Chhattisgarh

Previous123456789...410411Next

कोर्ट परिसर में पुलिसकर्मियों को चकमा देकर गांजा तस्कर के फरार

Date : 06-Mar-2021

रायपुर। राजधानी रायपुर के आरंग थाना पुलिस की अभिरक्षा से कोर्ट परिसर में पुलिसकर्मियों को चकमा देकर गांजा तस्कर के फरार होने का मामला सामने आया है।

4 मार्च को देर रात आरंग थाना पुलिस को सूचना मिली थी कि ग्राम रानीसागर में चितेन्द्र कुमार साहू अपने घर के बाजू में बाडी में अवैध रूप से मादक पदार्थ गांजा को बिक्री के रखा है जिस पर पुलिस ने रेड कार्यवाही करते हुए मौके से तकरीबन 10 हज़ार मूल्य के 1 किलो 150 ग्राम गांजा को जप्त किया था जिसके बाद आरोपी की गिरफ्तारी कर उसके खिलाफ NDPS एक्ट की धारा 20 ख के तहत मामला दर्ज किया गया था।

5 मार्च शुक्रवार को जब आरंग थाना पुलिस आरोपी चितेन्द्र साहू को पेशी के लिए कोर्ट लेकर पहुँची तो आरोपी ने पुलिसकर्मियों को चकमा देकर पुलिस अभिरक्षा से फरार हो गया। इस घटना के बाद आरंग थाना पुलिस की शिकायत पर सिविल लाइन थाना पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 224 के तहत अपराध दर्ज कर लिया है व चितेन्द्र साहू की तलाश में जुटी है।

View More...

अवैध प्लाटिंग कर जमीन बेचने को लेकर हाईकोर्ट ने कलेक्टर, एसडीएम और टाउन एंड एंट्री प्लानिंग के डायरेक्टर को नोटिस जारी कर मांगा जवाब

Date : 06-Mar-2021

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर शहर से लगे ग्राम डोमा व आसपास अवैध प्लाटिंग कर जमीन बेचने को लेकर हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की गई है। इस मामले की सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने रायपुर के कलेक्टर, एसडीएम और टाउन एंड एंट्री प्लानिंग के डायरेक्टर को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।

बता दें कि मामले को लेकर याचिकाकर्ता अरविंद सिंह ने वकील बकररुद्दीन खान के जरिए हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की है। इसमें उन्होंने बताया है की ग्राम डोमा व आसपास की ग्राम पंचायतें रायपुर शहर से लगी हुई है। यहां कृषि योग्य जमीनों को छोटे छोटे टुकड़ों में काटकर कालोनियां डेवलप की जा रही है। प्रावधान के अनुसार नई कॉलोनी विकसित करने के लिए टाउन एंड कंट्री प्लानिंग से अनुमति लेनी जरूरी होती है। पर यहां इस प्रकार की कोई अनुमति नहीं ली गयी है और कृषि भूमि पर कालोनी बनाई जा रही है।

View More...

एक अज्ञात युवती ने रेलवे लाइन पर ट्रेन से कटकर दी अपनी जान

Date : 06-Mar-2021

भानुप्रतापपुर। रेलवे लाइन पर एक अज्ञात युवती की ट्रेन से कटकर अपनी जान दे दी है। मामला डौंडी थाना क्षेत्र का है, मिली जानकारी के अनुसार भानुप्रतापपुर से दुर्ग की ओर जा रही ट्रेन से एक अज्ञात युवती की कटने से मौत हो गई है। युवती का सिर धड़ से अलग हो गया है। मामला डौंडी थाना क्षेत्र के गुदुम रेलवे स्टेशन का है। मौके पर पहुंची डौंडी पुलिस मामले की जाँच में जुटी है।

View More...

प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल उइके को तीन दिवसीय अंतरराष्ट्रीय सिरपुर बौद्ध महोत्सव और शोध संगोष्ठी में शामिल होने का दिया निमंत्रण

Date : 06-Mar-2021

रायपुर। राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके से यहां राजभवन में छत्तीसगढ़ हेरिटेज एवं कल्चरल फाउण्डेशन एवं सिरपुर महोत्सव एवं सोशल वेलफेयर फाउण्डेशन, रायपुर के सचिव नरेश कुमार साहू के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने सौजन्य मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल को कि इस तीन दिवसीय अंतरराष्ट्रीय सिरपुर बौद्ध महोत्सव एवं शोध संगोष्ठी-2021 में शामिल होने का निमंत्रण दिया।

