आप अपने जीवनसाथी के साथ करेंगे जिससे आपके प्रति उनका प्रेम बढ़ेगा। प्रेम में पड़े इस राशि के लोगों के लिए भी आज का दिन सुखद हो सकता है। सामाजिक स्तर पर आज के दिन गलत बयानबाजी करने से आपको बचना चाहिए। राजनीति में हैं तो किसी पर भी आवश्यकता से अधिक भरोसा करने से बचें।

वृश्चिक : कार्यक्षेत्र में वृश्चिक राशि के लोग आज के दिन कटे-कटे नजर आ सकते हैं, कुछ लोगों को लेकर आपके दिमाग में गलतफहमियां हो सकती हैं। हालांकि आज के दिन ससुराल पक्ष के लोगों से आपको कोई खुशखबरी मिल सकती है। किसी अनजाने व्यक्ति के द्वारा इस राशि के कुछ जातकों को आज के दिन लाभ मिल सकता है। रात्रि के समय मन की चंचलता बढ़ सकती है।

धनु : धनु राशि के शिक्षार्थियों को आज के दिन शिक्षा के क्षेत्र में अच्छे फल प्राप्त होंगे। लव लाइफ में सकारात्मक बदलाव देखने को मिलेंगे, लवमेट के साथ रोमांटिक समय बिता सकते हैं। संतान पक्ष से भी इस राशि के जातकों को कोई खुशखबरी आज के दिन मिल सकती है। कार्यक्षेत्र में आज के दिन सहकर्मियों से बहस बाजी करने से बचें।

मकर : माता के साथ आप अच्छा समय बिता सकते हैं। माता नौकरीपेशा हैं उनको कार्यक्षेत्र में आज कोई उपलब्धि हासिल हो सकती है। आपकी उम्र 50 से ज्यादा है तो अपने स्वास्थ्य का आज आपको ध्यान रखना चाहिए। तकनीकी क्षेत्र में कार्यरत मकर राशि के लोगों के लिए आज का दिन सफलतादायक हो सकता है।

कुंभ : कुंभ राशि वाले जातक आज करियर क्षेत्र में उन्नति पा सकते हैं। आईटी क्षेत्र में कार्यरत हैं तो आपका कोई प्रोजेक्ट आज के दिन पूरा हो सकता है। पारिवारिक जीवन में सकारात्मक बदलाव देखने को मिलेंगे। इस राशि के जो लोग एडवेंचरस कार्यों में हिस्सा ले सकते हैं। आज के दिन आपके आत्मविश्वास में भी वृद्धि होगी।

मीन : धन से जुड़े मामलों में सफलता मिलेगी। किसी को उधार दिया था तो आज के दिन वापस मिल सकता है। पैतृक संपत्ति में भी इजाफा होगा। हालांकि वाणी में आज के दिन कर्कशता देखने को मिल सकती है, जिससे परिवार के लोगों को आप से गिले शिकवे हो सकते हैं। स्वास्थ्य को लेकर जो चिंताएं थीं तो आज के दिन दूर हो सकती हैं।

 

View More...

आज का हिन्दू पंचांग

Date : 11-Jan-2022

हिन्दू पंचांग 
 दिनांक - 11 जनवरी 2022
 दिन - मंगलवार
 विक्रम संवत - 2078
 शक संवत -1943
 अयन - दक्षिणायन
 ऋतु - शिशिर 
 मास -  पौस
 पक्ष -  शुक्ल 
 तिथि - नवमी दोपहर 02:21 तक तत्पश्चात दशमी
 नक्षत्र - अश्विनी सुबह 11:10 तक तत्पश्चात भरणी
 योग - सिध्द सुबह 10:56 तक तत्पश्चात साध्य
  राहुकाल -  शाम 03:31 से शाम 04:53 तक
 सूर्योदय - 07:19
 सूर्यास्त - 18:13
 दिशाशूल - उत्तर दिशा में

 व्रत पर्व विवरण -
 विशेष - नवमी को लौकी खाना गोमांस के समान त्याज्य है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)

