Chhattisgarh

Previous123456789...295296Next

लालबत्ती के लिए फिर से कवायद शुरू, नेताओं को मिल सकते है जल्द ही आयोग और मंडल में पद

Date : 24-Nov-2020

रायपुर। जल्द ही एक और बड़ी खुशखबरी मिल सकती है। लालबत्ती के लिए फिर से कवायद शुरू हो गई हैं। कुछ नेताओं को जल्द ही आयोग और मंडल में पद मिल सकते है। इसका ऐलान कभी भी हो सकता है। कुछ महीने पहले ढेर सारे आयोग और मंडल में अध्यक्ष और सदस्यों की नियुक्ति की गई है। ऐसे में कुछ बचे हुए मंडल में नियुक्ति मिलेगी। इसके लिए मीटिंग भी हुई है। हालांकि कुछ नाम उभर कर सामने आये है। इस पर जल्द ही निर्णय लिए जा सकते है। पंकज शर्मा, सुशिल आनंद शुक्ल, आरपी सिंह, सन्नी अग्रवाल, राजू तिवारी, रमेश वलयानी, अरुण भद्रा, अटल श्रीवास्तव, राजेंद्र सिंह के नाम सामने आये है। इन्हीं में से ज्यादातर को पद दिए जाएंगे।

View More...

सीएम बघेल ने ऑक्सिजोन के समीप 2.52 करोड़ की लागत से निर्मित स्मार्ट रोड का किया लोकार्पण

Date : 24-Nov-2020

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज यहां कलेक्ट्रेट परिसर स्थित उद्यान में लगभग 75 लाख की लागत से हुए उन्नयन कार्य और ऑक्सिजोन के समीप 2.52 करोड़ रूपये की लागत से निर्मित स्मार्ट रोड का लोकार्पण किया।

उल्लेखनीय है कि स्मार्ट रोड का यह कार्य रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा ऑक्सीजोन के समीप बनाया गया है। लगभग 2.52 करोड़ रूपये की लागत से निर्मित 220 मीटर लंबी स्मार्ट सड़क में अंडरग्राउंड केबल लगाए गए हैं। इस स्मार्ट रोड में प्रकाश व्यवस्था के लिए सोलर पैनल लगाए गए है। भूमिगत जल निकास व्यवस्था के साथ ही साइनेज व रोड मार्किंग कर इस मार्ग को आकर्षक स्वरूप दिया गया है।

इसी तरह कलेक्ट्रेट परिसर में जिलाधीश कार्यालय, पुलिस अधीक्षक कार्यालय, जिला पंचायत, कृषि सहित विभिन्न शासकीय विभागों के कार्यालय स्थित हैं। इन शासकीय कार्यालयों में प्रतिदिन हजारों लोगों का आना होता है। आमजनों की सुविधा को देखते हुए परिसर के उन्नयित उद्यान में आगंतुकों के विश्राम के लिए 12 बाई 12 फीट के पांच बंबू हट भी बनाए गए हैं। बांस द्वारा निर्मित इन आकर्षक हट में करीब 10 लोगों के बैठने की व्यवस्था है। उन्नयित किये गए उद्यान में लैंडस्कैपिंग ,लाइटिंग ,पेवर-ब्लॉक तथा कारपेट घास लगाकर बेहद ही आकर्षक बनाया गया है। उद्यान में लगे पेड़ पौधे आगंतुकों को छाया तथा शीतलता प्रदान करेंगे।

इस मौके पर गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, कृृषि मंत्री रविन्द्र चौबे, वन मंत्री मोहम्मद अकबर, नगरीय प्रशासन मंत्री डाॅ. शिव डहरिया, विधायक सत्यनारायण शर्मा, कुलदीप जुनेजा, संसदीय सचिव विकास उपाध्याय, रायपुर नगर निगम के महापौर एजाज ढेबर, मुख्य सचिव आर.पी. मंडल, सचिव नगरीय प्रशासन अलरमेलमंगई डी., पुलिस महानिरीक्षक आनंद छाबड़ा, कलेक्टर रायपुर डाॅ. एस. भारती दासन, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव सहित जनप्रतिनिधि और नागरिक मौजूद थे।

View More...

