Life Style

क्या आपके शरीर में भी रहती हैं दिन भर थकान, तो करें ये काम, मिलेगा आराम

Date : 02-Feb-2023

हेल्थ न्युज (एजेंसी)। अगर आप हमेशा थकान महसूस करते हैं और काम करने का मन नहीं करता तो ये बड़ी चिंता की विषय है। डॉक्टर का मानना ​​है कि ऐसा तब होता है जब आपकी जीवनशैली पूरी तरह से खराब हो। आप अपने आहार का ठीक से पालन नहीं करते हैं और न ही आप अपनी नींद ठीक से ले रहे हैं। ऐसे में शरीर में कई तरह की समस्याएं होने लगती हैं।

शरीर को हाइड्रेट रखने के लिए सोने से पहले पानी पिएं

डॉक्टरों का कहना है कि समय पर सोने की कोशिश करनी चाहिए। जब भी आप रात को सोने जाएं तो सबसे पहले अपने फोन, लैपटॉप, टीवी को खुद से दूर रखें, क्योंकि एक बार जब आप फोन खोलकर स्क्रॉल करना शुरू कर देंगे तो आपकी नींद उड़ जाएगी। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि गलती से भी देर रात की चाय या कॉफी नहीं पीनी चाहिए। अब सवाल यह है कि क्या किया जाए? इस पर डॉक्टर कहते हैं, 'हमें रात को सोने से पहले पानी पीना चाहिए।' सवाल उठता है कि ठंडा या गर्म पानी पीना चाहिए या नहीं। दरअसल, कई डॉक्टरों का कहना है कि पानी पीने से अच्छी नींद आती है। अगर आप रात को पानी पीकर अच्छी नींद लेते हैं तो यह आपकी त्वचा, पेट और शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है।

शरीर के तापमान को नियंत्रित करता है

रात को सोने से पहले पानी पीना एक औषधि के समान माना जाता है। डॉक्टर कहते हैं, 'अगर आप सोने से पहले कमरे के तापमान के हिसाब से पानी पिएंगे तो सुबह आप देखेंगे कि आपकी त्वचा दमक रही है। इतना ही नहीं पेट भी साफ रहता है और आप दिन भर एनर्जी और तरोताजा महसूस करेंगे।

View More...

क्या आपभी है भूलने की आदत से परेशान, तो अपनाएं ये उपाय

Date : 31-Jan-2023

न्युज डेस्क (एजेंसी)। आज के दौर में हम छोटी से छोटी चीज को बेहद काम समय के बाद ही भूल जाते हैं। कुछ समय तक ही हमें याद रहेगा लेकिन बाद में हम सब भूल जाते हैं। एक अच्छी याददाश्त आपको एक अलग पहचान देती है, जल्दी किसी चीज को भूल जाना हमारे लिए मुसीबत बन सकता है। हमारे व्यक्तित्व पर भी इसका गहरा प्रभाव पड़ता है। आपके इसी गुण के कारण लोग आपको याद और पसंद करते हैं। आप हमेशा सक्रिय रहते हैं। वहीं जिनकी याददाश्त कमजोर होती है वे इसे तेज करने के लिए काफी कुछ करते हैं। कई ऐसी आदतें हैं जिन्हें आप अपनी दिनचर्या में अपनाकर याददाश्त बढ़ा सकते हैं। आइए जानते हैं कौन सी हैं ये आदतें...

स्वस्थ भोजन

अगर आप हमेशा स्वस्थ और फिट रहना चाहते हैं तो स्वस्थ भोजन करना बहुत जरूरी है, तभी दिमाग तेज होगा। तेज दिमाग के लिए आपको एंटीऑक्सीडेंट और ओमेगा-3 से भरपूर फल और सब्जियां खानी चाहिए।

अच्छी नींद जरूरी है

हर रात अच्छी और गहरी नींद लेना बहुत जरूरी है। कई शोधों में यह पाया गया है कि हर रात 7 से 8 घंटे की अच्छी नींद जरूर लेनी चाहिए। इससे दिमाग शांत होता है और तनाव दूर रहता है। जिससे चीजों को याद रखने में आसानी होती है।

जोश

आपका जुनून आपके दिमाग को तेज बनाता है। जब हम किसी काम को लगन के साथ करते हैं तो हम अपनी सारी ऊर्जा और समय उसमें लगा देते हैं। इससे दिमाग को ऊर्जा मिलती है और दिमाग तेज होता है।

