Chhattisgarh

ग्रामीण को डंडा से मारकर चोट पहुचाकर फरार हत्या के आरोपी को परतापुर पुलिस ने गिरफ्तार किया

पखांजूर। दिनांक 3 फरवरी को हीरा लाल नरवास साइकिल से सब्जी खरीदने संगम गया हुआ था। वहा से वापस आकार शाम करीब 7.30 बजे गुमडीपारा के संतराम बघेल के घर के सामने खड़ा था की हीरा लाल नरवास ने घड़वा राम को उसके तरफ आता देख बोला की कोड़ी भात खाने का बार बार नियम बनाते हो कहकर बोलने पर घड़वा राम नाराज होकर आवेश में आकार अश्लील गाली गलौज करते हुए जान से मारने की धमकी देकर हीरालाल को लात घुसे डंडे से उस पर हमला कर फरार हो गया । हीरा लाल के सर पेट गाल में चोट लगने से परिजनों एवम ग्रामीणों ने उसे सिविल अस्पताल में उपचार के भर्ती कराया । जहां आहत हीरा लाल नरवास को हायर सेंटर मेकाहारा रायपुर रेफर किया गया जहां उपचार चल रहा था की दिनांक 4 फरवरी को आहत हीरा लाल का लड़का मनोज नरवास ने उपस्थित होकर लिखित आवेदन पेश किया जिस पर थाना परतापुर में अपराध 1/2023/धारा 294/323/506 पंजीबद्ध किया गया आरोपी की पतासाजी की जा रही थी की दिनांक 6 फरवरी को हीरा लाल की मौत की खबर थाना में सूचना प्राप्त हुई । उच्च अधिकारियों के दिशा निर्देशन में अपराध में एक धारा 302 भादवि जोड़ा गया । पुलिस अधीक्षक शलभ सिन्हा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक धीरेंद्र पटेलके मार्गदर्शन और अनु. वि. अधिकारी रवि कुजूर पखांजूर के प्रर्यवक्षण में थाना प्रभारी राजेश कुमार राठौर के नेतृत्व में आरोपी घड़वा राम कोमराको धर दबोचने में सफलता प्राप्त की है । उसे 6 फरवरी को ही थाना परतापुर क्षेत्र में पतासजी कर गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड में भेजा है ।

Trend News

कांगेर घाटी में मिला दुर्लभ नारंगी रंग का चमगादड़

जगदलपुर। बस्तर जिला वन संपदा से समृद्ध है। यहां कई प्रजाति के पशु-पक्षी निवास करते हैं। वहीं पशु-पक्षियों की कई दुर्लभ प्रजातियां यहां पाई गई हैं। हाल ही में जिले के कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान में दुर्लभ प्रजाति का चमगादड़ मिला है। इसका रंग नारंगी है और पंखों पर नारंगी-काले रंग के धब्बे हैं। यह चमगादड़ एक केले के पेड़ के नीचे घोसला बनाकर रह रहा था। खास बात यह है कि देश में अब तक तीन बार ही चमगादड़ की यह प्रजाति मिली है। इसके मुंह में 38 दांत हैं और इसे इसकी खूबसूरती के चलते इसे बटरफ्लाई चमगादड़ के तौर पर भी जाना जाता है।

बस्तर की कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान कई दुर्लभ जीव-जंतु मिलने के लिए प्रसिद्ध है। अब अपनी तरह के इस अनोखे चमगादड़ के मिलने को वन विभाग बड़ी उपलब्धि मान रहा है। ऐसा लगता है कि किसी ने बेहद ही खूबसूरती के साथ इसे पेंट किया है। फिलहाल यह अनोखा जीव आकर्षण के केंद्र में है। इसे विलुप्तप्राय श्रेणी में रखा गया है। कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान में करीब 200 प्रजातियों के पक्षियों के पाए जाने के प्रमाण मिले हैं।

इसका वैज्ञानिक नाम “केरीवोला पिक्टा” है, बताया जाता है कि यह ज्यादातर सूखे इलाकों या ट्रीहाउस में पाए जाते हैं। इनका वजन मात्र 5 ग्राम होता है, 38 दांत वाला यह चमगादड़ सिर्फ कीड़े मकोड़े खाता है, चमगादड़ो की यह प्रजाति भारत और चीन समेत कुछ एशियाई राज्य में पाई जाती है।