प्रदेश में फिलहाल लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू की जरुरत नहीं, कोरोना की स्थिति कंट्रोल में है : मंत्री टीएस सिंहदेव

Date : 24-Nov-2020

रायपुर। छत्तीसगढ़ में लॉकडाउन को लेकर स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि प्रदेश में फिलहाल लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू की जरुरत नहीं है। प्रदेश में कोरोना की स्थिति कंट्रोल में है। स्वास्थ्य मंत्री ने आगे कहा है कि छत्तीसगढ़ में जहां ज्यादा कोरोना मरीज मिल रहे हैं उसे कंटेनमेंट जोन बनाया जा सकता है। कलेक्टर इसका निर्णय लेंगे। सिंहदेव के मुताबिक मैनपाट में इस तरह की स्थिति बन रही हैं।

गौरतलब है कि सीएम भूपेश बघेल अपने निवास कार्यालय से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मुख्यमंत्रियों की बैठक में शामिल हुए। बैठक में अन्य प्रदेशों में कोरोना संक्रमण से रोकथाम और बचाव के उपायों की समीक्षा की गई और निकट भविष्य में आने वाले वैक्सिन लगाने के लिए तैयारियों और कार्य योजना पर विचार-विमर्श किया गया।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बैठक में बताया कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण की स्थिति नियंत्रण में हैं। प्रतिदिन 23 हजार टेस्टिंग की जा रही है। कोरोना के केसो में 50 प्रतिशत की कमी आई है। टेस्टिंग में कोई कमी नही की गई है। मंत्री टीएस सिंहदेव कहा कि केंद्र सरकार से हमने विशेष रुप से कोरोना वैक्सीन को लेकर मांग रखी है। वैक्सीन आने के बाद सबसे पहले 50 से 70 आयु वर्ग के लोगों और कोरोना के फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सीन लगाए जाने पर विचार चल रहा है।

उन्होंने बताया कि माह जुलाई में प्रदेश में पाजिटीव केस 4 प्रतिशत थे, अगस्त में 8 प्रतिशत, सितम्बर में 15 प्रतिशत, अक्टूबर में 10.5 प्रतिशत, नवम्बर में 7 प्रतिशत मिले हैं। माह अक्टूबर-नवम्बर में मृत्युदर एक प्रतिशत रही। उन्होंने कहा कि अब तक 3 लाख टेस्ट हुए हैं। मेडिकल कॉलेजों में ऑक्सीजन प्लॉट लगाए जाएंगे।

View More...

इस जिले में 11 हजार 121 लोगों ने गोबर बेचकर कमाए 1 करोड़ 75 लाख से अधिक रुपए

Date : 24-Nov-2020

कोरबा। कोरोना काल में लाॅकडाउन के दौरान एक ओर जहां पूरा देश ठप पड़ गया था तथा देश के लोग आर्थिक समस्याओं से जूझ रहे थे। वहीं दूसरी ओर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल प्रदेश के जनता के लिए आय का अतिरिक्त जरिया सृजित करने की योजना को मूर्तरूप देने में लगे हुए थे।

श्री बघेल की गरीब हितैषी सोच और कमजोर वर्ग को विकसित करने की कार्यशैली ने प्रदेश की जनता के लिए अतिरिक्त आमदनी कमाने का रास्ता खोला। अब तक अमूल्य समझे जाने वाले गोबर को खरीदकर लोगों को आर्थिक सहयोग देने की मुख्यमंत्री की सोच ने निश्चित ही जनता में खुशहाली का द्वार खोल दिया है। 20 जुलाई 2020 को हरेली पर्व के दिन गोधन न्याय योजना की शुरूआत ने लोगों को गोबर बेचकर आय कमाने का रास्ता दिखाया। गोधन न्याय योजना शुरू होने से ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत करने शासन का यह प्रयास ग्रामीणों के लिए निश्चित ही लाभप्रद रहा। गोबर संग्राहकों द्वारा शासन को गोबर बेचकर अपनी घरेलू आवश्यकता की चीजों की पूर्ति भी कर पा रहे है। प्रदेश के गोबर संग्राहकों के साथ-साथ जिले के गोबर संग्राहकों ने भी खूब लाभ कमाए हैं।