 Diabetes( मधुमेह) नियंत्रित करने के लिए 
 Diabetes नियंत्रित करने के लिए सुबह १/२ किलो कच्चा करेला टुकड़े - टुकड़े करके तसले में डाल दें और अपने पैरों से १/२ से ३/४ घंटे तक तक कुचलें जब तक जीभ में कड़वाहट का अहसास ना हो l ७-१० दिन तक ये प्रयोग करें l इससे Diabetes नियंत्रित होती है l
 हो सके तो इन दिनों में मेथी की सब्जी खाए या मेथी के दाने रात को भिगा दे और सुबह  खाए | इससे लाभ होगा | 

 होंठ फटने पर 
 नाभि में सरसों के तेल की २-४ बूंदे डालें तथा जरा से मक्खन में नमक मिलाकर होंठों पर लगायें इससे लाभ होता है l 

 राग और ताल की महिमा 
 राग और ताल सुनने से बहुत सी बीमारियाँ दूर होती हैं
 राग मारवा और राग भोपाली से आंतों की बीमारियाँ दूर होती हैं l
 राग आसारी से मस्तक के रोग दूर होते हैं l
 राग भैरवी से सिरदर्द ठीक होने लगता है l
 राग सोहनी से सिरदर्द और मरुरज्जू (रीड़ की हड्डी में जो मनके घिस गए, वो ठीक होने लगते हैं l)
 राग वसंत और राग सोरट से नपुंसकता दूर हो जाती है l

View More...

जानें क्या कहतीं हैं आपकी ग्रहदशाएं, क्या करें की दिन होगा शुभ, जानिएं आज का राशिफल 10 जनवरी 2022

Date : 10-Jan-2022

मेष : सप्ताह का पहला दिन मेष राशि के जातकों के लिए अनुकूल रहेगा, कार्यक्षेत्र में बीते समय में किये गये कार्यों की प्रशंसा हो सकती है। परिवार के लोगों के बीच शांति और सौहार्द बना रहेगा। आज के दिन वाहन चलाते समय नियमों का उल्लंघन करने से बचें। सामाजिक स्तर पर आप मुखर नजर आएंगे और अपनी बातों को स्पष्टता से लोगों के समक्ष रखेंगे।

वृषभ : खर्चों में आज वृद्धि हो सकती है लेकिन घर के लोगों का आपको अपेक्षित सहयोग प्राप्त होगा जिससे कई आर्थिक परेशानियों से मुक्ति मिलेगी। आज के दिन वृषभ राशि के लोगों को कर्ज लेने से बचना चाहिए। विदेशी व्यापार से इस राशि के कुछ जातकों को मुनाफा कमाने का मौका मिल सकता है। पारिवारिक जीवन में आपको मिश्रित फल प्राप्त हो सकते हैं।

मिथुन : आज के दिन पारिवारिक जीवन में अनुकूल बदलाव आ सकते हैं। पैतृक कारोबार से इस राशि के लोगों को लाभ मिल सकता है। कार्यक्षेत्र का वातावरण सकारात्मक होगा जिससे आपको काम करने में मजा आएगा। धन से जुड़ी किसी समस्या के कारण परेशान थे तो आज के दिन उसका हल आपको मिल सकता है। कुछ नौकरी पेशा लोगों का ट्रांसफर उनकी मनचाही जगह पर हो सकता है।

कर्क : आज दिन की शुरुआत में आप सकारात्मक विचारों से ओतप्रोत रहेंगे। कार्यक्षेत्र में अच्छा प्रदर्शन करेंगे जिससे आपके वरिष्ठ अधिकारी प्रसन्न हो सकते हैं। सामाजिक स्तर पर अनावश्यक मुद्दों पर बातचीत करने से आज के दिन कर्क राशि के जातकों को बचना होगा। इसके साथ ही स्वास्थ्य को दुरुस्त रखना चाहते हैं तो आज के दिन अत्यधिक मसालेदार भोजन करने से बचें।

सिंह : शिक्षा, मीडिया, न्याय और मेडिकल क्षेत्र में कार्यरत सिंह राशि के जातकों को अपने क्षेत्र में आज प्रगति मिल सकती है। भाग्य का पूरा सहयोग इस राशि के जातकों को प्राप्त होगा। पिता के साथ संबंधों में सुधार आ सकता है। कार्यक्षेत्र में आपकी विरोधी भी आज आपके काम की तारीफ करते नजर आ सकते हैं। आज आप अपने छोटे भाई-बहनों का मनोबल बढ़ाने के लिए उन्हें कोई सीख भी दे सकते हैं।