शराब को ना कहें

शराब के सेवन से दिमाग ठीक से काम नहीं करता है। ज्यादा शराब पीने से दिमाग की कोशिकाएं मर जाती हैं। इससे याददाश्त पर काफी असर पड़ता है और वह धीरे-धीरे कमजोर होने लगती है।

तनाव

ज्यादा तनाव लेना दिमाग की सेहत के लिए खतरनाक है। किसी भी काम को ठंडे रहकर करने की कोशिश करें, शुरुआत में थोड़ा मुश्किल होगा, लेकिन धीरे-धीरे करना अच्छा रहेगा।

योग 

योग दिमाग को तेज करता है और तेज तरीके से चलता है। योग का मानसिक स्वास्थ्य पर अच्छा प्रभाव पड़ता है। याददाश्त तेज करने के लिए हमें रोजाना योग करना चाहिए। इससे तनाव भी दूर रहता है।

फास्ट फूड

जंक, फास्ट या प्रोसेस्ड फूड खाने से याददाश्त पर विपरीत प्रभाव पड़ता है। फास्ट फूड सीमित मात्रा में खाएं।

View More...

क्या आपके मुंह से आती है बदबू या हिल रहे हैं दांत, इन 5 घरेलू उपायों से मिलेगी राहत

Date : 25-Jan-2023

न्यूज़ डेस्क (एजेंसी)। मुंह हमारे शरीर का सबसे खास हिस्सा होता है और इस पर ही दूसरे अंगों का स्वास्थ्य भी काही हद तक निर्भर करता है. क्योंकि मुंह से हम भोजन करते हैं और अगर इसमें किसी तरह की बीमारी है तो इससे जाने वाले भोजन में बैक्टीरिया मिले जाएंगे और यह हमारे दूसरे अंगों को प्रभावित करेंगे. दूसरे अंगों की तरह ही मुंह की सफाई भी बेहद जरूरी है. कई बार लोगों को मुंह से स्मेल आने की समस्या होती है और यह इतना बढ़ जाती है कि यह हमारे दांत भीं इससे प्रभावित होने लगते हैं. अगर समय पर ध्यान न दिया जाए तो उम्र से पहले ही दांत गिर जाते हैं.

मुंह से स्मेल आना और दांतों का कमजोर होना कई वजहों से हो सकता है लेकिन, यह ज्यादातर हमारे लाइफस्टाइल से जुड़ा हुआ होता है. स्मेल के अवाला मुंह से खून आना, मसूड़ों में पस बनना, दांतों में कैविटी होना आदि ये सभी समस्याएं हमारे दांतों के लिए तो हानिकारक हैं ही साथ ही यह पूरे शारीरिक स्वास्थ्य के लिए भी घातक है. इतना ही नहीं मुंह से बदबू आने पर कई बार दूसरों से बातचीत करना भी मुश्किल हो जाता है जो आपको शर्मसार करने लगता है.

मस्टर्ड ऑयल और नमक का प्रयोग: मस्टर्ड ऑयल और नमक मुंह से बदबू दूर करने में सबसे ज्यादा मददगार है. इसके लिए एक चम्मच मस्टर्ड ऑयल में चुटकी नमक मिलाएँ और इसके मिश्रण से दांतों पर मालिश करें. इससे आपके दांत चमकदार होंगे और साथ ही मसूड़ों की समस्या भी दूर होगी.

तुलसी की पत्तियां: तुलसी का जितना धार्मिक महत्व है उतना ही आयुर्वेदिक महत्व भी है. तुलसी कई तरह की बीमारियों हमारी मदद करती है. मुंह की बदबू को दूर करने के लिए तुलसी की पत्तियों को सुखा लें और अब इसका बारीक चूरन बना लें. अब इससे दांतो पर मंजन करें. इससे आपके मुंह से आने वाली बदबू दूर हो जाएगी. इसके अलावा तुलसी का मंजन पायरिया से भी राहत देगा.

साबुत फल खाएं: कड़क फल भी आपके दातों को मजबूत करने में मदद करते है. अगर आप डेली रूटीन में सेब, नाशपाती, बेर या फिर अमरूद जैसे कुछ टाइट फलों को सेवन करते हैं तो इससे आपको बहुत अधिक फायदा मिलेगे. इन फलों को चबाने से दांतों का व्यायाम होता है और लंबे समय तक दांत आपका साथ देंगे.