प्रदेश के प्रथम नागरिक राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके से आज उनके निवास में अंतरराष्ट्रीय सिरपुर बौद्ध महोत्सव में उदघाटन अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया गया। इस मौके पर आयोजन समिति के इस अवसर पर डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनकर, डॉ. रामचंद्र साहू, सुश्री विनिका दुर्गम ने राज्यपाल से सौजन्य मुलाकात कर महोत्सव के आकर्षण को लेकर चर्चा किया। महासमुंद जिले में सिरपुर महोत्सव आगामी 12, 13 व 14 मार्च 2021 को होने जा रहा है। कार्यक्रम में अतिथि के रूप में शामिल होने का आमन्त्रण राज्यपाल ने स्वीकार किया। 12 मार्च को सुबह 11 बजे महोत्सव का शुभारंभ मौके पर राज्यपाल समारोह में शामिल होंगे और बौद्व विरासत की एतिहासिक धरोहर को सहेजने की दिशा में प्रयास करने के लिए भी भ्रमण करेंगी।

इस तीन दिवसीय अंतरराष्ट्रीय सिरपुर बौद्ध महोत्सव एवं शोध संगोष्ठी-2021 आयोजन में देश विदेश के महान साहित्यकार, प्रोफेसर, चिन्तक, समाज सेवी, भाषाविद, पुरातत्वविद सहित राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त महान विचारक व चिन्तक व बौद्व भिक्कू भी इस दौरान तीन दिवसीय छत्तीसगढ़ प्रवास में रहेंगे। इस अवसर पर कार्यक्रम में बौद्धिक चिंतन के साथ साथ छत्तीसगढ़ के कला और संस्कृति पर मंथन होगा तथा छत्तीसगढ़ के लोक परम्परा पर आधारित नृत्य, संगीत पंथी, आदिवासी नृत्य, कर्मा, राऊत नाचा आदि का भी मंचन होगा।

View More...

इस जिले में लापता 11 साल के बच्चे का शव मिला खेत में

Date : 06-Mar-2021

सूरजपुर। सूरजपुर में कल से लापता 11 साल के बच्चे का शव खेत में मिला है। बताया जा रहा है कि बच्चा गोपालपुर ही रहने वाला है, जो कल से लापता था। घटना की सूचना पुलिस को दी गई। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच में जुट गई है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

घटना सूरजपुर के गोपालपुर की है, जहां 11 साल के बच्चे का शव खेत में मिला है। पुलिस के मुताबिक बच्चा कल से गायब था, जिसकी सूचना परिवार वालों ने आज थाने में की, जिसके बाद बच्चे की तलाश की जा रही थी। बच्चे के नाम अर्णव बताया जा रहा है, जिसकी तलाश करने पर घर से कुछ ही दूर पर खेत में उसका शव मिला। पुलिस बच्चे के शव का निरीक्षण कर प्रथमदृष्टया हत्या की शंका व्यक्त कर रही है। पुलिस ने जांच में फोरेंसिक की टीम और डॉग स्क्वायड को बुलाया है। बहरहाल पुलिस ने शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

View More...

छत्तीसगढ़ स्थान.नामार्थ परिचय शोध संगोष्ठी का संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत ने किया शुभारंभ

Date : 06-Mar-2021

रायपुर। संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत ने  महंत घासीदास संग्रहालय रायपुर के सभागार में छत्तीसगढ़ स्थान-नामार्थ विषय पर आयोजित दो दिवसीय शोध संगोष्ठी का शुभारंभ किया। मंत्री भगत ने इस मौके पर सरगुजा के स्थान - नामों की परंपरा को रेखांकित करते हुए ऐसे अकादमिक आयोजनों में प्राप्त शोध पत्रों को पुस्तक के रूप में प्रकाशित करने की आवश्यकता बताई। कार्यक्रम के अध्यक्ष संसदीय सचिव कुंवर सिंह निषाद ने प्रदेश के अनेक महत्वपूर्ण स्थलों के नामकरण की रोचकता और छत्तीसगढ़ी व्यंजनों की विशेषता पर प्रकाश डाला।