कन्या : आलस्य को आज के दिन खुद पर हावी न होने दें नहीं तो बनते काम बिगड़ सकते हैं। माता के पक्ष के लोगों से इस राशि के कुछ जातकों की मुलाकात आज हो सकती है। कार्यक्षेत्र में होने वाली राजनीति से दूर रहें नहीं तो आपकी छवि बिगड़ सकती है। सामाजिक स्तर पर आपकी वाणी का प्रभाव बढ़ सकता है, हालांकि बोलने से ज्यादा लोगों को सुनने की कोशिश करेंगे तो ज्यादा बेहतर होगा।

तुला : तुला राशि के लोगों को आज अपने आर्थिक पक्ष पर ध्यान देना होगा, शाम के वक्त अनचाहे खर्चे बढ़ सकते हैं। वैवाहिक जीवन में अनुकूलता देखने को मिलेगी, जीवनसाथी आपकी पसंद का भोजन आज बना सकता है। माता या पिता को लेकर जो चिंताएं आपके मन में थीं आज दूर हो सकती हैं। साझेदारी में कारोबार करने वाले लोगों को लाभ मिलने की संभावना है।

वृश्चिक : वृश्चिक राशि के लोगों को अपने नजरिये में आज बदलाव लाना चाहिए, लोगों के नकारात्मक पक्ष को देखने की बजाय खूबियों को देखें। मन की चंचलता को दूर करने के लिए योग ध्यान करना आपके लिए लाभदायक होगा। आज पिता के साथ आप अच्छा समय बिता सकते हैं। हालांकि वृश्चिक राशि के कुछ जातकों को आज ऐसे लोगों से धन लाभ प्राप्त हो सकता है जिनसे किसी भी लाभ की उनको उम्मीद नहीं थी।

धनु : आज के दिन धनु राशि के लोग ऐसे विषयों को समझने की कोशिश कर सकते हैं जिनमें उनकी अच्छी पकड़ नहीं है। विद्यार्थियों के लिए दिन अच्छा रहेगा, एकाग्रता में वृद्धि होगी। इस राशि के विवाहित जातक आज अपने जीवनसाथी की इच्छाओं का सम्मान करेंगे जिससे वैवाहिक जीवन में भी सकारात्मकता आएगी। सामाजिक स्तर पर अपने व्यवहारिक ज्ञान से आप लोगों को प्रभावित कर सकते हैं।

मकर : मकर राशि के कुछ लोग आज काम के संबंध में छोटी दूरी की यात्रा कर सकते हैं। आज के दिन आप में आशा और उत्साह देखने को मिलेगा जिससे कार्यक्षेत्र में सुखद परिणाम आपको प्राप्त हो सकते हैं। सामाजिक स्तर पर लोगों के साथ अपने अनुभव आज के दिन साझा कर सकते हैं। परिवार के लोगों के बीच शांति और प्रेम बनाए रखने के लिए इस राशि के जातकों को थोड़े प्रयास करने पड़ सकते हैं।

कुंभ : कुंभ राशि वाले आज अपने जीवन में बेहतर बदलाव लाने के लिए नए लक्ष्य तय कर सकते हैं। आर्थिक पक्ष में सुधार आएगा और धन को संचित करने में आप कामयाब हो सकते हैं। कार्यक्षेत्र में आज आपकी नेतृत्व करने की क्षमता से वरिष्ठ अधिकारी प्रभावित हो सकते हैं। पारिवारिक जीवन सुखद रह सकता है, पिता के सहयोग से जीवन की कई समस्याओं का हल आप प्राप्त कर सकते हैं।

मीन : आज के दिन किसी पुराने मित्र या दूर के रिश्तेदार से मुलाकात हो सकती है। घर के लोगों के साथ मिलकर इस राशि के कुछ जातक धार्मिक यात्रा पर जाने का प्लान बना सकते हैं। नौकरीपेशा हैं तो अपने सेंस ऑफ ह्यूमर से सहकर्मियों का दिल आज के दिन जीत सकते हैं। सरकारी अड़चनों के कारण कोई कार्य अटका हुआ था तो आज के दिन पूरा हो सकता है। स्वास्थ्य में भी बेहतर बदलाव आने की संभावना है।

View More...