टूथ ब्रश की जगह नीम की दातून का प्रयोग करें :

लगभग सभी लोग टूथ ब्रेश का इस्तेमाल करते हैं लेकिन यह हमारे दांतों और मसूड़ों के लिए हानिकारक होता है. यदि आप लंबे समय तक अपने दांतों को मजबूत और स्वस्थ्य रखना चाहते हैं तो टूथ ब्रेश की जगह दातून से दांतों को साफ करें. दातून से दांतों का बैक्टीरियल इंफेक्शन खत्म करने में मदद मिलती है.

सेंधा नमक और राई का तेल :

अगर आपके दांत कम उम्र में ही हिलने लगे हैं तो सेंधा नमक और राई का तेल आपको राहत देगा. इसके लिए सेंधा और राई के तेल का पेस्ट बना लें और इसे रात को सोने से पहले दांतों पर लगाएं. इसके अतिरिक्त आप सेंधा नमक के साथ लौंग मिलाकर भी पेस्ट बना सकते हैं. इससे दातों के दर्द में आराम मिलेगा.

सौंफ का सेवन करें :

कई बार पाचन शक्ति कमजोर होने की वजह से भी मुंह से बदबू आने लगती है. ऐसे में जरूरी है कि भोजन करने के बाद हर दिन एक चम्मच सौंफ का सेवन करें. सौंफ आपके डाइजेशन को भी ठीक करेगी और साथ ही मुंह से आने वाले बूदबू को दूर करेगी.

View More...

सोने से पहले पति-पत्नी भूलकर भी ना करें यह काम, दांपत्य जीवन में बढ़ सकती हैं परेशानियां

Date : 21-Jan-2023

न्यूज़ डेस्क (एजेंसी)। वास्तु शास्त्र मैं विश्वास रखने बालों के लिए हर चीज महत्वपूर्ण होता है चाहे वह घर के समाने का समान का रखरखाव हो या कोई अन्य चीज उनके लिए हर बात महत्वपूर्ण होती है, पति-पत्‍नी को अपना दांपत्‍य जीवन खुशहाल बनाए रखने के लिए कुछ जरूरी बातों का ध्‍यान रखना चाहिए. इनकी अनदेखी आपके जीवन में कई तरह की समस्‍याएं ला सकती हैं. वास्‍तु शास्‍त्र के अनुसार हर महिला-पुरुष को अपने रिश्‍ते को खुशहाल बनाए रखने के लिए सोने से पहले ये काम नहीं करने चाहिए.

खुशहाल मैरिड लाइफ के लिए सोने से पहले न करें ये काम

– पति-पत्‍नी को सोने से पहले कभी भी शॉपिंग, खर्च या आर्थिक तंगी से जुड़ी बातों पर चर्चा नहीं करना चाहिए. ऐसा करने से आरोप-प्रत्‍यारोप का दौर शुरू हो जाता है और रिश्‍तों पर बुरा असर पड़ता है. साथ ही इसके कारण पैदा हुआ तनाव उनकी नींद भी खराब करता है. बेहतर होगा कि ऐसे मुद्दों पर शांति से किसी ऐसे समय में बात करें, जब दोनों ही तनावरहित हों.

– पति-पत्‍नी को सोने से पहले लेपटॉप या मोबाइल पर समय नहीं बिताना चाहिए. ना ही बेड पर लेपटॉप या मोबाइल का इस्‍तेमाल करना चाहिए. ये जीवनसाथी के साथ रिश्‍ते खराब करने में सबसे बड़ा रोल प्‍ले करते हैं.

– कभी भी परेशानियां बढ़ाने वाली बातें रात को सोने से तुरंत पहले न करें. ऐसा करने से पूरी रात परेशानी में कटती है. बेहतर होगा कि सोने से पहले अच्‍छी बातें करें जो आपको तनाव रहित कर दें और एक-दूसरे के बीच प्‍यार बढ़ाएं.

– वैसे तो किसी को भी रात में सोने से पहले गरिष्‍ठ भोजन नहीं करना चाहिए. ऐसा करने से कई तरह की बीमारियां पैदा होती हैं और कई बार इनके कारण पति-पत्‍नी के बीच दूरियां भी बढ़ती हैं.

