Top News

Previous123456789...1718Next

अब अमेरिका में भी हो सकते हैं चाइनीज ऐप बैन, विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने दिए संकेत

Date : 07-Jul-2020

वॉशिंगटन (एजेंसी) । भारत के बाद अब अमेरिका में भी चाइनीज ऐप बैन हो सकते हैं। अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने इसके संकेत दिए हैं। उन्होंने सोमवार को एक इंटरव्यू में कहा कि टिकटॉक समेत चीन के सभी सोशल मीडिया ऐप को बैन करने के बारे में गंभीरता से सोच रहे हैं। अमेरिका का ये बयान चाइनीज ऐप पर भारत में हुई कार्रवाई के 6 दिन बाद आया है।

लद्दाख में तनाव के बीच भारत ने 29 जून को टिकटॉक समेत 59 चाइनीज ऐप पर रोक लगा दी थी। सरकार ने कहा कि इन ऐप्स के जरिए यूजर की जानकारियां हासिल की जा रही हैं, ये देश की सुरक्षा के लिए खतरा हैं। संचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने इस फैसले को चीन पर डिजिटल स्ट्राइक बताया था। भारत के इस फैसले को पोम्पियो ने सही बताया था।

चीन के बाहर अमेरिका टिकटॉक का दूसरा बड़ा बाजार है। वहां टिकटॉक के 4.54 करोड़ यूजर हैं। भारत में करीब 20 करोड़ यूजर थे और चीन के बाहर सबसे बड़ा मार्केट था।

टिकटॉक हॉन्गकॉन्ग से भी निकलेगा
चीन के वीडियो शेयरिंग ऐप टिकटॉक ने कहा है कि वह कुछ ही दिनों में हॉन्गकॉन्ग के कारोबार से बाहर हो जाएगा। टिकटॉक ने यह फैसला चीन की ओर से हॉन्गकॉन्ग के लिए नया कानून लागू करने के बाद लिया गया है।

View More...

अमरनाथ यात्रा करने वाले सभी यात्रियों का होगा कोरोना परीक्षण

Date : 07-Jul-2020

जम्मू (एजेंसी)। अमरनाथ यात्रा के लिए जम्मू-कश्मीर प्रशासन आने वाले सभी श्रद्धालुओं के पंजीकरण और चिकित्सकीय जांच के लिए नमूना एकत्र करने के उद्देश्य से लखनपुर में विशेष टर्मिनल और काउंटर स्थापित कर रहा है। बताया गया कि जम्मू संभाग के आयुक्त संजीव वर्मा और कठुआ जिला प्रशासन के बीच जम्मू-पठानकोट राजमार्ग से लखनपुर आने वाले श्रद्धालुओं के प्रवेश को लेकर हुई चर्चा के दौरान यह फैसला लिया है।
प्रवक्ता ने बताया कि दक्षिण कश्मीर में 3,880 मीटर की ऊंचाई पर स्थित पवित्र गुफा के दर्शन के लिए इस महीने के अंत से शुरू हो रही यात्रा के मद्देनजर लखनपुर में हो रही तैयारियों का वर्मा के साथ जम्मू के पुलिस महानिरीक्षक मुकेश सिंह ने जायजा लिया। कोरोना वायरस की महामारी के चलते इस बार कई पाबंदियों के साथ वार्षिक अमरनाथ यात्रा होगी।


इस बीच, रामबन के जिला विकास आयुक्त नजीम जई खान ने कहा कि कोविड-19 महामारी की चुनौतियों के मद्देनजर कोरोना वायरस संक्रमण की जांच में निगेटिव आने वाले सेवादारों को ही आयोजक और अधिकारी लंगर लगाने की अनुमति देंगे।

View More...

कोरोना अपडेट : भारत में कोविड परीक्षण का आंकड़ा हुआ 1 करोड़ के पार, 1100 लैब में हो रहा परीक्षण

