Chhattisgarh

Previous123456789...4748Next

कुरेनार धान खरीदी केंद्र मैं किसानों ने वाहन रोककर किया उग्र आंदोलन।

सुमित बढ़ाई (बांदे) :- कांकेर जिले के अंतिम छोर घोर नक्सल प्रभावित क्षेत्र कुरेनार में किसानों ने किया धरना प्रदर्शन किसानों ने शासन को चेतावनी देते हुए कहा कि दिनांक 20/02/2020 तक शासन ने धान खरीदी का निर्णय लिया था जो कि बिल्कुल बे बुनियादी है किसानों ने अपनी समस्यओं को शासन के सामने प्रस्तुत करते ह कहा कि दिनाँक 19/02/2020 को उनका धान का टोकन काटा गया है परंतु निश्चित दिनाँक मैं धान भी खरीदी केंद्र मैं लाया गया परंतु पटवारी द्वारा धान जप्त करने का चेतावनी दिया गया नियमित बारदाना होते हुए भी लेम्प्स प्रबंधक द्वारा फड़ संचालक पर दवाब बनाकर बारदाना भी हटा दिया गया समस्या को देखते हुए किसान उग्र आंदोलन पर उतर आए और कहा कि सरकार अगर इनकी समस्या का समाधान नही करती है तो आंदोलन जारी रखा जाएगा।
View More...

आदिवासियों के विकास के लिए शिक्षा महत्वपूर्ण: डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम

रायपुर। आदिमजाति, अनुसूचित जाति एवं जनजाति कल्याण मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने राजिम माघी पुन्नी मेला के 11वें दिन आज राजिम में विशाल आदिवासी सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि आदिवासी समाज को विकास की मुख्यधारा में आने के लिए शिक्षा को अपनाना होगा। शिक्षा के बगैर कोई भी समाज विकास नहीं कर सकता। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की अगुवाई में हमारी सरकार स्थानीय संस्कृति और रीति-रिवाजों को सहेजने का काम कर रही है। समाज में जो कमियां है उसे शिक्षा से ही दूर किया जा सकता है। उन्होंने आदिवासियों को सामूहिक वनाधिकार पत्र के लिए मांग करने का सुझाव दिया। डॉ. टेकाम ने कहा कि हमारी सरकार ने आदिवासियों के हित के लिए समर्थन मूल्य पर 8 लघु वनोपजों की खरीद को बढ़ाकर 22 कर दिया है। साथ ही उन्होंने कहा कि शराबबंदी की ओर सरकार धीरे-धीरे आगे बढ़ रही है। शराबबंदी के लिए समाज को भी आगे आना होगा। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि शासन की योजनाओं का लाभ दिलाने जनप्रतिनिधि भी भागीदारी निभायेंगे।
सम्मेलन की अध्यक्षता करते हुए राजिम विधायक अमितेष शुक्ल ने कहा कि आदिवासियों के साथ उनके परिवार का पहले से नाता है। आजादी की लड़ाई में गुंडाधुर और शहिद वीरनारायण सिंह जैसे वीर आदिवासियों का योगदान को नहीं भुलाया जा सकता। श्री शुक्ल ने कहा कि आदिवासियों का पीले रंग का पगड़ी और गमछा उनके सहज, सरल और अध्यात्म के प्रति विश्वास को दर्शाता है। सम्मेलन की विशिष्ट अतिथि सिहावा विधायक डॉ. लक्ष्मी धु्रव ने कहा कि आजादी के बाद ही आदिवासियों के विकास के लिए नियम और कानून बनाए गए। यहां तक कि संविधान में भी प्रावधान किया गया। आदिवासियों को दिए गए अधिकार और सुविधाओं के कारण ही वें आज यहॉ तक पहुंच पायी है। डॉ. धु्रव ने आदिवासी समाज को नशे से दूर रहने कि अपील करते हुए कहा कि इस संबंध में समाज में ठोस निर्णय लेना होगा।  सम्मेलन में अतिथियों द्वारा अंर्तजातीय विवाह प्रोत्साहन योजनार्गत 4 जोड़ों को ढाई-ढाई लाख रूपए का चेक, 5 किसानों को सब्जी मिनी कीट और बाड़ी विकास योजनांर्गत 2 किसानों को मुंग  मिनी कीट का वितरण किया गया। इस अवसर पर मंत्री डॉ. टेकाम ने विभागीय प्रदर्शिनी का अवलोकन कर जानकारी ली।

View More...