– दिन में हुए किसी भी झगड़े या बहस का जिक्र रात में सोने से पहले कभी न करें. बेहतर होगा कि ऐसे मसले को जितना जल्‍दी हो खत्‍म कर दें.

View More...

सर्दियों के मौसम में त्वचा हो जाती हैं ड्राई और बेजान, तो ग्लिसरीन का करें इस्तमाल, मिलेंगे फायदे

Date : 18-Jan-2023

नई दिल्ली (एजेंसी)। सर्दियों के मौसम में हमारी त्वचा ड्राई और बेजान हो जाती है। ड्राई स्किन के कारण कई लोगों को जलन भी महसूस होती है और साथ ही चेहरे पर झुर्रियां भी जल्दी आने लगती हैं, ऐसे में ज़रूरी है कि हम अपनी त्वचा की अच्छे से केयर करें और ज़्यादा पानी का सेवन करें।

बाज़ार में कई तरह के स्किन केयर प्रोडक्ट्स मौजूद होते हैं और उन प्रोडक्ट्स के इंग्रेडिएंट्स में ग्लिसरीन सामान्य रूप से पाया जाता है। ग्लिसरीन आपकी त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद है और यह त्वचा को डीपली हाइड्रेट करने में मदद करती है।

तो चलिए जानते हैं कि कैसे आप सर्दियों में ग्लिसरीन का प्रयोग कर सकते हैं- 

1. Face Moisturizer के रूप में- 

अगर आप ड्राई स्किन से परेशान हैं तो आप बादाम के तेल में 2-3 बूंद ग्लिसरीन डाल कर अपने चेहरे पर 5 मिनट तक मसाज करें और सुबह साधे पानी से मुंह धो लें। बादाम का तेल आपके चेहरे को nourish करेगा और ग्लिसरीन आपके चेहरे से डेड स्किन को हटा कर त्वचा को सॉफ्ट बनाएगी।

2. फटी एड़ियों के लिए-  

सर्दियों में एड़ी फटना बहुत सामान्य है पर इसके कारण पैर में जलन और रुखापन महसूस होता है। साथ ही आप कोई स्टाइलिश फुटवियर पहनने से भी कतराते हैं। फटी एड़ियों के लिए आप पेट्रोलियम जेली में विटामिन E का कैप्सूल और 3-4 बूंद ग्लिसरीन डाल कर मिला लीजिए और सोने से पहले इसे लगाकर सोएं। बेहतर परिणाम के लिए आप socks पहेन कर भी सो सकते हैं।

3. बॉडी लोशन 

सर्दियों में न सिर्फ चेहरा बल्कि पूरे शरीर की त्वचा ड्राई हो जाती है, जिससे हमारे हाथ-पैर बिलकुल अच्छे नहीं दिखते हैं और त्वचा टेन भी आसानी से हो जाती है। त्वचा को हाइड्रेट और ग्लोइंग बनाने के लिए आप गुलाब जल में ग्लिसरीन डाल कर प्रयोग कर सकते हैं। ध्यान रहे कि ग्लिसरीन और गुलाब जल की मात्रा बराबर हो।

4. Lip Moisturizer- 

सर्दियों में फटे होंठ बहुत परेशानी देते हैं। आपको खाने, बोलने या लिपस्टिक (lipstick) लगाने में बहुत परेशानी आती है, ऐसे में आप नारियल तेल में 1-2 बूंद ग्लिसरीन मिलकर अपने होंठों पर लगाए और अच्छे से मसाज करें। नारियल तेल होंठों का कालापन दूर करता है और ग्लिसरीन आपके होंठों को चमकदार और सॉफ्ट बनाएगी।

View More...

सर्दियों में अंडे खाने के होते है फायदे, बस रोजाना खाएं इतना अंडा, बना देगा आपको तंदरुस्त