नेशनल पार्क के संचालक और डीएफओ गणवीर धम्मशील ने बताया कि पार्क में दिखने वाली दुर्लभ प्रजाति के पक्षियों इसके अलावा वन्य जीवों के संरक्षण और संवर्धन के लिए लगातार विभाग प्रयास करता आया है। चमगादड़ की 'केरिवोला पिक्टा' यह प्रजाति नेशनल पार्क में दिखना पूरे प्रदेश के लिए एक बड़ी उपलब्धि है। निश्चित तौर पर इसके संरक्षण और संवर्धन के लिए विभाग की ओर से प्रयास किए जा रहे हैं।

डीएफओ धम्मशील ने बताया कि, पक्षियों पर शोध कर रहे हैं वैज्ञानिको के सहयोग से पता लगाया जा रहा है कि इन चमगादड़ो को किस तरह का वातावरण पसंद है और यह खाते क्या है और इनके संख्या में बढ़ोतरी हो और प्रजनन के लिए इन्हें किस तरह का माहौल और वातावरण उपलब्ध हो इसकी भी जानकारी ली जा रही है। ताकि दुर्लभ और अनोखी प्रजाति की यह  चमगादड़ इस नेशनल पार्क की शान बने रहें।

Sports

बॉर्डर.गावस्कर ट्रॉफी सीरीज के नागपुर टेस्ट की भारत ने की तैयारी शुरू

नई दिल्ली (एजेंसी)। सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा की अगुआई में भारतीय टेस्ट टीम ने शुक्रवार को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 9 फरवरी से नागपुर के विदर्भ क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में शुरू हो रहे पहले टेस्ट की तैयारी शुरू कर दी।

बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली, केएल राहुल और सूर्यकुमार यादव भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के सोशल मीडिया अकाउंट्स पर नेट्स में बल्लेबाजी अभ्यास करने वाले पहले खिलाड़ियों में शामिल थे।

रवींद्र जडेजा, जिन्हें तमिलनाडु के खिलाफ सौराष्ट्र के लिए रणजी ट्रॉफी मैच खेलने के बाद श्रृंखला में शामिल होने के लिए फिट माना गया था, को भी अभ्यास करते हुए देखा गया। बीसीसीआई के सोशल मीडिया अकाउंट्स के कैप्शन में कहा गया है, टीम इंडिया ने नागपुर में पहले टेस्ट से पहले बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी के लिए अपनी तैयारी शुरू कर दी है।

दूसरी ओर, ऑस्ट्रेलिया वर्तमान में बेंगलुरू के बाहरी इलाके अलूर में केएससीए क्रिकेट ग्राउंड में प्रशिक्षण ले रहा है, जहां वे गुरुवार से अभ्यास कर रहे हैं। ऑस्ट्रेलिया और भारत, वर्तमान में एमआरएफ आईसीसी मेन्स टेस्ट टीम रैंकिंग और चल रहे आईसीसी वल्र्ड टेस्ट चैंपियनशिप 2023 चक्र दोनों में क्रमश: नंबर एक और दो स्थान पर हैं। साथ ही दोनों टीमें अभी चार टेस्ट मैच की सीरीज खेलेंगी।

Astrology

जानें क्या कहतीं हैं आपकी ग्रहदशाएं, क्या करें कि दिन होगा शुभ, जानिएं आज का राशिफल

मेष राशि : आत्मविश्वास भरपूर रहेगा। माता का सानिध्य मिलेगा। कारोबार में वृद्धि होगी। परिश्रम अधिक रहेगा। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। क्षणे रुष्टा-क्षणे तुष्टा की मन स्थिति रहेगी। बातचीत में संयत रहें। पारिवारिक जीवन सुखमय रहेगा, लेकिन स्वास्थ्‍य के प्रति सचेत रहें। रहन-सहन कष्टमय रहेगा। कारोबार का विस्तार हो सकता है। संचित धन में कमी आएगी। लंबे समय से रुके हुए धन की प्राप्ति होगी।

वृष राशि : मन प्रसन्न रहेगा। किसी मित्र का आगमन हो सकता है। नौकरी में कोई अतिरिक्त जिम्मेदारी मिल सकती हैं। परिश्रम अधिक रहेगा। धैर्यशीलता में कमी रहेगी। जीवनसाथी से मनमुटाव हो सकता है। भौतिक सुखों में वृद्धि होगी। स्वास्थ्‍य के प्रति सचेत रहें। कार्यक्षेत्र में बाधाएं आ सकती हैं। नौकरी में विपरीत परिस्थितियों का सामना करना पड़ सकता है। यात्रा के योग हैं।

