National

Previous123456789...282283Next

जहरीली मछली खाने से पिता.पुत्र सहित परिवार के तीन सदस्यों की मौत

Date : 28-Jul-2021

छपरा (एजेंसी)। बिहार के छपरा में मछली खाने से पिता-पुत्र सहित परिवार के तीन सदस्यों की मौत हो गई है. मंगलवार की सुबह जब लोगों को इस घटना के बारे में पता चला तो हड़कंप मच गया. यह पूरा मामला छपरा जिले के दरियापुर थाना क्षेत्र के साढ़वारा का है. इस मामले में जांच के लिए बनाए गए खाना (मछली और चावल) को भेजा गया है. रिपोर्ट आने के बाद ही सबकुछ पता चल सकेगा।

बताया जाता है कि साढ़वारा गांव के रहने वाले सुभाष राय सोमवार की शाम बाजार से मछली खरीदकर ले गए थे. खाना बनने के बाद रात में घर के कुछ लोगों ने खाया जबकि कुछ लोग बचे हुए थे. सुभाष राय, उनके पुत्र बाला राय, उनके भाई का पोता तीन वर्षीय बालक और सुभाष राय के एक अन्य पुत्र ने मछली खाई थी. घर के बाकी लोगों ने अभी भोजन नहीं किया था.

एक शख्स का पीएमसीएच में हो रहा है इलाज

खाना खाने के कुछ ही घंटों के बाद रात में ही हालत बिगड़ने लगी. घटना में सुभाष राय, उनके बेटे बाला राय और उनके भाई के पोता की मौत हो गई है. परिवार के एक दूसरे शख्स का पीएमसीएच में इलाज हो रहा है. घटना की सूचना जब सुबह में पुलिस को मिली तो मौके पर पहुंची और जांच की.

पुलिस ने घर में बने मछली व चावल को जब्त कर लिया और उसे जांच के लिए फॉरेंसिक लैब भेज दिया है. इस घटना को लेकर घर में कोहराम मचा हुआ है. इस मामले में छपरा के एसपी संतोष कुमार ने बताया कि ऐसा लगता है कि मछली जहरीली थी जिससे परिवार फूड प्वाइजनिंग का शिकार हो गया है. जांच की जा रही है.

View More...

भारत पहुंचे अमेरिका के विदेशमंत्री एंटनी, विदेशमंत्री एस जयशंकर व राष्ट्रीय रक्षा सलाहकार अजित डोभाल से करेंगे मुलाकात

Date : 28-Jul-2021

नई दिल्ली (एजेंसी)। अमेरिका के विदेशमंत्री एंटनी ब्लिंकन मंगलवार को दो दिवसीय यात्रा पर भारत पहुंचे। ब्लिंकन बुधवार को विदेशमंत्री एस जयशंकर और राष्ट्रीय रक्षा सलाहकार अजित डोभाल से मुलाकात करेंगे।

अफगानिस्तान में बिगड़ते सुरक्षा हालात के बीच ब्लिंकन भारत के साथ द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने और हिंद प्रशांत क्षेत्र में क्वाड फ्रेमवर्क में सहयोग बढ़ाने के इरादे से भारत और कुवैत की यात्रा पर आए हैं। कुवैत रवाना होने से पहले ब्लिंकन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मिलेंगे। 

भारत रवाना होने से पहले ब्लिंकन ने ट्वीट किया था कि वह अमेरिका के प्रमुख साझेदारों के साथ हिंद प्रशांत व मध्य पूर्व में साझा हितों को मजबूत करने के लिए सलाह मशविरा करेंगे। वहीं, भारत इस दौरान अमेरिका द्वारा टीका निर्माण में इस्तेमाल होने वाली सामग्री की आपूर्ति में किसी तरह के भी व्यवधान को दूर करने पर जोर देगा। साथ ही क्वाड वैक्सीन मुहिम को सुचारु रूप से लागू करने पर भी दोनों देशों के बीच चर्चा संभव है। 