Date : 07-Jul-2020

नयी दिल्ली (एजेंसी)। कोविड परीक्षण के मामले में भारत ने बड़ी उपलब्धि हासिल कर ली है और इसका आंकड़ा 1 करोड़ के स्तर से ज्यादा हो गया है। इससे केन्द्र सरकार और राजों/ संघ शासित क्षेत्रों की अनुवर्ती उपायों के साथ व्यापक जांच और “परीक्षण, पता लगाना, उपचार” की रणनीति की अहमियत का पता चलता है। पिछले 24 घंटों के दौरान 3,46,459 नमूनों का परीक्षण हुआ। इस प्रकार अभी तक कुल 1,01,35,525 नमूनों का परीक्षण हो चुका है।
देश भर में परीक्षण प्रयोगशालाओं के नेटवर्क के निरंतर विस्तार के सहारे ही यह उपलब्धि संभव हुई है। अब लोग 1,105 से ज्यादा प्रयोगशालाओं में कोविड परीक्षण करा रहे हैं। इनमें से 788 सरकारी प्रयोगशालाएं हैं और 317 निजी क्षेत्र की हैं। प्रयोगशालाओं द्वारा उपलब्ध कराए जा रहे विभिन्न प्रकार के कोविड-19 परीक्षण इस प्रकार हैं :
• रियल टाइम आरटी पीसीआर आधारित प्रयोगशालाएं : 592 (सरकारी : 368 + निजी : 224)
• ट्रूनैट आधारित परीक्षण प्रयोगशालाएं : 421 (सरकारी : 387 + निजी : 34)
• सीबीएनएएटी आधारित परीक्षण प्रयोगशालाएं : 92 (सरकारी : 33 + निजी : 59)
भारत सरकार द्वारा राज्यों/ संघ शासित क्षेत्रों के साथ मिलकर कोविड-19 की रोकथाम और प्रबंधन के लिए निरंतर तथा केन्द्रित प्रयासों से आज स्वस्थ होने वाले कोविड-19 के मरीजों की संख्या बढ़कर 4,24,432 हो गई है। पिछले 24 घंटों के दौरान, कुल 15,350 मरीज स्वस्थ हो गए।
सक्रिय मामलों की तुलना में स्वस्थ होने वालों की संख्या 1,71,145 ज्यादा है। इससे राष्ट्रीय स्तर पर सुधार की दर बढ़कर 60.86 प्रतिशत हो गई है।
सक्रिय मामलों की संख्या 2,53,287 के स्तर पर है और सभी सक्रिय मामले स्वास्थ्य निगरानी में बने हुए हैं।
कोविड-19 से संबंधित तकनीकी मुद्दों पर सभी प्रामाणिक और अद्यतन जानकारी, दिशा-निर्देश और परामर्श के लिए नियमित रूप से https://www.mohfw.gov.in/और @MoHFW_INDIA। देखें।
कोविड-19 से संबंधित तकनीकी सवाल technquery.covid19@gov.in और अन्य सवाल ncov2019@gov.in तथा @CovidIndiaSeva पर भेजे जा सकते हैं।
कोविड​​-19 पर किसी भी प्रश्न के संबंध में कृपया स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की हेल्पलाइन नंबर: + 91-11-23978046 या 1075 (टोल-फ्री) पर कॉल करें। कोविड-19 पर राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों के हेल्पलाइन नंबरों की सूची https://www.mohfw.gov.in/pdf/coronvavirushelplinenumber.pdf पर भी उपलब्ध है।

View More...

अब क्या कह गए भाजपा वरिष्ठ नेता नंदकुमार साय

Date : 07-Jul-2020

रायपुर। बगावती अंदाज में बीजेपी के वरिष्ठ नेता नंदकुमार साय ने कहा है कि विपक्ष में ओजस्वी नेतृत्व जरूरी है। विरोध में तेजस्विता होनी चाहिए, आज की स्थिति देखकर लगता है कि राज्य में पार्टी बहुत नीचे चली गई है।

नंदकुमार साय ने यह बयान पहली बार नहीं दिया है। सत्ता जाने के बाद कई मौकों पर वह प्रदेश नेतृत्व को कटघरे में खड़ा करने का कोई मौका नहीं छोड़ते। साय ने इससे पहले अपने एक बयान में कहा था प्रदेश में संगठन के जनाधार को मजबूत करने के लिए एक सर्वमान्य नेता की जरूरत है। संगठन को ऐसे नेतृत्व की जरूरत है, जो पार्टी को खड़ा कर सके।

साय ने कहा कि पार्टी के भीतर कार्यकर्ताओं को सुनकर फैसले लेने चाहिए। नेताओं को चाहिए कि कार्यकर्ताओं को सुना जाए, उनकी समस्याओं का समाधान हो सके। यदि यह स्थिति नहीं बनी, तो राज्य में पार्टी उठ नहीं पाएगी।

बीजेपी के वरिष्ठ नेता साय ने भूपेश सरकार पर भी टिप्पणी करते हुए कहा कि कोई भी सरकार सामंजस्य से चलनी चाहिए, यदि किसी तरह का विरोध है, तो समय रहते उसे दूर करना चाहिए। उन्होंने शराबबंदी के सरकार के वादे पर कहा कि, जो बात वचन पत्र में है, उसे पूरा करना होगा। उससे पीछे नहीं हटना चाहिए। इस पर ही कांग्रेस की खूब वाहवाही हुई थी।

View More...