मिथुन राशि : आत्मविश्वास में वृद्धि होगी। माता के स्वास्थ्य में सुधार होगा। कारोबार में तरक्की होगी। आय में वृद्धि होगी। जीवनसाथी से मतभेद हो सकते हैं। आशा-निराशा के मिश्रित भाव मन में रहेंगे। कला एवं संगीत में रुचि बढ़ेगी। कार्यक्षेत्र में व्यर्थ की कठिनाइयां आएंगी। नौकरी में नई जिम्मेदारी मिल सकती है। लंबे समय से रुके हुए काम पूरे होने के योग हैं। इच्छित कार्य में सफलता के योग हैं।

कर्क राशि : मन में शान्ति एवं प्रसन्नता रहेगी। आत्मविश्वास से लबरेज रहेंगे। शैक्षिक कार्यों में सफलता मिलेगी। मान-सम्मान की प्राप्ति होगी। शासन सत्ता का सहयोग मिलेगा। वाणी में सौम्यता रहेगी। कारोबार में कठिनाइयां आ सकती हैं। पारिवारिक समस्या परेशान करेंगी। जीवनसाथी से नोंकझोक हो सकती है। नौकरी में अफसरों का सहयोग मिलेगा। मित्रों के सहयोग से काम बनेंगे।

सिंह राशि : संयत रहें। परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थान की यात्रा पर जा सकते हैं। परिवार का सहयोग भी मिलेगा। मानसिक तनाव में कमी आयेगी। परिवार की जिम्मेदारी बढ़ सकती है। वाहन सुख में वृद्धि होगी। पिता का सानिध्य एवं सहयोग मिलेगा। नौकरी में अफसरों के सहयोग से तरक्की के मार्ग प्रशस्त होंगे। रहन-सहन कष्टमय हो सकता है। सेहत का ध्यान रखें। लाभ के अवसर मिलेंगे।

कन्या राशि : मन प्रसन्न रहेगा। धार्मिक संगीत के प्रति रुझान बढ़ सकता है। दाम्पत्य सुख में वृद्धि हो सकती है। यात्रा का कार्यक्रम बन सकता है। सुस्वादु खानपान में रुचि रहेगी। आत्मविश्वास से परिपूर्ण रहेंगे, परन्तु स्वभाव में चिड़चिड़ापन हो सकता है। माता-पिता के सहयोग से किसी पैतृक कारोबार का विस्तार हो सकता है। भाइयों का सहयोग मिलेगा। कार्यक्षेत्र में परिवर्तन की सम्भावना है।

तुला राशि : आत्मविश्वास में कमी रहेगी। मन अशान्त रहेगा। धैर्यशीलता बनाये रखने का प्रयास करें। पिता के स्वास्थ्य में सुधार होगा। भागदौड़ अधिक रहेगी। क्षणे रुष्टा-क्षणे तुष्टा की मन:स्थिति रहेगी। स्वभाव में चिड़चिड़ापन रहेगा। कला एवं संगीत में रुचि बढ़ेगी। मान-सम्मान में वृद्धि होगी। भवन या सम्पत्ति का विस्तार हो सकता है। शैक्षिक कार्यों में सफलता के योग हैं।

वृश्चिक राशि : पठन-पाठन में रुचि रहेगी। शैक्षिक कार्यों के सुखद परिणाम मिलेंगे। दाम्पत्य सुख में वृद्धि होगी। वस्त्रों पर खर्च बढ़ सकते हैं। बातचीत में सन्तुलित रहें। क्रोध के अतिरेक से बचें। कारोबार में कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। आत्मविश्वास से लवरेज रहेंगे, लेकिन मन में नकारात्मक विचारों का प्रभाव हो सकता है। किसी धार्मिक स्थान की यात्रा पर जा सकते हैं। लाभ में कमी आयेगी।

धनु राशि : धैर्यशीलता बनाये रखने के प्रयास करें। परिवार का साथ मिलेगा। धार्मिक कार्यों पर खर्च बढ़ सकते हैं। मित्रों का सहयोग मिलेगा। वस्त्रों पर भी खर्च बढ़ सकते हैं। कारोबार की स्थिति में सुधार होगा, परन्तु परिश्रम की अधिकता रहेगी। नौकरी में परिवर्तन की सम्भावना बन रही है। किसी दूसरे स्थान पर जाना हो सकता है। माता से धन की प्राप्ति हो सकती है। सेहत का ध्यान रखें।