बतौर विदेशमंत्री यह ब्लिंकन की पहली भारत यात्रा है। हालांकि जनवरी में सत्ता में आने के बाद बाइडन सरकार की ओर से वह भारत का दौरा करने वाले तीसरे वरिष्ठ पदाधिकारी हैं। इससे पहले रक्षामंत्री लॉयड ऑस्टिन मार्च में और जलवायु परिवर्तन पर विशेष राजनयिक जॉन केरी अप्रैल में दिल्ली आए थे। 

सरकारी सूत्रों ने बताया कि ब्लिंकन के दो दिवसीय भारत दौरे में चार देशों के समूह क्वाड के ढांचे के तहत मजबूत गठजोड़ बनाने पर प्रमुख रूप से चर्चा होगी। इसी के तहत साल के आखिर तक क्वाड देशों (भारत, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और जापान) के विदेश मंत्रियों की संभावित बैठक भी होनी है।

दोनों पक्ष क्वाड टीका पहल को आगे बढ़ाएंगे, ताकि भारत में बनाए जाने वाले टीकों को हिंद-प्रशांत क्षेत्र के देशों को 2022 के शुरुआत में आपूर्ति की जा सके। सूत्रों ने बताया कि ब्लिंकन की इस यात्रा का एजेंडा व्यापक होगा, जिसमें द्विपक्षीय सहयोग को और मजबूत करने का अवसर होगा और व्यापार और निवेश, स्वास्थ्य देखभाल, शिक्षा, डिजिटल डोमेन, नवाचार और सुरक्षा पर विशेष रूप से बातचीत की जाएगी।

00 छात्रों, पेशेवरों की अंतरराष्ट्रीय आवाजाही को आसान बनाने पर भी होगी बात
भारत स्वास्थ्य प्रोटोकॉल को बनाए रखते हुए अंतरराष्ट्रीय यात्रा की सिलसिलेवार बहाली के लिए भी अमेरिकी प्रशासन पर दबाव डालेगा। मानवीय मसलों के अलावा विशेष रूप से छात्रों, पेशेवरों, कारोबारियों की आवाजाही को सुगम बनाने और कोरोना महामारी के चलते अपनों से दूर होने वाले लोगों को परिवारों से मिलाने के मुद्दों पर ब्लिंकन के साथ चर्चा की जाएगी।

View More...

नेता बसवराज बोम्मई ने कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री के रूप में ली शपथ, राज्यपाल ने उन्हें गोपनीयता की दिलाई शपथ

Date : 28-Jul-2021

कर्नाटक (एजेंसी)। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता बसवराज बोम्मई ने कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ले ली है। राज्यपाल थावरचंद गहलोत ने उन्हें गोपनीयता की शपथ दिलाई। जानकारी के अनुसार मंत्रिमंडल का विस्तार बाद में किया जाएगा।

बता दें कि बुधवार को शपथ लेने से पहले बोम्मई ने अपने दिन की शुरुआत अंजनेय मंदिर में  भगवान का आशीर्वाद लेकर की। शपथ लेने से पहले उन्होंने कहा कि आज हम एक कैबिनेट बैठक करेंगे, इसके बाद एक वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक की जाएगी जिसमें राज्य में कोविड और बाढ़ की स्थिति की समीक्षा होगी। 

बता दें कि कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई का जन्म 28 जनवरी 1960 को हुआ था। जल संसाधन एवं सहयोग मंत्रालय के साथ-साथ उन्होंने हवेरी और उडुपी जिलों के प्रभारी मंत्री के तौर पर भी काम किया है। बता दें कि मैकेनिकल इंजीनियरिंग में स्नातक बासवराज बोम्मई ने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत जनता दल के साथ की थी।