आज का पंचांग, जानें शुभ मुहूर्त

Date : 10-Jan-2022

राष्ट्रीय मिति पौष 20, शक संवत 1943, पौष शुक्ल, अष्टमी सोमवार, विक्रम संवत 2078। सौर पौष मास प्रविष्टे 27, जमादि उल्सानी-06, हिजरी 1443 (मुस्लिम), तदनुसार अंग्रेजी तारीख 10 जनवरी सन् 2022 ई०। सूर्य उत्तरायण, दक्षिण गोल, शिशिर ऋतु।

राहुकाल प्रातः 07 बजकर 30 मिनट से 09 बजे तक। अष्टमी तिथि मध्याह्न 12 बजकर 25 मिनट तक उपरांत नवमी तिथि का आरंभ, रेवती नक्षत्र प्रातः 08 बजकर 49 मिनट तक उपरांत अश्विनी नक्षत्र का आरंभ।

शिव योग पूर्वाह्न 10 बजकर 36 मिनट तक उपरांत सिद्ध योग का आरंभ, बव करण मध्याह्न 12 बजकर 25 मिनट तक उपरांत कौलव करण का आरंभ। चंद्रमा प्रातः 08 बजकर 49 मिनट तक मीन उपरांत मेष राशि पर संचार करेगा।

आज के व्रत त्योहार : श्री दुर्गाष्टमी, महारूद्ध व्रत।

सूर्योदय का समय : सुबह 07 बजकर 15 मिनट पर।
सूर्यास्त का समय : शाम 05 बजकर 42 मिनट पर।

आज का शुभ मुहूर्त :

अभिजीत मुहूर्त दोपहर 12 बजकर 08 मिनट से 12 बजकर 50 मिनट तक। विजय मुहूर्त दोपहर 02 बजकर 13 मिनट से 02 बजकर 55 मिनट तक रहेगा। निशीथ काल मध्‍यरात्रि 12 बजकर 02 मिनट से 12 बजकर 56 मिनट तक। गोधूलि बेला शाम 05 बजकर 32 मिनट से 05 बजकर 56 मिनट तक। अमृत काल अगली सुबह 03 बजकर 16 मिनट से 05 बजकर 01 मिनट तक। रवि योग सुबह 08 बजकर 50 मिनट से अगली सुबह 07 बजकर 15 मिनट तक।

आज का अशुभ मुहूर्त :

राहुकाल सुबह 07 बजकर 30 मिनट से 09 बजे तक। सुबह 10 बजकर 30 मिनट से 12 बजे तक यमगंड रहेगा। दोपहर 01 बजकर 30 मिनट से 03 बजे तक गुलिक काल रहेगा। दुर्मुहूर्त काल दोपहर 12 बजकर 50 मिनट से 01 बजकर 31 मिनट तक इसके बाद दोपहर 02 बजकर 55 मिनट से 03 बजकर 37 मिनट तक। पंचक काल सुबह 07 बजकर 15 मिनट से 08 बजकर 50 मिनट तक।

आज के उपाय :

सफेद गाय को रोटी और गुड़ खिलाएं, शिवजी का अभिषेक करें।

View More...

जानें क्या कहतीं हे आपकी ग्रहदशाएं, क्या करें की दिन होगा शुभ, जानिएं आज का राशिफल 09 जनवरी 2022

Date : 09-Jan-2022

मेष : खर्च का दबाव बना रहेगा। कुछ मानसिक परेशानी रहेगी। अज्ञात और काल्‍पनिक भय आपको परेशान करेगा। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम है। प्रेम और संतान की स्थिति अच्‍छी है। व्‍यापार बहुत अच्‍छा चल रहा है लेकिन मन अच्‍छा नहीं है। सूर्यदेव को जल देते रहें। आत्मविश्वास में कमी रहेगी। मन अशांत रहेगा। परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थान की यात्रा का कार्यक्म बन सकता है। रहन-सहन अव्यवस्थित रहेगा। माता की सेहत का ध्यान रखें। नौकरी में स्थान परिवर्तन की संभावना है। परिश्रम अधिक रहेगा। वाहन सुख में वृद्धि होगी।