जिला पंचायत के सीईओ कुंदन कुमार ने बताया कि जिले में गोधन न्याय योजना सफलता पूर्वक संचालित हो रही है। गोबर बेचकर जिले के लोगों को गोधन न्याय योजना अंतर्गत खूब आमदनी भी हो रही है। जिले के गोबर संग्राहक गौठान में दो रूपए प्रति किलो के हिसाब से गोबर बेच रहे हैं। अब तक जिले के लोगों ने एक करोड़ 75 लाख 73 हजार 823 रूपए की आय गोबर बेचकर अर्जित की है। जिले के 200 गौठानों के माध्यम से गोबर खरीदी की जा रही है। गौठानों में गोबर क्रय केन्द्र स्थापित किया गया है जहां गोबर संग्राहक गाय-भैंस के गोबर को बेच रहे हैं। जिला पंचायत के सीईओ ने बताया कि गोबर बेचने के लिए अभी तक जिले के 11 हजार 121 गोबर संग्राहकों ने अपना पंजीयन कराया है।

जिले में अब तक पंजीकृत गोबर संग्राहकों से 87 लाख 86 हजार 911 किलो गोबर की खरीदी की जा चुकी है और इन गोबर संग्राहकों को एक करोड़ 75 लाख से अधिक की राशि का भुगतान भी किया जा चुका है। जिला पंचायत सीईओ ने बताया कि हर 15 दिन में गोबर विक्रेताओं को गोबर विक्रय की राशि का भुगतान किया जा रहा है। आय का अतिरिक्त जरिया सृजित होने से जिले की जनता गोधन न्याय योजना में सक्रिय रूप से भागीदारी कर रही है। निश्चित समयावधि में बेचे गये गोबर का पैसा मिलने से गोबर संग्राहक खुश हैं तथा पशुपालन करने के लिए जिले के लोग आगे आ रहे हैं।

View More...

मुख्यमंत्री बघेल ने स्वामी विवेकानंद सरोवर में स्थापित म्यूजिकल फांउटेन का किया लोकार्पण

Date : 24-Nov-2020

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज स्वामी विवेकानंद सरोवर (बूढ़ातालाब) में रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा स्थापित म्यूजिकल फांउटेन का लोकार्पण किया। उन्होंने छत्तीसगढ़ के राज्यगीत ‘अरपा पैरी के धार…’, ‘जय हो…’ और ‘शिव तांडव स्रोत’ की धुनों पर थिरकते रंगीन फव्वारों के खूबसूरत नजारों का भी आनंद लिया। बूढ़ातालाब में म्यूजिकल फांउटेन शुरू होने से वहां आने वाले लोगों को मनोरंजन का एक और जरिया मिलेगा। रंगीन, संगीतमय जलराशि के थिरकन के बीच ऐतिहासिक बूढ़ातालाब की खूबसूरती और भी बढ़ गई है।

लोकार्पण कार्यक्रम में पर्यटन मंत्री ताम्रध्वज साहू, कृषि मंत्री रवीन्द्र चौबे, वन मंत्री मोहम्मद अकबर, नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, संसदीय सचिव विकास उपाध्याय, विधायकगण सत्यनारायण शर्मा और कुलदीप जुनेजा, रायपुर नगर निगम के महापौर एजाज ढेबर, सभापति प्रमोद दुबे, मुख्य सचिव आर.पी. मंडल, कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन और नगर निगम के आयुक्त सौरभ कुमार भी मौजूद थे। बूढ़ातालाब के सौंदर्यीकरण के तहत वहां आकर्षक म्यूजिकल फाउंटेन की स्थापना की गई है। 120 मीटर लंबाई और 10 मीटर चौड़ाई में फैला यह फाउंटेन देश में क्षेत्रफल के आधार पर सबसे बड़ा फाउंटेन है। इस फाउंटेन के शुरू होने से तालाब की नैसर्गिक भव्यता को आकर्षक स्वरूप मिलेगा।

View More...