संगोष्ठी के प्रथम दिन आज दो अकादमिक सत्रों में 10 शोध पत्रों का वाचन हुआ, जिसमें विभिन्न अध्येताओं और शोधार्थियों द्वारा बस्तर, सरगुजा, राजिम, कोरिया, भोरमदेव, खैरागढ़, राजनांदगांव, धमधा और गरियाबंद क्षेत्र से संबंधित स्थानों, स्मारकों, ग्रामों, नगर के नामों के, अर्थ, व्युत्पत्ति, उनमें निहित जनश्रुतियों की जानकारी दी गई। आधार वक्तव्य डॉ. के. के. चक्रवर्ती ने दिया। उन्होंने सरगुजा के आदिवासी समूहों द्वारा धारित उपनामों की व्याख्या करते हुए बताया कि इनमें जीव-जंतु और वनस्पतियों का समावेश मिलता है। उन्होंने पुरातत्त्व और संस्कृति के क्षेत्र में कार्य करते समय आधुनिक तकनीक और पारिस्थितिकी के मध्य संतुलन बनाए रखने की बात कही, जिससे आधुनिक विकास के दौर में मूर्त और अमूर्त विरासतों को नुकसान होने से बचाया जा सके। संस्कृति विभाग के सचिव अन्बलगन पी ने संगोष्ठी के विषय की महत्ता पर अपनी बात कही। संचालक विवेक आचार्य ने स्वागत उद्बोधन और कार्यक्रम का परिचय देते हुए संगोष्ठी के उद्देश्यों पर प्रकाश डाला। शुभारंभ सत्र के बाद डॉ. एन. एस. साहू और डॉ चितरंजन कर ने छत्तीसगढ़ के स्थान नामों पर व्याख्यान दिया। इस अवसर पर आचार्य रमेन्द्रनाथ मिश्र, डॉ. आर. एन. विश्वकर्मा, मीर अली मीर, अशोक तिवारी, जी. एल. रायकवार उपस्थित थे।

View More...

जिले में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना: चल रहे कार्यों में श्रमिकों की संख्या में हुई बढ़ोत्तरी, 13 सौ कार्यों में 68 हजार 438 श्रमिक नियोजित

Date : 06-Mar-2021

धमतरी। जिले में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के तहत चल रहे कार्यों में नियोजित श्रमिकों की संख्या में बढ़ोत्तरी हुई है। साथ ही प्रत्येक जाॅब कार्डधारी परिवार को वित्तीय वर्ष 2020-21 में प्रति व्यक्ति को प्रतिदिन 190 रूपये के हिसाब से 30 दिन का कार्य सृजित करने पर श्रमिकों के खाते में 5700 रूपये एकमुश्त जमा होने से श्रमिकों के चेहरे में खुशियाँ आई है।

कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य के मार्गदर्शन एवं जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी के निर्देश पर जिले में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के तहत मांग आधारित कार्य डबरी निर्माण, तालाब गहरीकरण, कच्ची नाली निर्माण, भूमि सुधार कार्य, मिट्टी सड़क निर्माण कार्य, गौठान निर्माण, आंगनबाड़ी निर्माण, नरूवा इत्यादि कार्य शुरू कर ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूती प्रदाय किया जा रहा है। अब तक 370 ग्राम पंचायतों में से 369 ग्राम पंचायतों में 68 हजार 438 श्रमिक नियोजित है। जिसमें धमतरी विकासखंड के 93 पंचायत में 16 हजार 37 श्रमिक, कुरूद विकासखंड के 108 पंचायत में 14 हजार 417 श्रमिक, मगरलोड विकासखंड के 66 पंचायत में 15 हजार 449 श्रमिक, नगरी विकासखंड के 102 पंचायत में 22 हजार 535 श्रमिक कुल 1300 रोजगार मूलक कार्यों में नियोजित हैं। एक ओर मजदूर अपने काम के प्रति उत्साहित होकर कार्य कर रहे हैं वहीं दूसरी ओर 190 रूपये प्रति दिवस मजदूरी मिलने पर काफी खुश और निश्चिंत हैं। शासन के दिशानिर्देश अनुसार ग्रामीण श्रमिकों को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने के लिए जल संग्रहण एवं कंन्वर्जेंस जैसे कार्यों को प्राथमिकता से कराये जा रहे हैं।

मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत ने बताया कि-जिले के सभी पंचायतों में मांग अनुसार महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के कार्य कराये जा रहे हैं। श्रमिकों को सोशल डिस्टन्सिंग का पालन करने के निर्देश दिये गये हैं। विभागीय अधिकारी ने सरपंच, सचिव, रोजगार सहायक से सतत् संपर्क कर पर्याप्त मात्रा में रोजगार मूलक कार्य स्वीकृत कराने के निर्देश दिये गए हैं।

View More...