कुपोषित बच्चों के उपचार के लिए ग्रामीणों ने दी 13 हजार रूपए की राशि

रायपुर। उद्योग मंत्री  कवासी लखमा ने अपने हाथों में सुपोषण टोकरी लेकर कुपोषित बच्चों को सुपोषित बनाने के लिए लोगों से अपील की जिस पर उपस्थित जनप्रतिनिधियों, ग्रामीणों ने खुलकर दान दिया। सुपोषण टोकरी में दान स्वरूप कुल 13 हजार 30 रूपए की राशि एकत्र हुई। श्री लखमा धमतरी विकास खण्ड की ग्राम पंचायत संबलपुर में आयोजित सुपोषण जागरूकता शिविर में नौनिहालों को स्वस्थ व सुपोषित बनाने के लिए यह राशि महिला एवं बाल विकास को भेंट की। उन्होंने शिविर में छह शिशुवती माताओं को विभिन्न पौष्टिक आहार वाले व्यंजनों से युक्त टोकरी भेंट की।सम्बलपुर में आयोजित सुपोषण शिविर में उद्योग मंत्री ने कहा कि गांधी और नेहरू के सपनों के भारत को साकार करने का काम मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की सरकार कर रही है, जिसके तहत बच्चों को कुपोषण के अभिशाप से मुक्त करने मुख्यमंत्री ने गांधी जयंती के अवसर पर 02 अक्टूबर 2019 को सुपोषण अभियान का आगाज किया गया है। उन्होंने आगे कहा कि धमतरी एक समृद्ध और सम्पन्न जिला है, जहां पर कुपोषित बच्चों को नया जीवन प्रदान करने में प्रत्येक व्यक्ति अपनी सहभागिता एवं सहयोग देना चाहिए। कार्यक्रम में मंत्री  कवासी लखमा ने महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा आयोजित सुपोषण प्रदर्शनी का अवलोकन किया। 

View More...

मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान : प्रदेश के 60 हजार बच्चे हुए सुपोषित

रायपुर।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की कुपोषण मुक्ति की पहल पर 2 अक्टूबर 2019 को शुरू हुए प्रदेशव्यापी मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के सकारात्मक परिणाम दिखने लगे हैं। पिछले चार महीनों में प्रदेश के लगभग 60 हजार बच्चों को सुपोषित करने में सफलता मिली है।    महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेंड़िया के कुशल निर्देशन में प्रदेश की आंगनबाड़ियों में सुपोषण अभियान का प्राथमिता के साथ संचालन किया जा रहा है। इसके के तहत आंगनबाड़ियों में 3 लाख 15 हजार हितग्राहियों को गर्म भोजन प्रदान किया जा रहा है। साथ ही 3 लाख 81 हजार हितग्राहियों को अतिरिक्त पोषण आहार प्रदान किया जा रहा है। अतिरिक्त पोषण आहार में हितग्राहियों को गर्म भोजन के साथ अण्डा, लड्डू, चना, गुड़, अंकुरित अनाज, दूध, फल, मूंगफली और गुड़ की चिक्की, सोया बड़ी, दलिया, सोया चिक्की और मुनगा भाजी से बनेे पौष्टिक और स्वादिष्ट आहार दिये जा रहे हैं। इससे बच्चों में खाने के प्रति रूचि जागृत हुई है। स्थानीय स्तर पर उपलब्ध सब्जियों और पौष्टिक चीजों के प्रति भी जागरूकता बढ़ाई जा रही है। इससे पोषण स्तर में सुधार आना शुरू हो गया है।  

    उल्लेखनीय है कि बस्तर, दंतेवाड़ा, कोरबा, सरगुजा, कोरिया एवं कुछ अन्य जिलों की चुनिन्दा पंचायतों में एनीमिया एवं कुपोषण के पीड़ितों को प्रतिदिन निःशुल्क भोजन उपलब्ध कराने का कार्य ‘पायलट प्रोजेक्ट‘ के रूप में शुरू किया गया था। मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के शुरू होते ही इसे अब पूरे प्रदेश में लागू कर दिया गया है।                            

View More...