राज्य सरकार में दूसरे नंबर के नेता बोम्मई लिंगायत समुदाय से आते हैं। अभी तक वह राज्य के गृह मंत्री के साथ संसदीय कार्य मंत्री और कानून मंत्री का पद भी संभाल रहे थे। बोम्मई को बीएस येदियुरप्पा का करीबी माना जाता है और वह ‘जनता परिवार’ से ताल्लुक रखते हैं। उनके पिता एसआर बोम्मई भी कर्नाटक के मुख्यमंत्री रह चुके हैं।

 2023 के चुनाव में लिंगायतों से ही सत्ता का गणित साधने की कोशिश

कर्नाटक की आबादी में लिंगायत समुदाय की भागीदारी करीब 17 फीसदी है। 224 सदस्यीय विधानसभा सीटों पर 100 से ज्यादा सीटों पर लिंगायत समुदाय का प्रभाव है। ऐसे में भाजपा ने येदियुरप्पा के हटने के बाद लिंगायत समुदाय के ही किसी व्यक्ति को नया सीएम बनाकर 2023 में होने वाले विधानसभा चुनाव में सत्ता का गणित साधने की कोशिश की है।

12 साल पहले भाजपा में शामिल हुए, अब बने ‘नायक’

सादर लिंगायत समुदाय से आने वाले बसवराज पेशे से मैकेनिकल इंजीनियर हैं। खेती से जुडे़ होने के नाते कर्नाटक के सिंचाई मामलों का जानकार माना जाता है। राज्य में कई सिंचाई परियोजनाएं शुरू करने की वजह से उनकी सराहना की जाती है। उन्हें अपने विधानसभा क्षेत्र में भारत की पहली 100 फीसदी पाइप सिंचाई परियोजना लागू करने का श्रेय भी दिया जाता है। उनके पिता एसआर बोम्मई भी कर्नाटक के मुख्यमंत्री रह चुके हैं। बसवराज 2008 में भाजपा में शामिल हुए और तभी लगातार पार्टी में ऊपर चढ़ते चले गए। वह पहले राज्य सरकार में जल संसाधन मंत्री रहे हैं। उन्होंने अपने राजनीतिक कॅरियर की शुरुआत जनता दल के साथ की थी।

 

View More...

सदन में संपत्तियों को नुकसान पहुंचाना अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता नहीं : सुप्रीम कोर्ट

Date : 28-Jul-2021

नई दिल्ली (एजेंसी)। सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को केरल में सत्तारूढ़ भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) द्वारा दायर उस याचिका को खारिज कर दिया जिसमें 2015 में केरल विधानसभा में `हुड़दंग` के लिए अपने नेताओं के खिलाफ मुकदमे को वापस लेने की अनुमति मांगी गई थी। इस प्रकरण के समय माकपा विपक्ष में थी। 

जस्टिस डीवाई चंद्रचूड और जस्टिस एमआर शाह की पीठ ने फैसला सुनाया है कि आरोपी विधायकों का कृत्य संवैधानिक सीमाओं को पार कर गया है। पीठ ने कहा कि संविधान द्वारा कानून निर्माताओं को सदन के पटल पर मिली छूट को आपराधिक अभियोजन तक के लिए बढाया जा सकता। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि सदन में संपत्तियों को नुकसान पहुंचाना अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता नहीं है। इन परिस्थितियों में मामलों को वापस लेने की अनुमति देना न्याय के सामान्य प्रक्रिया में हस्तक्षेप करना होगा।

सुप्रीम कोर्ट में अपने फैसले में कहा है कि सांसदों और विधायकों को दी गई प्रतिरक्षा उन्हें बिना किसी डर या पक्षपात के अपने कार्यों का निर्वहन करने में मदद करने के लिए है, लेकिन यह स्थिति उन्हें अन्य नागरिकों की तुलना में उच्च स्तर पर खड़ा नहीं करता है।` यह कहते हुए सुप्रीम कोर्ट ने केरल सरकार की याचिका को खारिज करते हुए हाईकोर्ट के आदेश को बरकरार रखा है।

राज्य सरकार ने केरल हाईकोर्ट के 12 मार्च, 2021 के आदेश के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी। पहले तिरुवनंतपुरम में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट और बाद में हाईकोर्ट से मौजूदा मंत्रियों सहित आरोपियों के खिलाफ मुकदमा वापस लेने की अनुमति मांगी गई थी, लेकिन वहां से राहत नहीं मिल पाई थी।

View More...