वृषभ : व्‍यवसायिक विस्‍तार का समय है। कोर्ट-कचहरी में विजय मिलेगी। राजनीतिक लाभ मिलेगा। पिता का साथ होगा। प्रेम और संतान का साथ होगा लेकिन स्‍वास्‍थ्‍य का साथ नहीं दिख रहा है। इस पर ध्‍यान दें। मां काली की अराधना करते रहें। मन में निराशा और असंतोष रहेगा। मन में नकारात्मक विचारों का प्रभाव भी हो सकता है। घर-परिवार में धार्मिक कार्य हो सकते हैं। पारिवारिक जीवन कष्टमय हो सकता है। जीवनसाथी का सहयोग मिलेगा। कारोबार की स्थिति में सुधार होगा। आय में वृद्धि होगी।

मिथुन : स्‍वास्‍थ्‍य पहले से सुधार की ओर है लेकिन नसों, त्‍वचा से सम्‍बन्धित थोड़ी समस्‍या हो सकती है। प्रेम और संतान मध्‍यम है। पंचमेश वक्री चल रहे हैं। व्‍यवसायिक स्‍तर पर चीजें आपकी बड़ी अच्‍छी दिख रही हैं। कोई समस्‍या वाली बात नहीं है। पीली वस्‍तु का दान करें। संयत रहें। धैर्यशीलता बनाए रखने का प्रयास करें। मानसिक तनाव से बचें। मित्रों का सहयोग मिल सकता है। मन में नकारात्मक विचारों से बचें। धर्म के प्रति श्रद्धाभाव रहेगा। मीठे खानपान में रुचि रहेगी। सेहत का ध्यान रखें। नौकरी में स्थान परिवर्तन की संभावना बन रही है।

कर्क : भाग्‍य साथ देगा। रोजी-रोजगार में तरक्‍की करेंगे। रुका हुआ काम चल पड़ेगा। धार्मिक यात्रा बन सकती है। पूजा-पाठ में मन लगेगा। स्‍वास्‍थ्‍य पहले से बेहतर, प्रेम और व्‍यापार का भी साथ है। बजरंग बली की अराधना करते रहें। आत्मविश्वास से लबरेज रहेंगे, परंतु अति उत्साही होने से बचें। शैक्षिक कार्यों पर ध्यान दें। नौकरी में कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। घर में धार्मिक कार्य हो सकते हैं। भवन के रखरखाव के कार्यों पर खर्च बढ़ सकते हैं। वाहन सुख में कमी आ सकती है।

सिंह : स्थिति थोड़ी मध्‍यम बनी हुई है। चोट लग सकती है। किसी परेशानी में पड़ सकते हैं। थोड़ा बचकर पार करें। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम है। प्रेम, संतान और व्‍यापार की स्थिति निरंतर सुधर रही है। पीली वस्‍तु पास रखें। मन प्रसन्न रहेगा। आत्मविश्वास से लबरेज रहेंगे। शैक्षिक कार्यों में सफलता मिलेगी। जीवनसाथी के स्वास्थ्य का ध्यान रखें। नौकरी में तरक्की के अवसर मिल सकते हैं। कार्यभार में वृद्धि होगी। परिश्रम अधिक रहेगा। अधिकारियों से व्यर्थ के वाद-विवाद से बचें। खर्च अधिक रहेंगे।

कन्‍या : जीवनसाथी का सानिध्‍य मिलेगा। रोजी-रोजगार में तरक्‍की करेंगे। मन बड़ा प्रसन्‍न रहेगा। स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा है। प्रेम और व्‍यापार का पूरा-पूरा साथ मिलेगा। भगवान विष्‍णु की अराधना करते रहें। मन शांत व प्रसन्न रहेगा। आत्मविश्वास से लबरेज रहेंगे, परंतु परिवार पर भी ध्यान दें। रहन-सहन अव्यवस्थित रहेगा। नौकरी में कार्यक्षेत्र में कठिनाइयां आ सकती हैं। कार्यक्षेत्र में परिश्रम भी अधिक रहेगा। संतान की ओर से सुखद समाचार मिल सकते हैं। अपने स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें।