पत्रकार राजदीप शर्मा को मिली जान से मारने की धमकी ।

कापसी:- नई दुनिया अखबार के छोटे कापसी के स्थानीय प्रतिनिधि व परलकोट पत्रकार संघ के सदस्य राजदीप शर्मा को जान से मारने की धमकी दी गयी । दिनांक 13.02.2020 को सोशल मीडिया व्हाट्सअप ग्रुप में राजदीप शर्मा ने अवैध रूप से किसान के पट्टे में कोचिया के धान खपाने वाले मामले को उछाला था , जिसके बाद जिला व खण्ड स्तर के अधिकारियों ने मामले को संज्ञान में लिया था । गौर विदित हो की राजदीप शर्मा ने थाने में सपन बेनर्जी पिता जितेंद्र बेनर्जी, पिंकू दत्ता पिता स्व अरुण दत्ता व किशोर मंडल पिता स्व.निल कमल द्वारा विगत रात्रिकाल 12 बजे के आसपास पत्रकार राजदीप शर्मा के घर मे घुसकर गालीगलौज करते हुए जान से मारने की धमकी दी बतलाया कि कापसी में रहने नही देंगे, अभी उठा लेंगे मारकर फेक देंगे टाटा सफारी में बैठाकर ले जाने की बात कही। उसी समय कापसी बाजार के सचिव संतोष साहा मौके पर पहुचकर सभी को अपने साथ ले गए । उक्त अपने साथ घटीत वाक्या को राजदीप शर्मा व पखांजुर पत्रकार संघ ने थाने पखांजूर में जाकर लिखित आवेदन प्रस्तुत करते हुए तत्काल नामित व्यक्तियो पर एफआईआर दर्ज करने की मांग की है । इस मामले को लेकर राजदीप शर्मा व पत्रकार संघ ने अनुविभागीय अधिकारी पुलिस मयंक तिवारी को आवेदन प्रस्तुत कर मामले की जांच कर रिपोर्ट दर्ज करवाने की बात कही । एसडीओपी मयंक तिवारी ने तत्काल टीम को कापसी भेजकर घटना स्थल का जायजा लेते हुए सीसीटीवी फुटेज को अपने कब्जे में लेकर आगे की कार्यवाही की बात कही ।
View More...

पत्रकार राजदीप शर्मा को मिली जान से मारने की धमकी ।

कापसी:- नई दुनिया अखबार के छोटे कापसी के स्थानीय प्रतिनिधि व परलकोट पत्रकार संघ के सदस्य राजदीप शर्मा को जान से मारने की धमकी दी गयी । दिनांक 13.02.2020 को सोशल मीडिया व्हाट्सअप ग्रुप में राजदीप शर्मा ने अवैध रूप से किसान के पट्टे में कोचिया के धान खपाने वाले मामले को उछाला था , जिसके बाद जिला व खण्ड स्तर के अधिकारियों ने मामले को संज्ञान में लिया था । गौर विदित हो की राजदीप शर्मा ने थाने में सपन बेनर्जी पिता जितेंद्र बेनर्जी, पिंकू दत्ता पिता स्व अरुण दत्ता व किशोर मंडल पिता स्व.निल कमल द्वारा विगत रात्रिकाल 12 बजे के आसपास पत्रकार राजदीप शर्मा के घर मे घुसकर गालीगलौज करते हुए जान से मारने की धमकी दी बतलाया कि कापसी में रहने नही देंगे, अभी उठा लेंगे मारकर फेक देंगे टाटा सफारी में बैठाकर ले जाने की बात कही। उसी समय कापसी बाजार के सचिव संतोष साहा मौके पर पहुचकर सभी को अपने साथ ले गए । उक्त अपने साथ घटीत वाक्या को राजदीप शर्मा व पखांजुर पत्रकार संघ ने थाने पखांजूर में जाकर लिखित आवेदन प्रस्तुत करते हुए तत्काल नामित व्यक्तियो पर एफआईआर दर्ज करने की मांग की है । इस मामले को लेकर राजदीप शर्मा व पत्रकार संघ ने अनुविभागीय अधिकारी पुलिस मयंक तिवारी को आवेदन प्रस्तुत कर मामले की जांच कर रिपोर्ट दर्ज करवाने की बात कही । एसडीओपी मयंक तिवारी ने तत्काल टीम को कापसी भेजकर घटना स्थल का जायजा लेते हुए सीसीटीवी फुटेज को अपने कब्जे में लेकर आगे की कार्यवाही की बात कही ।
View More...