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता ने पीएम मोदी से की मुलाकात, जनसंख्या के हिसाब से कोरोना वैक्सीन देने की मांग की

Date : 28-Jul-2021

नई दिल्ली (एजेंसी)। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। इस मुलाकात के दौरान ममता ने प्रधानमंत्री से जनसंख्या के हिसाब से कोरोना वैक्सीन देने की मांग की। ममता के इस मांग पर प्रधानमंत्री मोदी ने देखेंगे करके जवाब दिया है। मुलाकात के बाद ममता ने मीडिया के सामने इस बात को लेकर जानकारी दी है।

मुलाकात के बाद लौटी सीएम ममता ने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि मैंने प्रधानमंत्री से मुलाकात की, ये सौजन्य भेंट है। हमें और वैक्सीन मिले इसके लिए प्रधानमंत्री से बात की। हमारे राज्य को आबादी के हिसाब से दूसरे राज्यों से बहुत कम वैक्सीन मिली है। बंगाल राज्य का नाम बदलने को लेकर मैंने प्रधानमंत्री से चर्चा की। प्रधानमंत्री ने कहा कि वो इसे देखेंगे। उन्‍होंने कहा कि मैं चाहती हूं कि पेगासस पर प्रधानमंत्री सर्वदलीय बैठक बुलाएं। सुप्रीम कोर्ट से इसकी जांच होनी चाहिए।

कुर्सी संभालने के ममता बनर्जी का यह पहला दिल्ली दौरा

बंगाल फतह करने व पांच मई को लगातार तीसरी बार मुख्यमंत्री की कुर्सी संभालने के ममता बनर्जी का यह पहला दिल्ली दौरा है। उनकी यात्रा संसद के मानसून सत्र के साथ हुई है, जिसमें विपक्षी दल पेगासस स्पाइवेयर के माध्यम से जासूसी के आरोपों, महंगाई और तीन कृषि कानूनों को निरस्त करने सहित कई मुद्दों पर विरोध कर रहे हैं। ममता बनर्जी 2024 के लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली भाजपा को केंद्र की सत्ता से उखाड़ फेंकने और विरोधी दलों को एकजुट करने की मंशा से सोमवार शाम को दिल्ली पहुंची हैं।

वरिष्‍ठ विपक्षी नेताओं के साथ करेंगी बैठकें

26 से 30 जुलाई तक दिल्ली दौरे के दौरान ममता के कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार समेत विपक्ष के सभी प्रमुख नेताओं से मुलाकात का कार्यक्रम है। बुधवार को सोनिया गांधी से मुलाकात का कार्यक्रम है। ममता संसद भवन भी जाएंगी, जहां मानसून सत्र चल रहा है। जानकारी के मुताबिक 28 जुलाई को उनके संसद भवन जाने का कार्यक्रम है। यहां वह कई नेताओं से मुलाकात करेंगी। ममता 30 जुलाई को कोलकाता लौटेंगी।

View More...

चरित्र संदेह पर पति ने अपनी पत्नी के प्रेमी को प्राइवेट पार्ट पर मारी गोली

Date : 27-Jul-2021

केरल (एजेंसी)। केरल में मुंडनकवु के पास चेंगगनूर जिले से एक भयानक वारदात सामने आई है। यहां एक शख्स ने अपनी पत्नी के प्रेमी को गोली मारकर घायल कर दिया। ये गोली उसने युवक के प्राइवेट पार्ट पर चलाई थी। पुलिस ने बताया कि घायल शख्स को तिरुवल्ला के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। चेंगन्नूर पुलिस को घटना के बारे में तब पता चला जब अस्पताल के अधिकारियों ने सोमवार को मामले की सूचना दी।