आबकारी विभाग ने 28 लीटर अवैध महुआ शराब व शराब बनाने की सामग्री के साथ आरोपी को किया गिरफतार

Date : 06-Mar-2021

सूरजपुर। कलेक्टर रणबीर शर्मा के निर्देशन में आबकारी विभाग अपराधों पर नियंत्रण हेतु जारी अभियान के तहत सघन गश्त के दौरान सूचक द्वारा सूचना मिलने पर 4 मार्च को आबकारी वृत्त सूरजपुर प्रभारी सहदेव मरकाम (आबकारी उप निरीक्षक) द्वारा ग्राम शिवनन्दनपुर भाथू पारा निवासी आरोपी देवसाय पिता मिलन राजवाड़े के रिहायशी मकान मे दविश देकर 28 लीटर अवैध महुआ शराब एवं शराब बनाने हेतु तैयार महुआ लाहन 80 किलोग्राम बरामद कर जप्त किया गया ।

आरोपी के विरूद्ध आबकारी अधिनियम की धारा 34(1)क,च/34(2) एवं 59(क) के तहत प्रकरण दर्ज कर विवेचना मे लिया गया एवं आरोपी का रिमांड स्वीकृत कर जेल दाखिल किया गया। इस कार्यवाही मे आबकारी आरक्षक छक्केलाल गुप्ता, कुमारूराम खैरवार, महिला नगर सैनिक जमुना एक्का,सविता राजवाड़े, राजकुमारी एवं वाहन चालक प्रमोद साहू का सक्रिय योगदान रहा।

View More...

मंत्री रविन्द्र चौबे विधानसभा में कृषि विभाग के लिए 7785 करोड़ का मांगा अनुदान, ध्वनि मत से पारित

Date : 06-Mar-2021

रायपुर। कृषि, जल संसाधन, पशुपालन, मछली पालन एवं संसदीय कार्य मंत्री रविन्द्र चौबे द्वारा विधानसभा में वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए 7785 करोड़ 76 लाख रूपए की प्रस्तुत अनुदान मांगे ध्वनि मत से पारित की गई।

इसमें राज्य विधान मंडल के लिए 70 करोड़ 49 लाख 30 हजार रूपए, कृषि विभाग के लिए 4604 करोड़ 53 लाख 98 हजार रूपए, पशुपालन विभाग के लिए 473 करोड़ 82 लाख 39 हजार रूपए, मछली पालन विभाग के लिए 82 करोड़ 38 लाख 40 हजार रूपए, कृषि अनुसंधान एवं शिक्षा से संबंधी व्यय के लिए 255 करोड़ रूपए, जल संसाधन विभाग के लिए 1139 करोड़ 47 लाख 58 हजार रूपए, लघु सिंचाई निर्माण कार्य के लिए 453 करोड़ 98 लाख 36 हजार रूपए, जल संसाधन विभाग से संबंधित नाबार्ड से सहायता प्राप्त परियोजनाओं के लिए 699 करोड़ 6 लाख रूपए और विदेशों से सहायता प्राप्त परियोजनाओं के लिए 7 करोड़ रूपए शामिल है। अनुदान मांगों की चर्चा में विधानसभा सदस्य धनेन्द्र साहू, सत्यनारायण शर्मा, प्रकाश नायक, शैलेष पाण्डेय, धर्मजीत सिंह, श्रीमती ममता चंद्राकर, रामकुमार यादव, श्रीमती उत्तरी जांगड़े और आशीष छाबड़ा ने भाग लिया।

मंत्री चौबे ने कहा कि छत्तीसगढ़ में 95 प्रतिशत आबादी कृषि पर आधारित है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में किसानों के हित में लगातार कार्य किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि किसानों को लाभ पहंुचाने के लिए लाख की खेती और मछली पालन को कृषि का दर्जा दिया जाना है, इसके लिए बजट में प्रावधान किया गया है। कृषि बजट में गतवर्ष की तुलना में 13 प्रतिशत की वृद्धि की गई है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में पिछले दो साल में खेती किसानी के लिए खाद, बीज, कृषि ऋण, खेती का रकबा और उत्पादन में वृद्धि हुई है। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में भी कृषि क्षेत्र में भी विकास की गति को जारी रखते हुए कोविड चुनौती को अवसर में बदला गया। कोरोना काल में किसानों के खाते में 23 हजार 555 करोड़ रूपए किसानों के खाते में हस्तांतरित किया गया है।