Date : 05-Jan-2023

नई दिल्ली (एजेंसी)। सर्दियों का मौसम चल रहा है. और अगर इस मौसम में शरीर का अच्छे से ध्यान न रखा जाये तो कई बड़े नुकसान हो सकते है, जिससे हम कई बड़ी बीमारी से जूझ सकते है, वही ठंडी के मौसम में बॉडी को फिट और गर्म रखना बहुत जरूरी है.क्योंकि अगर आप अपने आपको अंदर से गर्म रखते हैं तो आप सीजनल फ्लू से खुद को फिट और तंदुरुस्त रख सकते है. और फिट रहने के लिए आप अंडे को डाइट में शामिल कर सकते हैं. अंडे में कई पोषक तत्व होते हैं जो हमारे स्वास्थ को बेहतर बनाते हैं और बीमारियों से बचाव करते हैं. इतनी नहीं आप जल्दी-जल्दी बीमार पड़ते हैं तो अंडा खाकर आप इस परेशानी को दूर कर सकते हैं.तो आइये यहां हम आपको बताएंगे कि अंडा खाने के क्या लाभ होते हैं-

प्रोटीन का से भरपूर-

अंडे को प्रोटीन का सबसे अच्छा स्त्रोत माना जाता है. वहीं हमारी बॉडी प्रोटीन का इस्तेमाल एंटीबॉडी बनाने के लिए करता है.जिससे तमात इंफेक्शन से बचाव करने में मदद मिलती है. बता दें बॉडी में प्रोटीन की कमी को पूरा करने के लिए अंडा सबसे बढिया ऑप्शन हो सकता है.

ठंड के मौसम में बॉडी रहती है गर्म-

अंडे में अच्छी मात्रा में फैट भी पाया जाता है लेकिन यह बॉडी के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है. सर्दियों में यह फैट आपका वजन कंट्रोल रखता है. इसके साथ ही अगर आप ठंड के मौसम में अंडे का सेवन करते हैं तो इससे आपकी बॉडी गर्म रहती है और आप बमारियों की चपेट में आने से बच सकते हैं.

विटामिन डी की कमी होती है पूरी-

विटामिन डी की कमी से परेशान लोगों के लिए अंडा बहुत ही फायदेमंद होता है. वैसे तो विटामिन डी सूरज की किरणों से मिलता है लेकिन सर्दियों में सूजर कम ही निकलता है ऐसे में आपकी बॉडी में विटामिन डी की कमी हो जाती है ऐसे में आपको अंडे का सेवन करना चाहिए. इससे आप विटामिन डी की कमी को दूर कर सकते हैं.

View More...

अब सर्दियों में नहीं फटेंगे आपके होंठ, बस अपनाने होगा ये घरेलु उपाय

Date : 04-Jan-2023

नई दिल्ली (एजेंसी)। सर्दियों के मौसम में उमस के कारण अक्सर लोगो में होंठ फटने की शिकायत होती हैं। इसकी मुख्य वजह डिहाइड्रेशन, पानी कम पीना, ज्यादा मात्रा में खट्टी चीजों का सेवन, बार-बार होंठों पर जीभ फेरने की आदत हो सकते हैं। इन आदतों के चलते होंठों में नमी कम हो जाती है और होंठ फटने की समस्या हो सकती है।

कई लोग होंठों को मुलायम बनाने के लिए लिप Scrub का भी उपयोग करते हैं लेकिन हम आपको ऐसे घरेलु उपायों के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे अपनाकर आप मुलायम होंठ पा सकते हैं।

इन उपायों का करे पालन

रोजाना रात में सोते समय मलाई में चुटकीभर हल्दी मिक्स करके लगाने से भी काफी आराम मिलता है। इससे फटे होंठ की समस्या तो दूर होती ही है, साथ ही होंठों का इंफेक्शन भी ठीक हो जाता है।

लगातार पानी पीते रहे। जिससे होंठों में नमी बरकरार रहती है।

रोजाना रात को सोने से पहले अपनी नाभि पर सरसों का तेल लगाएं। इससे फटे होंठ की समस्या दूर होने के साथ होंठ गुलाबी भी होंगे।

वैसलीन पेट्रोलियम जेली भी होंठों के लिए एक दवा का काम करती है। आप जैतून के तेल में वैसलीन लेकर मिक्स करें और इसे रात को सोने से पहले होंठोंं पर लगाएं। इससे आपके होंठ भी ठीक होते हैं और होंठों का कालापन भी दूर होता है।

फटे होंठ की समस्या को गुलाब की पत्तियां भी दूर कर सकती हैं। आप गुलाब की पत्तियों को पीसकर इसमें नींबू और शहद मिक्स करें। इसके बाद सोते समय होंठों पर इसे लगाएं। इससे भी काफी आराम मिलता है।

ग्लिसरीन, गुलाबजल और नींबू का मेल बहुत पुराना नुस्खा है। इसे आमतौर पर लोग ​सर्दियों में स्किन पर इस्तेमाल करते हैं।

लेकिन आप इसका इस्तेमाल होंठों पर भी कर सकते हैं। ये आपके होंठों को मुलायम बनाता है और हाइड्रेट रखता है।

View More...

