Top News

Previous123456789...199200Next

जानें कोरोना का कब होगा अंत, वैज्ञानिकों ने की ये भविष्यवाणी

Date : 02-Feb-2022

नई दिल्ली (एजेंसी)। पिछले दो सालों से कोरोना ने दुनिया में कहर बरपाकर रखा है। पहली और दूसरी लहर के बाद अब तीसरी लहर ने भी आतंक मचाया हुआ है। देश-दुनिया में कोरोना का कहर जारी है। दो लाख के करीब संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं। कोरोना के पूरे मामले को लेकर सीएसआईआर में इंस्टीट्यूट ऑफ जीनोमिक एंड इंटीग्रेटिव बायोलॉजी (के निदेशक अनुराग अग्रवाल ने महत्वपूर्ण बात कही है।

इसी तरह चिकन पॉक्स के कारण कई अमेरिकियों की मौत हो गई।  देखें तो कोरोना वायरस आने के बाद शुरुआती दौर में हम में से किसी के पास इस वायरस से निपटने के लिए इम्यूनिटी नहीं थी। यही कारण है कि डेल्टा बहुत ज्यादा आक्रामक हो गया। उस समय तक अधिकांश लोगों को वैक्सीन भी नहीं लगी थी।

अब हम यह देख रहे हैं कि वैक्सीन का कितना महत्व है। यह देखा जाता है कि जो व्यक्ति एक बार संक्रमित हो चुका है और उसने वैक्सीन की दोनों खुराक लगा ली है, तो ऐसे व्यक्तियों में कोरोना होने से अस्पताल जाने और मौत की आशंका बहुत कम हो जाती है। ओमिक्रॉन आने तक 80 से 90 प्रतिशत वयस्कों को टीका लग चुका था. यही कारण है कि ओमिक्रॉन का गंभीर असर हम पर नहीं हो रहा है। अनुराग अग्रवाल ने बताया कि वायरस के खतरनाक म्यूटेंट में बदलने की आशंका अब बहुत कम है। इसलिए इसके गंभीर परिणाम भी अब कम ही होंगे।

अनुराग अग्रवाल ने बताया, ‘अगर स्मॉल पॉक्स, पोलियो और फ्लू पर नजर डालें तो कोरोना के संदर्भ में फ्लू को चुनना बेहतर होगा, क्योंकि पोलिया, स्मॉल पॉक्स लगभग मिट चुका, लेकिन फ्लू आज भी हमें परेशान कर रहा है। इसलिए हम कह सकते हैं कि कोविड-19 जाने वाला नहीं है। समय के साथ इसकी गंभीरता कम होती जाएगी, लेकिन हाई रिस्क वाले लोगों को यह प्रभावित करता रहेगा, लेकिन इतना तय है कि इससे होने वाली तबाही और कठिनाई बहुत कम हो जाएगी।

View More...

कैबिनेट बैठक में केंद्रीय कर्मचारियों को मिल सकता बड़ा फायदा, रुके हुए डीए.एरियर पर फैसला संभव

Date : 02-Feb-2022

नई दिल्ली (एजेंसी)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को होने वाली बैठक में केंद्रीय कर्मचारियों को बड़ा फायदा मिल सकता है। संभव है कि इस बैठक में कर्मचारियों के रुके हुए डीए एरियर पर फैसला लिया जाए। अगर ऐसा हुआ तो कर्मचारियों को सीधे दो लाख रुपये तक का फायदा हो सकता है। यह रकम एकमुश्त उनके खाते में आएगी। जानकारी के मुताबिक, केंद्रीय कैबिनेट की बैठक शाम 3:30 बजे शुरू होगी।

दअरसल, केंद्रीय कर्मचारियों के 18 महीनों से रुके हुए डीए को जारी करने का फैसला अभी तक नहीं किया गया है, लेकिन जानकारी के अनुसार आज होने वाली कैबिनेट बैठक में इस पर फैसला हो सकता है। सरकार एक ही किश्त में डीए एरियर देकर निपटाने की योजना बना रही है। अगर ऐसा होता है तो सरकारी कर्मचारियों के खाते में एकमुश्त 2 लाख रुपये आ सकते हैं। लेवल-1 के कर्मचारियों का डीए बकाया 11,880 रुपये से 37,000 रुपये के बीच होगा। वहीं, लेवल-13 के कर्मचारियों को 1,44,200 रुपये से 2,18,200 रुपये डीए एरियर के तौर पर मिलेगा।