दरअसल, 45 वर्षीय पीड़ित गोली चलाने वाले आरोपी की पत्नी के साथ मुंडनकावु में रह रहा था। आरोपी और उसकी पत्नी ने तलाक के लिए पहले ही आपसी याचिका दायर की थी। लेकिन शनिवार को पति मुंडनकावु पहुंचा और प्रेमी के गुप्तांग पर एयर पिस्टल से गोली मार दी। कुछ मिनटों के बाद प्रेमी तिरुवल्ला के एक निजी मेडिकल कॉलेज के पास पहुंचा।

मामूली चोटें आने के कारण वह घर लौट आया। लेकिन अचानक उसके प्राइवेट पार्ट में तेज दर्द होने लगा जिसके चलते वह कुछ घंटों बाद उसी अस्पताल में लौट आया। पुलिस ने बताया कि इसको लेकर कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है क्योंकि उन्हें घटना पर कोई लिखित शिकायत नहीं मिली है।

View More...

कर्नाटक के नए सीएम को लेकर हो रही बैठक, दौड़ में ये चार नाम आगे

Date : 27-Jul-2021

बेंगलुरु (एजेंसी)। कर्नाटक की राजनीति में इन दिनों उथल-पुथल जारी है। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने सोमवार को विधानसभा में इस्तीफा देने का एलान किया। उसके बाद राजभवन पहुंच कर राज्यपाल थावरचंद गहलोत को अपना इस्तीफा सौंप दिया।

येदियुरप्पा ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा ऐसे समय दिया है, जब कर्नाटक की भाजपा सरकार के दो साल पूरे हुए हैं। ऐसे में हर किसी की नजर इस बात पर है कि अब भाजपा राज्य की कमान किसे सौंपेगी। वहीं नई दिल्ली में कर्नाटक के नए सीएम को लेकर बैठक हो रही है, जिसमें पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा और गृह मंत्री अमित शाह भी मौजूद हैं। कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद की रेस में प्रह्लाद जोशी, बीएल संतोष, लक्ष्मण सवदी और मुरुगेश निरानी का नाम शामिल है।  सूत्रों ने बताया कि भाजपा जल्द ही कर्नाटक में पर्यवेक्षण भेजेगी। नए मुख्यमंत्री के शपथ लेने तक बीएस येदियुरप्पा कार्यवाहक सीएम बने रहेंगे। 

मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने का एलान करते हुए येदियुरप्पा ने कहा, उन्हें कर्नाटक के लोगों के लिए अभी बहुत काम करना है। हम सभी को मेहनत के साथ काम करना चाहिए। येदियुरप्पा ने भावुक स्वर में कहा, `मैंने इस्तीफा देने का फैसला किया है। मैं जल्द ही राज्यपाल से मुलाकात करूंगा। भावुक होते हुए उन्होंने कहा कि वह हमेशा अग्निपरीक्षा से गुजरे हैं। उन्होंने कहा कि जब अटल बिहारी वाजपेयी प्रधानमंत्री थे तो उन्होंने मुझे केंद्र में मंत्री बनने के लिए कहा, लेकिन मैंने कहा कि मैं कर्नाटक में रहूंगा।

00 कर्नाटक का अगला सीएम कौन..मंथन जारी
येदियुरप्पा के इस्तीफे के एलान के बाद दिल्ली में हलचल तेज हो गई है। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, कर्नाटक के भाजपा प्रभारी अरुण सिंह और गृह मंत्री अमित शाह नए मुख्यमंत्री के नाम पर चर्चा कर रहे हैं। इस बीच येदियुरप्पा के उत्तराधिकारी के तौर पर केंद्रीय कोयला, खनन व संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी कर्नाटक के उप मुख्यमंत्री लक्ष्मण सवदी, संगठन महासचिव बीएल संतोष और प्रदेश सरकार में खनन मंत्री व उद्योगपति एमआर निरानी का नाम आगे चल रहा है। हालांकि, जोशी ने कहा कि उनसे इस बारे में अभी तक शीर्ष नेतृत्व ने कोई बात नहीं की है जबकि निरानी का कहना है कि पार्टी जो भी आदेश देगी, वह उसका पालन करेंगे।

View More...