घर -घर हो रही मलेरिया की जांच , स्वास्थ्य विभाग की टीम सेवा में तत्पर ।

दिपेश साहा )कापसी :- राष्ट्रीय वेक्टर जनित रोग नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत स्वास्थ्य विभाग द्वारा कांकेर जिले अंतर्गत सभी ग्रामो में मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान चलाया जा रहा है। यह अभियान 15 जनवरी से प्रारंभ हुई है । कोयलीबेड़ा विकासखण्ड के कापसी परिक्षेत्र में 6 मलेरिया जांच दल लोगो के घरों ,दुकानों व साप्ताहिक हाट बाजारों में जाकर आरडी कीट द्वारा प्रति व्यक्ति, रक्त जांच कर जांच परिणाम बताकर लोगो को मलेरिया से बचने की उपाय बता रहे है मलेरिया के लक्षण पाए जाने पर दवाई का निः शुल्क वितरण किया जा रहा है। मलेरिया के लक्षण की जानकारी भी लोगो को दी जा रही है। बता दे की सीखा साहा स्वास्थ्य कार्यकर्ताओ ने लोगो को मलेरिया के लक्षण बताया जैसे तेज बुखार के साथ ठंड लगना, बुखार कर साथ सिरदर्द होना , उल्टियां आना , सांस लेने मे परेशानी होने पर तत्काल नज़दीकी शासकीय अस्पताल में जाकर रक्तजांच कर उपचार हेतु निर्देशित होने की बात कही । मलेरिया से बचने के लिए उपाय बताते हुए मलेरिया रोकथाम टीम ने बतलाया की मच्छर अधिकतर बिस्तर के नीचे ,अंधेरे में रहता है । मच्छर प्रायः तभी बाहर निकलते है जब आप सो रहे होते है । इसलिए बहुत जरुरी है की आप सोने के पहले सुनिश्चित करे की आस- पास मच्छर कोई मच्छर न हो , आलआउट, कछुआ छाप अगरबत्ती जलाकर , मॉस्किटो बैट का उपयोग करे । सोते वक्त मेडिकेट मच्छरदानी का उपयोग करे । विदित हो की मलेरिया रोकथाम टीम द्वारा मच्छरों के प्रकोप से बचने लोगो को नसीहत दी जा रही है जांच दल द्वारा बतलाया जा रहा है मच्छर ठहरे हुए पानी में पनपता है। अपने घर में घर और आसपास के इलाके में पानी को रुकने न दे । गंदगी जैसे जंगली झाड़ी को साफ करते हुए घर के दीवारों में कीटनाशक दवाओं का छिड़काव कर मच्छरों के प्रकोप से बचा जा सकता है। इस मलेरिया जांच दल में आरएसओ , सीखा साहा ,भगीरथ कुमार ,संजय सोरी , सुरेंद्र जैन , अजंली जानी मितानीन भी मौजूद रही।
View More...

परलकोट के ग्रामीण अंचलों में , माँ मनसा पूजा की धूम रही ।

कांकेर/ कापसी:- माँ मनसा देवी की पूजा बड़े धूमधाम से परलकोट अंचल में मनायी गयी । बंगला पंजिका पत्रिका के अनुसार माघ पूर्णिमा के दिन प्रतिवर्ष परलकोट अंचल में मां मनसा की पूजा पारंपरिक पर्व के रूप में मनाया जाता है। लोग साँपो की देवी माँ मनसा को पूजते है। इस दिन परलकोट के कई गावो में मूर्ति स्थापित कर लोगो ने विधी विधान से माँ मनसा की पूजा अर्चना की। महिलाओ ने कलश यात्रा निकाली । इस पूजन को लेकर परलकोट में हर्ष उल्लास का वातावरण देखने को मिला।
View More...

खबर लगते ही लोक निर्माण विभाग ने आनन फानन में सड़क में बने गड्ढे को मरम्मत करवाया।