मुख्यमंत्री बघेल ने किया नागरिक सुविधाओं के उन्नयन के लिए पूर्ण किए गए 6 योजनाओं का लोकार्पण

Date : 24-Nov-2020

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा नागरिक सुविधाओं के उन्नयन के लिए पूर्ण किए गए 6 योजनाओं का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जन सुविधाओं व सेवाओं के विस्तार के लिए किए जा रहे विकास कार्यों के लिए सभी की सराहना की।

इस अवसर पर जिले के प्रभारी मंत्री रविन्द्र चौबे, गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, नगरीय प्रशासन मंत्री डाॅ. शिव कुमार डहरिया, वन मंत्री मोहम्मद अकबर, सांसद छाया वर्मा, संसदीय सचिव विकास उपाध्याय, छ.ग. गृह निर्माण मंडल के अध्यक्ष कुलदीप जुनेजा, राज्य के मुख्य सचिव आर.पी. मंडल, महापौर एजाज़ ढेबर, नगरीय प्रशासन विभाग के सचिव अलरमेल मंगई डी, पुलिस महानिरीक्षक आनंद छाबड़ा, कलेक्टर डाॅ. एस. भारतीदासन, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव, नगर निगम के कमिश्नर सौरभ कुमार, नगर निवेश संचालक जितेन्द्र शुक्ला, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डाॅ. गौरव कुमार सिंह, रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के अपर प्रबंध संचालक प्रभात मलिक सहित जनप्रतिनिधि एवं गणमान्य नागरिकगण सम्मिलित थे।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने आज देवेन्द्र नगर सड़क विस्तारीकरण एवं सौंदर्यीकरण तथा दुकान निर्माण कार्य का लोकार्पण किया। लगभग 3 करोड़ 28 लाख रूपये की लागत से नगर निगम व रायपुर स्मार्ट सिटी लि. ने मिलकर रिक्त शासकीय भू-खंड का सदुपयोग करते हुए गुरूजी चौक से एक्सप्रेस वे तक की दूरी के मार्ग के विस्तारीकरण एवं सौंदर्यीकरण कार्य के साथ ही 47 दुकानों का निर्माण किया हैं। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने व्यवसायियों को इन दुकानों की चाबी भी आज सौंपी। लोक निर्माण विभाग ने यहां पर बी.टी. रोड का निर्माण किया है। भविष्य में एक्सप्रेस वे प्रारंभ होने से सघन आवागमन के दबाव को व्यवस्थित करने में सड़क चौड़ीकरण का यह कार्य अत्यधिक उपयोगी होगा।

मुख्यमंत्री बघेल ने रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा ऑक्सीजोन मार्ग पर 2.52 करोड़ रूपये की लागत से रायपुर के पहले स्मार्ट सड़क का लोकार्पण किया। इस सड़क में अंडरग्राउंड केबलिंग की व्यवस्था है। इस स्मार्ट रोड में प्रकाश व्यवस्था हेतु सोलर पैनल लगाए गए है। भूमिगत जल निकास व्यवस्था के साथ ही 220 मीटर के इस सड़क में साइनेज व रोड मार्किंग कर इसे आकर्षक स्वरूप दिया गया है। मुख्यमंत्री श्री बघेल कलेक्टोरेट परिसर भी गए, जहां रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा आम नागरिकों की सुविधा हेतु जन सुविधाओं का उन्नयन कर 75 लाख रू. की लागत से कलेक्टोरेट परिसर में आगंतुकों की बैठक व्यवस्था के साथ लैंडस्केपिंग, लाइटिंग व पेवर लगाकर आकर्षक उद्यान विकसित किया गया है।

मुख्यमंत्री बघेल ऐतिहासिक जवाहर बाजार का लोकार्पण कर स्थानीय व्यवसायियों से भी मुलाकात की। रायपुर स्मार्ट सिटी लिमि. द्वारा कायाकल्प कर लगभग 20 करोड़ 70 लाख रूपये की लागत से 2 बेसमेंट पार्किंग सहित भू-तल पर 75 नग एवं प्रथम तल पर 72 दुकानें बनायी गई हैं, इसके अलावा द्वितीय एवं तृतीय तल में लगभग 25 हजार वर्गफीट में 16 कार्यालय का निर्माण भी किया गया है। इस योजना के तहत पार्किंग हेतु लोवर बेसमेंट के साथ ही इस परिसर के जीर्णोद्धार में ऐतिहासिक मुख्य द्वार को यथावत रखा गया है। इस परिसर के जीर्णोद्धार उपरांत दशकों से किराएदार के रूप में व्यवसाय कर रहे 67 व्यवसायियों को मालिकाना हक प्रदान करने का ऐतिहासिक कार्य भी इस वर्ष छ.ग. शासन द्वारा किया गया है।