लंबे समय से कर्मचारी कर रहे मांग

केंद्र सरकार के कर्मचारियों का डीए साल में दो बार जनवरी से जुलाई के बीच अपडेट किया जाता है। महंगाई भत्ते की वर्तमान दर को मूल वेतन से गुणा करके डीए का निर्धारण होता है। बता दें कि सरकारी कर्मचारियों, सार्वजनिक क्षेत्र के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को डीए दिया जाता है। यह कर्मचारियों को उनके रहने के खर्च में मदद करने के लिए दिया जाता है। कैबिनेट बैठक में केंद्र सरकार अगर इस पर फैसला ले लेती है तो केंद्रीय कर्मचारियों की बल्ले-बल्ले हो जाएगी। कर्मचारी लंबे अरसे से डीए एरियर के अटके हुए पैसों की मांग कर रहे हैं।

प्रधानमंत्री सुलझा सकते हैं मामला

18 महीने के एरियर का मामला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तक पहुंच गया है। एरियर भुगतान को लेकर भारतीय पेंशनभोगी मंच ने प्रधानमंत्री को चिट्ठी भी लिखी है। प्रधानमंत्री से बीएमएस ने भी अपील की है कि वो इस मामले में हस्तक्षेप करें और वित्त मंत्रालय को एक जनवरी 2020 से 30 जून 2021 के बीच रोके गए डीए, डीआर के एरियर को जल्द जारी करने का निर्देश दें।

View More...

पूर्व आईपीएस के घर पर देर शाम इनकम टैक्स की टीम पंहुची, मोबाइल सहित अहम दस्तावेज किए जब्त

Date : 01-Feb-2022

नोएडा (एजेंसी)। उत्तर प्रदेश में नोएडा के सेक्टर 50 में स्थित पूर्व आईपीएस के घर पर रविवार की देर शाम इनकम टैक्स की टीम पंहुची और गार्ड के पास से मौजूद मोबाइल अपने कब्जे में लेने के साथ अंदर कोठी में बढ़ गई। विभाग ने तुरंत जांच शुरू कर की ओर अहम दस्तावेज अपने कब्जे में लेने शुरू किए। कोठी एक पूर्व आईपीएस राम नारायण सिंह की है, जहां इनकम टैक्स ने छापेमारी कर रही है। जानकारी के मुताबिक ये टीम रविवार की रात करीब 9 बजे यहां अचानक पंहुची और कोठी पर तैनात गार्डों के मोबाइल अपने कब्जे में ले लिए। इसके बाद टीम ने अंदर प्रवेश किया। मिली जानकारी के अनुसार आईपीएस के घर के बेसमेंट में मौजूद लॉकरों को खंगाला गया।

फिलहाल अभी ये साफ नहीं हो पाया है कि ये छापेमारी किस सम्बन्ध की जा रही है। वहीं पूर्व आईपीएस राम नारायण सिंह का कहना है कि मैं फिलहाल अपने गांव में था मुझे सूचना मिली कि घर पर इनकम टैक्स की टीम जांच करने आई है तो मैं तुरंत यहां आ गया। वहीं जानकारी देते हुए राम नारायण सिंह ने बताया कि मैं एक पूर्व आईपीएस रहा हूं। मेरा बेटा यहाँ रहता है और हम भी यहां आकर रुकते हैं। मेरा बेटा प्राइवेट लॉकर रखने का काम करता है जो कि बेसमेंट में है, और किराये पर देता है, जैसे बैंक देता है। इसमें हमारे दो लॉकर निजी हैंं।

इनकम टैक्स विभाग को कई अहम सबूत हाथ लगे हैं। यही वजह है कि टीम पिछले कई घंटों से घर में मौजूद लोगों से पूछताछ कर रही है। माना जा रहा है कि इनकम टैक्स विभाग को जो जानकारी मिली है, और उसी के आधार पर यह छापेमारी की गई है। इनकम टैक्स विभाग की टीम जब घर पर पहुंची तो उसको कई सबूत हाथ लगे हैं। यही वजह है कि उन सबूतों की सच्चाई जानने के लिए टीम पिछले कई घंटों से घर में मौजूद लोगों से पूछताछ कर रही है ताकि जो सबूत उसके हाथ लगे हैं उनकी सत्यता की पड़ताल की जा सके।

View More...