भारत और चीन के साथ किसी भी संघर्ष में अमेरिकी सेना भारत के साथ ”मजबूती” से खड़ी रहेगी : अमेरिका

Date : 07-Jul-2020

नई दिल्ली (एजेंसी)।  चीन विवाद पर अमेरिका ने बड़ा बयान दिया है। व्हाइट हाउस ने कहा है कि भारत और चीन के साथ किसी भी संघर्ष में अमेरिकी सेना भारत के साथ ”मजबूती” से खड़ी रहेगी। नौसेना द्वारा क्षेत्र में अपनी उपस्थिति को बढ़ाने के लिए दक्षिण चीन सागर में दो विमान वाहक पोत तैनात किए जाने के बाद अधिकारी का यह बयान आया है।

व्हाइट हाउस के चीफ ऑफ स्टॉफ ने एक सवाल के जवाब में ‘मीडिया को बताया, ”संदेश स्पष्ट है। हम खड़े होकर चीन को या किसी और को सबसे शक्तिशाली या प्रभावी बल होने के संदर्भ में कमान नहीं थामने दे सकते, फिर चाहे वह उस क्षेत्र में हो या यहां।” उन्हें बताया गया कि भारत ने पिछले महीने चीनी सैनिकों के साथ संघर्ष में भारतीय सैनिकों के शहीद होने के बाद कई चीनी एप पर प्रतिबंध लगा दिया।

मीडोज ने कहा कि अमेरिका ने दक्षिण चीन सागर में अपने दो विमान वाहक पोत भेजे है। उन्होंने कहा, ”हमारा मिशन यह सुनिश्चित करना है कि दुनिया यह जाने कि हमारे पास अब भी दुनिया का उत्कृष्ट बल है।” चीन, दक्षिण चीन सागर और पूर्वी चीन सागर में क्षेत्रीय विवादों में लिप्त है। चीन लगभग समूचे दक्षिण चीन सागर पर दावा करता है। वियतनाम, फिलीपींस, मलेशिया, ब्रुनेई और ताइवान के भी क्षेत्र को लेकर उसके दावे हैं।

View More...

गलवान घाटी में पीछे हटे चीनी सैनिक

Date : 06-Jul-2020

नई दिल्ली (एजेंसी) । भारत चीन सीमा पर एक सप्ताह से चल रहे तनाव के बीच बड़ी खबर सामने आई है। एक रिपोर्ट के अनुसार चीनी सेना गलवान घाटी से 2 किलोमीटर पीछे हट गई है। पूर्वी लद्दाख के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इसकी जानकारी दी है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक 15 जून की घटना के बाद चाइनीज पीपल्स लिब्रेशन आर्मी (पीएलए) के सैनिक उस स्थान से इधर आ गए थे,जो भारत के मुताबिक एलएसी है। भारत ने भी अपनी मौजूदगी को उसी अनुपात में बढ़ाते हुए बंकर और अस्थायी ढांचे तैयार कर लिए थे। दोनों सेनाएं आंखों में आंखें डाले खड़ी थीं।कमांडर स्तर की बातचीत में 30 जून को बनी सहमति के मुताबिक चीनी सैनिक पीछे हटे या नहीं,  इसको लेकर रविवार को एक सर्वे किया गया। अधिकारी ने बताया, चीनी सैनिक हिंसक झड़प वाले स्थान से दो किमी पीछे हट गए हैं। अस्थायी ढांचे दोनों पक्ष हटा रहे हैं। उन्होंने बताया कि बदलवा को जांचने के लिए फिजिकल वेरीफिकेशन भी किया गया है।