मुख्यमंत्री बघेल ने आज रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा कोरोना काल के दौरान 10 माह की अल्पावधि में निर्मित सिटी कोतवाली थाना भवन का भी लोकार्पण किया। शहर के हृदय स्थल व सघन क्षेत्र में बने पुराने सिटी कोतवाली थाने को सर्वसुविधायुक्त थाना के रूप में निर्मित किया है। इस भवन निर्माण से मुख्य व्यापारिक क्षेत्र में यातायात व्यवस्थित हो सकेगा, वहीं हाईटेक भवन से सिटी कोतवाली थाने का सुव्यवस्थित संचालन होगा। लगभग 6 करोड़ रुपये की लागत से करीब 14 हजार वर्ग फुट के क्षेत्र में कुल 30 हजार वर्ग फुट में भूतल के साथ 6 मंजिल में यह भवन निर्मित है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ऐतिहासिक बूढ़ा तालाब भी गए जहां उन्होंने म्यूजिकल फाउंटेन के प्रथम चरण का शुभारंभ बटन दबाकर किया। यह फाउंटेन देश में क्षेत्रफल के आधार पर सबसे बड़ा फाउंटेन है। इस फाउंटेन के शुरू होने से तालाब की नैसर्गिक भव्यता को आकर्षक स्वरूप मिलेगा। मुख्यमंत्री बघेल ने बूढ़ा तालाब परिसर में इस म्यूजिकल फाउंटेन का आनंद लिया। इस दौरान स्थानीय जनप्रतिनिधि, विभिन्न विभागों के अधिकारी-कर्मचारी व आम नागरिक भी उपस्थित थे।

View More...

राज्य में बढ़ा मास्क नहीं पहनने पर जुर्माना, देना होगा इतना चार्ज

Date : 24-Nov-2020

रायपुर। देश के अन्य राज्यों में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार ने छत्तीसगढ़ में 100 रूपये से बढ़ाकर 200 रूपये कर दिया है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के उप सचिव ने इस सम्बन्ध में आदेश जारी कर दिया है।

View More...

प्रदेश में कोरोना संक्रमण की स्थिति नियंत्रण में : सीएम भूपेश बघेल

Date : 24-Nov-2020

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मंगलवार को निवास कार्यालय से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा आयोजित मुख्यमंत्रियों की बैठक में शामिल हुए। बैठक में विभिन्न प्रदेशों में कोरोना संक्रमण से रोकथाम और बचाव के उपायों की समीक्षा की गई और निकट भविष्य में आने वाले वैक्सिन लगाने के लिए तैयारियों और कार्य योजना पर विचार-विमर्श किया गया।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बैठक में बताया कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण की स्थिति नियंत्रण में हैं। प्रतिदिन 23 हजार टेस्टिंग की जा रही है। ग्रामीण क्षेत्रों में पहले कोरोना का संक्रमण नही था। बाद में कुछ बढ़ा है। यहां मितानिनों ने कोरोना संक्रमण रोकथाम में अच्छा कार्य किया है। अस्पतालों में आक्सीजन की सुविधा वाले बेड और आईसीयू बेड की संख्या में वृद्धि की गई है। सभी मेडिकल कॉलेजों में आरटीपीसीआर की सुविधा है। टेस्टिंग के लिए चार नये लैब स्थापित किए गए हैं। माह अक्टूबर के बाद कोरोना के नये केसो में गिरावट हुई है। कोरोना के केसो में 50 प्रतिशत की कमी आई है। टेस्टिंग में कोई कमी नही की गई है। उन्होंने बताया कि माह जुलाई में प्रदेश में पाजिटीव केस 4 प्रतिशत थे, अगस्त में 8 प्रतिशत, सितम्बर में 15 प्रतिशत, अक्टूबर में 10.5 प्रतिशत, नवम्बर में 7 प्रतिशत मिले हैं।