केरल-कर्नाटक में बढे कोरोना के मामले, दिल्ली-मुंबई में घटी संक्रमितों की संख्या

Date : 31-Jan-2022

नई दिल्ली (एजेंसी)। कोरोना वायरस के नए मामलों की संख्या धीरे-धीरे घट रही है। वही केरल और कर्नाटक ने देश की चिंता बढ़ा दी है। शनिवार को केरल में कोरोना के 50 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए है। वहीं दूसरे नंबर पर कर्नाटक है जहां 1 दिन में 33 हजार से ज्यादा केस रजिस्टर हुए है।

सामने आए केरल में कोरोना के इतने मामले

बता दें कि केरल में शनिवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 50 हजार 812 नए मामले सामने आए जिसमे आठ मरीजों की मौत हुयी है। इसके साथ ही संक्रमण के कुल मामलो में बढ़ोतरी भी दिखा रही हैं जो 59 लाख 31 हजार 945 हो चुकी है और मृतकों की संख्या 53 हजार 191 पर पहुंच गई है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार कोविड से पीड़ित 47 हजार 649 और लोग ठीक हो चुके है।

कर्नाटक-तमिलनाडु में संक्रमितों की संख्या बढ़ी

वहीं कर्नाटक में शनिवार को कोविड-19 के 33 हजार 337 नए मामले सामने आए जिसके बाद यहां संक्रमितों की संख्या बढ़कर 37 लाख 57 हजार 31 हो गई है। शनिवार को संक्रमण से 70 लोगों की मौत हुई है। तमिलनाडु में कोविड-19 के 24 हजार 418 नए मामले सामने आए है।

दिल्ली में कोरोना के केस घटे

बता दे कि दिल्ली में शनिवार को कोविड-19 के 4 हजार 483 नए मामले सामने आए और 28 लोगों ने वायरस के कारण दम तोड़ दिया है। दिल्ली में पॉजिटिविटी रेट भी 7.41 प्रतिशत तक गिर गई है। दिल्ली में कोरोना के 24 हजार 800 एक्टिव मामले हैं।

वहीं महाराष्ट्र में शनिवार को कोविड-19 के 27 हजार 971 नए मामले सामने आये है जिसके बाद राज्य में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 76 लाख 83 हजार 525 हो गई है, जबकि 61 और मरीजों की मौत होने से मृतक संख्या बढ़कर 1 लाख 42 हजार 522 हो गई है।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुशार, शनिवार को भारत में  कोरोना के 2 लाख 35 हजार 532 नए मामले सामने आए है और 871 लोगों की मौत हो चुकी है। देश में 20 लाख 4 हजार 333 एक्टिव केस हैं। इस दौरान 3 लाख 35 हजार 939 संक्रमित रिकवर हुए है। भारत में रिकवरी रेट 93.89 प्रतिशत है।

View More...

कांग्रेस आलाकमान ने संगठन पुनर्गठन को लेकर लिया बड़ा निर्णय

Date : 29-Jan-2022

नई दिल्ली (एजेंसी)। कांग्रेस आलाकमान ने संगठन पुनर्गठन को लेकर बड़ा निर्णय लिया है। आलाकमान ने राज्यों में कांग्रेस संगठन चुनाव करवाने का फैसला किया है।

चुनाव प्रक्रिया सम्पन्न करवाने की शुरुआत हरियाणा से की है। हरियाणा में चुनाव प्रक्रिया सम्पन्न करवाने राजस्थान से पूर्व सांसद ताराचंद भगोरा को हरियाणा में संगठन‌ चुनाव करवाने के लिए प्रदेश रिटर्निंग ऑफिसर बनाया गया है।

View More...