गैस सिलेंडर की बुकिंग करने पर 10 फीसदी कैशबैक, करना होगा ये, जानिए यहां सबकुछ

Date : 27-Jul-2021

नई दिल्ली (एजेंसी)। देश इन दिनों महंगाई की मार झेल रही है. खाने पीने की सामानों के साथ साथ पेट्रोल-डीजल और रसोइ गैस के दामों में बेताहशा बढोत्तरी हुई है. ऐसे समय में यदि महंगाई से थोड़ी राहत मिल जाए तो कितना बढ़िया होगा. दरअसल, आईसीआईसीआई बैंक द्वारा संचालित डिजिटल पेमेंट की फैसिलिटी देने वाले पॉकेट्स ऐप के जरिए ग्राहक गैस सिलेंडर की बुकिंग करने पर 10 फीसदी कैशबैक दे रहा है।

महीने में 3 बिल पेमेंट पर कैश बेक

दरअसल, पॉकेट्स ऐप के जरिए अगर आप 200 रुपये या इससे ज्यादा का बिल पेमेंट करते हैं, तो आपको 10 फीसदी तक का कैशबैक मिलेगा. ऑफर का फायदा उठाने के लिए ग्राहकों को कोई प्रोमोकोड लगाने की भी जरूरत नहीं है. लेकिन ध्यान दें कि यह ऑफर महीने के 3 बिल पेमेंट्स पर ही मान्य होगा. कंपनी के नियम के अनुसार, एक घंटे में केवल 50 यूजर्स ही इस ऑफर का फायदा उठा सकते हैं. सबसे अच्छी बात है कि बिल पेमेंट करने पर एक घंटे में आप अधिकतम 1 रिवार्ड/कैशबैक और महीने में 3 रिवार्ड/कैशबैक जीत सकते हैं।

ऐसे करें बुकिंग

1. इस लाभ को लेने के लिए आप अपने Pockets वॉलेट ऐप को ओपन करें.
2. अब इसमें Recharge and Pay Bills सेक्शन में Pay Bills पर क्लिक करें.
3. इसके बाद Choose Billers में More का ऑप्शन पर क्लिक करें.
4. इसके बाद आपके सामने LPG का ऑप्शन आएगा.
5. अब सर्विस प्रोवाइडर को चुनें और अपना मोबाइल नंबर डालें.
6. अब आपका बुकिंग अमाउंट सिस्टम के द्वारा बताया जाएगा.
7. इसके बाद आपको बुकिंग अमाउंट का पेमेंट करना होगा.
8. ट्रांजैक्शन के बाद 10 % के हिसाब से अधिकतम 50 रुपये का कैशबैक वाला रिवार्डस मिलेगा. इसे खोलते ही कैशबैक अमाउंट आपके पॉकेट्स वॉलेट में क्रेडिट कर दी जाती है.

View More...

लंदन हाईकोर्ट ने भारत के भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या को किया दिवालिया घोषित

Date : 27-Jul-2021

नई दिल्ली (एजेंसी)। भारत के भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या को लंदन हाईकोर्ट ने भी दिवालिया घोषित कर दिया। भारतीय स्टेट बैंक के नेतृत्व में भारतीय बैंकों के एक कंसोर्टियम ने ब्रिटेन की अदालत में याचिका दाखिल की थी। जिस पर सुनवाई के बाद उनको दिवालिया घोषित कर दिया। अपने फैसले में लंदन हाई कोर्ट के जज माइकल ब्रिग्स ने कहा कि मैं मिस्टर माल्या को दिवालिया घोषित करता हूं। इस फैसले से भारतीय बैंकों को बड़ा फायदा होने वाला है। इससे भारतीय बैंक विजय माल्या की संपत्तियों को आसानी से जब्‍त कर सकेंगे।