गिलोय के सेवन से मिलते है ये फायदा

Date : 28-Dec-2022

हेल्थ न्युज (एजेंसी)। गिलोय औषधीय गुणों से भरपूर होती है। आयुर्वेद के अनुसार, गिलोय की जड़ें, तना और पत्तियां तीनों ही सेहत के लिए बहुत गुणकारी होती है। इसका इस्तेमाल दवाओं में किया जाता है। इसमें एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं। जो शरीर को कई रोगों से बचाने में मदद करते हैं। आमतौर पर लोग गिलोय के जूस पीते हैं, चाहें तो आप गिलोय चूर्ण का भी सेवन कर सकते हैं।
इम्यून सिस्टम बूस्ट करें

गिलोय में एंटी ऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं, जो इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में मदद करते हैं। जिससे आप संक्रमण और कई बीमारियों से बच सकते हैं।

डायबिटीज के मरीजों के लिए फायदेमंद

गिलोय का सेवन डायबिटीज मरीजों के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। इसमें एंटी हाइपरग्लाइसेमिक गुण पाए जाते हैं, जो डायबिटीज की समस्या में मददगार है।

दिल की बीमारियों से बचाएं

गिलोय का जूस दिल की सेहत के लिए काफी फायदेमंद है। इसके सेवन से ब्लड प्रेशर भी कंट्रोल किया जा सकता है।

 डेंगू से बचाने में सहायक

डेंगू से बचने के लिए गिलोय का सेवन काफी असरदायक होता है। इसमें मौजूद एंटीपायरेटिक गुण बुखार से राहत दिला सकते हैं। हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार, दो से तीन चम्मच गिलोय जूस को एक कप पानी में मिलाकर दिन में दो बार खाना खाने से एक-घंटे पहले पी सकते हैं । इससे डेंगू से जल्दी आराम मिल सकता है।

कब्ज की परेशानी से राहत दिलाएं

अगर आप कब्ज, गैस या अपच से परेशान रहते हैं, तो ऐसे में गिलोय का सेवन काफी लाभदायक है। पेट की समस्या से राहत पाने के लिए आप गिलोय का काढ़ा पी सकते हैं।

शरीर में खून की कमी दूर करें

गिलोय का जूस एनीमिया की समस्या में काफी फायदेमंद है। इसके सेवन से शरीर में खून की कमी को दूर किया जा सकता है।

View More...

इस मौसम में क्या आपभी हैं झड़ने की समस्या से परेशान, तो इन आसान टिप्स को करें फॉलो

Date : 23-Dec-2022

नई दिल्ली (एजेंसी)। सर्दी के मौसम में बालों और त्वचा का अधिक ध्यान रखने आवश्यक्ता होती है। सर्दियों में बाल रूखे और बेजान हो जाते हैं। इस दौरान स्कैल्प में खुजली और सुस्ती हो सकती है। इसलिए बालों में नियमित तेल लगाने की सलाह दी जाती है। कई लोग सर्दियों में त्वचा की देखभाल पर ध्यान देते हैं, वहीं बालों को अधिकतर नजरअंदाज कर दिया जाता है. ऐसे में आप सर्दियों के मौसम में बालों को स्वस्थ रखने के लिए कुछ टिप्स फॉलो कर सकते हैं.

पानी और हेल्दी फैट्स को बनाएं अपना दोस्त

अपने बालों को जड़ से सिरे तक स्वस्थ बनाने के लिए, पानी में कटौती न करें और बादाम, काजू, मूंगफली, कद्दू के बीज आदि जैसे हेल्दी फैट का सेवन करें. हेल्दी फैट आपके बालों को वो प्रोटीन देते हैं, जो आपके बालों को अंदर से मजबूत और स्वस्थ बनाता है. ये न केवल आपके बालों की टूटने की संभावना कम करते हैं बल्कि उन्हें चमकदार भी बनाते हैं. प्रोटीन की कमी के कारण होने वाले फ्रिज को कंट्रोल करने में मदद करते हैं.