तुला :  शत्रु भी मित्र बनने की कोशिश करेंगे। गूढ़ ज्ञान की प्राप्ति होगी। बुजुर्गों का आशीर्वाद मिलेगा। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम है। प्रेम और व्‍यापार का पूरा-पूरा साथ मिल रहा है। पीली वस्‍तु का दान करें। संयत रहें। व्यर्थ क्रोध से बचें। शैक्षिक कार्यों के सुखद परिणाम मिलेंगे। सेहत के प्रति सचेत रहें। किसी मित्र के सहयोग से आय के साधन बन सकते हैं। धर्म के प्रति श्रद्धाभाव बढ़ सकता है। कारोबार की स्थिति में सुधार होगा। लाभ में वृद्धि होगी। श्रम अधिक रहेगा।

वृश्चिक : बस भावुकता पर काबू रखें। महत्‍वपूर्ण निर्णय फिलहाल टाल दें। स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा, प्रेम मध्‍यम, व्‍यापार आपका सही चल रहा है। पीली वस्‍तु पास रखें।आत्मविश्वास से लबरेज रहेंगे, परंतु संयत रहें। परिवार में व्यर्थ के वाद- विवाद से बचने की कोशिश करें। किसी मित्र के सहयोग से संपत्ति में निवेश कर सकते हैं। जीवनसाथी के स्वास्थ्य का ध्यान रखें। नौकरी में परिवर्तन की संभावना बन रही है। आय में वृद्धि होगी। यात्रा खर्च बढ़ेंगे।

धनु : भूमि, भवन, वाहन की खरीदारी यदि प्‍लान कर रहे हैं तो यह सही समय है। कर लें हो जाएगा। बस कलहकारी सृष्टि का सृजन हो रहा है, उससे बचें। स्‍वास्‍थ्‍य ठीक दिख रहा है। प्रेम और संतान की स्थिति मध्‍यम बनी हुई है। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से आप सही चल रहे हैं। बजरंग बली की अराधना करते रहें। संयत रहें। अपनी भावनाओं को वश में रखें। धैर्यशीलता बनाए रखने का प्रयास करें। पारिवारिक समस्याओं पर ध्यान दें। जीवनसाथी के स्वास्थ्य का ध्यान रखें। रहन-सहन अव्यवस्थित हो सकता है। किसी मित्र के सहयोग से आय में वृद्धि के साधन बन सकते हैं।

मकर : निरंतर सुधार की ओर जा रहे हैं। भाग्‍य साथ दे रहा है। स्‍वास्‍थ्‍य का पूरा-पूरा साथ है। बस थोड़ा प्रयास करें। प्रेम मध्‍यम, संतान मध्‍यम बाकी सब कुछ ठीक-ठाक चल रहा है। मां काली की अराधना करते रहें। संयत रहें। व्यर्थ के क्रोध और वाद-विवाद से बचें। आत्मविश्वास से परिपूर्ण रहेंगे, परंतु आलस्य से बचें। जीवनसाथी के स्वास्थ्य का ध्यान रखें। किसी मित्र से कारोबार का प्रस्ताव मिल सकता है। भाई-बहनों से कारोबार में आर्थिक सहयोग मिल सकता है।

कुंभ : स्थिति अच्‍छी है लेकिन मन अप्रसन्‍न रहेगा। संतान, प्रेम से थोड़ी दूरी का अनुभव करेंगे। ऊर्जा का स्‍तर गिरा रहेगा। कोई परेशानी नहीं है लेकिन ऐसा आप अनुभव करेंगे। व्‍यापार ठीक चल रहा है। गणेश जी की अराधना करें। वाणी में मधुरता रहेगी, परंतु धैर्यशीलता में कमी हो सकती है। संयत रहें। पठन-पाठन में रुचि रहेगी। घर में धार्मिक कार्यों का आयोजन हो सकता है। लेखनादि-बौद्धिक कार्यों से आय के साधन बन सकते हैं। दाम्पत्य सुख में वृद्धि होगी। यात्रा खर्च पर ध्यान दें।

मीन : बिल्‍कुल सितारों की तरह चमक रहे हैं। छाए हुए हैं आप इस समय। स्‍वास्‍थ्‍य का साथ है। प्रेम का साथ है, व्‍यापार का साथ है, संतान का साथ है। सब अद्भुत चल रहा है और ये चलेगा। भगवान भोलेनाथ की अराधना करते रहें। मन में प्रसन्नता रहेगी। परिवार की जिम्मेदारी बढ़ सकती है। घर में मांगलिक कार्य हो सकते हैं। परिवार का सहयोग मिलेगा। माता-पिता के स्वास्थ्य का ध्यान रखें। चिकित्सीय खर्च बढ़ सकते हैं। रहन-सहन अव्यवस्थित रहेगा। परिश्रम अधिक रहेगा।

View More...