अब माल्या के पास लंदन हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ अपील दाखिल करने के लिए एक मौका बाकी है। माना जा रहा है कि माल्या की ओर से जल्द इस फैसले को चुनौती दी जाएगी। इस फैसले से SBI की अगुवाई में बैंकों के संघ यानी कंसोर्टियम को कहीं भी माल्या की संपत्तियों को जब्त करके लोन वसूली करने की ताकत मिल जाएगी।

बता दें कि माल्या ने डूबती किंगफिशर एयरलाइंस के संचालन के लिए स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया और दूसरे बैंकों से कर्ज लिया था। बाद में किंगफिशर डूब गई और माल्‍या बैंकों को पैसा नहीं लौटा सका था। एसबीआइ की अगुवाई में 13 बैंकों का संघ चाहता है कि माल्या का प्रत्यर्पण हो जिससे कर्ज वसूलने में सहूलियत हो सके।

हाल ही में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बताया था कि मनी लांड्रिंग-रोधी कानून के तहत किंगफिशर एयरलाइंस के अटैच किए गए शेयरों के एक हिस्से की बिक्री के जरिये एसबीआइ के नेतृत्व वाले कर्जदाता कंसोर्टियम को 792.11 करोड़ रुपये मिल गए हैं। ईडी की ओर से जारी बयान के मुताबिक देश के दो सबसे बड़े बैंक लोन घोटालों में फंसी कुल रकम का करीब 58 फीसद हिस्सा बैंकों और सरकार को वापस मिल चुका है।

View More...

मुकेश अंबानी और गौतम अडानी की संपत्ति में बेतहाशा बढ़ोतरी, जानें देश के इन 6 अमीरों ने कैसे कमाई अरबों की दौलत

Date : 27-Jul-2021

नई दिल्ली (एजेंसी)। कोरोनाकाल में एक ओर आम लोगों की कमाई घटी है, दूसरी ओर मुकेश अंबानी और गौतम अडानी की कमाई में लगातार बढ़ोतरी हुई है। अब आप सोच रहे होंगे कि यह दोनों कारोबारी ऐसे कौन-कौन से कारोबार करते हैं कि कोरोनाकाल में भी इनकी संपत्ति में लगातार बढ़ोतरी रही है। रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन मुकेश अंबानी और अडानी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अडानी देश के सबसे अमीर कारोबारी हैं। ऐसे ही देश के 6 कारोबारियों की कुल संपत्ति और उनकी कमाई के बारे में बताने जा रहे हैं।

मुकेश अंबानी:

रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी इस समय एशिया के दूसरे और दुनिया के 12वें सबसे अमीर व्यक्ति हैं। ब्लूमबर्ग बिलेनियर इंडेक्स के मुताबिक, उनकी कुल संपत्ति 79.8 अरब डॉलर है। इनका मुख्य कारोबार एनर्जी सेक्टर से जुड़ा है। इसमें पेट्रोलियम उत्पादों से जुड़ा कारोबार प्रमुख हैं। अब मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज टेलीकॉम, रिटेल, ई-कॉमर्स, डिजिटल सर्विसेज जैसे सेक्टर्स में भी उतर गई है। मुकेश अंबानी की कमाई का मुख्य जरिया रिलायंस इंडस्ट्रीज है। कंपनी में प्रमोटर और प्रमोटर ग्रुप की 50.59 फीसदी हिस्सेदारी है। मुकेश अंबानी और उनका परिवार ही रिलायंस इंडस्ट्रीज के प्रमोटर हैं।

गौतम अडानी:

अडानी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अडानी देश के दूसरे और एशिया के चौथे सबसे अमीर व्यक्ति हैं। दुनिया के अमीरों की लिस्ट में गौतम अडानी 25वें स्थान पर हैं। उनकी कुल संपत्ति 53.6 अरब डॉलर है गौतम अडानी की कमाई का मुख्य स्रोत उनकी कंपनियां हैं। गौतम अडानी की कंपनियां पेट्रोलियम उत्पाद, बिजली उत्पादन और वितरण, ग्रीन एनर्जी जैसे कारोबारों से जुड़ी हैं। 2019 में गौतम अडानी ने एयरपोर्ट संचालन के क्षेत्र में कदम रखा था। अडानी ग्रुप की कुल 6 कंपनियां शेयर बाजार में लिस्टेड हैं। बीएसई पर उपलब्ध डाटा के मुताबिक, इन कंपनियों में गौतम अडानी और उनके परिवार की 57 से लेकर 75 फीसदी तक की हिस्सेदारी है।

अजीम प्रेमजी:

विप्रो के फाउंडर और पूर्व चेयरमैन अजीम प्रेमजी देश के तीसरे सबसे बड़े अमीर व्यक्ति हैं। इस समय उनकी कुल संपत्ति 35.5 अरब डॉलर है। अजीम प्रेमजी की कमाई का मुख्य स्रोत उनकी कंपनी है। अजीम प्रेमजी विप्रो के प्रमुख प्रमोटर हैं। कंपनी में प्रमोटर और प्रमोटर ग्रुप की 73.02 फीसदी हिस्सेदारी है। प्रमोटर और प्रमोटर ग्रुप में अजीम प्रेमजी, उनके बच्चे रिशाद, तारिक, प्रेमजी ट्रस्ट और प्रेमजी परिवार की अन्य कंपनियां शामिल हैं।

शिव नाडर

एचसीएल टेक्नोलॉजी के फाउंडर और पूर्व चेयरमैन शिव नाडर देश के चौथे सबसे अमीर व्यक्ति हैं। ब्लूमबर्ग के मुताबिक, इस समय उनकी कुल संपत्ति 25.1 अरब डॉलर है। नाडर की संपत्ति का मुख्य जरिए उनकी कंपनी एचसीएल ही रही है। एचसीएल में प्रमोटर और प्रमोटर ग्रुप की 60.33 फीसदी हिस्सेदारी है। प्रमोटर में शिव नाडर, पत्नी किरन नाडर, बेटी रोशनी नाडर और परिवार की अन्य कंपनियां शामिल हैं। इस समय रोशनी नाडर रही एचसीएल टेक्नोलॉजी की चेयरमैन हैं।

उदय कोटक

कोटक महिंद्रा बैंक के फाउंडर उदय कोटक देश के सबसे अमीर बैंकर हैं। उदय कोटक ने 26 साल की उम्र में बैंकिंग सेक्टर में अपना करियर शुरू किया था। ब्लूमबर्ग के मुताबिक, उनकी कुल संपत्ति 14.1 अरब डॉलर है। उदय कोटक की कमाई का मुख्य जरिए कोटक महिंद्रा बैंक ही है। बैंक में प्रमोटर और प्रमोटर ग्रुप की 25.99 फीसदी हिस्सेदारी है। इसमें से 25.77 फीसदी हिस्सेदारी उदय कोटक के पास है।

सायरस पूनावाला

दुनिया की सबसे बड़ी वैक्सीन निर्माता कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के फाउंडर सायरस पूनावाला हैं। पूनावाला की कुल संपत्ति 15 अरब डॉलर है। उनकी कमाई का मुख्य जरिया सीरम इंस्टीट्यूट है। इस समय सीरम इंस्टीट्यूट की कमान सायरस पूनावाला के बेटे अदार पूनावाला के हाथ में है। सीरम इंस्टीट्यूट ने एस्ट्राजेनेका के साथ मिलकर कोरोना वैक्सीन कोवीशील्ड बनाई है। सीरम इंस्टीट्यूट में प्रमोटर की हिस्सेदारी की जानकारी उपलब्ध नहीं हो पाई है।

View More...
Previous123456789...282283Next