एसटीएफ और पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई, मुठभेड़ में 50 हजार का इनामी बदमाश ढेर

Date : 29-Jan-2022

गोंडा (एजेंसी)। उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले में एसटीएफ और पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई की है। टीम ने मुठभेड़ में 50 हजार का इनामी बदमाश मार गिराने में कामयाबी हासिल की है। मौके पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है।

जानकारी के अनुसार, गोंडा में अंबेडकरनगर निवासी 50 हजार के इनामी विजय सिंह (45) की परसपुर के बेलसर मार्ग पर ग्राम चंदयीपांडे पुरवा के पास एसटीएफ और पुलिस की टीम से मुठभेड़ हो गई।

गोली लगने से विजय सिंह की मौत हो गई। मौके पर भारी संख्या में पुलिस बल मौजूद है। मृतक विजय सिंह का शव सीएचसी पहुंचा दिया गया है। मामले की जांच की जा रही है।

View More...

एयर इंडिया की कमान पूरी तरह से टाटा समूह को सौंपी, हैंडओवर से पहले पीएम मोदी से मिले चेयरमैन

Date : 28-Jan-2022

नई दिल्ली (एजेंसी)। एयर इंडिया की कमान पूरी तरह से टाटा समूह को सौंप दी गई। इसके साथ ही एयर इंडिया के विनिवेश की प्रक्रिया पूरी हो गई यानी 69 साल बाद एयर इंडिया की घर वापसी हो गई। इसके साथ ही एयर इंडिया के विनिवेश की प्रक्रिया पूरी हो गई। दीपम सचिव तुहीन कांत पांडेय ने कहा कि एयर इंडिया में सरकार की पूरी हिस्सेदारी टाटा संस की सब्सिडियरी कंपनी टैलेस प्राइवेट लिमिटेड को ट्रांसफर कर दी गई है। अब से एयर इंडिया का नया मालिक टाटा ग्रुप है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिले एन चंद्रशेखरन

इस आधिकारिक हैंडओवर से पहले टाटा संस के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात के बाद चंद्रशेखरन सीधे नई दिल्ली में एयर इंडिया के ऑफिस पहुंचे। इस मौके पर टाटा संस के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन ने कहा कि यह प्रक्रिया पूरी हो गई है। एयर इंडिया की घर वापसी से हम काफी खुश हैं। अब हमारी कोशिश इस एयरलाइन को वर्ल्ड क्लास बनाने की है। गौरतलब है कि सरकार ने प्रतिस्पर्धी बोली प्रक्रिया के बाद आठ अक्तूबर को 18,000 करोड़ रुपये में एयर इंडिया को टैलेस प्राइवेट लिमिटेड को बेच दिया था। बता दें कि यह टाटा समूह की होल्डिंग कंपनी की अनुषंगी इकाई है।

टाइम मैनेजमेंट पर होगा विशेष ध्यान

इससे पहले गुरुवार को मुंबई से संचालित होने वाली चार उड़ानों में ‘उन्नत भोजन सेवा’ शुरू करके एयर इंडिया में अपना पहला कदम उठाया। अधिकारियों ने स्पष्ट किया है कि चार उड़ानों AI864 (मुंबई-दिल्ली), AI687 (मुंबई-दिल्ली), AI945 (मुंबई-अबू धाबी) और AI639 (मुंबई-बेंगलुरु) में ‘उन्नत भोजन सेवा’ दी गई। नई सेवाओं के संबंध में टाटा समूह की ओर से केबिन क्रू के सदस्यों को एक मेल भी भेजा गया था। एक रिपोर्ट के मुताबिक, कमान संभालने के बाद ही टाटा समूह सबसे पहले एयर इंडिया के लेट लतीफी वाले दाग को साफ करेगा। टाटा समूह की पहली कोशिश होगी कि एयर इंडिया की फ्लाइट का संचालन समय पर हो सके।

आने वाले सात दिन बेहद महत्वपूर्ण

केबिन क्रू सदस्यों को भेजे गए मेल में कहा गया है कि अगले सात दिन हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण होंगे क्योंकि हम अपनी छवि, दृष्टिकोण और धारणा को बदल देंगे। टाटा के संदीप वर्मा और मेघा सिंघानिया द्वारा कहा गया कि केबिन क्रू सदस्य ब्रांड/छवि निर्माण में अहम भूमिका निभाने वाले ‘महत्वपूर्ण ब्रांड एंबेसडर’ हैं। वे यात्रियों का स्वागत करेंगे, मेहमानों को संबोधित करेंगे और उनकी सेवा करेंगे। उन्होंने कहा कि चालक दल नियमों का पालन करते हुए स्मार्ट ड्रेस पहने नजर आएंगे। इसके साथ ही ग्रूमिंग सहयोगी चालक दल का निरीक्षण करेंगे।