माह अक्टूबर-नवम्बर में मृत्युदर एक प्रतिशत रही। मुख्यमंत्री ने कहा कि शुरूआत में छत्तीसगढ़ के कोरोना के केस बहुत कम थे, लेकिन अन्य राज्यों से आने वालों के कारण संक्रमण बढ़ा। उन्होंने कहा कि अब तक 3 लाख टेस्ट हुए हैं। मेडिकल कॉलेजों में ऑक्सीजन प्लॉट लगाए जाएंगे। बैठक में स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव, गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, मुख्य सचिव आर.पी.मंडल, पुलिस महानिदेशक डी.एम. अवस्थी, मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्रीमती रेणु जी पिल्ले, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की संचालक डॉ. प्रियंका शुक्ला और संचालक स्वास्थ्य नीरज बंसोड उपस्थित थे।

View More...

छत्तीसगढ़ राज्य में कोविड 19 टीकाकरण की तैयारियां प्रारंभ

Date : 24-Nov-2020

रायपुर। छत्तीसगढ़ में कोविड19 टीकाकरण की तैयारियां प्रारंभ कर दी गई हैं। राज्य में स्वास्थ्य कर्मियों का 97.95 प्रतिशत डाटा एकत्र कर लिया गया है।  टीकाकरण के लिए 27931 स्थलों और 8192 वैक्सीनेटर चिन्हांकित किए जा चुके हैं।

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि वैक्सीन के सुरक्षित संधारण हेतु राज्य में 630 कोल्ड चेन पांइट कार्य कर रहे हैं और 80 नए कोल्ड चेन पाइंट बनाए जा रहे है। सुरक्षित संधारण के लिए 85000 लीटर की अतिरिक्त क्षमता है। वैक्सीनेटर की संख्या बढ़ाने के लिए पुरूष स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं केा भी प्रशिक्षित किया जा रहा है और निजी स्वास्थ्य संस्थाओं के वैैैक्सीनेटर को भी चिन्हांकित कर प्रशिक्षित किया जाएगा।

टीकाकरण से संबधित सिंरिंज और अन्य सामग्री के संधारण के लिए राज्य, क्षेत्रीय और जिला स्तर पर ड्राई स्टोर चिन्हांकित किए गए हैं। टीकाकरण की संपूर्ण निगरानी एवं समन्वय के  लिए राज्य  स्तरीय स्टीयरिंग समिति बनाई जा चुकी है। राज्य स्तरीय टास्क फोर्स समिति की बैठक भी हो चुकी है। विभिन्न जिलों में टास्क फोर्स समिति की बैठकें भी हो रही हैं।

View More...

प्रशासन की इस बड़ी लापरवाही, बिलासपुर में एक बड़े रूद्रातिरूद्र महायज्ञ की जिला प्रशासन ने दी अनुमति

Date : 24-Nov-2020

बिलासपुर । आज पूरे देश में कोरोना एक बार फिर पांव फैला रहा है। ऐसी स्थिति से बचने आज प्रत्येक नागरिक प्रयासरत है। इस परिस्थित के बाद भी बिलासपुर में एक बड़े रूद्रातिरूद्र महायज्ञ की अनुमति जिला प्रशासन ने दी है। प्रशासन की इस बड़ी लापरवाही का खामियाजा आखिरकार क्षेत्र के लोगों को झेलना पडेगा।

उल्लेखनीय है कि बिलासपुर के व्यापार विहार स्थित त्रिवेणी परिसर में 3 दिसंबर से आयोजित रूद्रातिरूद्र महायज्ञ के लिए यज्ञ मंडप बनकर तैयार हो गया है। दैवी संपद मंडल के परमाध्यक्ष परमहंस स्वामी शारदानंद सरस्वती के सानिध्य में आयोजित इस महायज्ञ में देशभर के बड़े संत महात्मा शामिल होंगे।

इस यज्ञ स्थल का आज महापौर, कलेक्टर और निगम कमिश्नर ने निरीक्षण किया। इससे यह स्पस्ट है कि जिला प्रशासन इस आयोजन को लेकर संतुष्ट है और प्रशासन ने इसकी अनुमति दी है। अब देखना यह है कि आने वाले दिनों में कोरोना गाइडलाइन का पालन करवाने वाला प्रशासन क्या रास्ता इक्तयार करता है।

View More...
Previous123456789...295296Next