आज का हिन्दू पंचांग

Date : 09-Jan-2022

हिन्दू पंचांग 
 दिनांक - 09 जनवरी 2022
 दिन - रविवार
 विक्रम संवत - 2078
 शक संवत -1943
 अयन - दक्षिणायन
 ऋतु - शिशिर 
 मास -  पौस
 पक्ष -  शुक्ल 
 तिथि - सप्तमी सुबह 11:10 तक तत्पश्चात अष्टमी
 नक्षत्र -  रेवती पूर्ण रात्रि तक
 योग - परिघ सुबह 10:50  तक तत्पश्चात शिव
  राहुकाल - शाम 04:52 से शाम 06:14 तक
 सूर्योदय - 07:19
 सूर्यास्त - 18:12
 दिशाशूल - पश्चिम  दिशा में

 व्रत पर्व विवरण -  गुरु गोविंद जयंती (ति॰ अ॰) रविवारी सप्तमी (सूर्योदय से दोपहर 11:10 तक)
 विशेष - सप्तमी को ताड़ का फल खाने से रोग बढ़ता है तथा शरीर का नाश होता है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)

घातक रोगों से मुक्ति पाने का उपाय 
 09 जनवरी 2022 रविवार को (सूर्योदय से दोपहर 11:10 तक) रविवारी सप्तमी है।
 रविवार सप्तमी के दिन बिना नमक का भोजन करें। बड़ दादा के १०८ फेरे लें । सूर्य भगवान का पूजन करें, अर्घ्य दें व भोग दिखाएँ, दान करें । तिल के तेल का दिया सूर्य भगवान को दिखाएँ ये मंत्र बोलें :-
 "जपा कुसुम संकाशं काश्य पेयम महा द्युतिम । तमो अरिम सर्व पापघ्नं प्रणतोस्मी दिवाकर ।।"
 नोट : घर में कोई बीमार रहता हो या घातक बीमारी हो तो परिवार का सदस्य ये विधि करें तो बीमारी दूर होगी । 

 मंत्र जप एवं शुभ संकल्प हेतु विशेष तिथि 
 सोमवती अमावस्या, रविवारी सप्तमी, मंगलवारी चतुर्थी, बुधवारी अष्टमी – ये चार तिथियाँ सूर्यग्रहण के बराबर कही गयी हैं।
 इनमें किया गया जप-ध्यान, स्नान , दान व श्राद्ध अक्षय होता है।

 रविवार सप्तमी 
 रविवार सप्तमी के दिन जप/ध्यान करने का वैसा ही हजारों गुना फल होता है जैसा की सूर्य/चन्द्र ग्रहण में जप/ध्यान करने से होता |
 रविवार सप्तमी के दिन अगर कोई नमक मिर्च बिना का भोजन करे और सूर्य भगवान की पूजा करे , तो उसकी घातक बीमारियाँ दूर हो सकती हैं , अगर बीमार व्यक्ति न कर सकता हो तो कोई और बीमार व्यक्ति के लिए यह व्रत करे | इस दिन सूर्यदेव का पूजन करना चाहिये |

 सूर्य भगवान पूजन विधि 
 १) सूर्य भगवान को तिल के तेल का दिया जला कर दिखाएँ , आरती करें |
 २) जल में थोड़े चावल ,शक्कर , गुड , लाल फूल या लाल कुम कुम मिला कर सूर्य भगवान को अर्घ्य दें |
 सूर्य भगवान अर्घ्य मंत्र ????
 1. ॐ मित्राय नमः।
 2. ॐ रवये नमः।
 3. ॐ सूर्याय नमः।
 4. ॐ भानवे नमः।
 5. ॐ खगाय नमः।
 6. ॐ पूष्णे नमः।
 7. ॐ हिरण्यगर्भाय नमः।
 8. ॐ मरीचये नमः।
 9. ॐ आदित्याय नमः।
 10. ॐ सवित्रे नमः।
 11. ॐ अर्काय नमः।
 12. ॐ भास्कराय नमः।
 13. ॐ श्रीसवितृ-सूर्यनारायणाय नमः।

View More...
Previous123456789...9798Next