1932 में भरी थी एयर इंडिया ने पहली उड़ान

एयर इंडिया के इतिहास की बात करें तो इसकी शुरुआत अप्रैल 1932 में हुई थी। इसकी स्थापना उद्योगपति जेआरडी टाटा ने की थी। उस समय एयरलाइन का नाम टाटा एयरलाइंस था। इसके साथ ही आपको बता दें कि एयरलाइन की पहली कॉमर्शियल उड़ान 15 अक्तूबर 1932 को भरी गई थी। तब सिर्फ सिंगल इंजन वाला ‘हैवीलैंड पस मोथ’ हवाई जहाज था, जो अहमदाबाद-कराची के रास्ते मुंबई गया था। प्लेन में उस वक्त एक भी यात्री नहीं था बल्कि 25 किलो चिट्ठियां रखी गई थीं।

View More...

ओमिक्रॉन संक्रमण खतरनाक डेल्टा वैरिएंट से कर सकता है बचाव : रिसर्च

Date : 27-Jan-2022

नई दिल्ली (एजेंसी)। दुनियाभर में कोरोना वायरस और उसके नए वैरिएंट ओमीक्रॉन ने हाहाकार मचा रखा है। भारत में कोरोना संकट का दौर लगातार जारी है। इस खतरनाक महामारी से निपटने के लिए लगातार शोध जारी है। इसी क्रम में वैज्ञानिक ने जो अपने अध्ययन में बताया है वह बेहद चौंकाने वाला है।

दरअसल, आईसीएमआर के एक अध्ययन में पाया गया है कि कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन से संक्रमित व्यक्तियों में महत्वपूर्ण प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया होती है जो न केवल इस स्ट्रेन को बेअसर कर सकती है, बल्कि सबसे प्रचलित डेल्टा वैरिएंट सहित अन्य को भी बेअसर कर सकती है।

दक्षिण कोरिया में ओमिक्रॉन का कहर

दक्षिण कोरिया में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन का कहर जारी है। यहां बीते 24 घंटे में कोरोना के रिकॉर्ड 14,518 नए मरीज सामने आए हैं जिनमें अधिकतर ओमिक्रॉन से संक्रमित हैं। दक्षिण कोरिया रोग नियंत्रण और रोकथाम एजेंसी ने गुरुवार को इसकी जानकारी दी है।

ओमिक्रॉन वैरिएंट का मुकाबला करने के लिए बूस्टर खुराक का क्लीनिकल ट्रायल

अमेरिकी बायोटेक कंपनी मॉडर्ना ने बुधवार को घोषणा की कि उसने कोरोना के ओमिक्रॉन वैरिएंट का मुकाबला करने के लिए विशेष रूप से तैयार टीके की बूस्टर खुराक का क्लीनिकल ट्रायल शुरू कर दिया है।

View More...

देर रात युपी पुलिस को मिली बड़ी सफलता, कार से बरामद हुए 22 लाख कैश, युवक हिरासत में

Date : 27-Jan-2022

नोएडा (एजेंसी)। विधानसभा चुनाव और गणतंत्र दिवस के मद्देनजर चौकस उत्तर प्रदेश पुलिस को देर रात बड़ी सफलता मिली. पुलिस ने चेकिंग के दौरान एक लग्जरी कार में छिपाकर ले जाए जा रहे 22 लाख रुपए बरामद किए हैं। साथ ही कार सवार युवक को हिरासत में ले लिया है। गौतमबुद्ध नगर के नोएडा सेक्टर-58 की पुलिस और स्थाई निगरानी समिति की टीम ने संयुक्त रूप से इस कार्रवाई को अंजाम दिया है।