मकर राशि : मन प्रसन्न रहेगा। भवन सुख में वृद्धि होगी। धार्मिक कार्यों में व्यस्तता बढ़ सकती है। किसी सम्पत्ति से आय के साधन बन सकते हैं। सेहत का ध्यान रखें। पारिवारिक जीवन कष्टमय रहेगा। किसी पुराने मित्र से भेंट हो सकती है। क्रोध की अधिकता रहेगी। जीवनसाथी से नोकझोंक हो सकती है। अनियमित खर्च बढ़ेंगे। सुस्वादु खानपान में रुचि बढ़ेगी। धन की प्राप्ति होगी।

कुंभ राशि : आलस्य की अधिकता रहेगी। नौकरी में परिवर्तन के अवसर मिल सकते हैं। उच्च पद की प्राप्ति हो सकती है। कार्यभार में वृद्धि होगी। धैर्यशीलता में कमी रहेगी। पारिवारिक समस्याएं परेशान कर सकती हैं। किसी मित्र के सहयोग से नौकरी के अवसर मिल सकते हैं। आय में आशातीत सुधार होगा। सन्तान की ओर से सुखद समाचार मिल सकता है। विवाद की स्थिति बन सकती है।

मीन राशि : आत्मविश्वास भरपूर रहेगा। पठन-पाठन में रुचि रहेगी। शैक्षिक या बौद्धिक कार्यों में मान-सम्मान की प्राप्ति हो सकती है। बातचीत में संयत रहें। खर्च बढ़ेंगे। मन परेशान रहेगा। सन्तान को स्वास्थ्‍य विकार हो सकते हैं। पिता को स्वास्‍थ्‍य विकार हो सकते हैं। किसी पैतृक सम्पत्ति से धन लाभ हो सकता है। शैक्षिक व बौद्धिक कार्यों में व्यवधान आ सकते हैं। शारीरिक कष्ट बढ़ सकता है।

Relation

इन आदतों से बिगड़ने लगता है परिवार का माहौल

न्युज डेस्क (एजेंसी)। व्यक्ति को अपने जीवन में कर्मों के अनुसार ही फल की प्राप्ति होती है। व्यक्ति यदि जीवन में सद्कर्म करता है तो उसे सदा सुख ही मिलता है। लेकिन वह कुकर्म में लिप्त रहता है तो वह पाप का भोगी होता है और उसे जीवन में व मृत्यु के उपरांत भी कई प्रकार के कष्टों को भोगना पड़ता है। हिंदू धर्म में 18 महापुराण हैं जिनमें से गरुड़ पुराण को भगवान विष्णु का रूप माना जाता है। मान्यता है कि जो व्यक्ति समय रहते गरुड़ पुराण में दी गई शिक्षा का पालन करता है, वह न केवल इस जीवन में सुख भोगता है, बल्कि मृत्यु के उपरांत उसे स्वर्ग की प्राप्ति होती है।

जिस घर में स्वच्छता पर ध्यान नहीं दिया जाता है, वहां सदैव बीमारियां बनी रहती है। जिससे परिवार का माहौल बिगड़ने लगता है। साथ ही ऐसे घर में माता लक्ष्मी वास नहीं करती हैं। जिसके कारण आर्थिक स्थिति भी खराब होने लगती है। फिजूलखर्ची बढ़ने के कारण परिवार में मतभेद भी बढ़ने लगता है। इसलिए घर को हमेशा साफ रखें।

जिस घर में रात के समय झूठे बर्तन छोड़ दिए जाते हैं, वहां समस्याएं और मतभेद उत्पन्न होने लगता है। साथ ही ऐसे घर से माता लक्ष्मी रूठ जाती है और व्यक्ति को आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ता है। इसलिए इस बात का विशेष ध्यान रखें कि सोने से पहले जूठे बर्तन जरूर साफ करें और रसोईघर को भी पूरी तरह साफ करें।

लोग घर में कबाड़ इकट्ठा करते हैं। लेकिन ऐसा करना व्यक्ति के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि गरुड़ पुराण में बताया गया है कि जिस घर में कबाड़ का जमावड़ा होता है, वहां नकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव बढ़ जाता है। जिससे आर्थिक स्थिति खराब हो जाती है और परिवार में मतभेद बढ़ने लगता है। इसलिए घर में कभी भी जंग लगे लोहे या कबाड़ हो चुके सामान को ना रखें।