कापसी :- पिछले गुरुवार दिनांक 06.02.2020 को बंग बंधु पत्रिका ने शीर्षक "सड़क पर जानलेवा गड्ढे बन जाने से, वाहन चालकों को हो रही परेशानी ,नामक खबर प्रकाशित किया था खबर लगते ही तत्काल लोक निर्माण विभाग हरकत में आयी और आनन फानन में सड़क के बीचों बीच हुए गड्ढे नुमा सुरंग को मरम्मत करवाने के जुगत में लग गया बता दे की पीवी 5 के हाईस्कूल के सामने मुख्य सड़क के नाले से पानी निकासी के चलते सड़क नीचे से धसक कर खोख़ली हो गयी थी। मुख्य सड़क के बीचों बीच सुरंग नुमा बड़ा सा गड्डा बन गया था जिससे की बड़ा हादसा घटित हो सकती थी पर ग्रामीणों ने सूझबूझ का परिचय देते हुए" बंग बंधु पत्रिका अखबार" को खबर की जानकारी दी थी । मामले को विभागीय अधिकारी को संज्ञान में देते हुए बंग बंधु पत्रिका ने अपना फर्ज निभाया था , विभाग ने तत्काल खबर को प्राथमिकता देते हुए तत्काल सड़क के बीच बने गड्ढे को व्याकल्पिक रूप से सुधवाकर यातायत व्यवस्था को दुरुस्त करवाया। वही ग्रामीणों ने बंग बंधु पत्रिका " के प्रति आभार प्रकट किया ।
View More...

पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह बेनकाब हुए जिसका खामियाजा भाजपा पार्टी को हार का सामना करना पड़ रहा है - मन्तु राम पवार

रायपुर :- त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में भी भाजपा को बहुत बड़ा नुकसान हुआ,छत्तीसगढ़ के जनता डा.रमनसिंह जी का 15 साल के मुख्यमंत्री कार्यकाल को एक वर्ष में भुल गये। 2014-15 के अंतागढ उपचुनाव में नाम वापसी के बाद बहुचर्चित टेप कांड प्रकरण में डा.रमनसिंह के छवि को धुमिल कर भाजपा में रस-बस कर पार्टी को नुकसान पँहुचाया,जिसके चलते 2018 के विधानसभा चुनाव में चौकाने वाले रिजल्ट सामने आया,तथा इसका असर दन्तेवाड़ा और चित्रकोट उपचुनाव में भी देखने को मिला, भाजपा पार्टी को बुरी तरह हार का सामना करना पड़ा,इतना ही नहीं अपना एक मात्र भाजपा विधायक भीमा मंडावी के सीट को भी बचा नहीं पाये,निगम और पंचायतें चुनाव में भी पार्टी का प्रदर्शन गुटों में बटे होने के कारण जवाब देने की स्यथिति में नहीं रही। डा.रमनसिंह और उसके दो-तीन चहेते चेहरे भाजपा को कोमा तक पँहुचा रही है,इसी बातों को उजागर करने के लिए छत्तीसगढ़ के ढाई करोड़ जनता के सामने सच्चाई रखने की कोशिशें की,परन्तु कुछ लोगों ने पार्टी के नियम-कानून को अनदेखी करते हुए,बिना मेरे दलिल सुने ,नोटिस दिये बगैर दादागिरी कर पार्टी से निकाल दिया,मेरी शिकायत केवल और केवल डा.रमनसिंह से है,उसने धोखा दिया जब की भोजराज नाग का विधायक बनने का श्रेय केवल मेरा नाम वापसी और त्याग की भावनाएं को जाता है । पार्टी से कोई शिकवा-शिकायतें नहीं है। ना मुझे निगम-आयोग में लिया गया ना विधानसभा,लोकसभा टिकट और संगठन में भी जगह नहीं दिया ,बस एक साधारण प्राथमिक सदस्य बनाकर मुझे कठपुतली की तरह नचाया ।मैने भाजपा में रहकर पार्टी की जवाबदारी पाँच वर्षो तक ईमानदारी से निभाया,इसलिये मेरा केन्द्रीय नेतृत्व से गुजारिश है की समय रहते विचार-विमर्श कर भाजपा पार्टी जो दिनों-दिन कमजोर होती जा रही है जो हर चुनावों में पराजित हो रही है। इसके उपरान्त भी पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने मेरे मामले को गंभीरता से नही लिया , मुझे हल्के में लेना भाजपा की नादानी है। बता दु की छत्तीसगढ़ प्रदेश में भाजपा का बेड़ा बंटाधार होने देर नही लगेगी । आने वाले समय में भाजपा को और भी नुकसान हो सकता है, तथा मेरे द्बारा भी समय आने पर छत्तीसगढ़ के कोनें कोनें में जाकर सच्चाई उजागर करुंगा ड़ा रमन सिंह का असली चेहरा को लोगो के सामने लाकर रहूंगा । अन्तागढ़ विधानसभा उपचुनाव लोकतंत्र की हत्या ड़ा रमन सिंह ने की।
View More...
Previous123456789...4748Next