मंत्री रविन्द्र चौबे ने कहा कि प्रदेश के किसानों की सुविधा के लिए सभी प्राथमिक समितियों में चबूतरों में शेड बनाया जाएगा, इसके साथ ही किसान कुटीर भी बनाए जाएंगे। जहां किसानों के लिए बैठने, पेयजल आदि की व्यवस्था होगी। उन्होंने कहा कि किसानों, ग्रामीणों, पशुपालकों और महिला स्व सहायता समूहों को लाभ पहंुचाने के लिए प्रदेश के सभी गौठानों को मल्टीयूटिलिटी सेंटर के रूप में विकसित किया जाएगा। मंत्री चौबे ने कहा कि छत्तीसगढ़ के विभिन्न कृषि उत्पादों को प्रदेश एवं राष्ट्रीय स्तर पर एक ही छत के नीचे बेचने के लिए सी मार्ट योजना का भी बजट में प्रावधान किया गया है। मंत्री चौबे ने कहा कि सिंचाई सुविधाओं में विस्तार के लिए नदियों के किनारे जहां जल स्त्रोत उपलब्ध है वहां मेगा लिफ्ट ऐरिगेशन सिस्टम तैयार किया जाएगा।

View More...

बैठक में बिना मास्क पहनकर पहुंचे 6 अधिकारियों पर कलेक्टर ने लगाया जुर्माना

Date : 05-Mar-2021

बलौदाबाजार। कलेक्टर की बैठक में मास्क नहीं पहनकर बैठक में पहुंचे 6 अधिकारियों पर जुर्माना लगाया गया। मास्क नहीं लगाकर सार्वजनिक बैठक में शामिल होने और कानून का उल्लंघन करने पर उनसे 100-100 रुपये का जुर्माना लिया गया।

दरअसल बलौदाबाजार कलेक्टर सुनील कुमार जैन आज जिला पंचायत के सभाकक्ष में अधिकारियों की बैठक ले रहे थे। गोठान के काम-काज की समीक्षा शुरू करने के पहले उनकी नजर मास्क नहीं लगाने वाले अफसरों पर पड़ी। छह अफसर बिना मास्क पहने पाये गये। कलेक्टर ने उन्हें खूब फटकार लगाई और कोविड प्रोटोकॉल का हर समय पालन सुनिश्चित करने के कड़े निर्देश दिए। उन्होंने नायब तहसीलदार को बैठक में बुलाकर मास्क धारण नहीं करने वाले अधिकारियों से 100-100 रुपये का जुर्माना स्वरूप चालान कटवाया। उन्होंने सभी सरकारी अधिकारी और कर्मचारियों को हमेशा मास्क लगाने और दो गज की दूरी का पालन करने के निर्देश दिए हैं।

कलेक्टर ने बैठक में गोधन न्याय योजना की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि आमदनी अर्जित करने का गौधन न्याय योजना अभिनव उपाय है। सभी महिला समूहों और पशुपालकों को बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराना हमारा दायित्व है। उन्होंने एक-एक गौठान के काम-काज की जानकारी ली। कलेक्टर ने कहा कि खरीदे गये गोबर को कम्पोस्ट में परिवर्तित कर इसे विक्रय करना हमारा उद्देश्य है। इस काम में कोई भी शिथिलता स्वीकार नहीं की जायेगी। उन्होंने गौठान समितियों को गोबर के भुगतान में हो रही विलंब को दूर करने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने तरबूज, खरबूज, ककड़ी की खेती के लिए नदी की भूमि महिला समूहों को प्राथमिकता के साथ आवंटित करने को कहा है। उन्होंने कहा कि समूहों द्वारा खेती करने से ज्यादा संख्या में महिलाओं को फायदा मिलेगा।

जिला पंचायत सीईओ फरिहा आलम ने महिला समूहों की गतिविधियों की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि गौठानों पर बिजली कनेक्शन की सुविधा ले जाने के प्रयास किये जा रहे हैं ताकि वे गौठानों पर ही अपना कारोबार कर सकें। जिले की महिलाएं अच्छे तरह से काम कर रही हैं। अपर कलेक्टर राजेन्द्र गुंप्ता सहित वरिष्ठ अफसर बैठक में उपस्थित थे।

View More...
Previous123456789...410411Next