वहीं एक रिपोर्ट के मुताबिक जिस गलवान घाटी पर अपना दावा जताकर चीन भारत के खिलाफ मोर्चाबंदी कर रहा है, उसी गलवान नदी के तट पर अब चीनी सेना की मुश्किलें बढ़ गईंं हैं। गलवान नदी के किनारे चीन की तैनाती नहीं हो पा रही है, क्योंकि नदी का जल स्तर तेज गति से बढ़ने के कारण गलवान के किनारों पर लगे चीनी सेना के कैम्प बह गए हैंं।ड्रोन की तस्वीरों से पता चलता है कि चीनी पीएलए के टेंट गलवान के बर्फीले बढ़ते पानी में पांच किलोमीटर गहराई में बह गए हैंं। काफी तेजी से बर्फ पिघलने के कारण नदी के तट पर इस समय स्थिति खतरनाक है। चीन यहां से पीछे हटने के बाद अधिक से अधिक नई तैनाती करने में जुट गया है लेकिन गलवान, गोगरा, हॉट स्प्रिंग्स और पैंगोंग झील में मौजूदा स्थिति के चलते चीनी सेना की तैनाती लंबे समय के लिए अस्थिर हो गई है।

View More...

डॉ.कन्नौजे बने स्टेट वेयर हाउस कार्पोरेशन में सचिव और महाप्रबंधक, आरके सिंह की सेवा समाप्त

Date : 06-Jul-2020

रायपुर। छत्तीसगढ़ शासन ने खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग में बदलाव करते हुए डॉ. अजय शंकर कन्नौजे को स्टेट वेयरहाउस कार्पोरेशन में सचिव और महाप्रबंधक का अतिरिक्त प्रभार दिए जाने का आदेश जारी किया गया है। डॉ. अजय शंकर कन्नौजे खाद्य मंत्री अरजीत भगत के ओएसडी हैं। इस संबंध में खाद्य विभाग ने आदेश जारी किया है।

इसके पहले आरके सिंह थे ,अब डॉ. अजय होंगे CG वेयरहाउसिंग कारपोरेशन के सचिव, डॉ. कन्नौजे, आरके सिंह की जगह पदभार ग्रहण करेंगे। संविदा नियुक्ति से आर के सिंह की सेवा समाप्त कर दी गई है।

View More...

लद्दाख में पीछे हटने को मजबूर हुआ चीन, गलवान घाटी में 1 किमी पीछे हटे चीनी सैनिक

Date : 06-Jul-2020

नयी दिल्ली (एजेंसी)। भारत और चीन के बीच मई के महीने से जारी विवाद में अब बड़ी खबर सामने आई है. 15 जून को जिस जगह पर दोनों देशों की सेनाएं आमने-सामने आई थीं, अब वहां से चीनी सेना करीब एक किमी. पीछे हट गई है. सेनाओं के बीच लगातार सैनिकों को पीछे हटाने को लेकर मंथन चल रहा था, ऐसे में ये इस प्रक्रिया का पहला पड़ाव माना जा रहा है. लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) पर गलवान घाटी में हिंसा वाले स्थल के पास से चीनी सेना करीब एक किमी. पीछे हट गई है.

15 जून की घटना के बाद चाइनीज पीपल्स लिब्रेशन आर्मी (पीएलए) के सैनिक उस स्थान से इधर आ गए थे जो भारत के मुताबिक एलएसी है। भारत ने भी अपनी मौजूदगी को उसी अनुपात में बढ़ाते हुए बंकर और अस्थायी ढांजे तैयार कर लिए थे। दोनों सेनाएं आंखों में आंखें डाले खड़ी थीं।

कमांडर स्तर की बातचीत में 30 जून को बनी सहमति के मुताबिक चीनी सैनिक पीछे हटे या नहीं,  इसको लेकर रविवार को एक सर्वे किया गया। अधिकारी ने बताया, ”चीनी सैनिक हिंसक झड़प वाले स्थान से दो किमी पीछे हट गए हैं। अस्थायी ढांचे दोनों पक्ष हटा रहे हैं।” उन्होंने बताया कि बदलवा को जांचने के लिए फिजिकल वेरीफिकेशन भी किया गया है।

दोनों देशों की सेनाओं के बीच लद्दाख में एलएसी पर करीब दो महीने से टकराव के हालात बने हुए हैं। छह जून को हालांकि दोनों सेनाओं में पीछे हटने पर सहमति बन गई थी लेकिन चीन उसका क्रियान्वयन नहीं कर रहा है। इसके चलते 15 जून को दोनों सेनाओं के बीच खूनी झड़प भी हो चुकी है। इसके बाद दोनों देशों के विदेश मंत्रियों के बीच बात हुई है तथा 22 जून को सैन्य कमांडरों ने भी मैराथन बैठक की।

15 जून की घटना के बाद से भारत ने 3,488 किलोमीटर वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर अपने विशेष युद्ध बलों को तैनात किया है, जो कि चीनी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) के पश्चिमी, मध्य या पूर्वी सेक्टरों में किसी भी प्रकार के हमले से जूझ सकते हैं। शीर्ष सरकारी सूत्रों ने पुष्टि की है कि भारतीय सेना को पीएलए द्वारा सीमा पार से किसी भी हरकत का आक्रामकता से एलएसी पर जवाब देने का निर्देश दिया है।

View More...