पुलिस के मुताबिक, नोएडा सेक्टर-58 के थाना इलाके में आने वाले सेक्टर-60 की चौकी के पास देर रात वाहनों की चेकिंग की जा रही थी। इसी बीच तेजी से आती हुई एक महंगी कार को रोका गया और तलाशी ली गई। इस दौरान कार सवार रोहित अवाना पुत्र भगत सिंह के पास से 21,23,990 रुपए बरामद किए गए। इतनी बड़ी मात्रा में कैश से जुड़ा कोई भी साक्ष्य कार सवार युवक पेश नहीं कर पाया, जिसके बाद पुलिस ने नकदी को जब्त कर लिया और इस मामले में नियमानुसार जरूरी कार्रवाई शुरू की जा चुकी है।

चुनाव के समय कैश साथ रखने के नियम

दरअसल, आचार संहिता लागू होने के दौरान आम लोगों समेत बिजनेस करने वालों को चुनाव आयोग के नियमों का पालन करना होता है। इसके तहत 50,000 से अधिक नगदी ले जाने पर पहचान पत्र, कैश विड्राल का प्रूफ यानी पैसा कहां से लिया गया और एंड यूज मतलब कहां इस्तेमाल किया जाना है, का सबूत साथ रखना होता है। इसके लिए लोगों को अपने साथ बैंक निकासी रसीद या बिल्टी आदि साथ रखनी होती है। हालांकि, अगर 50,000 रुपये से कम नकदी साथ लेकर चल रहे हैं, तो किसी तरह के डॉक्यूमेंट की जरूरत नहीं होती है। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के चलते आदर्श आचार संहिता लागू है. राज्य की 403 सीटों पर 7 चरणों में मतदान होगा। 10 फरवरी को पहले चरण, 14 फरवरी को दूसरे चरण, 20 फरवरी को तीसरे चरण, 23 फरवरी को चौथे चरण, 27 फरवरी को पांचवें चरण, 3 मार्च को छठे चरण और 7 मार्च को सातवें चरण की वोटिंग होगी। वहीं, चुनाव परिणाम 10 मार्च को घोषित होगा।

View More...

पूर्व केंद्रीय मंत्री आरपीएन सिंह ने दिया इस्तीफा

Date : 25-Jan-2022

लखनऊ (एजेंसी)। उत्तर प्रदेश में 10 फरवरी को पहले चरण का मतदान होना है। इसके लिए सभी पार्टियों ने प्रत्याशियों का भी एलान कर दिया है। राजनीतिक उठापठक के बीच चुनाव जीतने के लिए राजनीतिक दलों ने पूरी ताकत झोंक दी है। नेताओं के दल बदलने का सिलसिला भी जारी है। इन सबके साथ नेताओं की बयानबाजी और गुटबाजी भी अब सामने आने लगी है। इसी बीच खबर आ रही है कि कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री आरपीएन सिंह ने कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दिया। उन्होंने पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को अपना इस्तीफा सौंपा।

कांग्रेस से इस्तीफा देने के बाद आरपीएन सिंह ने ट्विट किया। उन्होंने लिखा, ‘आज, जब पूरा राष्ट्र गणतन्त्र दिवस का उत्सव मना रहा है, मैं अपने राजनैतिक जीवन में नया अध्याय आरंभ कर रहा हूं।’

सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री आरपीएन सिंह भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम सकते हैं। आरपीएन ने कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता और सभी पदों से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने अपने ट्विटर प्रोफाइल से कांग्रेस का नाम और उससे जुड़े पदों को भी हटा दिया है। बताया जाता है कि आरपीएन भाजपा की तरफ से स्वामी प्रसाद मौर्य के खिलाफ चुनावी मैदान में होंगे।

सिंह अगर भाजपा में आते हैं तो पार्टी उनको स्वामी प्रसाद मौर्य के खिलाफ कुशीनगर की पडरौना विधानसभा सीट से चुनाव लड़वा सकती है। बता दें कि आरपीएन सिंह पिछड़ी जाति सैंथवार-कुर्मी से हैं। पूर्वांचल में सैंथवार जाति के लोगों की तादाद अच्छी संख्या में है। कुशीनगर, गोरखपुर, देवरिया इसमें खास इलाके हैं। पूर्वांचल में आरपीएन सिंह का अपना भी मजबूत पकड़ है।

View More...
Previous123456789...199200Next