अच्छी तरह तेल लगाएं

तेल लगाने से सर्द हवाएं आपके बालों से दूर रहेंगी. हर बार जब आप अपने बाल धोते हैं, तो आपको अपनी पसंद का कोई भी तेल लगाना चाहिए. ऑर्गेनिक तिल के तेल और नारियल के तेल का इस्तेमाल करने से आप अपने बालों को स्वस्थ रख सकते हैं.

डीप कंडीशनिंग

अधिक रूखेपन से निपटने के लिए हमारे बालों को अधिक टीएलसी की आवश्यकता होती है. आप डीप कंडीशनिंग हेयर मास्क का इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके लिए आप दही, ई कैप्सूल और जैतून का तेल मिलाएं. इसे 15-20 मिनट के लिए बालों पर लगाएं. दही एक प्राकृतिक कंडीशनर की तरह काम करता है, जबकि जैतून का तेल और शहद आपके बालों को पोषण प्रदान करते हैं.

अपने बालों के लिए गर्म पानी से बचें

अधिक गर्म शावर बालों की नमी को अवशोषित कर सकते हैं, जिससे आपके बाल सुस्त हो जाते हैं और टूटने का खतरा होता है. स्कैल्प को हेल्दी रखने के लिए गुनगुने पानी से स्नान करें.

कंडीशनर या बालों के तेल का विकल्प

आप कई लीव-इन कंडीशनर या बालों के तेल का विकल्प चुन सकते हैं, जो सीरम के रूप में काम करते हैं. अगर आप रासायनिक प्रोडक्ट का इस्तेमाल नहीं करना चाहते है तो बालों के किसी भी तेल की एक या दो बूंदों को सिरों पर लगाने से आपको स्प्लिट एंड्स के कारण ट्रिम्स को बचाने में मदद मिलेगी.

View More...

शरीर को नींद नहीं, आराम दें

Date : 18-Dec-2022

न्युज डेस्क (एजेंसी)। आप सोने किस वक्त जाते हैं, यह तो आपके लाइफ स्टाइल पर निर्भर करता है, लेकिन महत्व इस बात का है कि आपको कितने घंटे की नींद की जरूरत है। अकसर कहा जाता है कि दिन में आठ घंटे की नींद लेनी ही चाहिए। आपके शरीर को जिस चीज की जरूरत है, वह नींद नहीं है, वह आराम है। अगर आप पूरे दिन अपने शरीर को आराम दें, अगर आपका काम, आपकी एक्सरसाइज सब कुछ आपके लिए एक आराम की तरह हैं तो अपने आप ही आपकी नींद के घंटे कम हो जाएंगे। लोग हर चीज तनाव में करना चाहते हैं।

 मैंने देखा है कि लोग पार्क में टहलते वक्त भी तनाव में होते हैं। अब इस तरह का व्यायाम तो आपको फायदे की बजाय नुकसान ही करेगा, क्योंकि आप हर चीज को इस तरह से ले रहे हैं जैसे कोई जंग लड़ रहे हों। आप आराम के साथ क्यों नहीं टहलते? चाहे टहलना हो या जॉगिंग, उसे पूरी मस्ती और आराम के साथ क्यों नहीं कर सकते?

तो सवाल घूमफिर कर वही आता है कि मेरे शरीर को कितनी नींद की जरूरत है? यह इस बात पर निर्भर है कि आप किस तरह का शारीरिक श्रम करते हैं। आपको न तो भोजन की मात्रा तय करने की जरूरत है और न ही नींद के घंटे। मुझे इतनी कैलरी ही लेनी है, मुझे इतने घंटे की नींद ही लेनी है, जीवन जीने के लिए ये सब बेकार की बातें हैं।

आज आप जो शारीरिक श्रम कर रहे हैं, उसका स्तर कम है, तो आप कम खाएं। कल अगर आपको ज्यादा काम करना है तो आप ज्यादा खाएं। नींद के साथ भी ऐसा ही है। जिस वक्त आपके शरीर को पूरा आराम मिल जाएगा, यह उठ जाएगा चाहे सुबह के 3 बजे हों या 8। आपका शरीर अलार्म की घंटी बजने पर नहीं उठना चाहिए। एक बार अगर शरीर आराम कर ले तो उसे खुद ही जग जाना चाहिए।

View More...