देश में मिले एक दिन में कोरोना के 24248 नए मरीज, 425 लोगों की मौत

Date : 06-Jul-2020

नईदिल्ली (एजेंसी)। देश में कोरोना के मामले लगातार तेजी से बढ़ रहे हैं। बीते 24 घंटे में भी कोरोना के 24,248 नए मामले सामने आए हैं। वहीं इस दौरान 425 मरीजों की मौत हो गई है। अब भारत में कोरोना मरीजों की कुल संख्या बढ़कर 6,97,413 हो गई है। इनमें से 2,53,287 एक्टिव और 4,24,433 रिकवर मरीज हैं। देश में अब तक कोरोना से 19,693 लोगों की मौत हुई है।

देश में कोविड-19 के 24,248 नए मामले सामने आने के बाद देश में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले सोमवार को सात लाख के करीब पहुंच गए। वहीं, 425 और संक्रमित लोगों की मौत के बाद देश में मरने वालों की संख्या 19,693 हो गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार आज लगातार चौथा दिन है जब देश में कोरोना संक्रमण के 20,000 से अधिक मामले सामने आए हैं।

वैश्विक महामारी से सबसे अधिक प्रभावित देशों की सूची में भारत रविवार को रूस को पीछे छोड़ तीसरे स्थान पर पहुंच गया। इस सूची में अमेरिका पहले और ब्राजील दूसरे स्थान पर है। मंत्रालय द्वारा सोमवार सुबह अद्यतन आंकड़ों के अनुसार कोविड-19 के एक दिन में 24,248 नए मामले सामने आने के बाद भारत में संक्रमण के मामले बढ़कर 6,97,413 हो गए।
आंकड़ों के अनुसार देश में अभी तक कोविड-19 के 4,24,432 मरीज ठीक हो चुके हैं और एक मरीज देश ये बाहर चला गया है। वहीं देश में 2,53,287 लोगों का इलाज जारी है। मंत्रालय ने कहा, ‘अभी मरीजों के ठीक होने की दर 60.85 प्रतिशत है।’

कुल पुष्ट मामलों में भारत में संक्रमित पाए गए विदेशी नागरिक भी शामिल है। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के अनुसार पांच जुलाई तक कुल 99,69,66 लोगों की कोविड-19 की जांच की गई है, जिनमें से 1,80,596 लोगों की जांच रविवार को ही की गई।

View More...

मुख्यमंत्री ने पीएम को लिखा पत्र , होटल-रेस्तरां की तरह नियम के साथ जिम खोलने की राखी मांग

Date : 06-Jul-2020

रायपुर। कोरोना वायरस (कोविड -19) के संक्रमण के चलते देश के साथ साथ प्रदेश में भी लॉकडाउन लागू है, परन्तु भारत सरकार ने कुछ संस्थानों को खोलने की छूट सशर्त दी है। इसी कड़ी में लॉकडाउन की अवधि बार बार बढ़ने से जिम संचालकों को काफी दिक्कतों का सामना करना पढ़ रहा है। इस बात को लेकर जिम संचालकों के प्रतिनिधिमंडल प्रदेश के अलग अलग ज़िलों में अपनी समस्या लेकर जनप्रतिनिधियों के माध्यम से प्रदेश के मुख्यमंत्री से गुहार लगा रहे हैं।

संचालकों को हो रही इस समस्या को लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रधानमत्री को एक पत्र जारी कर के जिम संचालन की भी अनुमति मांगी है। इसमें मुख्यमंत्री ने अपनी मांग रखते हुए लॉकडाउन में रेस्त्रां और होटलों की तरह एसओपी के आधार में जिम संचालन की अनुमति मांगी है। सीएम ने जिम संचालकों की आर्थिक कठियाईयों से अवगत करते हुए पात्र जारी किया है।

मुक्यमंत्री के इस पत्र लिखने से जिम संचालकों के लिए उम्मीद की किरण जाग उठी है।

View More...
Previous123456789...1718Next